लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
मुक्त
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

सारणी

सूची सारणी

वेब ब्राउजर में प्रदर्शित एक सारणी सारणी (table) आंकड़ों को पंक्ति (rows) तथा खाना (columns) में व्यवस्थित करने का एक साधन है। इसका उपयोग संचार, अनुसंधान तथा आंकड़ा-विश्लेषण में बहुतायत में होता है। सारणी प्रिंट मिडिया, हस्तलिखित नोट, कंप्युटर सॉफ्टवेयर, ट्रैफिक संकेतों, तथा अनेकानेक जगहों पर देखने को मिल जाती है। .

3 संबंधों: द्विआधारी खोज प्रणाली, सिन्दहिन्द, क्रमचय

द्विआधारी खोज प्रणाली

द्विआधारी खोज प्रणाली (Binary Search Algorithm) हल सारणी में किसी आइटम की स्थिति ढूंढती है। द्विआधारी खोज  तत्व सारणी के लिए एक इनपुट मूल्य की तुलना करके काम करता है। तुलना से यह निर्धारित होता  है कि इनपुट तत्व से कम या अधिक है। जब इनपुट, तत्व के बराबर हो जाता है तब खोज बंद हो जाती है और तत्व की स्थिति देता है। अगर तत्व इनपुट के समान नहीं है तो फिर पुन: एक और  तुलना करके पता लगाया जाता है कि इनपुट तत्व से छोटा है या तत्व से अधिक है। यदि इनपुट सारणी के भीतर स्थित नहीं है तो यह एल्गोरिथ्म आम तौर पर एक अद्वितीय मान दर्शाती है। द्विआधारी खोज एल्गोरिथ्म आमतौर पर संख्या की तुलना, सारणी को आधा करके उसके तत्वो से करती है। इस प्रकार दिए गए तत्व का पता लगाने मे लघुगणक समय लगता है। एक द्विआधारी खोज एक विभाजित और विजय खोज एल्गोरिथ्म है। BinarySearch(A, value, low, high).

नई!!: सारणी और द्विआधारी खोज प्रणाली · और देखें »

सिन्दहिन्द

ज़िज अल-सिन्दहिन्द या ज़िज अल-सिन्दहिन्द अल-कबीर भारत में रचित एक ज्योतिषीय ग्रन्थ है जिसमें खगोलीय पिण्डों की स्थिति की गणना करने के लिये सारणियाँ दी गयीं हैं। अरबी-फारसी में इस प्रकार के ज्योतिषीय ग्रन्थों को 'ज़िज' (Zīj) कहा गया है। 'सिन्दहिन्द' शब्द 'सिद्धान्त' से आया है जो 'सिद्धान्त ज्योतिष' या 'गणित ज्योतिष' का सूचक है। इसकी रचना ७७० ई के आसपास बगदाद के खलीफा अल मंसूर के दरबार में हुई। अल मंसूर ने संस्कृत से इस ग्रन्थ को अनूदित करने के लिये मुहम्मद अल-फज़ारी को नियुक्त किया था। श्रेणी:भारतीय गणित.

नई!!: सारणी और सिन्दहिन्द · और देखें »

क्रमचय

गणित में, क्रमचय (परमुटेशन) की संकल्पना को सूक्ष्म रूप से विभिन्न अर्थों में प्रयोग किया जाता है, सभी अर्थ वस्तुओं या मूल्य के क्रमपरिवर्तन (क्रमबद्ध रूप से पुनर्व्यवस्थित करना) की कार्रवाई से संबंधित हैं। अनौपचारिक रूप से, कुछ मानों (values) के एक सेट को विशेष क्रम में व्यवस्थित करना क्रमचय है। इस प्रकार सेट (1, 2, 3) के छह क्रमचय हैं अर्थात्,,,, और.

नई!!: सारणी और क्रमचय · और देखें »

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »