लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
डाउनलोड
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

योगी आदित्यनाथ

सूची योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ (मूल नाम: अजय सिंह बिष्ट; जन्म 5 जून 1972) गोरखपुर के प्रसिद्ध गोरखनाथ मन्दिर के महन्त तथा राजनेता हैं एवं वर्तमान में उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री हैं। इन्होंने 19 मार्च 2017 को प्रदेश के विधान सभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की बड़ी जीत के बाद यहाँ के 21वें मुख्यमन्त्री पद की शपथ ली। - एनडीटीवी - 18 मार्च 2017 वे 1998 से 2017 तक भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया और 2014 लोकसभा चुनाव में भी यहीं से सांसद चुने गए थे। आदित्यनाथ गोरखनाथ मन्दिर के पूर्व महन्त अवैद्यनाथ के उत्तराधिकारी हैं। ये हिन्दू युवाओं के सामाजिक, सांस्कृतिक और राष्ट्रवादी समूह हिन्दू युवा वाहिनी के संस्थापक भी हैं, तथा इनकी छवि कथित तौर पर एक देशभक्त की है। .

30 संबंधों: चौदहवीं लोकसभा, द मॉन्क हू बिकेम चीफ मिनिस्टर, दिनेश शर्मा, प्रभु नारायण राजकीय इण्टर महाविद्यालय, प्रवीण कुमार निषाद, बिष्ट, भारतीय राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्रियों की सूची, भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों की सूची, मनोज तिवारी (अभिनेता), महंत अवैद्यनाथ, मुठभेड़, राजेन्‍द्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह, श्रीकांत शर्मा, सतेंद्र सिंह, सतीश महाना, सिद्धार्थ नाथ सिंह, हिन्दू युवा वाहिनी, गोरखनाथ मन्दिर, गोरखपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र, गोरखपुर अस्पताल हादसा, गीताप्रेस, केशव प्रसाद मौर्य, अखिलेश यादव, उत्तर प्रदेश, उत्तर प्रदेश सरकार, उत्तर प्रदेश विधान सभा, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2017, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सूची, १५वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची, १६वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची

चौदहवीं लोकसभा

भारत में चौदहवीं लोकसभा का गठन अप्रैल-मई 2004 में होनेवाले आमचुनावोंके बाद हुआ था। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और चौदहवीं लोकसभा · और देखें »

द मॉन्क हू बिकेम चीफ मिनिस्टर

द मॉन्क हू बिकेम चीफ मिनिस्टर शांतनु गुप्ता द्वारा रचित तथा ब्लूम्सबरी प्रकशन संस्था द्वारा प्रकाशित एक् पुस्तक है। इसमें उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की जीवनी है। किताब में एक संन्यासी के मुख्यमंत्री बनने के सफ़र का उल्लेख है। इस किताब में उत्तराखंड की पहाड़ियों से आने वाले एक शर्मीले और अंतर्मुखी लड़के की जीवन यात्रा का वर्णन है जिसने पौड़ी जिले के कोटद्वार नगर से विज्ञान संकाय में आधुनिक शिक्षा ग्रहण किया व बाद में संन्यासी बन गया और वैदिक शिक्षा का प्रशिक्षण प्राप्त किया। यह किताब इस बात की पड़ताल करती है कि कैसे एक संन्यासी ने अपने गुरु अवैदनाथ से राजनीतिक बारीकियों को सीखा और उत्तर प्रदेश की राजनीति में सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया। इस जीवनी के लेखक शांतनु गुप्ता ने यह दावा किया है कि उन्होंने किताब में व्यापक रिसर्च करके योगी आदित्यनाथ की अनदेखी तस्वीरें, अनसुने दृष्टांत, प्रथम साक्षात्कार आदि को भी को पाठकों के समक्ष प्रस्तुत किया है। लेखक का दावा है कि यह आदित्यनाथ की प्रथम, स्पष्ट और नियत जीवनी है और इसे आदित्यनाथ की पहली सुनिश्चित जीवनी (फर्स्ट डेफिनेटिव बायोग्राफी) कहा गया है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और द मॉन्क हू बिकेम चीफ मिनिस्टर · और देखें »

दिनेश शर्मा

दिनेश शर्मा एक भारतीय राजनेता हैं जो दो बार लखनऊ के महापौर (मेयर) रह चुके हैं। सम्प्रति वे उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमन्त्री हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और दिनेश शर्मा · और देखें »

प्रभु नारायण राजकीय इण्टर महाविद्यालय

प्रभु नारायण राजकीय इंटर महाविद्यालय रामनगर और वाराणसी का सबसे पुराना महाविद्यालय है। इस संस्थान ने शैक्षिक विकास के इतिहास को गर्व से आत्मसात किया है। यह लोगों के सभी समाजों को शिक्षा प्रदान करता है और उच्च योग्य प्रयोगशाला और कक्षाओं से सुसज्जित है। इसमें भौतिकी और रसायन विज्ञान की दो मंजिला प्रयोगशालाँए भी हैं और रामनगर का सबसे बड़ा खेल का मैदान है, जहां विभिन्न प्रकार के टूर्नामेंट विभिन्न महाविद्यालय द्वारा खेले जाते हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और प्रभु नारायण राजकीय इण्टर महाविद्यालय · और देखें »

प्रवीण कुमार निषाद

प्रवीण कुमार निषाद एक भारतीय राजनीतिज्ञ तथा वर्तमान गोरखपुर से उपचुनाव में सांसद बने | वे समाजवादी पार्टी के राजनेता हैं | .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और प्रवीण कुमार निषाद · और देखें »

बिष्ट

बिष्ट व विष्ट संस्कृत के विशिष्ट नामक शब्द का अपभ्रंश है। इसे हजारों वर्ष पूर्व, हिमालयी क्षेत्र के कुछ खण्डों नेपाल, कुर्मान्चल (कुमांऊॅं), केदारखण्ड (गढ़वाल), जालन्धर (हिमाचल प्रदेश), और सुरम्य कश्मीर में उपनाम के रूप प्रयोग किया जाता है। इस उपनाम की उत्पत्ति का आधार अभी तक अज्ञात ही है। यह उपनाम रूपी शब्द नाम के पश्चात ही लगाया जाता है, जाे आज भी इन्हीं क्षेत्रों में प्रयाेग किया जाता है। यह बिष्ट नामक उपनाम अधिकॉशत: ठाकुर, क्षत्रिय यानि हिन्दू राजपूत लोग ही अपने नाम के साथ लगाते हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और बिष्ट · और देखें »

भारतीय राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्रियों की सूची

भारत गणराज्य में उन्तीस राज्यों और दो केन्द्र-शासित प्रदेशों (दिल्ली और पुद्दुचेरी) की प्रत्येक सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री कहलाता है। भारत के संविधान के अनुसार राज्य स्तर पर राज्यपाल क़ानूनन मुखिया होता है लेकिन वास्तव में कार्यकारी प्राधिकारी मुख्यमंत्री ही होता है। राज्य विधान सभा चुनावों के बाद राज्यपाल सामान्यतः सरकार बनाने के लिए बहुमत वाले दल (अथवा गठबंधन) को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करता है। राज्यपाल, मुख्यमंत्री को नियुक्त करता है जिसकी कैबिनेट विधानसभा के लिए सामूहिक रूप से जिम्मेदार होती है। यदि विधानसभा में विश्वासमत प्राप्त हो तो मुख्यमंत्री का कार्यकाल सामान्यतः अधिकतम पाँच वर्ष का होता है; इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री के कार्यकाल की संख्याओं की कोई सीमा नहीं होती। वर्तमान में पदस्थ इकत्तीस में से तीन, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी, जम्मू और कश्मीर में महबूबा मुफ़्ती और राजस्थान में वसुंधरा राजे महिला हैं। दिसम्बर 1994 से (समय के लिए), सिक्किम के पवन कुमार चामलिंग सबसे लम्बे समय से पदस्थ मुख्यमंत्री हैं। पंजाब के अमरिन्दर सिंह (जन्म 1942) सबसे वृद्ध मुख्यमंत्री हैं जबकि अरुणाचल प्रदेश के पेमा खांडू (जन्म 1979) सबसे युवा मुख्यमंत्री हैं। भारतीय जनता पार्टी के चौदह पदस्थ, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पाँच पदस्थ तथा मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के दो है; इसके अतिरिक्त किसी भी अन्य दल के पदस्थ मुख्यमंत्रियों की संख्या एक से अधिक नहीं है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और भारतीय राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्रियों की सूची · और देखें »

भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों की सूची

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसद सदस्यों की संख्या के आधार पर भारतीय गणराज्य की राजनैतिक प्रणाली का सबसे बड़ा राजनीतिक दल है। 1980 में स्थापित भाजपा, राजनीतिक विचारधारा के स्तर पर, सामान्यतः एक दक्षिणपंथी दल माना जाता है।, वह प्राथमिक सदस्यता की दृष्टि से विश्व का सबसे बड़ा दल है।, 17 राज्यों में 42 भाजपा नेता मुख्यमंत्री के पद पर आसीन हो चुके है, जिनमें से पन्द्रह निवर्तमान हैं। उनतीस राज्यों और दो ​​केंद्र शासित प्रदेशों (दिल्ली और पुडुचेरी) में से प्रत्येक का शासनाध्यक्ष मुख्यमंत्री होता है। भारतीय संविधान के अनुसार, राज्य स्तर पर, राज्यपाल विधिवत् प्रधान होता है, किंतु वस्तुतः कार्यकारी अधिकार मुख्यमंत्री के पास होते हैं। विधानसभा के चुनावों के बाद, राज्यपाल अधिकांशतः सरकार बनाने के लिए विधानसभा सदस्यों की बहुसंख्यता वाले दल (या गठबंधन) को आमंत्रित करता है। राज्यपाल मुख्यमंत्री को नियुक्त करता है जिसका मंत्रिपरिषद विधानसभा के प्रति समूह्य-उत्तरदायी होता हैं। अगर उसके पास विधानसभा का विश्वास है तो एक मुख्यमंत्री की अवधि सामान्यतः अधिकतम पांच वर्ष की होती है। 42 भाजपा मुख्यमंत्रियों में से पन्द्रह निवर्तमान है—अरुणाचल प्रदेश में पेमा खांडू, असम में सर्बानंद सोनोवाल, उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड में त्रिवेन्द्र सिंह रावत, गुजरात में विजय रूपाणी, गोवा में मनोहर पर्रीकर, छत्तीसगढ़ में रमन सिंह, झारखंड में रघुवर दास, मणिपुर में एन बीरेन सिँह, मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान, महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडणवीस, राजस्थान में वसुंधरा राजे, हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर, हिमाचल प्रदेश में जयराम ठाकुर तथा त्रिपुरा में बिप्लब कुमार देब। भाजपा मुख्यमंत्रियों में से चार महिलाएँ रही हैं—दिल्ली में सुषमा स्वराज, गुजरात में आनंदीबेन पटेल, मध्य प्रदेश में उमा भारती और राजस्थान में वसुंधरा राजे। दिसंबर 2003 से कार्यरत (के लिए), रमन सिंह भाजपा के सबसे लम्बे समय तक सेवारत मुख्यमंत्री है। मुख्यमंत्री के रूप में कर्नाटक के बी॰ एस॰ येदियुरप्पा का पहला कार्यकाल केवल नौ दिनों तक चला, जो भाजपा मुख्यमंत्रियों के बीच में सबसे कम अवधि का कार्यकाल है; तथापि, सभी कार्यकालों के कुल को ध्यान में लेते हुए, सुषमा स्वराज 52 दिन की सबसे कम अवधि के लिए मुख्यमंत्री रहीं। राजस्थान के भैरों सिंह शेखावत भाजपा के पहले मुख्यमंत्री थे। उन्होंने 4 मार्च 1990 को राजस्थान का मुख्यमंत्री का पद संभाला। बहरहाल कुछ भाजपा नेता जनता पार्टी (जपा) के सदस्य होते हुए पहले से ही मुख्यमंत्री के रूप में निर्वाचित हो चुके थे; जपा राजनीतिक दलों का एक मिश्रण था जिसमें भाजपा का पूर्ववर्ती भारतीय जनसंघ भी शामिल था। उत्तराखण्ड और गुजरात में भाजपा के पांच मुख्यमंत्री रहे है, जबकि उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में भाजपा के चार मुख्यमंत्री रहे हैं; कर्नाटक, झारखंड, और दिल्ली में तीन भाजपा मुख्यमंत्री रहे हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों की सूची · और देखें »

मनोज तिवारी (अभिनेता)

मनोज तिवारी (जन्म १ फ़रवरी १९७१) भोजपुरी फिल्मो के सुपरस्टार, राजनेता और संगीत निर्देशक हैं। वे १६वी लोकसभा के सदस्य हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और मनोज तिवारी (अभिनेता) · और देखें »

महंत अवैद्यनाथ

महंत अवैद्यनाथ (जन्म नाम कृपाल सिंह बिष्ट, जन्म: 28 मई 1921; मृत्यु: 12 सितम्बर 2014) भारत के राजनेता तथा गोरखनाथ मन्दिर के भूतपूर्व पीठाधीश्वर थे। वे गोरखपुर लोकसभा से चौथी लोकसभा के लिये हिंदू महासभा से सर्वप्रथम निर्वाचित हुए थे। इसके बाद नौवीं, दसवीं तथा ग्यारहवीं लोकसभा के लिये भी निर्वाचित हुए। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और महंत अवैद्यनाथ · और देखें »

मुठभेड़

मुठभेड़ का सामान्य अर्थ एक प्रकार का हिंसात्मक संघर्ष है। यह कभी-कभी दो गैर-क़ानूनी गुटों में, सेनाओं के बीच और साधारण रूप से पुलिस और अपराधियों के बीