लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
मुक्त
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

लता मंगेशकर

सूची लता मंगेशकर

लता मंगेशकर (जन्म 28 सितंबर, 1929 इंदौर) भारत की सबसे लोकप्रिय और आदरणीय गायिका हैं, जिनका छ: दशकों का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा पड़ा है। हालाँकि लता जी ने लगभग तीस से ज्यादा भाषाओं में फ़िल्मी और गैर-फ़िल्मी गाने गाये हैं लेकिन उनकी पहचान भारतीय सिनेमा में एक पार्श्वगायक के रूप में रही है। अपनी बहन आशा भोंसले के साथ लता जी का फ़िल्मी गायन में सबसे बड़ा योगदान रहा है। लता की जादुई आवाज़ के भारतीय उपमहाद्वीप के साथ-साथ पूरी दुनिया में दीवाने हैं। टाईम पत्रिका ने उन्हें भारतीय पार्श्वगायन की अपरिहार्य और एकछत्र साम्राज्ञी स्वीकार किया है। .

212 संबंधों: चरस (फ़िल्म), चरित्रहीन (1974 फ़िल्म), चाँदनी (1989 फ़िल्म), चित्रगुप्त (संगीतकार), चुपके चुपके, एम॰ एस॰ सुब्बुलक्ष्मी, ऐ मेरे वतन के लोगों, झनक झनक पायल बाजे (1955 फ़िल्म), डर (फ़िल्म), डॉन (1978 फ़िल्म), डॉन (१९७८ फ़िल्म एल्बम), तलाश (१९६९ फ़िल्म), तुम्हारे लिये (1978 फ़िल्म), तीसरी कसम (1966 फ़िल्म), थानेदार (फ़िल्म), दादासाहेब फाल्के पुरस्कार, दाग (1973 फ़िल्म), दिल तो पागल है, दिल दिया दर्द लिया, दिल ने फिर याद किया, दिल से, दिल अपना और प्रीत पराई, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, दुल्हन बनु मैं तेरी, दूसरी सीता (1974 फ़िल्म), देस परदेस (1978 फ़िल्म), दो बीघा ज़मीन (1953 फ़िल्म), दो लड़कियाँ (1976 फ़िल्म), दो आँखें बारह हाथ (1957 फ़िल्म), दोस्ताना (1980 फ़िल्म), दोस्ती (1964 फ़िल्म), दीदी तेरा देवर दीवाना, दीनानाथ मंगेशकर, धरती कहे पुकार के (1969 फ़िल्म), धर्मात्मा (1975 फ़िल्म), नया दिन नई रात (1974 फ़िल्म), नाम (फ़िल्म), नज़राना (1987 फ़िल्म), नौकरी (1978 फ़िल्म), पत्थर के फूल, पत्थर के सनम, पद्म विभूषण धारकों की सूची, परिचय (1972 फ़िल्म), पाक़ीज़ा, पुकार (2000 फ़िल्म), प्रदीप (गीतकार), प्रेम धवन, प्रेम बंधन (1979 फ़िल्म), प्रेम शक्ति, प्रेम विवाह (१९७९ चलचित्र), ..., प्रेम ग्रंथ, प्रोफ़ेसर (1962 फ़िल्म), फर्ज़ (1967 फ़िल्म), फ़िर वही रात (1980 फ़िल्म), फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार, फ़िल्मफ़ेयर विशेष पुरस्कार, फांसी (1978 फ़िल्म), फूल खिले हैं गुलशन गुलशन (1978 फ़िल्म), बदलते रिश्ते (1978 फ़िल्म), बन्दिनी (1963 फ़िल्म), बावर्ची (1972 फ़िल्म), बिनाका गीत माला, बिरजू महाराज, बजरंगबली (1976 फ़िल्म), बुड्ढा मिल गया (1971 फ़िल्म), ब्लैक मेल (1973 फ़िल्म), बैजू बावरा (1952 फ़िल्म), बेनाम (1974 फ़िल्म), बेशरम (1978 फ़िल्म), बेवफ़ा से वफ़ा, भारत में महिलाएँ, भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं की सूची, भारत रत्‍न, भारतीय पार्श्वगायक, भारतीय सिनेमा, भारतीय सिनेमा के सौ वर्ष, भारतीय व्यक्तित्व, मदन मोहन, मदर इण्डिया, मधुबाला, मधुमती, मध्य प्रदेश, महानतम भारतीय (सर्वेक्षण), महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार, महेन्द्र कपूर, महेंद्र सिंह धोनी, माचिस (1996 फ़िल्म), मासूम (1983 फ़िल्म), माइतीघर (चलचित्र), मुझसे दोस्ती करोगे, मुझे जीने दो (1963 फ़िल्म), मुग़ल-ए-आज़म, मुक्ति (१९७७ फ़िल्म), मैंने प्यार किया, मेरे जीवन साथी (1972 फ़िल्म), मेरे अपने (1971 फ़िल्म), मेरी जंग, मोनाली ठाकुर, मोहब्बतें, मोहम्मद रफ़ी, यादों की बारात (1973 फ़िल्म), युवान शंकर राजा, राम लखन (फ़िल्म), रामदास पाध्ये, राहुल देव बर्मन, लता मंगेशकर पुरस्कार, लम्हे, लज्जा (2001 फ़िल्म), लगान (२००१ फ़िल्म), लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, शम्शुल हुदा बिहारी, शहीद (1965 फ़िल्म), शागिर्द, शिकार (1968 फ़िल्म), शक्ति (1982 फ़िल्म), श्रद्धा कपूर, श्री ४२० (1955 फ़िल्म), शोले (1975 फ़िल्म), सत्यम शिवम सुन्दरम (1978 फ़िल्म), सरस्वतीचन्द्र, सरगम (1950 फ़िल्म), साजन (1969 फ़िल्म), सिलसिला (1981 फ़िल्म), सवाल (1982 फ़िल्म), संदीप नाथ, सुरक्षा (1979 फ़िल्म), सुरेश वाडकर, स्वर्ग नर्क (१९७८ फ़िल्म), सौदागर (१९७३ फ़िल्म), हँसते ज़ख़्म (१९७३ फ़िल्म), हम पाँच (१९८० फ़िल्म), हम आपके हैं कौन, हाफ़ टिकट, हिन्दी सिनेमा, हिमालय की गोद में (1965 फ़िल्म), हिम्मतवाला (1983 फ़िल्म), हिसाब खून का, हृदयनाथ मंगेशकर, हीर रांझा (१९७० फ़िल्म), हीरा पन्ना (1973 फ़िल्म), जब प्यार किसी से होता है (1961 फ़िल्म), जब प्यार किसी से होता है (1998 फ़िल्म), जब जब फूल खिले, ज़िन्दगी (1976 फ़िल्म), ज़ंजीर (1973 फ़िल्म), ज़ुबैदा (2001 फ़िल्म), जिस देश में गंगा बहती है, जगजीत सिंह, जुदाई (1980 फ़िल्म), जुर्माना (1979 फ़िल्म), जॉनी मेरा नाम (1970 फ़िल्म), जोशीला (1973 फ़िल्म), जीत (1972 फ़िल्म), जीवन मृत्यु (1970 फ़िल्म), जीवन ज्योति (1976 फिल्म), ईमान धर्म (१९७७ फ़िल्म), घायल (फ़िल्म), वसंत प्रभू, विदाई (1974 फ़िल्म), विदुप अग्रहरि, वीर-ज़ारा, ख़ुदागवाह, खानदान (1979 फ़िल्म), खिलौना (1970 फ़िल्म), खेल (1992 फ़िल्म), गाइड (1965 फ़िल्म), गुड्डू, ऑपेरा हाउस (१९६१ फ़िल्म), आँधी (1975 फ़िल्म), आँसू बने अंगारे, आदमी और इंसान, आधी रात के बाद, आन मिलो सजना (1970 फ़िल्म), आनन्द (फ़िल्म), आप के साथ (1986 फ़िल्म), आप की कसम (1974 फ़िल्म), आये दिन बहार के (1966 फ़िल्म), आराधना (1969 फ़िल्म), आरज़ू (1965 फ़िल्म), आलाप (1977 फ़िल्म), आशा भोंसले, आख़िरी खत, आइना (1977 फ़िल्म), इश्मीत सिंह, कच्चे धागे (1999 फ़िल्म), कभी खुशी कभी ग़म, करन अर्जुन, कर्तव्य (1979 फ़िल्म), कर्ज़ (१९८० फ़िल्म), कलाबाज़ (1977 फ़िल्म), काला पत्थर (१९७९ फ़िल्म), काली घटा (1980 फ़िल्म), किशन कन्हैया, कविता कृष्णमूर्ति, कोरा कागज़ (1974 फ़िल्म), अनाड़ी (1959 फ़िल्म), अनामिका (1973 फ़िल्म), अनुपमा (1966 फ़िल्म), अनुराग (१९७३ फ़िल्म), अनीता (1967 फ़िल्म), अभिमान (1973 फ़िल्म), अमर दीप (1979 फ़िल्म), अमर अकबर एन्थोनी (1977 फ़िल्म), उत्सव (1984 फ़िल्म), उपकार (1967 फ़िल्म), उषा मंगेशकर, ऋषिकेश मुखर्जी, छुपा रुस्तम (1973 फ़िल्म), छोटी सी बात (१९७५ चलचित्र), १९६९ में पद्म भूषण धारक, 100 दिन (1991 फ़िल्म), 1942: अ लव स्टोरी सूचकांक विस्तार (162 अधिक) »

चरस (फ़िल्म)

चरस 1976 की बॉलीवुड फ़िल्म है जिसका रामानंद सागर ने निर्माण और निर्देशन किया। फ़िल्म में मुख्य भूमिका में धर्मेन्द्र और हेमा मालिनी सहित अजीत, अरुणा ईरानी, अमजद ख़ान, असरानी, सुजीत कुमार, केष्टो मुखर्जी और टॉम ऑल्टर हैं। इस फिल्म में संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने दिया। .

नई!!: लता मंगेशकर और चरस (फ़िल्म) · और देखें »

चरित्रहीन (1974 फ़िल्म)

चरित्रहीन 1974 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और चरित्रहीन (1974 फ़िल्म) · और देखें »

चाँदनी (1989 फ़िल्म)

चाँदनी 1989 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और चाँदनी (1989 फ़िल्म) · और देखें »

चित्रगुप्त (संगीतकार)

चित्रगुप्त श्रीवास्तव भारतीय फिल्म संगीतकार थे। चित्रगुप्त नाम से अधिक प्रसिद्ध 1950 और 1960 की दशक की हिन्दी फ़िल्मों के लिये उन्हें जाना जाता हैं। उन्होने कई भोजपुरी फ़िल्मों के लिये भी संगीत दिया है। उनके पुत्र आनंद श्रीवास्तव व मिलिंद श्रीवास्तव की आनंद-मिलिंद के रूप में मशहूर संगीतकार जोड़ी रही है। .

नई!!: लता मंगेशकर और चित्रगुप्त (संगीतकार) · और देखें »

चुपके चुपके

चुपके चुपके १९७५ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और चुपके चुपके · और देखें »

एम॰ एस॰ सुब्बुलक्ष्मी

श्रीमती मदुरै षण्मुखवडिवु सुब्बुलक्ष्मी (16 सितंबर, 1916-2004) कर्णाटक संगीत की मशहूर संगीतकार थीं। आप शास्तीय संगीत की दुनिया में एम.

नई!!: लता मंगेशकर और एम॰ एस॰ सुब्बुलक्ष्मी · और देखें »

ऐ मेरे वतन के लोगों

ऐ मेरे वतन के लोगो एक हिन्दी देशभक्ति गीत है जिसे कवि प्रदीप ने लिखा था और जिसे सी॰ रामचंद्र ने संगीत दिया था। ये गीत १९६२ के चीनी आक्रमण के समय मारे गए भारतीय सैनिकों को समर्पित था। यह गीत तब मशहूर हुआ जब लता मंगेशकर ने इसे नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर रामलीला मैदान में तत्कालीन प्रधानमंत्री पं॰ जवाहरलाल नेहरू की उपस्थिति में गाया।। चीन से हुए युद्ध के बाद 27 जनवरी 1963 में डेल्ही नेशनल स्टेडियम में स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने दिया था। यह कहा जाता है इस गाने को सुनने के बाद नेहरु जी की ऑंखें भर आई थीं। .

नई!!: लता मंगेशकर और ऐ मेरे वतन के लोगों · और देखें »

झनक झनक पायल बाजे (1955 फ़िल्म)

झनक झनक पायल बाजे १९५५ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। फ़िल्म का निर्देशन वी शांताराम ने किया है और निर्माता वी शांताराम का ही अपना निर्माता घर राजकमल कलामंदिर है। इस फ़िल्म को सन् १९५६ में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और झनक झनक पायल बाजे (1955 फ़िल्म) · और देखें »

डर (फ़िल्म)

डर 1993 में बनी हिन्दी भाषा की थ्रिलर प्रेमकहानी फ़िल्म है। यश चोपड़ा द्वारा निर्देशित इस फिल्म में प्रमुख भूमिकाओं में सनी देओल, जूही चावला और शाहरुख खान हैं। इसमें अनुपम खेर, तन्वी आज़मी और दलीप ताहिल भी हैं। फिल्म दोनों आलोचकों और दर्शकों द्वारा पसंद की गई थी। फिल्म और उसके कलाकारों की प्रशंसा करते हुए, इसे घरेलू और विदेशी बॉक्स ऑफिस पर "ब्लॉकबस्टर" घोषित किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और डर (फ़िल्म) · और देखें »

डॉन (1978 फ़िल्म)

डॉन १९७८ की एक हिन्दी क्राइम थ्रिलर फिल्म है। सलीम-जावेद द्वारा लिखी इस फ़िल्म के निर्माता नरीमन ईरानी हैं, तथा निर्देशक चंद्र बरोट हैं। अमिताभ बच्चन, ज़ीनत अमान, इफ़्तेखार, प्राण, हेलन, ओम शिवपुरी, सत्येन कप्पू तथा पिंचू कपूर ने फ़िल्म में मुख्य भूमिकाऐं निभाई हैं। कल्याणजी आनंदजी ने फ़िल्म में संगीत दिया है, तथा फ़िल्म के गीत अंजान और इंदीवर ने लिखे हैं। अमिताभ बच्चन ने फ़िल्म में अंडरवर्ल्ड बॉस 'डॉन' की, और उसके हमशक्ल 'विजय' की दोहरी भूमिका निभाई थी। फ़िल्म की कहानी बम्बई की झुग्गियों के निवासी विजय के इर्द-गिर्द घूमती है, जो संयोग से डॉन का हमशक्ल हैं। बम्बई पुलिस के डीसीपी डी'सिल्वा विजय से डॉन का रूप लेने को कहते हैं, ताकि वह पुलिस के मुखबिर के रूप में काम कर सके, और साथ ही डॉन के आपराधिक नेटवर्क का भंडाफोड़ करने में पुलिस की मदद कर सकें। .

नई!!: लता मंगेशकर और डॉन (1978 फ़िल्म) · और देखें »

डॉन (१९७८ फ़िल्म एल्बम)

डॉन १९७८ की इसी नाम की एक फिल्म की संगीत एल्बम है। कल्याणजी आनंदजी द्वारा संगीतबद्ध इस एल्बम के गीत अंजान और इंदीवर ने लिखे हैं। यह एल्बम १९७७ में ईएमआई द्वारा एचएमवी (हिज मास्टर्स वॉइस) के विनाइल रिकॉर्ड पर जारी की गई थी। एल्बम में कुल ५ गीत हैं, जिन्हें किशोर कुमार, लता मंगेशकर और आशा भोसले ने गाया है। .

नई!!: लता मंगेशकर और डॉन (१९७८ फ़िल्म एल्बम) · और देखें »

तलाश (१९६९ फ़िल्म)

तलाश एक हिन्दी भाषा की फ़िल्म है जिसके निर्माता निर्देशक ओ पी रल्हन हैं एवं अभिनय राजेन्द्र कुमार और शर्मिला टैगोर ने किया है। यह बॉलीवुड की प्रथम फ़िल्म थी जिसका बजट ₹ एक करोड़ था। .

नई!!: लता मंगेशकर और तलाश (१९६९ फ़िल्म) · और देखें »

तुम्हारे लिये (1978 फ़िल्म)

तुम्हारे लिये (अंग्रेजी: For Your Sake) 1978 में बासु चटर्जी द्वारा निर्मित हिन्दी फिल्म जिसमे संजीव कुमार, विद्या सिन्हा व अशोक कुमार ने प्रमुख पात्र निभाए है| .

नई!!: लता मंगेशकर और तुम्हारे लिये (1978 फ़िल्म) · और देखें »

तीसरी कसम (1966 फ़िल्म)

तीसरी कसम (अंग्रेजी: third oath)1966 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसको तत्काल बॉक्स ऑफ़िस पर सफलता नहीं मिली थी पर यह हिन्दी के श्रेष्ठतम फ़िल्मों में गिनी जाती है। फ़िल्म का निर्माण प्रसिद्ध गीतकार शैलेन्द्र ने किया था जिसे हिन्दी लेखक फणीश्वर नाथ 'रेणु' की प्रसिद्ध कहानी मारे गए ग़ुलफ़ाम की पटकथा मिली। इस फ़िल्म की असफलता के बाद शैलेन्द्र काफी निराश हो गए थे और उनका अगले ही साल निधन हो गया था। यह हिन्दी के महान कथाकार फणीश्वर नाथ रेणु की कहानी 'मारे गये गुलफाम' पर आधारित है। इस फिल्म के मुख्य कलाकारों में राज कपूर और वहीदा रहमान शामिल हैं। बासु भट्टाचार्य द्वारा निर्देशित तीसरी कसम एक फिल्म गैर-परंपरागत है जो भारत की देहाती दुनिया और वहां के लोगों की सादगी को दिखाती है। यह पूरी फिल्म बिहार के अररिया जिले में फिल्मांकित की गई। इस फिल्म का फिल्मांकन सुब्रत मित्र ने किया है। पटकथा नबेन्दु घोष की है, जबकि संवाद लिखे हैं स्वयं फणीन्द्र नाथ रेणु ने.

नई!!: लता मंगेशकर और तीसरी कसम (1966 फ़िल्म) · और देखें »

थानेदार (फ़िल्म)

थानेदार 1990 में बनी हिन्दी भाषा की एक्शन फिल्म है। इस फिल्म में जीतेन्द्र, जयाप्रदा, संजय दत्त और माधुरी दीक्षित मुख्य भूमिकाओं में हैं। इस फिल्म में पहली बार संजय दत्त और माधुरी की जोड़ी बनाई गई थी। आगे जाकर इनकी कई सफल फ़िल्में आई जैसे की साजन और खलनायक। .

नई!!: लता मंगेशकर और थानेदार (फ़िल्म) · और देखें »

दादासाहेब फाल्के पुरस्कार

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, भारत सरकार की ओर से दिया जाने वाला एक वार्षिक पुरस्कार है, को कि किसी व्यक्ति विशेष को भारतीय सिनेमा में उसके आजीवन योगदान के लिए दिया जाता है। इस पुरस्कार का प्रारंम्भ दादा साहेब फाल्के के जन्म शताब्दी वर्ष 1969 से हुआ। यह पुरस्कार उस वर्ष के अंत में रास्ट्रीय पुरस्कार के साथ प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार में 10 लाख रुपया और सुवणॅ कमल दिया जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दादासाहेब फाल्के पुरस्कार · और देखें »

दाग (1973 फ़िल्म)

दाग 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दाग (1973 फ़िल्म) · और देखें »

दिल तो पागल है

दिल तो पागल है 1997 में बनी भारतीय हिन्दी फिल्म है। जिसका निर्देशन यश चोपड़ा ने किया है। इसमें मुख्य किरदार में शाहरुख खान, माधुरी दीक्षित, करिश्मा कपूर हैं। शाहरुख खान और यश चोपड़ा की यह एक साथ तीसरी फिल्म है। इससे पहले वह डर (1993) और दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995) में साथ काम किए थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और दिल तो पागल है · और देखें »

दिल दिया दर्द लिया

दिल दिया दर्द लिया १९६६ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह फ़िल्म अंग्रेज़ी की लेखिका ऍमिली ब्रॉन्टी के उपन्यास वदरिंग हाइट्स पर आधारित है। इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार हैं दिलीप कुमार, वहीदा रहमान तथा प्राण। .

नई!!: लता मंगेशकर और दिल दिया दर्द लिया · और देखें »

दिल ने फिर याद किया

दिल ने फिर याद किया १९६६ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दिल ने फिर याद किया · और देखें »

दिल से

दिल से १९९८ में बनी रोमांटिक-थ्रिलर हिन्दी फ़िल्म है, जो आतंकवाद और उत्तर-पूर्वी राज्यों के तनावों पर आधारित है । फ़िल्म का निर्देशन मणिरत्नम ने किया है, वहीं निर्माता में रामगोपाल वर्मा तथा शेखर कपूर ने योगदान दिया है । इसे तमिल में उइरे तथा तेलगू में प्रेमा तू नाम से भी रिलीज़ किया गया था। इसके मुख्य कलाकार शाहरुख खान, मनीषा कोइराला तथा नवोदित अभिनेत्री प्रीति जिंटा थे। फ़िल्म की पटकथा मणिरत्नम ने तिगमांशु धुलिया के साथ लिखी तथा इस फिल्म का संगीत ए आर रहमान ने दिया है तथा गीत को गुलज़ार ने कलमबद्ध किया है । यह रोचक संयोग है कि मणिरत्नम की पिछली आतंकवाद विषय पर बनी रोजा और बाॅम्बे के बाद यह उनकी तीसरी प्रस्तुति है । फ़िल्म को दो राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार तथा छह फिल्मफ़ेयर पुरस्कार से मीटर नवाजा गया । संगीतकार ए आर रहमान को इसके लिए उस साल का फिल्मफ़ेयर पुरस्कार भी प्राप्त हुआ था । .

नई!!: लता मंगेशकर और दिल से · और देखें »

दिल अपना और प्रीत पराई

दिल अपना और प्रीत पराई हिन्दी भाषा की एक फ़िल्म है जो 1960 में प्रदर्शित हुई। .

नई!!: लता मंगेशकर और दिल अपना और प्रीत पराई · और देखें »

दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे

दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे 1995 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है, जो डीडीएलजे के नाम से भी प्रसिद्ध है। इस पहला प्रदर्शन 19 अक्टूबर 1995 को हुआ और 20 अक्टूबर 1995 को यह पूरे भारत में निर्गमित हुई। इस फिल्म का निर्देशन प्रसिद्ध फिल्म निर्माता और निर्देशक यश चोपड़ा के पुत्र आदित्य चोपड़ा ने किया। शाहरुख खान, काजोल और अमरीश पुरी इसके प्रमुख कलाकारों में थे। इस फिल्म के नाम सबसे ज्यादा चलने का रिकॉर्ड है। यह मुंबई के मराठा मंदिर में तेरह सालों से भी ज्यादा समय तक चली.

नई!!: लता मंगेशकर और दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे · और देखें »

दुल्हन बनु मैं तेरी

दुल्हन बनु मैं तेरी १९९९ में प्रदर्शित एक हिन्दी है। इसके निर्माता निर्देशक बी॰ सुभाष हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और दुल्हन बनु मैं तेरी · और देखें »

दूसरी सीता (1974 फ़िल्म)

दूसरी सीता (अंग्रेजी: Second Sita) 1974 में बनी हिन्दी फिल्म है| .

नई!!: लता मंगेशकर और दूसरी सीता (1974 फ़िल्म) · और देखें »

देस परदेस (1978 फ़िल्म)

देस परदेस(अंग्रेजी: Home and Foreign Land) 1978 में देव आनंद द्वारा निर्मित व निर्देशित हिन्दी फिल्म है| इस पारिवारिक कथा के मुख्य पात्र देव आनंद व टीना मुनीम ने निभाए है| टीना मुनीम की यह पहली फिल्म है| इनके सहायक कलाकार है अजीत, प्राण, अमज़द खान, श्रीराम लागू, टॉम एल्टर, बिन्दू, प्रेम चोपड़ा, ए के हंगल, सुजीत कुमार, महमूद व पेंटल और संगीतकार राजेश रोशन है| इस कथा में कुछ समकालीन लोगों में विदेश जाए धन कमाने की इच्छा और दलालों द्वारा भोले लोगों का छल से वहाँ लिए जाए सताना दिखाया गया है| .

नई!!: लता मंगेशकर और देस परदेस (1978 फ़िल्म) · और देखें »

दो बीघा ज़मीन (1953 फ़िल्म)

दो बीघा ज़मीन 1953 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दो बीघा ज़मीन (1953 फ़िल्म) · और देखें »

दो लड़कियाँ (1976 फ़िल्म)

दो लड़कियाँ 1976 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दो लड़कियाँ (1976 फ़िल्म) · और देखें »

दो आँखें बारह हाथ (1957 फ़िल्म)

दो आँखें बारह हाथ 1957 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दो आँखें बारह हाथ (1957 फ़िल्म) · और देखें »

दोस्ताना (1980 फ़िल्म)

दोस्ताना 1980 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दोस्ताना (1980 फ़िल्म) · और देखें »

दोस्ती (1964 फ़िल्म)

दोस्ती १९६४ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसके निर्देशक सत्येन बोस और निर्माता अपने राजश्री प्रोडक्शन्स के तले ताराचंद बड़जात्या हैं। जैसा फ़िल्म का नाम है, यह फ़िल्म एक अपाहिज लड़के और एक अन्धे लड़के के बीच दोस्ती को दर्शाती है। इस फ़िल्म को १९६४ के फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों में छ: पुरस्कारों से नवाज़ा गया जिसमें फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार भी शामिल है। .

नई!!: लता मंगेशकर और दोस्ती (1964 फ़िल्म) · और देखें »

दीदी तेरा देवर दीवाना

"दीदी तेरा देवर दीवाना" १९९४ की हिन्दी फ़िल्म हम आपके हैं कौन में लता मंगेशकर और एस॰ पी॰ बालासुब्रमण्यम का गाया हुआ गीत हैं। इस गीत को रामलक्ष्मण द्वारा संगीत दिया गया हैं और गीत देव कोहली ने लिखा है। हम आपके हैं कौन सूरज बड़जात्या द्वारा लिखित और निर्देशित फ़िल्म थी जो राजश्री प्रोडक्शन्स के बैनर के तहत बनी थी। गीत में मुख्यतः फ़िल्म के कलाकार माधुरी दीक्षित और सलमान खान गोद भराई के समारोह में नृत्य करते दिखते हैं। गीत के प्रदर्शन के बाद उसे खूब लोकप्रियता हासिल हुई और मंगेशकर को फ़िल्मफ़ेयर विशेष पुरस्कार प्रदान किया गया। एना सिंह द्वारा तैयार की गई और दीक्षित द्वारा पहनी गई चमकीले बैंगनी रंग की साटन साड़ी और बैकलेस (खिड़की) ब्लाउज बाज़ार में फ़ैशन का रुझान बनी और खूब बिकी। दीक्षित के नृत्य और पूरे गीत में दिखने वाले उनके रूप को अच्छी समीक्षा मिली। चित्रकार मकबूल फ़िदा हुसैन ने ये गीत देखकर दीक्षित को अपनी प्रेरणा स्रोत मानकर दीक्षित से प्रेरित चित्रों की एक श्रृंखला को पर काम किया। .

नई!!: लता मंगेशकर और दीदी तेरा देवर दीवाना · और देखें »

दीनानाथ मंगेशकर

'दीनानाथ मंगेशकर' (29 दिसंबर 1900 -24 अप्रैल 1942) एक प्रसिद्ध मराठी थिएटर अभिनेता, प्रसिद्ध नाट्य संगीत संगीतकार और हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीतज्ञ एवं गायक थे। वे जाने-माने गायकों लता मंगेशकर, आशा भोसले,मीणा खड़ीकर,उषा मंगेशकर और संगीतकार हृदयनाथ मंगेशकर के पिता भी थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और दीनानाथ मंगेशकर · और देखें »

धरती कहे पुकार के (1969 फ़िल्म)

धरती कहे पुकार के (अंग्रेजी: Call of the Earth) 1969 में वैशाली फिलम्स पताका अन्तर्गत दीनानाथ शास्त्री निर्मित, दुलाल गुहा निर्देशित हिन्दी भाषा की फिल्म है। जितेंद्र, नंदा, कन्हैयालाल, दुर्गा खोटे एवं संजीव कुमार इसके प्रमुख कलाकार तथा अभि भट्टाचार्य, अमोल सेन, असित सेन, ए के हंगल, तरुण बोस, मनमोहन व लीला मिश्रा सहायक कलाकार है। फिल्म में संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने दिया तथा गीतकार मजरुह सुल्तानपुरी है। .

नई!!: लता मंगेशकर और धरती कहे पुकार के (1969 फ़िल्म) · और देखें »

धर्मात्मा (1975 फ़िल्म)

धर्मात्मा 1975 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और धर्मात्मा (1975 फ़िल्म) · और देखें »

नया दिन नई रात (1974 फ़िल्म)

नया दिन नई रात 1974 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और नया दिन नई रात (1974 फ़िल्म) · और देखें »

नाम (फ़िल्म)

नाम 1986 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। महेश भट्ट द्वारा निर्देशित और कुमार गौरव द्वारा निर्मित इस फिल्म में नूतन, संजय दत्त, कुमार गौरव, पूनम ढिल्लों, अमृता सिंह और परेश रावल मुख्य कलाकार हैं। इस फिल्म को महेश भट्ट, परेश रावल और संजय दत्त के करियर में एक मील का पत्थर माना जाता है। भारतीय बॉक्स ऑफिस पर नाम ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। इसको इसके संगीत विशेषकर गीत "चिट्ठी आई है" के लिये भी जाना जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और नाम (फ़िल्म) · और देखें »

नज़राना (1987 फ़िल्म)

नज़राना 1987 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और नज़राना (1987 फ़िल्म) · और देखें »

नौकरी (1978 फ़िल्म)

नौकरी 1978 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और नौकरी (1978 फ़िल्म) · और देखें »

पत्थर के फूल

पत्थर के फूल 1991 की अनंत बालानी द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की फिल्म है। सलमान खान इसमें अंडरवर्ल्ड गिरोह से लड़ने वाले पुलिस अधिकारी का किरदार निभाते हैं। रवीना टंडन (उनकी पहली फिल्म) प्रमुख महिला भूमिका निभाती हैं। जबकि विनोद मेहरा, किरण कुमार, रीमा लागू और मनोहर सिंह सहायक भूमिकाओं में शामिल हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और पत्थर के फूल · और देखें »

पत्थर के सनम

पत्थर के सनम 1967 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। यह फ़िल्म नाडियाडवाला के बैनर के तले निर्मित है जिसे राजा नवाथे द्वारा निर्देशित किया गया है। इस फ़िल्म में मनोज कुमार, वहीदा रहमान, मुमताज़, प्राण, महमूद, ललिता पवार और अरुणा ईरानी ने मुख्य भूमिका निभाई है। इस फ़िल्म के गीतकार थे मजरुह सुल्तानपुरी और गीतों को स्वरबद्ध किया था लक्ष्मीकांत प्यारेलाल की जोड़ी ने। .

नई!!: लता मंगेशकर और पत्थर के सनम · और देखें »

पद्म विभूषण धारकों की सूची

यह भारत सरकार द्वारा पद्म विभूषण से अलंकृत किए गए लोगों की सूची है: .

नई!!: लता मंगेशकर और पद्म विभूषण धारकों की सूची · और देखें »

परिचय (1972 फ़िल्म)

परिचय 1972 में गुलज़ार द्वारा निर्मित एक पारिवारिक कथा आधारित हिन्दी फिल्म है। यह प्रमुख अंग्रेज़ी फ़िल्म दि साऊँड ऑफ़ म्युज़िक से प्रेरित पर यथार्थ चित्रण नहीं है। .

नई!!: लता मंगेशकर और परिचय (1972 फ़िल्म) · और देखें »

पाक़ीज़ा

पाक़ीज़ा (उर्दु: پاکیزہ، पवित्र) एक सन 1972 की बॉलीवुड फिल्म है। यह एक त़वायफ़ की मार्मिक कहानी है और इसे आज तक लता मंगेशकर द्वारा गाये गये मधुर गीतों के लिये याद किया जाता है। फिल्म का निर्देशन क़माल अमरोही ने किया था जो मुख्य नायिका मीना कुमारी के पति भी थे। फिल्म लगभग १४ वर्षों मे बन कर तैयार हुई। .

नई!!: लता मंगेशकर और पाक़ीज़ा · और देखें »

पुकार (2000 फ़िल्म)

पुकार 2000 की राजकुमार संतोषी द्वारा निर्देशित और सह-लिखित एक्शन नाटकीय हिन्दी भाषा की भारतीय फिल्म है। इसमें अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित, नम्रता शिरोडकर, डैनी डेन्जोंगपा, शिवाजी साटम और ओम पुरी मुख्य भूमिकाओं में हैं। इसने दो राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीते, जिनमें राष्ट्रीय एकता पर सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए नर्गिस दत्त पुरस्कार और मेजर जयदेव राजवंश के रूप में अनिल कपूर के प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार शामिल था। पार्श्व संगीत और गीतों के लिये संगीत ए आर रहमान द्वारा रचित थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और पुकार (2000 फ़िल्म) · और देखें »

प्रदीप (गीतकार)

कवि प्रदीप (६ फ़रवरी १९१५ - ११ दिसम्बर १९९८) भारतीय कवि एवं गीतकार थे जो देशभक्ति गीत ऐ मेरे वतन के लोगों की रचना के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने 1962 के भारत-चीन युद्ध के दौरान शहीद हुए सैनिकों की श्रद्धांजलि में ये गीत लिखा था। लता मंगेशकर द्वारा गाए इस गीत का तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की उपस्थिति में 26 जनवरी 1963 को दिल्ली के रामलीला मैदान में सीधा प्रसारण किया गया। गीत सुनकर जवाहरलाल नेहरू के आंख भर आए थे। कवि प्रदीप ने इस गीत का राजस्व युद्ध विधवा कोष में जमा करने की अपील की। मुंबई उच्च न्यायालय ने 25 अगस्त 2005 को संगीत कंपनी एचएमवी को इस कोष में अग्रिम रूप से 10 लाख जमा करने का आदेश दिया।.

नई!!: लता मंगेशकर और प्रदीप (गीतकार) · और देखें »

प्रेम धवन

हिन्दी फिल्मों के मशहूर गीतकार प्रेम धवन का जन्म 13 जून 1923 को अम्बाला में हुआ और लाहौर में स्नातक की शिक्षा पूरी की। आपने हिन्दी फिल्मों के लिये कई मशहूर गीत लिखे। प्रेम धवन ना केवल गीतकार थे, वरन आपने हिन्दी फिल्मों के लिये कुछ फिल्मों में संगीत दिया, नृत्य निर्देशन किया और अभिनय तक किया। प्रेम धवन ने पंरवि शंकर से संगीत एवं पं.

नई!!: लता मंगेशकर और प्रेम धवन · और देखें »

प्रेम बंधन (1979 फ़िल्म)

प्रेम बंधन (अंग्रेजी: bond of love) 1979 में रामानन्द सागर द्वारा निर्देशित हिन्दी फिल्म है। इसके प्रमुख कलाकार है राजेश खन्ना, रेखा व मौसमी चटर्जी और सहायक कलाकार हेलन, भगवान, कैस्टो मुखर्जी, ए के हंगल व ललिता पवार है। यह कथा राजेश खन्ना द्वारा अभिनीत पात्र का है जो अपनी स्मरणशक्ति खोये एक मछुअरी से विवाह करता है और शहर में प्रेमिका उसकी प्रतीक्षा करती है। .

नई!!: लता मंगेशकर और प्रेम बंधन (1979 फ़िल्म) · और देखें »

प्रेम शक्ति

प्रेम शक्ति 1994 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसमें करिश्मा कपूर, गोविंदा और कादर ख़ान मुख्य अभिनेता है। अन्य कलाकारों में शक्ति कपूर, रजा मुराद, पुनीत इस्सर और नितीश भारद्वाज शामिल हैं। फिल्म औसत रही थी। इसने करिश्मा और गोविंदा की शुरुआत सह-सितारों के रूप में की थी। आगे जाकर इनकी कई हिट फिल्में एक साथ आई। .

नई!!: लता मंगेशकर और प्रेम शक्ति · और देखें »

प्रेम विवाह (१९७९ चलचित्र)

प्रेम विवाह १९७९ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और प्रेम विवाह (१९७९ चलचित्र) · और देखें »

प्रेम ग्रंथ

प्रेम ग्रंथ राजीव कपूर द्वारा निर्देशित और रणधीर कपूर द्वारा निर्मित 1996 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। फिल्म में ऋषि कपूर और माधुरी दीक्षित मुख्य सितारें हैं और ये फिल्म बलात्कार के विषय से संबंधित है। फिल्म एक व्यावसायिक विफलता थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और प्रेम ग्रंथ · और देखें »

प्रोफ़ेसर (1962 फ़िल्म)

प्रोफ़ेसर (1962 फ़िल्म) प्रोफेसर 1962 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसके निर्माता एफ.

नई!!: लता मंगेशकर और प्रोफ़ेसर (1962 फ़िल्म) · और देखें »

फर्ज़ (1967 फ़िल्म)

फर्ज़ 1967 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और फर्ज़ (1967 फ़िल्म) · और देखें »

फ़िर वही रात (1980 फ़िल्म)

फ़िर वही रात (अंग्रेज़ी: Same night again) 1980 में एन.एन.सिप्पी निर्मित डैनी डेंज़ोंग्पा निर्देशित हिन्दी भाषा की फ़िल्म है| डैनी द्वारा निर्देशित यह एक मात्र फ़िल्म है| इस भयभीत व सनसनी फ़िल्म के प्रमुख कलाकार किम व राजेश खन्ना, एक मनोवैज्ञानिक पात्र, तथा अरुणा ईरानी, ललिता पवार, जगदीप, डैनी डेंज़ोंग्पा, ए के हंगल, सुरेश ओबेरॉय, शशिकला, मुकरी व शुभा खोटे सहायक कलाकार है| .

नई!!: लता मंगेशकर और फ़िर वही रात (1980 फ़िल्म) · और देखें »

फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार

फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार हिंदी फिल्मों के लिए वार्षिक फिल्मफेयर पुरस्कार के हिस्से के रूप में फिल्मफेयर द्वारा दिया जाने वाला पुरस्कार है। यह किसी महिला पार्श्व गायिका को दिया जाता है जिसने फिल्म गीत में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। यद्यपि पुरस्कार समारोह की स्थापना 1954 में हुई थी लेकिन 1959 में सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक की श्रेणी शुरू की गई थी। यह पुरस्कार 1967 तक पुरुष और माहिला गायक दोनों के लिए शुरू में एक ही था। इस श्रेणी को अगले वर्ष विभाजित किया गया था और जब से पुरुष और महिला गायक को अलग पुरस्कार से प्रस्तुत किया जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार · और देखें »

फ़िल्मफ़ेयर विशेष पुरस्कार

फ़िल्मफ़ेयर विशेष पुरस्कार या विशेष प्रदर्शन पुरस्कार या स्पेशल ज्यूरी पुरस्कार हिंदी फिल्मों के लिए अपने वार्षिक फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार के तहत फिल्मफेयर मैगज़ीन द्वारा दिया जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और फ़िल्मफ़ेयर विशेष पुरस्कार · और देखें »

फांसी (1978 फ़िल्म)

फांसी एक भारतीय हिंदी फिल्म है जो 1978 में सिनेमाघरों में प्रदर्शित हुई थी। इस फिल्म का निर्देशन हर्मेश मल्होत्रा किया था। फांसी फिल्म के शशि कपूर, सुलक्षणा पंडित, प्राण, रंजीत तथा असरानी प्रमुख किरदार थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और फांसी (1978 फ़िल्म) · और देखें »

फूल खिले हैं गुलशन गुलशन (1978 फ़िल्म)

फूल खिले हैं गुलशन गुलशन 1978 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और फूल खिले हैं गुलशन गुलशन (1978 फ़िल्म) · और देखें »

बदलते रिश्ते (1978 फ़िल्म)

बदलते रिश्ते (अंग्रेजी: Changing Relations) 1978 में रघुनाथ झालानी द्वारा निर्देशित, पारिवारिक कथा आधारित हिंदी फिल्म जिसके मुख्या कलाकार जितेन्द्र, ऋषि कपूर व रीना रॉय है। असरानी व ए के हंगल सहायक पात्र में अभिनित इस फिल्म के संगीतकार लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल है। .

नई!!: लता मंगेशकर और बदलते रिश्ते (1978 फ़िल्म) · और देखें »

बन्दिनी (1963 फ़िल्म)

बन्दिनी १९६३ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसके निर्माता और निर्देशक बिमल रॉय थे जिन्होंने दो बीघा ज़मीन और मधुमती जैसी प्रतिष्ठित फ़िल्में बनायीं थीं। इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार थे अशोक कुमार, धर्मेन्द्र और नूतन। बॉक्स ऑफ़िस में इस फ़िल्म ने ठीक ठाक ही प्रदर्शन किया था। फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों में इसे उस वर्ष छ: पुरस्कारों से नवाज़ा गया था जिसमें फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार भी शामिल था। यह फ़िल्म एक नारी प्रधान फ़िल्म है, जो कि हिन्दी फ़िल्मों में कम ही देखने को मिलता है। सुजाता के बाद बिमल रॉय की यह दूसरी नारी प्रधान फ़िल्म थी। बंदिनी की कहानी कल्यानी (नूतन) के इर्द-गिर्द घूमती है। यह शायद अकेली ऐसी फ़िल्म है जिसमें भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में गांव की साधारण महिलाओं का योगदान दर्शाया गया हो। .

नई!!: लता मंगेशकर और बन्दिनी (1963 फ़िल्म) · और देखें »

बावर्ची (1972 फ़िल्म)

RajeshKhanna.jpg राजेश खन्ना इस फिल्म के अभिनेता थे बावर्ची (अंग्रेजी: The Cook) 1972 में ऋषिकेश मुखर्जी निर्मित पारिवारिक कथा आधारित हास्य हिन्दी भाषा फिल्म है जिसके मुख्य पात्र निभाये हैं राजेश खन्ना, जया भादुरी, असरानी, ए के हंगल और दुर्गा खोटे| यह फिल्म बांगला फिल्म 'गाल्पा होलेओ सात्यी' (1966) से प्रेरित है। .

नई!!: लता मंगेशकर और बावर्ची (1972 फ़िल्म) · और देखें »

बिनाका गीत माला

अमीन सयानी; बिनाका गीत माला के उद्धोषक जिनके मनमोहक अंदाज़ ने सबको दीवाना बना दिया था बिनाका गीतमाला भारतीय फिल्मी संगीत का सबसे पहला काउंट डाउन (count down) कार्यक्रम था रेडियो पर| 1950 और 1960 के दशक फिल्म, फिल्म संगीत और रेडियो के दशक थे| फिल्म और रेडियो के अलावा कोई और विशेष साधन नहीं था उन दिनों मनोरंजन का| लोकप्रिय फिल्मी गीतों पर आधारित एक कार्यक्रम प्रसारित होता था उन दिनों रेडियो सीलोन से - बिनाका गीतमाला| फिल्मी गीतों से सम्बंधित सबसे लोकप्रिय कार्यक्रम था ये उस समय का| हर बुधवार को रात 8 बजे से 9 बजे तक बिनाका गीतमाला सुनने के लिये लोग रेडियो से चिपक जाया करते थे| मेलोडियस धुनों और मधुर कंठस्वरों का संगम श्रोताओं को पूरे एक घंटे तक भाव विभोर बनाये रखता था। .

नई!!: लता मंगेशकर और बिनाका गीत माला · और देखें »

बिरजू महाराज

पंडित बृजमोहन मिश्र (जिन्हें बिरजू महाराज भी कहा जाता है)(जन्म: ४ फ़रवरी १९३८) प्रसिद्ध भारतीय कथक नर्तक एवं शास्त्रीय गायक हैं। ये शास्त्रीय कथक नृत्य के लखनऊ कालिका-बिन्दादिन घराने के अग्रणी नर्तक हैं। पंडित जी कथक नर्तकों के महाराज परिवार के वंशज हैं जिसमें अन्य प्रमुख विभूतियों में इनके दो चाचा व ताऊ, शंभु महाराज एवं लच्छू महाराज; तथा इनके स्वयं के पिता एवं गुरु अच्छन महाराज भी आते हैं। हालांकि इनका प्रथम जुड़ाव नृत्य से ही है, फिर भी इनकी हिन्दुस्तानी शास्त्रीय गायन पर भी अच्छी पकड़ है, तथा ये एक अच्छे शास्त्रीय गायक भी हैं। इन्होंने कत्थक नृत्य में नये आयाम नृत्य-नाटिकाओं को जोड़कर उसे नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया।।बीबीसी हिंदी। प्रीति मान, फ़ोटो पत्रकार।21 नवंबर 2015 इन्होंने कत्थक हेतु '''कलाश्रम''' की स्थापना भी की है। इसके अलावा इन्होंने विश्व पर्यन्त भ्रमण कर सहस्रों नृत्य कार्यक्रम करने के साथ-साथ कत्थक शिक्षार्थियों हेतु सैंकड़ों कार्यशालाएं भी आयोजित की हैं। अपने चाचा, शम्भू महाराज के साथ नई दिल्ली स्थित भारतीय कला केन्द्र, जिसे बाद में कत्थक केन्द्र कहा जाने लगा; उसमें काम करने के बाद इस केन्द्र के अध्यक्ष पर भी कई वर्षों तक आसीन रहे। तत्पश्चात १९९८ में वहां से सेवानिवृत्त होने पर अपना नृत्य विद्यालय कलाश्रम भी दिल्ली में ही खोला। .

नई!!: लता मंगेशकर और बिरजू महाराज · और देखें »

बजरंगबली (1976 फ़िल्म)

जय बजरंग बली 1976 में बनी हिन्दी फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और बजरंगबली (1976 फ़िल्म) · और देखें »

बुड्ढा मिल गया (1971 फ़िल्म)

बुड्ढा मिल गया 1971 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह एक सस्पैंस फ़िल्म थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और बुड्ढा मिल गया (1971 फ़िल्म) · और देखें »

ब्लैक मेल (1973 फ़िल्म)

ब्लैक मेल 1973 मे प्रदर्शित तथा विजय आनंद दूारा निर्देशित एक रोमांचक हिंदी फिल्म है। जिसमें धर्मेन्द्र, राखी और शत्रुघन सिन्हा मुख्य भूमिका मे है। .

नई!!: लता मंगेशकर और ब्लैक मेल (1973 फ़िल्म) · और देखें »

बैजू बावरा (1952 फ़िल्म)

बैजू बावरा हिन्दी भाषा की एक फ़िल्म है जो 1952 में प्रदर्शित हुई। यह प्रसिद्ध संगीतज्ञ बैजू बावरा के जीवन पर आधारित है हालांकि फ़िल्म की कहानी और बैजू बावरा पर प्रचलित दन्तकथाओं में काफ़ी असमानताएं हैं। फ़िल्म के निर्देशक हैं विजय भट्ट और मुख्य कलाकार हैं भारत भूषण और मीना कुमारी। फ़िल्म का काल सम्राट अकबर के समय का है और बैजू बावरा अपने पिता की मृत्यु का बदला संगीत सम्राट तानसेन से लेना चाहता है। तानसेन अकबर के दरबार के नव रत्नों में से एक था। .

नई!!: लता मंगेशकर और बैजू बावरा (1952 फ़िल्म) · और देखें »

बेनाम (1974 फ़िल्म)

बेनाम 1974 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और बेनाम (1974 फ़िल्म) · और देखें »

बेशरम (1978 फ़िल्म)

बेशरम (अंग्रेजी: Shameless) 1978 में देवेन वर्मा द्वारा निर्मित व निर्देशित हिन्दी फिल्म जिसमे अमिताभ बच्चन, शर्मिला टैगोर व अमज़द खान ने मुख्य भूमिका निभाई है| फरार के बाद अमिताभ के साथ रोमानी भूमिका में शर्मिला की यह अगली फिल्म है| .

नई!!: लता मंगेशकर और बेशरम (1978 फ़िल्म) · और देखें »

बेवफ़ा से वफ़ा

बेवफ़ा से वफ़ा 1992 की मुस्लिम सामाजिक फिल्म है। इसमें जूही चावला, विवेक मुशरान और नगमा मुख्य कलाकार हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और बेवफ़ा से वफ़ा · और देखें »

भारत में महिलाएँ

ताज परिसर में भारतीय महिलाएँऐश्वर्या राय बच्चन की अक्सर उनकी सुंदरता के लिए मीडिया द्वारा प्रशंसा की जाती है।"विश्व की सर्वाधिक सुंदर महिला?"cbsnews.com. अभिगमन तिथि २७ अक्टूबर २००७01 भारत में महिलाओं की स्थिति ने पिछली कुछ सदियों में कई बड़े बदलावों का सामना किया है। प्राचीन काल में पुरुषों के साथ बराबरी की स्थिति से लेकर मध्ययुगीन काल के निम्न स्तरीय जीवन और साथ ही कई सुधारकों द्वारा समान अधिकारों को बढ़ावा दिए जाने तक, भारत में महिलाओं का इतिहास काफी गतिशील रहा है। आधुनिक भारत में महिलाएं राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोक सभा अध्यक्ष, प्रतिपक्ष की नेता आदि जैसे शीर्ष पदों पर आसीन हुई हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और भारत में महिलाएँ · और देखें »

भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं की सूची

भारत रत्न भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। इस पुरस्कार को पाने वालों की सूची निम्न है: .

नई!!: लता मंगेशकर और भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं की सूची · और देखें »

भारत रत्‍न

भारत रत्न भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। यह सम्मान राष्ट्रीय सेवा के लिए दिया जाता है। इन सेवाओं में कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल शामिल है। इस सम्मान की स्थापना 2 जनवरी 1954 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति श्री राजेंद्र प्रसाद द्वारा की गई थी। अन्य अलंकरणों के समान इस सम्मान को भी नाम के साथ पदवी के रूप में प्रयुक्त नहीं किया जा सकता। प्रारम्भ में इस सम्मान को मरणोपरांत देने का प्रावधान नहीं था, यह प्रावधान 1955 में बाद में जोड़ा गया। तत्पश्चात् 13 व्यक्तियों को यह सम्मान मरणोपरांत प्रदान किया गया। सुभाष चन्द्र बोस को घोषित सम्मान वापस लिए जाने के उपरान्त मरणोपरान्त सम्मान पाने वालों की संख्या 12 मानी जा सकती है। एक वर्ष में अधिकतम तीन व्यक्तियों को ही भारत रत्न दिया जा सकता है। उल्लेखनीय योगदान के लिए भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाले सम्मानों में भारत रत्न के पश्चात् क्रमशः पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और भारत रत्‍न · और देखें »

भारतीय पार्श्वगायक

प्रमुख भारतीय पार्श्वगायक और गायिकायें।.

नई!!: लता मंगेशकर और भारतीय पार्श्वगायक · और देखें »

भारतीय सिनेमा

भारतीय सिनेमा के अन्तर्गत भारत के विभिन्न भागों और भाषाओं में बनने वाली फिल्में आती हैं जिनमें आंध्र प्रदेश और तेलंगाना, असम, बिहार, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, जम्मू एवं कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और बॉलीवुड शामिल हैं। भारतीय सिनेमा ने २०वीं सदी की शुरुआत से ही विश्व के चलचित्र जगत पर गहरा प्रभाव छोड़ा है।। भारतीय फिल्मों का अनुकरण पूरे दक्षिणी एशिया, ग्रेटर मध्य पूर्व, दक्षिण पूर्व एशिया और पूर्व सोवियत संघ में भी होता है। भारतीय प्रवासियों की बढ़ती संख्या की वजह से अब संयुक्त राज्य अमरीका और यूनाइटेड किंगडम भी भारतीय फिल्मों के लिए एक महत्वपूर्ण बाजार बन गए हैं। एक माध्यम(परिवर्तन) के रूप में सिनेमा ने देश में अभूतपूर्व लोकप्रियता हासिल की और सिनेमा की लोकप्रियता का इसी से अन्दाजा लगाया जा सकता है कि यहाँ सभी भाषाओं में मिलाकर प्रति वर्ष 1,600 तक फिल्में बनी हैं। दादा साहेब फाल्के भारतीय सिनेमा के जनक के रूप में जाना जाते हैं। दादा साहब फाल्के के भारतीय सिनेमा में आजीवन योगदान के प्रतीक स्वरुप और 1969 में दादा साहब के जन्म शताब्दी वर्ष में भारत सरकार द्वारा दादा साहेब फाल्के पुरस्कार की स्थापना उनके सम्मान में की गयी। आज यह भारतीय सिनेमा का सबसे प्रतिष्ठित और वांछित पुरस्कार हो गया है। २०वीं सदी में भारतीय सिनेमा, संयुक्त राज्य अमरीका का सिनेमा हॉलीवुड तथा चीनी फिल्म उद्योग के साथ एक वैश्विक उद्योग बन गया।Khanna, 155 2013 में भारत वार्षिक फिल्म निर्माण में पहले स्थान पर था इसके बाद नाइजीरिया सिनेमा, हॉलीवुड और चीन के सिनेमा का स्थान आता है। वर्ष 2012 में भारत में 1602 फ़िल्मों का निर्माण हुआ जिसमें तमिल सिनेमा अग्रणी रहा जिसके बाद तेलुगु और बॉलीवुड का स्थान आता है। भारतीय फ़िल्म उद्योग की वर्ष 2011 में कुल आय $1.86 अरब (₹ 93 अरब) की रही। जिसके वर्ष 2016 तक $3 अरब (₹ 150 अरब) तक पहुँचने का अनुमान है। बढ़ती हुई तकनीक और ग्लोबल प्रभाव ने भारतीय सिनेमा का चेहरा बदला है। अब सुपर हीरो तथा विज्ञानं कल्प जैसी फ़िल्में न केवल बन रही हैं बल्कि ऐसी कई फिल्में एंथीरन, रा.वन, ईगा और कृष 3 ब्लॉकबस्टर फिल्मों के रूप में सफल हुई है। भारतीय सिनेमा ने 90 से ज़्यादा देशों में बाजार पाया है जहाँ भारतीय फिल्मे प्रदर्शित होती हैं। Khanna, 158 सत्यजीत रे, ऋत्विक घटक, मृणाल सेन, अडूर गोपालकृष्णन, बुद्धदेव दासगुप्ता, जी अरविंदन, अपर्णा सेन, शाजी एन करुण, और गिरीश कासरावल्ली जैसे निर्देशकों ने समानांतर सिनेमा में महत्वपूर्ण योगदान दिया है और वैश्विक प्रशंसा जीती है। शेखर कपूर, मीरा नायर और दीपा मेहता सरीखे फिल्म निर्माताओं ने विदेशों में भी सफलता पाई है। 100% प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के प्रावधान से 20वीं सेंचुरी फॉक्स, सोनी पिक्चर्स, वॉल्ट डिज्नी पिक्चर्स और वार्नर ब्रदर्स आदि विदेशी उद्यमों के लिए भारतीय फिल्म बाजार को आकर्षक बना दिया है। Khanna, 156 एवीएम प्रोडक्शंस, प्रसाद समूह, सन पिक्चर्स, पीवीपी सिनेमा,जी, यूटीवी, सुरेश प्रोडक्शंस, इरोज फिल्म्स, अयनगर्न इंटरनेशनल, पिरामिड साइमिरा, आस्कार फिल्म्स पीवीआर सिनेमा यशराज फिल्म्स धर्मा प्रोडक्शन्स और एडलैब्स आदि भारतीय उद्यमों ने भी फिल्म उत्पादन और वितरण में सफलता पाई। मल्टीप्लेक्स के लिए कर में छूट से भारत में मल्टीप्लेक्सों की संख्या बढ़ी है और फिल्म दर्शकों के लिए सुविधा भी। 2003 तक फिल्म निर्माण / वितरण / प्रदर्शन से सम्बंधित 30 से ज़्यादा कम्पनियां भारत के नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध की गयी थी जो फिल्म माध्यम के बढ़ते वाणिज्यिक प्रभाव और व्यसायिकरण का सबूत हैं। दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योग दक्षिण भारत की चार फिल्म संस्कृतियों को एक इकाई के रूप में परिभाषित करता है। ये कन्नड़ सिनेमा, मलयालम सिनेमा, तेलुगू सिनेमा और तमिल सिनेमा हैं। हालाँकि ये स्वतंत्र रूप से विकसित हुए हैं लेकिन इनमे फिल्म कलाकारों और तकनीशियनों के आदान-प्रदान और वैष्वीकरण ने इस नई पहचान के जन्म में मदद की। भारत से बाहर निवास कर रहे प्रवासी भारतीय जिनकी संख्या आज लाखों में हैं, उनके लिए भारतीय फिल्में डीवीडी या व्यावसायिक रूप से संभव जगहों में स्क्रीनिंग के माध्यम से प्रदर्शित होती हैं। Potts, 74 इस विदेशी बाजार का भारतीय फिल्मों की आय में 12% तक का महत्वपूर्ण योगदान हो सकता है। इसके अलावा भारतीय सिनेमा में संगीत भी राजस्व का एक साधन है। फिल्मों के संगीत अधिकार एक फिल्म की 4 -5 % शुद्ध आय का साधन हो सकते हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और भारतीय सिनेमा · और देखें »

भारतीय सिनेमा के सौ वर्ष

3 मई 2013 (शुक्रवार) को भारतीय सिनेमा पूरे सौ साल का हो गया। किसी भी देश में बनने वाली फिल्में वहां के सामाजिक जीवन और रीति-रिवाज का दर्पण होती हैं। भारतीय सिनेमा के सौ वर्षों के इतिहास में हम भारतीय समाज के विभिन्न चरणों का अक्स देख सकते हैं।उल्लेखनीय है कि इसी तिथि को भारत की पहली फीचर फ़िल्म “राजा हरिश्चंद्र” का रुपहले परदे पर पदार्पण हुआ था। इस फ़िल्म के निर्माता भारतीय सिनेमा के जनक दादासाहब फालके थे। एक सौ वर्षों की लम्बी यात्रा में हिन्दी सिनेमा ने न केवल बेशुमार कला प्रतिभाएं दीं बल्कि भारतीय समाज और चरित्र को गढ़ने में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया। .

नई!!: लता मंगेशकर और भारतीय सिनेमा के सौ वर्ष · और देखें »

भारतीय व्यक्तित्व

यहाँ पर भारत के विभिन्न भागों एवं विभिन्न कालों में हुए प्रसिद्ध व्यक्तियों की सूची दी गयी है। .

नई!!: लता मंगेशकर और भारतीय व्यक्तित्व · और देखें »

मदन मोहन

मदन मोहन हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध संगीतकार हैं। अपनी गजलों के लिए प्रसिद्द इस संगीतकार का पूरा नाम मदन मोहन कोहली था। अपनी युवावस्था में ये एक सैनिक थे। बाद में संगीत के प्रति अपने झुकाव के कारण ऑल इंडिया रेडियो से जुड़ गए। तलत महमूद तथा लता मंगेशकर से इन्होने कई यादगार गज़ले गंवाई जिनमें - आपकी नजरों ने समझा (अनपढ़, 1962), जैसे गीत शामिल हैं। वर्ष 2006 में फिल्म वीर जारा के लिए उनकी अप्रयुक्त धुनों का इस्तेमाल किया गया था। जो धुन उन्होंने जावेद अख्तर को सुनाई थी। उनकी इस धुन के लिए जावेद अख्तर ने इस फ़िल्म के लिए तेरे लिए गीत लिखा। प्रमुख फिल्मैं श्रेणी:हिन्दी फ़िल्म संगीतकार.

नई!!: लता मंगेशकर और मदन मोहन · और देखें »

मदर इण्डिया

मदर इण्डिया (Mother India, مدر انڈیا) १९५७ में बनी भारतीय फ़िल्म है जिसे महबूब ख़ान द्वारा लिखा और निर्देशित किया गया है। फ़िल्म में नर्गिस, सुनील दत्त, राजेंद्र कुमार और राज कुमार मुख्य भूमिका में हैं। फ़िल्म महबूब ख़ान द्वारा निर्मित औरत (१९४०) का रीमेक है। यह गरीबी से पीड़ित गाँव में रहने वाली औरत राधा की कहानी है जो कई मुश्किलों का सामना करते हुए अपने बच्चों का पालन पोषण करने और बुरे जागीरदार से बचने की मेहनत करती है। उसकी मेहनत और लगन के बावजूद वह एक देवी-स्वरूप उदाहरण पेश करती है व भारतीय नारी की परिभाषा स्थापित करती है और फिर भी अंत में भले के लिए अपने गुण्डे बेटे को स्वयं मार देती है। वह आज़ादी के बाद के भारत को सबके सामने रखती है। यह फ़िल्म अबतक बनी सबसे बड़ी बॉक्स ऑफिस हिट भारतीय फ़िल्मों में गिनी जाती है और अब तक की भारत की सबसे बढ़िया फ़िल्म गिनी जाती है। इसे १९५८ में तीसरी सर्वश्रेष्ठ फीचर फ़िल्म के लिए राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार से नवाज़ा गया था। मदर इण्डिया क़िस्मत (१९४३), मुग़ल-ए-आज़म (१९६०) और शोले (१९७५) के साथ उन चुनिन्दा फ़िल्मों में आती है जिन्हें आज भी लोग देखना पसंद करते हैं और यह हिन्दी सांस्कृतिक फ़िल्मों की श्रेणी में विराजमान है। यह फ़िल्म भारत की ओर से पहली बार अकादमी पुरस्कारों के लिए भेजी गई फ़िल्म थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और मदर इण्डिया · और देखें »

मधुबाला

मधुबाला (مدھو بال; जन्म: 14 फ़रवरी 1933, दिल्ली - निधन: 23 फ़रवरी 1969, बंबई) भारतीय हिन्दी फ़िल्मों की एक अभिनेत्री थी। उनके अभिनय में एक आदर्श भारतीय नारी को देखा जा सकता है। चेहरे द्वारा`भावाभियक्ति तथा नज़ाक़त उनकी प्रमुख विशेषतायें थीं। उनके अभिनय, प्रतिभा, व्यक्तित्व और खूबसूरती को देख कर यही कहा जाता है कि वह भारतीय सिनेमा की अब तक की सबसे महान अभिनेत्री है। वास्तव मे हिन्दी फ़िल्मों के समीक्षक मधुबाला के अभिनय काल को स्वर्ण युग की संज्ञा से सम्मानित करते हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और मधुबाला · और देखें »

मधुमती

मधुमती 1958 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह शायद पहली हिन्दी फ़िल्म है जिसमें एक कलाकार (वैजयन्ती माला) ने तीन-तीन रोल निभाये हों। इस फ़िल्म के निर्माता और निर्देशक बिमल रॉय थे। फ़िल्म में मुख्य भूमिका दिलीप कुमार, वैजयन्ती माला और जॉनी वॉकर ने निभाई है। इस फ़िल्म को सन् १९५८ में अन्य पुरस्कारों के अलावा फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार से भी नवाज़ा गया था। इस फिल्म पे कइ रिमेक फिलमे भी बनी जैसे, कुदरत, बीस साल बाद, और ओम शांति ओम .

नई!!: लता मंगेशकर और मधुमती · और देखें »

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश भारत का एक राज्य है, इसकी राजधानी भोपाल है। मध्य प्रदेश १ नवंबर, २००० तक क्षेत्रफल के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्य था। इस दिन एवं मध्यप्रदेश के कई नगर उस से हटा कर छत्तीसगढ़ की स्थापना हुई थी। मध्य प्रदेश की सीमाऐं पांच राज्यों की सीमाओं से मिलती है। इसके उत्तर में उत्तर प्रदेश, पूर्व में छत्तीसगढ़, दक्षिण में महाराष्ट्र, पश्चिम में गुजरात, तथा उत्तर-पश्चिम में राजस्थान है। हाल के वर्षों में राज्य के सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर राष्ट्रीय औसत से ऊपर हो गया है। खनिज संसाधनों से समृद्ध, मध्य प्रदेश हीरे और तांबे का सबसे बड़ा भंडार है। अपने क्षेत्र की 30% से अधिक वन क्षेत्र के अधीन है। इसके पर्यटन उद्योग में काफी वृद्धि हुई है। राज्य में वर्ष 2010-11 राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार जीत लिया। .

नई!!: लता मंगेशकर और मध्य प्रदेश · और देखें »

महानतम भारतीय (सर्वेक्षण)

सबसे महान भारतीय या महानतम भारतीय (अंग्रेजी:The Greatest Indian) एक सर्वेक्षण जो रिलायंस मोबाइल द्वारा प्रायोजित है और सीएनएन आईबीएन और हिस्ट्री चैनल के साथ साझेदारी में, आउटलुक पत्रिका द्वारा आयोजित किया गया था। आधुनिक भारत के विभिन्न क्षेत्रों में महत्त्वपुर्ण योगदान और भारतीयों के जीवन में अद्वितीय असाधारन बदलाव लाने वाला महानतम शख्सियत खोजने के लिए भारत में दि ग्रेटेस्ट इंडियन या सबसे महानतम भारतीय इस कार्यक्रम का जनमत सर्वेक्षण जून 2012 से अगस्त 2012 दौरान आयोजित किया गया था, इसके विजेता, डॉ॰ भीमराव आंबेडकर हैं, 11 अगस्त को इसकी घोषणा हुई थी। इस सर्वेक्षण में करीब 2 करोड़ वोटिंग डॉ॰ आंबेडकर को हुई थी। इस सर्वेक्षण में पहले भारत के विभिन्न छेत्रों (जैसे, कला, राजनिती, अर्थशास्त्र, समाज सेवा, खेल, उद्योग, संगीत आदी) के 100 महान हस्तियों में से ज्यूरी के जरीये उनमें से 50 महान भारतीयों को चूना गया। बाद में 50 नामों में से वोटिंग के जरीये जवाहरलाल नेहरू से ए.पी.जे. अब्दुल कलाम तक के 10 नाम रखे गये और एक बार फिर सभी नागरिकों द्वारा की गई अंतरराष्ट्रीय ऑनलाईन वोटिंग ओपन की गई, इसमें सर्वाधिक मतदान या मतदान डॉ॰ भीमराव आंबेडकर को मिले, वे दस में नंबर वन पर ही चुने गयें। भारत की स्वतंत्रता के बाद सबसे महान या महानतम भारतीय डॉ॰ भीमराव आंबेडकर हैं। वे स्वतंत्र्यता पूर्व के भी महानतम भारतीय है। महानतम ब्रिटेन स्पिन (Greatest Britons spin-offs) नापसंद के अन्य संस्करणों के विपरीत, महानतम भारतीय इतिहास के सभी समय अवधि से लोगों को शामिल नहीं किया था। दो कारणों से इस चुनाव के लिए दिए गए थे। इसमें महात्मा गांधी को नहीं लिया गया, उन्हें बिना सर्वेक्षण के महान बना दिया, नहीं तो विशेष रूप से डॉ.

नई!!: लता मंगेशकर और महानतम भारतीय (सर्वेक्षण) · और देखें »

महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार

महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार महाराष्ट्र सरकार द्वारा दिया जाने वाला सबसे बड़ा पुरस्कार है। जब १९९५ में शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी की संयुक्त सरकार थी तब इसे पहली बार स्वरुप दिया गया। पहला महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार १९९६ को दिया गया। यह पुरस्कार निम्नलिखित क्षेत्रो में विशेष योगदान के लिए दिया जाता है;.

नई!!: लता मंगेशकर और महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार · और देखें »

महेन्द्र कपूर

महेन्द्र कपूर (९ जनवरी १९३४-२७ सितंबर २००८) हिन्दी फ़िल्मों के एक प्रसिद्ध पार्श्वगायक थे। उन्होंने बी आर चोपड़ा की फिल्मों हमराज़, ग़ुमराह, धूल का फूल, वक़्त, धुंध में विशेष रूप से यादगार गाने गाए। संगीतकार रवि ने इनमें से अधिकाश फ़िल्मों में संगीत दिया। .

नई!!: लता मंगेशकर और महेन्द्र कपूर · और देखें »

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी अथवा मानद लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्र सिंह धोनी (एम एस धोनी भी) झारखंड, रांची के एक राजपूत परिवार में जन्मे पद्म भूषण, पद्म श्री और राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित भारतीय क्रिकेटर हैं। धोनी भारतीय क्रिकेटर तथा भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान हैं और भारत के सबसे सफल एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कप्तान हैं। शुरुआत में एक असाधारण उज्जवल व आक्रामक बल्लेबाज़ के नाम पर जाने गए। धोनी धीरे-धीरे भारतीय एक दिवसीय के सबसे शांतचित्त कप्तानों में से जाने जाते हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने २००७ आईसीसी विश्व ट्वेन्टी २०, २००७-०८ कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज २००७-२००८ के सीबी सीरीज़ और बॉर्डर-गावस्कर ट्राफी जीती जिसमें भारत ने ऑस्ट्रेलिया को २-० से हराया उन्होंने भारतीय टीम को श्रीलंका और न्यूजीलैंड में पहली अतिरिक्त वनडे सीरीज़ जीत दिलाई ०२ सितम्बर २०१४ को उन्होंने भारत को २४ साल बाद इंग्लैंड में वनडे सीरीज में जीत दिलाई। धोनी ने कई सम्मान भी प्राप्त किए हैं जैसे २००८ में आईसीसी वनडे प्लेयर ऑफ़ द इयर अवार्ड (प्रथम भारतीय खिलाड़ी जिन्हें ये सम्मान मिला), राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार और २००९ में भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान, पद्म श्री पुरस्कार साथ ही २००९ में विस्डन के सर्वप्रथम ड्रीम टेस्ट ग्यारह टीम में धोनी को कप्तान का दर्जा दिया गया। उनकी कप्तानी में भारत ने २८ साल बाद एक दिवसीय क्रिकेट विश्व कप में दुबारा जीत हासिल की। सन् २०१३ में इनकी कप्तानी में भारत पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी का विजेता बना। धोनी दुनिया के पहले ऐसे कप्तान बन गये जिनके पास आईसीसी के सभी कप है। इन्होंने २०१४ में टेस्ट क्रिकेट को कप्तानी के साथ अलविदा कह दिया था। इनके इस फैसले से क्रिकेट जगत स्तब्ध रह गया। धोनी लगातार दूसरी बार क्रिकेट विश्व कप में २०१५ क्रिकेट विश्व कप में भारत का नेतृत्व किया और पहली बार भारत ने सभी ग्रुप मैच जीते साथ ही इन्होंने लगातार ११ विश्व कप में मैच जीतकर नया रिकार्ड भी बनाया ये भारत के पहले ऐसे कप्तान बने जिन्होंने १०० वनडे मैच जिताए हो। और उन्होनें कहा है कि जल्द ही वो एक ऐसा कदम उठाएंगे जो किसी कप्तान ने अपने कैरियर में नहीं उठाया वो टीम को २ हिस्सों में बाटेंगे जो खिलाड़ी अच्छा नहीं खेलेगा उसे वो दूसरी टीम में डाल देंगे और जो खिलाड़ी अच्छा खेलेगा वो उसे अपनी टीम में रख लेंगे इसमें कुछ नये खिलाड़ी भी आ सकते हैं। धोनी ने ४ जनवरी २०१७ को भारतीय एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय और ट्वेन्टी-ट्वेन्टी टीम की कप्तानी छोड़ी। .

नई!!: लता मंगेशकर और महेंद्र सिंह धोनी · और देखें »

माचिस (1996 फ़िल्म)

माचिस गुलज़ार द्वारा निर्देशित 1996 की एक हिन्दी फ़िल्म है, जिसके निर्माता आर.वी पंडित हैं। ओम पुरी, तब्बू, चन्द्रचूड़ सिंह और जिमी शेरगिल फ़िल्म में मुख्य भूमिकाओं में हैं। यह फ़िल्म 1980 के दशक के मध्य पंजाब में सिख विद्रोह के समय में एक सामान्य व्यक्ति के आतंकवादी बन जाने के सफर पर केंद्रित है। फ़िल्म का शीर्षक "माचिस" एक अलंकार की तरह है, जो दर्शाता है कि कोई भी युवा माचिस की तरह होता है, जो राजनीतिज्ञों या नीति-निर्माताओं की खामियों की वजह से कभी भी जल सकता है। माचिस को समीक्षकों से सकारात्मक प्रतिक्रियाएं प्राप्त हुई, तथा बॉक्स आफिस पर भी यह सफल रही। 2.5 करोड़ रुपये के बजट पर बनी इस फ़िल्म ने कुल 6.38 करोड़ रुपये का व्यापार किया, और इसे बॉक्स आफिस इंडिया द्वारा "एवरेज" घोषित किया गया। गुलज़ार के निर्देशन तथा विशाल भारद्वाज के संगीत फ़िल्म के प्रमुख बिंदु थे। रिलीस के कई वर्षों बाद तक भी फ़िल्म के कई गीत, प्रमुखतः "चप्पा चप्पा चरखा चले" तथा "छोड़ आये हम वो गालियां" एफएम रेडियो या टीवी पर सुने जाते थे। विशाल भारद्वाज ने भी इस फ़िल्म के बाद निर्देशन के क्षेत्र में हाथ आजमाना प्रारम्भ किया और मक़बूल, ओमकारा तथा हैदर जैसी प्रसिद्ध फिल्मों का निर्देशन किया। .

नई!!: लता मंगेशकर और माचिस (1996 फ़िल्म) · और देखें »

मासूम (1983 फ़िल्म)

मासूम 1983 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। यह समीक्षकों द्वारा प्रशंसित फिल्म निर्माता शेखर कपूर के निर्देशन की शुरुआत थी। इस फिल्म में तनुजा, सुप्रिया पाठक और सईद जाफ़री के साथ प्रमुख भूमिकाओं में नसीरुद्दीन शाह और शबाना आज़मी है। इसमें जुगल हंसराज, अराधना और उर्मिला मातोंडकर बाल कलाकार हैं। पटकथा, संवाद और गीत गुलजार द्वारा लिखें गए जबकि संगीत आर॰ डी॰ बर्मन द्वारा दिया गया। .

नई!!: लता मंगेशकर और मासूम (1983 फ़िल्म) · और देखें »

माइतीघर (चलचित्र)

कोई विवरण नहीं।

नई!!: लता मंगेशकर और माइतीघर (चलचित्र) · और देखें »

मुझसे दोस्ती करोगे

मुझसे दोस्ती करोगे 2002 की कुणाल कोहली द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह ऋतिक रोशन, रानी मुखर्जी और करीना कपूर द्वारा चित्रित किये गए तीन दोस्तों के प्रेम त्रिकोण के बारे में है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मुझसे दोस्ती करोगे · और देखें »

मुझे जीने दो (1963 फ़िल्म)

मुझे जीने दो (अंग्रेजी: Mujhe Jeene Do) सन 1963 में बनी एक मशहूर हिन्दी फिल्म का नाम है जिसका निर्देशन मणि भट्टाचार्य ने किया था। अजन्ता आर्ट के बैनर तले बनी व डकैतों के वास्तविक जीवन पर आधारित बालीवुड की इस फिल्म में सुनील दत्त, वहीदा रहमान, निरूपा रॉय, राजेन्द्र नाथ एवं मुमताज़ ने अभिनय किया था। चम्बल घाटी के डाकू समस्याग्रस्त इलाके भिण्ड एवं मुरैना जिलों के खतरनाक बीहड़ों में मध्य प्रदेश पुलिस के सुरक्षा कवच में फिल्मायी गयी, तथा मोहन स्टूडियो मुम्बई में बनी इस फिल्म में वहीदा रहमान व सुनील दत्त के अभिनय की बेहतरीन प्रतिभा का प्रदर्शन हुआ था। जयदेव के संगीत निर्देशन ने इसे सर्वश्रेष्ठ फिल्म का दर्ज़ा दिलाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और मुझे जीने दो (1963 फ़िल्म) · और देखें »

मुग़ल-ए-आज़म

मुग़ल-ए-आज़म हिन्दी भाषा की एक फ़िल्म है जो 1960 में प्रदर्शित हुई। यह फ़िल्म हिन्दी सिनेमा इतिहास की सफलतम फ़िल्मों में से है। इसे के॰ आसिफ़ के शानदार निर्देशन, भव्य सेटों, बेहतरीन संगीत के लिये आज भी याद किया जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मुग़ल-ए-आज़म · और देखें »

मुक्ति (१९७७ फ़िल्म)

मुक्ति 1977 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मुक्ति (१९७७ फ़िल्म) · और देखें »

मैंने प्यार किया

मैंने प्यार किया 1989 की सूरज बड़जात्या द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की संगीतमय प्रेमकहानी फ़िल्म है। प्रमुख भूमिकाओं में सलमान खान और भाग्यश्री हैं। इसे राजश्री प्रोडक्शन्स द्वारा बनाया गया था। यह सूरज की निर्देशक के रूप में शुरुआत, सलमान की पहली प्रमुख भूमिका (पिछले वर्ष की बीवी हो तो ऐसी में सहायक भूमिका के बाद) और भाग्यश्री की फिल्म करियर की शुरुआत थी। यह 1989 वर्ष की शीर्ष कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्म थी और 1980 के दशक की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म थी। इस फिल्म का साउंडट्रैक एल्बम भी 1980 के दशक का सर्वश्रेष्ठ बिकने वाला बॉलीवुड संगीत एल्बम था। 35वें फिल्मफेयर पुरस्कार में, फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म सहित छह पुरस्कार जीते। .

नई!!: लता मंगेशकर और मैंने प्यार किया · और देखें »

मेरे जीवन साथी (1972 फ़िल्म)

मेरे जीवन साथी 1972 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मेरे जीवन साथी (1972 फ़िल्म) · और देखें »

मेरे अपने (1971 फ़िल्म)

मेरे अपने १९७१ में गुलज़ार द्वारा रचित व निर्देशित हिंदी फ़िल्म है। यह फ़िल्म बांगला फ़िल्म 'आपनजन' का हिंदी रूपांतर है जिसमें मुख्य भूमिका मीना कुमारी, विनोद खन्ना, शत्रुघन सिन्हा, देवेन वर्मा, पेंटल, असित सेन, असरानी, डैनी डेन्जोंगपा, कैस्टो मुखर्जी, ए के हंगल, दिनेश ठाकुर, महमूद और योगिता बाली ने निभायी है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मेरे अपने (1971 फ़िल्म) · और देखें »

मेरी जंग

मेरी जंग 1985 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। इस फ़िल्म का निर्देशन सुभाष घई ने किया है। एन एन सिप्पी इस फ़िल्म के निर्माता हैं। यह 11 अगस्त 1985 में सिनेमाघरों में प्रदर्शित हुई थी। इसमें अनिल कपूर मुख्य भूमिका में हैं। अन्य कलाकारों में मीनाक्षी शेषाद्रि, नूतन, अमरीश पुरी, जावेद जाफ़री (अपनी पहली फिल्म में), ए.के. हंगल, इफ़्तिखार, खुशबू और परीक्षत साहनी है। .

नई!!: लता मंगेशकर और मेरी जंग · और देखें »

मोनाली ठाकुर

मोनाली ठाकुर (का जन्म 3 नवम्बर 1985 को कोलकत्ता, भारत में हुआ) एक भारतीय पार्श्व गायिका हैं जो मुख्य रूप से बॉलीवुड फिल्मों में गाती हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और मोनाली ठाकुर · और देखें »

मोहब्बतें

मोहब्बतें 2000 की हिन्दी भाषा की संगीतमय नाटकीय प्रेमकहानी फ़िल्म है। यह दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे के बाद आदित्य चोपड़ा के निर्देशन वाली दूसरी फिल्म थी। फिल्म में छः नए कलाकारों के साथ शाहरुख खान और अमिताभ बच्चन महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। खान के प्रेमी के रूप में ऐश्वर्या राय याद में दिखाई देती है। फिल्म इसलिए भी उल्लेखनीय है कि अमिताभ और शाहरुख पहली बार एक साथ किसी फिल्म में दिखाई दिए। फिल्म आलोचनात्मक और व्यावसायिक दोनों तरह से अच्छी चली थी। यह 2000 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्म थी। उसके बाद राकेश रोशन की कहो ना प्यार है थी। इसने शाहरुख और अमिताभ के लिए क्रमशः फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार और फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार सहित कई पुरस्कार भी जीते। .

नई!!: लता मंगेशकर और मोहब्बतें · और देखें »

मोहम्मद रफ़ी

कोई विवरण नहीं।

नई!!: लता मंगेशकर और मोहम्मद रफ़ी · और देखें »

यादों की बारात (1973 फ़िल्म)

यादों की बारात 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और यादों की बारात (1973 फ़िल्म) · और देखें »

युवान शंकर राजा

युवान शंकर राजा (யுவன் சங்கர் ராஜா; जन्म 31 अगस्त 1979) एक भारतीय फ़िल्म स्वर-लिपि और साउंडट्रैक संगीतकार, गायक और अनियत गीतकार हैं। उन्होंने मुख्य रूप से कॉलीवुड की तमिल फ़िल्मों और साथ ही साथ, तेलुगु और कन्नड़ फिल्मों के लिए भी संगीत दिया है। 1997 के दौरान, 16 साल की उम्र में, उनके संगीत कॅरियर की शुरूआत हुई, जब उन्होंने फ़िल्म अरविंदन के लिए स्वर-लिपि तैयार की। बाद में उन्होंने अनेक दक्षिण भारतीय फ़िल्मों के लिए संगीत रचा, जिसमें धीना, मन्मदन, पारुथिवीरन, बिल्ला और आडवारी माटलकु अर्थालु वेरूले जैसी अत्यधिक सफल और साथ ही कादल कोंडेन, 7G रेनबो कॉलोनी, पुदुपेटई, चेन्नई 600028 और कट्रादु तमिल जैसी आलोचनात्मक रूप से प्रशंसित फ़िल्में शामिल हैं। छह वर्षों के भीतर ही, युवान शंकर राजा ने स्वयं को तमिल सिनेमा के अग्रणी संगीतकार के रूप में स्थापित कर लिया। 13 वर्ष की अवधि में युवान शंकर राजा ने 75 से भी अधिक फ़िल्मों के लिए संगीत दिया। सर्वतोमुखी प्रतिभावान संगीतकार माने गए युवान, अक्सर अलग, नवोन्मेषी और स्टाइलिश संगीत देने का प्रयास करते हैं और इन्होंने लोकसंगीत से लेकर हेवी मेटल जैसी व्यापक विभिन्न शैलियों के तत्वों का उपयोग किया है। वे विशेष रूप से अपनी रचनाओं में पश्चिमी संगीत के तत्वों के उपयोग के लिए विख्यात हैं और अक्सर उन्हें तमिल फ़िल्म और संगीत उद्योग में हिप हॉप और तमिलनाडु में "रीमिक्स युग" की शुरूआत करने का श्रेय दिया जाता है। युवा पीढ़ी के बीच बेहद लोकप्रिय होने के नाते, उन्हें प्रायः "तमिल फ़िल्म संगीत का युवा प्रतीक" कहा जाता है। इसके अतिरिक्त, युवान शंकर राजा फ़िल्मों में पार्श्व संगीत के लिए अलग पहचान रखते हैं, जिसके लिए उन्हें आलोचकों की भारी प्रशंसा हासिल हुई है। 2004 में उन्होंने 25 साल की उम्र में ही 7G रेनबो कॉलोनी के संगीत के लिए फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार जीता और सबसे कम उम्र के पुरस्कार विजेता बने। इसके अलावा, 2006 में दो फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार नामांकन, एक तमिलनाडु राज्य फ़िल्म पुरस्कार और 2006 में ही राम के लिए साइप्रस अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म समारोह पुरस्कार हासिल किया और इस पुरस्कार को जीतने वाले एकमात्र भारतीय संगीतकार बने। .

नई!!: लता मंगेशकर और युवान शंकर राजा · और देखें »

राम लखन (फ़िल्म)

राम लखन 1989 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। फिल्म सुभाष घई द्वारा निर्देशित है और अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ, माधुरी दीक्षित, डिंपल कपाड़िया, राखी और अनुपम खेर ने इसमें मुख्य चरित्र निभाएँ हैं। लक्ष्मीकांत प्यारेलाल द्वारा दिये गए संगीत में निर्मित गाने काफी लोकप्रिय हुए थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और राम लखन (फ़िल्म) · और देखें »

रामदास पाध्ये

250x250पिक्सेल रामदास पाध्ये एक बोलती कठपुतलीकार और कठपुतली निर्माता है। इन्होंने पिछले 40 वर्षों में, भारत में और विदेशों में,9000 से अधिक बोलती कठपुतली कार्यक्रमो का प्रदर्शन किया है।कठपुतली एवं बोलती कठपुतली कला पर,इनकी वेबसाइट पहली भारतीय वेबसाइट है। १९७२ के बाद से ये नियमित रूप से भारत की' राष्ट्रीय चैनल दूरदर्शन पर प्रस्तुति देते आ रहे है.

नई!!: लता मंगेशकर और रामदास पाध्ये · और देखें »

राहुल देव बर्मन

राहुल देव बर्मन (27 जून 1939 – 4 जनवरी 1994) हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध संगीतकार थे। इन्हें पंचम या 'पंचमदा' नाम से भी पुकारा जाता था। मशहूर संगीतकार सचिन देव बर्मन व उनकी पत्नी मीरा की ये इकलौती संतान थे। अपनी अद्वितीय सांगीतिक प्रतिभा के कारण इन्हें विश्व के सर्वश्रेष्ठ संगीतकारों में एक माना जाता है। माना जाता है कि इनकी शैली का आज भी कई संगीतकार अनुकरण करते हैं। पंचमदा ने अपनी संगीतबद्ध की हुई 18 फिल्मों में आवाज़ भी दी। भूत बंगला (1965) और प्यार का मौसम (1969) में इन्होने अभिनय भी किया। .

नई!!: लता मंगेशकर और राहुल देव बर्मन · और देखें »

लता मंगेशकर पुरस्कार

लता मंगेशकर पुरस्कार एक राष्ट्रीय स्तर का पुरस्कार है जो संगीत के क्षेत्र में काम करने के लिए दिया जाता है। भारत की कई राज्य सरकारें इस नाम के साथ पुरस्कार प्रदान करती हैं। मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने 1 9 84 http://mpinfo.org/MPinfoStatic/hindi/award/latamangeshkar.asp में यह पुरस्कार शुरू किया। इस पुरस्कार में योग्यता का प्रमाण पत्र और नकद पुरस्कार शामिल है। 1992 से शुरू होने वाले महाराष्ट्र सरकार द्वारा जारी एक लता मंगेशकर पुरस्कार भी है। यह आधिकारिक रूप से "जीवनकाल में उपलब्धि के लिए लता मंगेशकर पुरस्कार" के रूप में भी जाना जाता है। आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा एक और पुरस्कार दिया जाता है।। .

नई!!: लता मंगेशकर और लता मंगेशकर पुरस्कार · और देखें »

लम्हे

लम्हे 1991 में बनी हिन्दी भाषा की नाटकीय प्रेमकहानी फ़िल्म है। फिल्म की प्रमुख भूमिकाओं में अनिल कपूर और श्रीदेवी है जबकि वहीदा रहमान, अनुपम खेर और मनोहर सिंह सहायक भूमिका निभाते हैं। हालांकि फिल्म वित्तीय सफलता नहीं थी लेकिन इसे आलोचनात्मक प्रशंसा प्राप्त हुई थी। इसे एक राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार सहित पाँच फिल्मफेयर पुरस्कार प्राप्त हुए थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और लम्हे · और देखें »

लज्जा (2001 फ़िल्म)

लज्जा 2001 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और लज्जा (2001 फ़िल्म) · और देखें »

लगान (२००१ फ़िल्म)

लगान २००१ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। लगान (उर्फ़ लगान: वन्स अपॊन अ टाइम इन इन्डीया) हिन्दी चलचित्र ई.स.२००१ में भारत में प्र्स्तुत की गई थी। यह फ़िल्म आशुतोष गौरीकर की मूल कथा पर आधारित है, जिसका उन्होनेही दिग्दर्शन किया है। आमीर ख़ान इसके सहनिर्माता होने के अलावा मुख्य अभिनेता भी है। साथ मे ग्रेसी सींह, रचेल शॅली और पॉल ब्लॅकथॉर्न ने पात्र निभाये है। फ़िल्म रानी विक्टोरिया के ब्रिटानी राज की एक सूखा पीडित गांव के किसानो पर कठोर ब्रीटानी लगान की कहानी है। जब किसान लगान कम करने की मांग कर्ते हैं, तब ब्रिटानी अफ़्सर एक प्रस्ताव देतें है। अगर क्रिकॅट के खेल में उन्को गांववासीओं ने परजित किया तो लगान मांफ़। चूनौती स्वीकारने के बाद गांवनिवासीऒं पर क्या बीतती है, यही इस फ़िल्म का चरीत्र है। इस फ़िल्म की समालोचनात्म्क सरहाना के अलावा इस को कई देसी और विदेशी पुरस्कार भी मिले है। ऑस्कर के "सर्वोत्तम अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म" पुरस्कार के लिये नियुक्त की गई यह तिसरी हिन्दी फ़िल्म है। इससे पह्ले "मधर इन्डीया" और "सलाम बॉम्बे" नियुक्त किये जा चुके हैं। ई.स.२००१ की यह बहुत लोकप्रिय फ़िल्म रही। ई.स.२००७ तक इस की डीवीडी की बिक्री सबसे अव्वल थी। जीतू मीना फुलवाड़ा फुलवाड़ा9057673720 .

नई!!: लता मंगेशकर और लगान (२००१ फ़िल्म) · और देखें »

लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल

लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल एक लोकप्रिय भारतीय संगीतकार की जोड़ी है, लक्ष्मीकांत शांताराम कुदलकर (१९३७-१९९८) और प्यारेलाल रामप्रसाद शर्मा (जन्म १९४०) से मिलकर बनी थी। उन्होंने १९६३ से १९९८ तक ६३५ हिंदी फिल्मों के लिए संगीत रचना की और इस समय के लगभग सभी उल्लेखनीय फिल्म निर्माताओं के लिए काम किया जिसमे सम्मिलित थे राज कपूर, देव आनंद, बी.आर.

नई!!: लता मंगेशकर और लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल · और देखें »

शम्शुल हुदा बिहारी

शम्शुल हुदा बिहारी या एस एच बिहारी एक प्रसिद्ध गीतकार थे। इन्होंने हिन्दी तथा उर्दू में रचनाएं की। इनका जन्म बिहार के आरा में हुआ था। आरंभ में कलकत्ता में रहते थे जहाँ से 1947 में उन्होंने बम्बई का रूख किया। इन्हें बांग्ला भाषा में भी महारथ हासिल थी पर इनकी रचनाएं मुख्यतः हिन्दी और उर्दू में रहीं। संगीतकार ओ पी नैय्यर तथा गायक रफ़ी एवं गायिका आशा भोंसले के साथ इनकी जोड़ी बहुत प्रसिद्ध हुई। 1987 में उनका देहावसान हो गया। .

नई!!: लता मंगेशकर और शम्शुल हुदा बिहारी · और देखें »

शहीद (1965 फ़िल्म)

शहीद (1965 फ़िल्म) भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम पर हिन्दी भाषा की फिल्म है। भगत सिंह के जीवन पर 1965 में बनी यह देशभक्ति की सर्वश्रेष्ठ फिल्म है। जिसकी कहानी स्वयं भगत सिंह के साथी बटुकेश्वर दत्त ने लिखी थी। इस फ़िल्म में अमर शहीद राम प्रसाद 'बिस्मिल' के गीत थे। मनोज कुमार ने इस फिल्म में शहीद भगत सिंह का जीवन्त अभिनय किया था। भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम पर आधारित यह अब तक की सर्वश्रेष्ठ प्रामाणिक फ़िल्म है। 13वें राष्ट्रीय फ़िल्म अवार्ड की सूची में इस फ़िल्म ने हिन्दी की सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म के पुरस्कार के साथ-साथ राष्ट्रीय एकता पर बनी सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म के लिये नर्गिस दत्त पुरस्कार भी अपने नाम किया। बटुकेश्वर दत्त की कहानी पर आधारित सर्वश्रेष्ठ पटकथा लेखन के लिये दीनदयाल शर्मा को पुरस्कृत किया गया था। यह भी महज़ एक संयोग ही है कि जिस साल यह फ़िल्म रिलीज़ हुई थी उसी साल बटुकेश्वर दत्त का निधन भी हुआ। .

नई!!: लता मंगेशकर और शहीद (1965 फ़िल्म) · और देखें »

शागिर्द

शागिर्द शागिर्द (अंग्रेजी: disciple) 1967 में बनी समीर गांगुली निर्देशित हास्य हिन्दी फिल्म जिसके मुख्या कलाकार जॉय मुखर्जी और सायरा बानो है। .

नई!!: लता मंगेशकर और शागिर्द · और देखें »

शिकार (1968 फ़िल्म)

शिकार सन् 1968 में प्रदर्शित हिन्दी भाषा की रहस्यमयी रोमांचक फिल्म है। जिसमें धर्मेन्द्र, आशा पारेख, संजीव कुमार तथा जॉनी वॉकर मुख्य भूमिका में है। .

नई!!: लता मंगेशकर और शिकार (1968 फ़िल्म) · और देखें »

शक्ति (1982 फ़िल्म)

शक्ति वर्ष 1982 में रिलीज़ हुई एक प्रसिद्ध हिंदी फिल्म है, जिसका निर्देशन प्रख्यात फ़िल्मकार रमेश सिप्पी ने किया है। .

नई!!: लता मंगेशकर और शक्ति (1982 फ़िल्म) · और देखें »

श्रद्धा कपूर

श्रद्धा कपूर एक भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री हैं। यह मुख्य रूप से आशिकी 2 में अपने अभिनय और गानों के कारण जानी जाती हैं। इन्होंने अपने अभिनय की शुरुआत वर्ष 2010 में तीन पत्ती नामक फ़िल्म से की, जिसमें उनके किरदार का नाम अपर्णा खन्ना था। .

नई!!: लता मंगेशकर और श्रद्धा कपूर · और देखें »

श्री ४२० (1955 फ़िल्म)

श्री ४२० 1955 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और श्री ४२० (1955 फ़िल्म) · और देखें »

शोले (1975 फ़िल्म)

शोले १९७५ की एक भारतीय हिन्दी एक्शन फिल्म है। सलीम-जावेद द्वारा लिखी इस फिल्म का निर्माण गोपाल दास सिप्पी ने और निर्देशन का कार्य, उनके पुत्र रमेश सिप्पी ने किया है। इसकी कहानी जय (अमिताभ बच्चन) और वीरू (धर्मेन्द्र) नामक दो अपराधियों पर केन्द्रित है, जिन्हें डाकू गब्बर सिंह (अमजद ख़ान) से बदला लेने के लिए पूर्व पुलिस अधिकारी ठाकुर बलदेव सिंह (संजीव कुमार) अपने गाँव लाता है। जया भादुरी और हेमा मालिनी ने भी फ़िल्म में मुख्य भूमिकाऐं निभाई हैं। शोले को भारतीय सिनेमा की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक माना जाता है। ब्रिटिश फिल्म इंस्टिट्यूट के २००२ के "सर्वश्रेष्ठ १० भारतीय फिल्मों" के एक सर्वेक्षण में इसे प्रथम स्थान प्राप्त हुआ था। २००५ में पचासवें फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह में इसे पचास सालों की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार भी मिला। शोले का फिल्मांकन कर्नाटक राज्य के रामनगर क्षेत्र के चट्टानी इलाकों में ढाई साल की अवधि तक चला था। केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के निर्देशानुसार कई हिंसक दृश्यों को हटाने के बाद फ़िल्म को १९८ मिनट की लंबाई के साथ १५ अगस्त १९७५ को रिलीज़ किया गया था। हालांकि १९९० में मूल २०४ मिनट का मूल संस्करण भी होम मीडिया पर उपलब्ध हो गया था। रिलीज़ होने पर पहले तो शोले को समीक्षकों से नकारात्मक प्रतिक्रियाएं और कमजोर व्यावसायिक परिणाम मिले, लेकिन अनुकूल मौखिक प्रचार की सहायता से थोड़े दिन बाद यह बॉक्स ऑफिस पर बड़ी सफलता बनकर उभरी। फ़िल्म ने पूरे भारत में कई सिनेमाघरों में निरंतर प्रदर्शन के लिए रिकॉर्ड तोड़ दिए, और मुंबई के मिनर्वा थिएटर में तो यह पांच साल से अधिक समय तक प्रदर्शित हुई। कुछ स्त्रोतों के अनुसार मुद्रास्फीति के लिए समायोजित करने पर यह सर्वाधिक कमाई करने वाली भारतीय फिल्म है। शोले एक डकैती-वॅस्टर्न फिल्म है, जो वॅस्टर्न शैली के साथ भारतीय डकैती फिल्मों परम्पराओं का संयोजन करती है, और साथ ही मसाला फिल्मों का एक परिभाषित उदाहरण है, जिसमें कई फिल्म शैलियों का मिश्रण पाया जाता है। विद्वानों ने फिल्म के कई विषयों का उल्लेख किया है, जैसे कि हिंसा की महिमा, सामंती विचारों का परिवर्तन, सामाजिक व्यवस्था को बनाए रखने वालों और संगठित होकर लूट करने वालों के बीच बहस, समलैंगिक गैर रोमानी सामाजिक बंधन और राष्ट्रीय रूपरेखा के रूप में फिल्म की भूमिका। राहुल देव बर्मन द्वारा रचित फिल्म की संगीत एल्बम और अलग से जारी हुए संवादों की संयुक्त बिक्री ने कई नए बिक्री रिकॉर्ड सेट किए। फिल्म के संवाद और कुछ पात्र बेहद लोकप्रिय हो गए और भारतीयों के दैनिक रहन-सहन हिस्सा बन गए। जनवरी २०१४ में, शोले को ३डी प्रारूप में सिनेमाघरों में फिर से रिलीज़ किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और शोले (1975 फ़िल्म) · और देखें »

सत्यम शिवम सुन्दरम (1978 फ़िल्म)

'सत्यं शिवं सुन्दरम्' का पोस्टर सत्यम शिवम सुन्दरम (साहित्यिक अर्थ: सच्चा, कल्याणप्रद, मनोहर) 1978 में बनी हिन्दी फिल्म है, जिसमें शशि कपूर और जीनत अमान की प्रमुख भूमिका थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और सत्यम शिवम सुन्दरम (1978 फ़िल्म) · और देखें »

सरस्वतीचन्द्र

सरस्वतीचन्द्र १९६८ में बनी एक काली-सफ़ेद चलचित्र है। इसे गोविन्द सरैया ने निदेशित किया है और इसके मुख्य कलाकार हैं नूतन और मनीष। यह हिन्दी फ़िल्म की आख़िरी काली-सफ़ेद सिनेमा है। यह फ़िल्म गुजराती भाषा के इसी नाम के उपन्यास पर आधारित है जिसे गोवर्धनराम माधवराम त्रिपाठी ने लिखा था जो बीसवीं सदी के शुरुआती काल के प्रसिद्ध गुजराती लेखक थे। इस फ़िल्म को उत्कृष्ट छायांकन और उत्कृष्ट संगीत के लिए राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार मिले थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और सरस्वतीचन्द्र · और देखें »

सरगम (1950 फ़िल्म)

सरगम 1950 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और सरगम (1950 फ़िल्म) · और देखें »

साजन (1969 फ़िल्म)

साजन 1969 में प्रदर्शित हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसके निर्माता व निर्देशक मोहन सेगल है। इसमे मनोज कुमार और आशा पारेख मुख्य भुमिका मे है। यह शत्रुघन सिन्हा की पहली हिन्दी फिल्म थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और साजन (1969 फ़िल्म) · और देखें »

सिलसिला (1981 फ़िल्म)

सिलसिला 1981 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और सिलसिला (1981 फ़िल्म) · और देखें »

सवाल (1982 फ़िल्म)

सवाल (अंग्रेजी: Question) 1982 में यश चोपड़ा द्वारा निर्मित, रमेश तलवार द्वारा निर्देशित हिन्दी फ़िल्म है। खय्याम इसके संगीतकार एवं गीतकार मजरुह सुल्तानपुरी है। इसमें शशि कपूर, संजीव कुमार, वहीदा रहमान, रणधीर कपूर, प्रेम चोपड़ा, हेलन, मैक मोहन, मदन पुरी एवं मनमोहन कृष्णा जैसे प्रमुख कलाकारों ने पात्र निभाये हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और सवाल (1982 फ़िल्म) · और देखें »

संदीप नाथ

संदीप नाथ बॉलीवुड फ़िल्मों में कार्यरत एक भारतीय गीतकार और लेखक व कवि हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और संदीप नाथ · और देखें »

सुरक्षा (1979 फ़िल्म)

सुरक्षा 1979 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और सुरक्षा (1979 फ़िल्म) · और देखें »

सुरेश वाडकर

सुरेश वाडेकर(जन्म ७ अगस्त १९५५) एक भारतीय पार्श्वगायक हैं। वे मुख्यतः हिन्दी और मराठी फिल्मों में गाते हैं। इसके अलावा, उन्होंने, कई भोजपुरी, कोंकणी और ओड़िया गाने भी गाए हैं। उनका जन्म वर्ष १९५५ में कोल्हापुर में हुआ था। फिल्मों में गाने के अलावा वे शास्त्रीय संगीत में भी रुचि रखते हैं। वर्ष २०११ में उन्हें श्रेष्ठ पार्श्वगायक की श्रेणी में राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार से नवाज़ा गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और सुरेश वाडकर · और देखें »

स्वर्ग नर्क (१९७८ फ़िल्म)

स्वर्ग नरक (अंग्रेजी: Heaven and Hell) 1978 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और स्वर्ग नर्क (१९७८ फ़िल्म) · और देखें »

सौदागर (१९७३ फ़िल्म)

सौदागर १९७३ में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। हालांकि इस फ़िल्म को बॉक्स ऑफ़िस में उतनी सफलता नहीं मिली लेकिन इसे अकादमी पुरस्कार के लिए भेजा गया था लेकिन यह फ़िल्म नामांकित न हो सकी। .

नई!!: लता मंगेशकर और सौदागर (१९७३ फ़िल्म) · और देखें »

हँसते ज़ख़्म (१९७३ फ़िल्म)

हँसते ज़ख़्म १९७३ में बनी हिन्दी फ़िल्म है जिसके निर्माता और निर्देशक चेतन आनन्द हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और हँसते ज़ख़्म (१९७३ फ़िल्म) · और देखें »

हम पाँच (१९८० फ़िल्म)

हम पाँच 1980 में बनी हिन्दी फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और हम पाँच (१९८० फ़िल्म) · और देखें »

हम आपके हैं कौन

हम आपके हैं कौन एक भारतीय हिन्दी फिल्म है, जिसका निर्माण सूरज बड़जात्या ने 1994 में किया था। इस फिल्म में सलमान खान और माधुरी दीक्षित मुख्य किरदार में हैं। इस फिल्म को 5 अगस्त 1994 में सिनेमाघरों में प्रदर्शित किया गया था। इसके बाद यह उस समय की बहुत बड़ी हिट फिल्म साबित हुई थी। 5 अगस्त 2014 को इसने अपने 20 साल पूरे कर लिए हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और हम आपके हैं कौन · और देखें »

हाफ़ टिकट

हाफ टिकट १९६२ में बनी हिन्दी भाषा की एक हास्य फ़िल्म है। इस फ़िल्म के निर्माता व निर्देशक कालीदास हैं और मुख्य कलाकार किशोर कुमार, मधुबाला और प्राण हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और हाफ़ टिकट · और देखें »

हिन्दी सिनेमा

हिन्दी सिनेमा, जिसे बॉलीवुड के नाम से भी जाना जाता है, हिन्दी भाषा में फ़िल्म बनाने का उद्योग है। बॉलीवुड नाम अंग्रेज़ी सिनेमा उद्योग हॉलिवुड के तर्ज़ पर रखा गया है। हिन्दी फ़िल्म उद्योग मुख्यतः मुम्बई शहर में बसा है। ये फ़िल्में हिन्दुस्तान, पाकिस्तान और दुनिया के कई देशों के लोगों के दिलों की धड़कन हैं। हर फ़िल्म में कई संगीतमय गाने होते हैं। इन फ़िल्मों में हिन्दी की "हिन्दुस्तानी" शैली का चलन है। हिन्दी और उर्दू (खड़ीबोली) के साथ साथ अवधी, बम्बईया हिन्दी, भोजपुरी, राजस्थानी जैसी बोलियाँ भी संवाद और गानों में उपयुक्त होते हैं। प्यार, देशभक्ति, परिवार, अपराध, भय, इत्यादि मुख्य विषय होते हैं। ज़्यादातर गाने उर्दू शायरी पर आधारित होते हैं।भारत में सबसे बड़ी फिल्म निर्माताओं में से एक, शुद्ध बॉक्स ऑफिस राजस्व का 43% का प्रतिनिधित्व करता है, जबकि तमिल और तेलुगू सिनेमा 36% का प्रतिनिधित्व करते हैं,क्षेत्रीय सिनेमा के बाकी 2014 के रूप में 21% का गठन है। बॉलीवुड भी दुनिया में फिल्म निर्माण के सबसे बड़े केंद्रों में से एक है। बॉलीवुड कार्यरत लोगों की संख्या और निर्मित फिल्मों की संख्या के मामले में दुनिया में सबसे बड़ी फिल्म उद्योगों में से एक है।Matusitz, जे, और पायानो, पी के अनुसार, वर्ष 2011 में 3.5 अरब से अधिक टिकट ग्लोब जो तुलना में हॉलीवुड 900,000 से अधिक टिकट है भर में बेच दिया गया था। बॉलीवुड 1969 में भारतीय सिनेमा में निर्मित फिल्मों की कुल के बाहर 2014 में 252 फिल्मों का निर्माण। .

नई!!: लता मंगेशकर और हिन्दी सिनेमा · और देखें »

हिमालय की गोद में (1965 फ़िल्म)

हिमालय की गोद में १९६५ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसके निर्देशक विजय भट्ट हैं और निर्माता शंकरभाई भट्ट। फ़िल्म में मुख्य भूमिका मनोज कुमार, माला सिन्हा और शशि कला ने निभाई है। इस फ़िल्म को १९६५ में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार से नवाज़ा गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और हिमालय की गोद में (1965 फ़िल्म) · और देखें »

हिम्मतवाला (1983 फ़िल्म)

हिम्मतवाला १९८३ में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और हिम्मतवाला (1983 फ़िल्म) · और देखें »

हिसाब खून का

हिसाब खून का 1989 में बनी सुरेन्द्र मोहन द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसमें मिथुन चक्रवर्ती, राज बब्बर, मंदाकिनी, पूनम ढिल्लों, सतीश शाह, सईद जाफ़री और अमरीश पुरी हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और हिसाब खून का · और देखें »

हृदयनाथ मंगेशकर

हृदयनाथ मंगेशकर भारतीय संगीतकार हैं जो लता मंगेशकर, आशा भोंसले और उषा मंगेशकर का भाई है। इसको संगीत और फ़िल्म जगत में बालासाहब के नाम से जाना जाता है। .

नई!!: लता मंगेशकर और हृदयनाथ मंगेशकर · और देखें »

हीर रांझा (१९७० फ़िल्म)

हीर रांझा चेतन आनन्द द्वारा निर्देशित १९७० में बनी हिन्दी फ़िल्म है। इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार राज कुमार और प्रिया राजवंश हैं। इस फ़िल्म की विशेषता यह है कि इसके संवाद पद्य में हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और हीर रांझा (१९७० फ़िल्म) · और देखें »

हीरा पन्ना (1973 फ़िल्म)

हीरा पन्ना 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और हीरा पन्ना (1973 फ़िल्म) · और देखें »

जब प्यार किसी से होता है (1961 फ़िल्म)

जब प्यार किसी से होता है १९६१ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जब प्यार किसी से होता है (1961 फ़िल्म) · और देखें »

जब प्यार किसी से होता है (1998 फ़िल्म)

जब प्यार किसी से होता है 1998 में बनी हिन्दी भाषा की प्रेमकहानी फ़िल्म है। फ़िल्म दीपक सरीन द्वारा निर्देशित और हनी ईरानी द्वारा लिखी गई है। फिल्म में सलमान खान को लड़कीबाज़ के रूप में दिखाया गया है और ट्विंकल खन्ना उसके पहले असली प्यार के रूप में चित्रित किया गया है। आदित्य नारायण सलमान के पहले अज्ञात बेटे का किरदार निभाते हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और जब प्यार किसी से होता है (1998 फ़िल्म) · और देखें »

जब जब फूल खिले

जब जब फ़ूल खिले १९६५ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जब जब फूल खिले · और देखें »

ज़िन्दगी (1976 फ़िल्म)

ज़िन्दगी (अंग्रेज़ी: Life) 1976 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और ज़िन्दगी (1976 फ़िल्म) · और देखें »

ज़ंजीर (1973 फ़िल्म)

ज़ंजीर 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और ज़ंजीर (1973 फ़िल्म) · और देखें »

ज़ुबैदा (2001 फ़िल्म)

ज़ुबैदा 2001 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसे श्याम बेनेगल द्वारा निर्देशित किया गया है और खालिद मोहम्मद द्वारा इसकी कहानी लिखी गई है। इसमें करिश्मा कपूर, रेखा, मनोज वाजपेयी, सुरेखा सीकरी, रजत कपूर, लिलेट दुबे, अमरीश पुरी, फरीदा ज़लाल और शक्ति कपूर हैं। प्रसिद्ध संगीतकार ए आर रहमान ने फिल्म के लिए पृष्ठभूमि संगीत और साउंडट्रैक बनाया है। ज़ुबैदा त्रयी में समापन अध्याय है जो मम्मो (1994) से शुरू हुआ और सरदारी बेगम (1996) के साथ जारी रहा। यह फिल्म नाकामयाब अभिनेत्री जुबेदा बेगम के जीवन पर आधारित है, जिन्होंने जोधपुर रियासत के हनवंत सिंह से विवाह किया और फिल्म के लेखक की मां थीं। इस फिल्म ने हिंदी में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता और सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (आलोचकों) के लिए करिश्मा कपूर को फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। .

नई!!: लता मंगेशकर और ज़ुबैदा (2001 फ़िल्म) · और देखें »

जिस देश में गंगा बहती है

जिस देश में गंगा बहती है हिन्दी भाषा की एक फ़िल्म है जो १९६० में प्रदर्शित हुई थी। इस फ़िल्म के निर्देशक थे राधू कर्माकर और निर्माता राज कपूर थे। इस फ़िल्म को १९६० के फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म के अलावा तीन अन्य श्रेणियों में पुरस्कृत किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और जिस देश में गंगा बहती है · और देखें »

जगजीत सिंह

जगजीत सिंह (८ फ़रवरी १९४१ - १० अक्टूबर २०११) का नाम बेहद लोकप्रिय ग़ज़ल गायकों में शुमार हैं। उनका संगीत अंत्यंत मधुर है और उनकी आवाज़ संगीत के साथ खूबसूरती से घुल-मिल जाती है। खालिस उर्दू जानने वालों की मिल्कियत समझी जाने वाली, नवाबों-रक्कासाओं की दुनिया में झनकती और शायरों की महफ़िलों में वाह-वाह की दाद पर इतराती ग़ज़लों को आम आदमी तक पहुंचाने का श्रेय अगर किसी को पहले पहल दिया जाना हो तो जगजीत सिंह का ही नाम ज़ुबां पर आता है। उनकी ग़ज़लों ने न सिर्फ़ उर्दू के कम जानकारों के बीच शेरो-शायरी की समझ में इज़ाफ़ा किया बल्कि ग़ालिब, मीर, मजाज़, जोश और फ़िराक़ जैसे शायरों से भी उनका परिचय कराया। जगजीत सिंह को सन २००३ में भारत सरकार द्वारा कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। फरवरी २०१४ में आपके सम्मान व स्मृति में दो डाक टिकट भी जारी किए गए। .

नई!!: लता मंगेशकर और जगजीत सिंह · और देखें »

जुदाई (1980 फ़िल्म)

जुदाई 1980 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जुदाई (1980 फ़िल्म) · और देखें »

जुर्माना (1979 फ़िल्म)

जुर्माना 1979 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जुर्माना (1979 फ़िल्म) · और देखें »

जॉनी मेरा नाम (1970 फ़िल्म)

जॉनी मेरा नाम 1970 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। विजय आनन्द द्वारा निर्देशित इस फ़िल्म में देवानन्द और प्राण ने दो भाइयों का किरदार निभाया है जो बचपन में बिछड़ जाते हैं। हेमा मालिनी, आई एस जौहर, इफ़्तेख़ार और प्रेमनाथ ने भी इस फ़िल्म में अहम भूमिका निभाई है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जॉनी मेरा नाम (1970 फ़िल्म) · और देखें »

जोशीला (1973 फ़िल्म)

जोशीला 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जोशीला (1973 फ़िल्म) · और देखें »

जीत (1972 फ़िल्म)

जीत 1972 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। मुख्य भूमिकाओं में रणधीर कपूर और बबीता हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और जीत (1972 फ़िल्म) · और देखें »

जीवन मृत्यु (1970 फ़िल्म)

जीवन मृत्यु सन् 1970 में प्रदर्शित जुर्म पर आधारित एक रोमांचक हिन्दी फ़िल्म है। जिसमें धर्मेन्द्र, राखी, अजीत तथा राजेन्द्रनाथ मुख्य भुमिका मे है। फ़िल्म का निर्माण राजश्री प्रोडक्शन्स तथा निर्देशन सत्येन बोस ने किया है। यह राखी की पहली हिन्दी फ़िल्म थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और जीवन मृत्यु (1970 फ़िल्म) · और देखें »

जीवन ज्योति (1976 फिल्म)

जीवन ज्योति 1976 में मुरुगन कुमारन द्वारा निर्मित हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह पारिवारिक कथा प्रमुख तेलुगु फिल्म मुत्याल मुग्गू का हिंदी रूपांतर है। .

नई!!: लता मंगेशकर और जीवन ज्योति (1976 फिल्म) · और देखें »

ईमान धर्म (१९७७ फ़िल्म)

ईमान धर्म 1977 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और ईमान धर्म (१९७७ फ़िल्म) · और देखें »

घायल (फ़िल्म)

घायल वर्ष 1990 की निर्देशक राजकुमार संतोषी एवं निर्माता धर्मेन्द्र की एक्शन-ड्रामा आधारित फिल्म है। फिल्म में सनी देओल, मीनाक्षी शेषाद्री, अमरीश पुरी तथा राज बब्बर ने मुख्य भूमिकाएं निभाई है। फिल्म घायल को सात फिल्मफेयर पुरस्कार से नवाजा गया जिनमें यह सर्वश्रेष्ठ फिल्म से विजयी रही। फिल्म घायल के समकक्ष में आमिर खान की फिल्म दिल भी प्रतिस्पर्धा में रही, लेकिन बाॅक्स-ऑफिस में अपने श्रेष्ठ प्रदर्शन से 'सुपरहिट' दर्ज साबित हुई तथा वर्ष 1990 के बाॅलिवुड सिनेमा की सबसे ज्यादा वित्तीय लाभ देने में द्वितीय स्थान पर रही। फिल्म घायल को दक्षिण-भारतीय भाषा में भी पुनर्निर्माण किया गया जिनमें क्रमशः 1992 को भानुप्रिया के साथ भरथन नाम से तमिल संस्करण, फिर 1998 में श्रीकांथ अभिनीत 'गमयम' नाम से तेलुगु संस्करण और शिवराजकुमार एवं सुचित्रा कृष्णमूर्ति अभिनीत 'विश्वा' नाम से कन्नड़ संस्करण सम्मिलित रही। अभिनेता सनी देओल को विशेष ज्युरी अवार्ड के तौर पर राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की ओर से सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का खिताब नवाजा गया। .

नई!!: लता मंगेशकर और घायल (फ़िल्म) · और देखें »

वसंत प्रभू

वसंत प्रभू (१९२२ - १९६८) मराठी फ़िल्म के संगीतकार थे। लता मंगेशकरने गाए हुए उनके कई गीत प्रसिद्ध है। गीतकार पी सावळाराम के साथ उन्होंने विभिन्न फिल्मों में भागीदारी की। प्रभूने संगीत दिए हुए कुछ प्रसिद्ध गीत है; "मानसीचा चित्रकार तो", "चाफा बोलेना", "आली हासत पहिली रात", "गंगा जमुना डोळ्यांत उभ्या" और "कळा ज्या लागल्या जिवा"। प्रभु एक नृत्य संयोजक भी थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और वसंत प्रभू · और देखें »

विदाई (1974 फ़िल्म)

विदाई 1974 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और विदाई (1974 फ़िल्म) · और देखें »

विदुप अग्रहरि

विदुप अग्रहरि (जन्म: १९६९) एक भारतीय गायक, उद्यमी और भारतीय जनता पार्टी के राजनेता हैं। वें श्याम ग्रुप ऑफ़ कम्पनीज के डायरेक्टर हैं। वें उद्योगपति व लोकसभा सदस्य श्यामा चरण गुप्ता और जमुनोत्री गुप्ता के पुत्र हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और विदुप अग्रहरि · और देखें »

वीर-ज़ारा

वीर-ज़ारा २००४ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और वीर-ज़ारा · और देखें »

ख़ुदागवाह

ख़ुदागवाह 1992 में बनी हिन्दी भाषा की नाटकीय महाकाव्य फिल्म है। फिल्म की प्रमुख भूमिकाओं में श्रीदेवी और अमिताभ बच्चन है। अक्किनेनी नागार्जुन, शिल्पा शिरोडकर, और डैनी डेन्जोंगपा सहायक भूमिकाओं में हैं। संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल द्वारा रचित किया गया था। यह श्रीदेवी और बच्चन की एक साथ तीसरी फिल्म है। फिल्म में; अफगानिस्तान का बादशाह खान बेनजीर के पिता के हत्यारे को खोजने के लिए भारत यात्रा करता है ताकि वह उसे प्रभावित कर सके। वह सफल होता है लेकिन जल्द ही खुद को एक हत्या का दोषी पाता है और भारतीय जेल में फंस जाता है। ख़ुदागवाह को 8 मई, 1992 को सिनेमा घरों में रिलीज़ किया गया था। रिलीज होने पर इसको इसके निर्देशन, पटकथा, प्रदर्शन, संगीत और उत्पादन की ओर आलोचनात्मक प्रशंसा मिली। यह फिल्म दुनिया भर में ₹17.9 करोड़ की कमाई करने वाली प्रमुख व्यावसायिक सफलता बन गई। इस प्रकार ये 1992 की दूसरी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म बन गई। .

नई!!: लता मंगेशकर और ख़ुदागवाह · और देखें »

खानदान (1979 फ़िल्म)

खानदान (अंग्रेज़ी: blood) 1979 में अनिल गाँगुली द्वारा निर्देशित, सिब्ते हसन रिज़वी द्वारा निर्मित हिन्दी फिल्म है। इस पारिवारिक कथा आधारित फ़िल्म के प्रमुख कलाकार जितेन्द्र, सुलक्षणा पंडित व बिन्दिया गोस्वामी, संगीतकार खय्याम और गीतकार नख्श लयालपुरी है। .

नई!!: लता मंगेशकर और खानदान (1979 फ़िल्म) · और देखें »

खिलौना (1970 फ़िल्म)

खिलौना १९७० में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इस फ़िल्म के निर्देशक हैं चंदर वोहरा। इस फ़िल्म को फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों में छः श्रेणियों में नामांकित किया गया था और इसने दो श्रेणियों में पुरस्कार जीते। .

नई!!: लता मंगेशकर और खिलौना (1970 फ़िल्म) · और देखें »

खेल (1992 फ़िल्म)

खेल 1992 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह हास्य प्रेमकहानी फ़िल्म का निर्देशन राकेश रोशन ने किया है और कहानी के लेखक जावेद अख्तर है। अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित, सोनू वालिया, अनुपम खेर और माला सिन्हा मुख्य भुमिकाओं में हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और खेल (1992 फ़िल्म) · और देखें »

गाइड (1965 फ़िल्म)

गाइड 1965 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह भारत के प्रसिद्ध अंग्रेज़ी लेखक आर के नारायण के द गाइड नाम के उपन्यास पर आधारित है। .

नई!!: लता मंगेशकर और गाइड (1965 फ़िल्म) · और देखें »

गुड्डू

गुड्डू (अंग्रेजी: Guddu) 1995 बॉलीवुड की एक रोमांस फिल्म है, जो अबरार अल्वी द्वारा लिखी गई है और प्रेम लालवानी द्वारा निर्देशित है। फिल्म में शाहरुख खान, मनीषा कोइराला, दीप्ति नवल, मुकेश खन्ना और महमूद कलाकार हैं। इसका संगीत नौशाद द्वारा रचा गया था। जब फिल्म जारी की गई थी, शाहरुख 29 साल के और मनीषा 25 साल की थीं। .

नई!!: लता मंगेशकर और गुड्डू · और देखें »

ऑपेरा हाउस (१९६१ फ़िल्म)

ऑपेरा हाउस सन् १९६१ में बनी एक हिन्दी मर्डर मिस्ट्री (कत्ल का रहस्य) फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और ऑपेरा हाउस (१९६१ फ़िल्म) · और देखें »

आँधी (1975 फ़िल्म)

आँधी (अंग्रेजी: storm) 1975 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आँधी (1975 फ़िल्म) · और देखें »

आँसू बने अंगारे

आँसू बने अंगारे 1993 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसका निर्देशन मेहुल कुमार ने किया है और जितेन्द्र, माधुरी दीक्षित और दीपक तिजोरी मुख्य कलाकार हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और आँसू बने अंगारे · और देखें »

आदमी और इंसान

आदमी और इंसान सन् 1969 में प्रदर्शित व यश चोपड़ा द्वारा निर्देशित हिन्दी फ़िल्म है जिसमें धर्मेन्द्र, सायरा बानो, फ़िरोज़ ख़ान, मुमताज़ तथा मदन पुरी आदि मुख्य भूमिका में है। ये इकलौती फ़िल्म है जिसमें धर्मेन्द्र व यश चोपड़ा ने साथ काम किया है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आदमी और इंसान · और देखें »

आधी रात के बाद

आधी रात के बाद एक भारतीय हिन्दी फिल्म है, जिसका निर्देशन नानाभाई बट्ट ने किया था। इसमें अशोक कुमार, रागिनी, शैलेश कुमार, मुराद, आग़ा, सज्जन, उल्हास, जानकीदास, राजन हसकर और कुमार ने भूमिका निभाई थी। इस फिल्म के संगीत निर्देशक चित्रगुप्त थे। यह फिल्म 1965 में सिनेमाघरों में प्रदर्शित हुई। .

नई!!: लता मंगेशकर और आधी रात के बाद · और देखें »

आन मिलो सजना (1970 फ़िल्म)

आन मिलो सजना 1970 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आन मिलो सजना (1970 फ़िल्म) · और देखें »

आनन्द (फ़िल्म)

आनन्द १९७१ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इस फ़िल्म के निर्माता, निर्देशक, लेखक एवं संपादक ऋषिकेश मुखर्जी हैं। इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार राजेश खन्ना एवं अमिताभ बच्चन हैं। इस फ़िल्म को राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म के अलावा फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों में छः श्रेणियों में पुरस्कृत किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और आनन्द (फ़िल्म) · और देखें »

आप के साथ (1986 फ़िल्म)

आप के साथ 1986 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आप के साथ (1986 फ़िल्म) · और देखें »

आप की कसम (1974 फ़िल्म)

आप की कसम 1974 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आप की कसम (1974 फ़िल्म) · और देखें »

आये दिन बहार के (1966 फ़िल्म)

आये दिन बहार के सन् 1966 में प्रदर्शित व निर्माता जे ओम प्रकाश द्वारा निर्मित हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। जिसमें धर्मेन्द्र, आशा पारेख, बलराज साहनी और राजेन्द्रनाथ मुख्य भूमिका में है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आये दिन बहार के (1966 फ़िल्म) · और देखें »

आराधना (1969 फ़िल्म)

आराधना १९६९ में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है जिसके निर्माता एवं निर्देशक शक्ति सामंत थे। इस फ़िल्म को १९६९ में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार के साथ दो अन्य फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों से नवाज़ा गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और आराधना (1969 फ़िल्म) · और देखें »

आरज़ू (1965 फ़िल्म)

आरज़ू १९६५ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। जो कश्मीर में बनाई गई है। जिसमें राजेंद्र कुमार, साधना एवं फ़िरोज़ ख़ान मुख्य भूमिका मे है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आरज़ू (1965 फ़िल्म) · और देखें »

आलाप (1977 फ़िल्म)

आलाप 1977 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आलाप (1977 फ़िल्म) · और देखें »

आशा भोंसले

आशा भोंसले (जन्म: 8 सितम्बर 1933) हिन्दी फ़िल्मों की मशहूर पार्श्वगायिका हैं। लता मंगेशकर की छोटी बहन और दीनानाथ मंगेशकर की पुत्री आशा ने फिल्मी और गैर फिल्मी लगभग 16 हजार गाने गाये हैं और इनकी आवाज़ के प्रशंसक पूरी दुनिया में फैले हुए हैं। हिंदी के अलावा उन्होंने मराठी, बंगाली, गुजराती, पंजाबी, भोजपुरी, तमिल, मलयालम, अंग्रेजी और रूसी भाषा के भी अनेक गीत गाए हैं। आशा भोंसले ने अपना पहला गीत वर्ष 1948 में सावन आया फिल्म चुनरिया में गाया। आशा की विशेषता है कि इन्होंने शास्त्रीय संगीत, गजल और पॉप संगीत हर क्षेत्र में अपनी आवाज़ का जादू बिखेरा है और एक समान सफलता पाई है। उन्होने आर॰ डी॰ बर्मन से शादी की थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और आशा भोंसले · और देखें »

आख़िरी खत

आख़िरी ख़त १९६६ में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आख़िरी खत · और देखें »

आइना (1977 फ़िल्म)

आइना (अंग्रेजी: Mirror) 1977 में के बालाचंदर द्वारा निर्मित हिंदी फिल्म जिसकी मुमताज़ प्रमुख अभिनेत्री थी। यह के बालाचंदर द्वारा निर्मित कमल हासन, प्रमीला व शिवकुमार अभिनित तमिल फ़िल्म अरंगेट्रम (1973) का हिंदी रूपांतर, जिसमे एक ब्राह्मण लड़की को अपने परिवार के लिए वेश्यावृत्ती अपनानी पड़ती है। वर्ष 2007 में इसे फ़िल्म लागा चुनरी में दाग रूप में पुनर्निर्मित किया गया जिसमे प्रमुख अभिनेत्री रानी मुखर्जी ने मुमताज़ का पात्र निभाया और अन्त सुखद है। .

नई!!: लता मंगेशकर और आइना (1977 फ़िल्म) · और देखें »

इश्मीत सिंह

इश्मित सिंह भारत के सबसे प्रतिभाशाली नवोदित गायकों में से एक थे। स्टार प्लस के रियलिटी शो वॉयस ऑफ इंडिया के वर्ष 2007 के विजेता गायक लुधियाना के इश्मित सिंह 24 नवंबर 2007 को लखनऊ के हर्षित सक्सेना को हराकर हिंदुस्तान की आवाज बने थे। वे इस प्रतियोगिता में विजयी होने के बाद महज 18 साल की उम्र में अपनी दिलकश आवाज के जरिए लाखों दिलों की धड़कन बन गए थे। स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने इश्मित को स्वयं अपने हाथों से विजेता का खिताब सौंपा था। बुधवार ३० जुलाई २००८ को तरण ताल में डूब जाने के कारण मालदीव में उनका आकस्मिक निधन हो गया। इश्मित के निधन पर लता मंगेशकर, आशा भोसले, अभिजीत भट्टाचार्य और अलका यागनिक समेत संगीत जगत की कई जानी-मानी हस्तियों ने गहरा दुख व्यक्त किया है। श्रेणी:गायक.

नई!!: लता मंगेशकर और इश्मीत सिंह · और देखें »

कच्चे धागे (1999 फ़िल्म)

कच्चे धागे वर्ष 1999 की हिन्दी भाषा की एक्शन-थ्रिलर प्रधान फिल्म हैं, जिसे मिलन लुथरिया ने निर्देशन किया है और अभिनय-भूमिका में अजय देवगन, सैफ अली खान और मनीषा कोईराला शामिल है। फिल्म की कहानी अनुसार, अजय एक तस्कर की भूमिका में हैं, जो राजस्थान-पाकिस्तान की सीमा पर सामानों को लाता-जाता है। फिल्म की शुटिंग राजस्थान के मरुस्थल क्षेत्रों और स्विट्जरलैंड में हुई हैं। फिल्म की प्रदर्शनी 10 परवरी 1999 मुंबई में हुई। हाँलाकि इसी नाम की फिल्म, 'कच्चे धागे' (Kuchhe Dhaage') (शब्दों में निम्नरूप से भिन्नता है) सत्तर के दशक 1973 में भी रिलिज हुई थी, राज खोसला फिल्म निर्देशक थे और अभिनय में विनोद खन्ना, मौसमी चटर्जी और कबीर बेदी शामिल थे। फिर भी फिल्म में जैकी चैन की अभिनीत 1987 की फिल्म 'आर्माॅर ऑफ गाॅड' से निम्न समानताएं मानी गई। .

नई!!: लता मंगेशकर और कच्चे धागे (1999 फ़िल्म) · और देखें »

कभी खुशी कभी ग़म

कभी खुशी कभी ग़म... 2001 की हिन्दी भाषा की पारिवारिक नाटक फिल्म है। यह करण जौहर द्वारा लिखित और निर्देशित है और इसका निर्माण यश जौहर ने किया। फिल्म में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, शाहरुख खान, काजोल, ऋतिक रोशन और करीना कपूर प्रमुख भूमिका निभाते हैं जबकि रानी मुखर्जी विस्तारित विशेष उपस्थिति में दिखीं हैं। यह घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक प्रमुख व्यावसायिक सफलता के रूप में उभरी। भारत के बाहर, यह फिल्म सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म थी, जब तक कि करण की अगली फिल्म कभी अलविदा ना कहना (2006) द्वारा यह रिकॉर्ड तोड़ा नहीं गया था। इसने अगले वर्ष लोकप्रिय पुरस्कार समारोहों में कई पुरस्कार जीते, जिसमें पांच फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार भी शामिल थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और कभी खुशी कभी ग़म · और देखें »

करन अर्जुन

करन अर्जुन 1995 में बनी हिन्दी भाषा की नाटकीय एक्शन फ़िल्म है। इसमें सलमान खान, शाहरुख खान, राखी गुलज़ार, ममता कुलकर्णी, काजोल, अमरीश पुरी, आशिफ शेख और रंजीत मुख्य अभिनेता हैं। दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे के बाद यह 1995 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और करन अर्जुन · और देखें »

कर्तव्य (1979 फ़िल्म)

कर्तव्य 1979 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और कर्तव्य (1979 फ़िल्म) · और देखें »

कर्ज़ (१९८० फ़िल्म)

कर्ज़ 1980 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और कर्ज़ (१९८० फ़िल्म) · और देखें »

कलाबाज़ (1977 फ़िल्म)

कलाबाज़ 1977 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और कलाबाज़ (1977 फ़िल्म) · और देखें »

काला पत्थर (१९७९ फ़िल्म)

काला पत्थर 1979 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इस फिल्म की कहानी धनबाद में 1975 के चासनाला के खान दुर्घटना से प्रेरित थी। इस दुर्घटना मे सरकारी आँकडो़ के अनुसार 375 लोग मारे गये थे। .

नई!!: लता मंगेशकर और काला पत्थर (१९७९ फ़िल्म) · और देखें »

काली घटा (1980 फ़िल्म)

काली घटा (अंग्रेजी: Black cloud) 1980 में वेद राही लिखित, निर्मित एवं निर्देशित हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। इस रूमानी एवं रोमांचक फ़िल्म के प्रमुख कलाकार शशि कपूर एवं रेखा तथा सहायक कलाकार नासिर हुसैन, ए के हंगल, डैनी डेंज़ोंग्पा, जगदीप, अरुणा ईरानी एवं ललिता पवार है| इसमें संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने दिया तथा गीतकार आनंद बख्शी है| .

नई!!: लता मंगेशकर और काली घटा (1980 फ़िल्म) · और देखें »

किशन कन्हैया

किशन कन्हैया 1990 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसका निर्देशन राकेश रोशन ने किया है और अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित और शिल्पा शिरोडकर मुख्य भूमिकाओं मे हैं। फिल्म की कहानी दिलीप कुमार की राम और श्याम से मिलती है। .

नई!!: लता मंगेशकर और किशन कन्हैया · और देखें »

कविता कृष्णमूर्ति

कविता कृष्णमूर्ति(जन्म:१९५८) भारतीय सिनेमा की एक महत्वपूर्ण पार्श्वगायिका है।कविता जब आठ साल की थीं तो उन्होंने एक गायन प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार जीता। तभी से वह बड़ी होकर एक मशहूर गायिका बनने का सपना देखने लगी थीं। .

नई!!: लता मंगेशकर और कविता कृष्णमूर्ति · और देखें »

कोरा कागज़ (1974 फ़िल्म)

लता मंगेशकर- कोरा कागज़ की पार्श्व गायिका कोरा कागज़ (अंग्रेजी: Blank paper) 1974 में बनी हिन्दी फिल्म है। यह प्रमुख अभिनेत्री सुचित्रा सेन द्वारा अभिनीत बांगला फिल्म सात पाके बंधा (1963) का हिन्दी रूपांतरण है। .

नई!!: लता मंगेशकर और कोरा कागज़ (1974 फ़िल्म) · और देखें »

अनाड़ी (1959 फ़िल्म)

अनाड़ी 1959 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अनाड़ी (1959 फ़िल्म) · और देखें »

अनामिका (1973 फ़िल्म)

अनामिका 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अनामिका (1973 फ़िल्म) · और देखें »

अनुपमा (1966 फ़िल्म)

अनुपमा 1966 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अनुपमा (1966 फ़िल्म) · और देखें »

अनुराग (१९७३ फ़िल्म)

अनुराग १९७२ में निर्मित एक हिन्दी फ़िल्म है जिसके निर्माता व निर्देशक शक्ति सामंत हैं। यह फ़िल्म मौसमी चटर्जी की पहली हिन्दी फ़िल्म थी। इस फ़िल्म १९७३ का फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म पुरस्कार प्रदान किया गया। इस फ़िल्म में राजेश खन्ना एक छोटे से रोल में आये हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और अनुराग (१९७३ फ़िल्म) · और देखें »

अनीता (1967 फ़िल्म)

अनीता १९६७ में बनी हिन्दी भाषा की ससपॅंस फिल्म है जिसका निर्देशन राज खोसला ने किया है। यह फ़िल्म खोसला-साधना की ससपॅंस फ़िल्मों की कड़ी में अंत्तिम फ़िल्म है। इससे पहले इन दोनों ने वो कौन थी और मेरा साया बनाई थीं। इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार साधना एवं मनोज कुमार हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और अनीता (1967 फ़िल्म) · और देखें »

अभिमान (1973 फ़िल्म)

अभिमान 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अभिमान (1973 फ़िल्म) · और देखें »

अमर दीप (1979 फ़िल्म)

अमर दीप 1979 में आर कृष्णामूर्ति व के विजयन द्वारा निर्देशित, के बालाजी द्वारा निर्मित हिन्दी फिल्म है। राजेश खन्ना, विनोद मेहरा और शबाना आज़मी इसके प्रमुख कलाकार है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अमर दीप (1979 फ़िल्म) · और देखें »

अमर अकबर एन्थोनी (1977 फ़िल्म)

अमर अकबर एन्थोनी 1977 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और अमर अकबर एन्थोनी (1977 फ़िल्म) · और देखें »

उत्सव (1984 फ़िल्म)

उत्सव १९८४ में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और उत्सव (1984 फ़िल्म) · और देखें »

उपकार (1967 फ़िल्म)

उपकार 1967 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है जिसका निर्देशन मनोज कुमार ने किया है। इसी फ़िल्म से मनोज कुमार की भारत कुमार की छवि बनी थी। इस फ़िल्म को छ: फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और उपकार (1967 फ़िल्म) · और देखें »

उषा मंगेशकर

उषा मंगेशकर मशहूर गायिका लता मंगेशकर तथा आशा भोंसले की छोटी बहन हैं और हिन्दी फ़िल्मी गीतों की पार्श्व गायिका हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और उषा मंगेशकर · और देखें »

ऋषिकेश मुखर्जी

ऋषिकेश मुखर्जी एक भारतीय फिल्मकार थे। हृषिकेश दा का भारतीय सिनेमा जगत में अपने विशिष्ट योगदान के लिए जाने जाते हैं। .

नई!!: लता मंगेशकर और ऋषिकेश मुखर्जी · और देखें »

छुपा रुस्तम (1973 फ़िल्म)

छुपा रुस्तम 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। .

नई!!: लता मंगेशकर और छुपा रुस्तम (1973 फ़िल्म) · और देखें »

छोटी सी बात (१९७५ चलचित्र)

छोटी सी बात १९७५ में बनी हिन्दी भाषा की चलचित्र है। .

नई!!: लता मंगेशकर और छोटी सी बात (१९७५ चलचित्र) · और देखें »

१९६९ में पद्म भूषण धारक

श्रेणी:पद्म भूषण श्रेणी:चित्र जोड़ें.

नई!!: लता मंगेशकर और १९६९ में पद्म भूषण धारक · और देखें »

100 दिन (1991 फ़िल्म)

100 दिन (100 Days) हिन्दी भाषा की 1991 में बनी फ़िल्म है। फ़िल्म में मुख्य भूमिका में माधुरी दीक्षित, जैकी श्रॉफ और जावेद जाफ़री हैं। फ़िल्म एक रहस्य रोमांचक है जिसकी पटकथा अतिरिक्त संवेदी बोध वाली महिला के इर्दगिर्द घूमती है। यह ऐसी फ़िल्म है जिसमें रहस्य जैसी कोई चीज नहीं थी, लेकिन फ़िर भी उसमें एक ऐसा सस्पेंस था जिसने क्लाइमेक्स पर दर्शकों को हैरान कर दिया था। फिल्म सुपरहिट थी और दर्शकों ने इसे काफी पसंद किया था। .

नई!!: लता मंगेशकर और 100 दिन (1991 फ़िल्म) · और देखें »

1942: अ लव स्टोरी

1942: अ लव स्टोरी 1993/1994 में बनी हिन्दी भाषा की प्रेमकहानी फ़िल्म है। मुख्य भूमिकाओं में अनिल कपूर, मनीषा कोइराला, जैकी श्रॉफ, अनुपम खेर, डैनी डेन्जोंगपा और प्राण हैं। इस फिल्म को अपने संगीत, गीत, चित्रण, छायांकन, बोल और अपनी प्रमुख अभिनेत्री मनीषा कोइराला के चित्रण के लिए अत्यधिक प्रशंसित किया गया था। यह फिल्म संगीत निर्देशक राहुल देव बर्मन की मौत के कुछ समय बाद रिलीज हुई थी। .

नई!!: लता मंगेशकर और 1942: अ लव स्टोरी · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

Lata Mangeshkar, लता मंगेश्कर, लता जी, कुमारी लता दीनानाथ मंगेशकर

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »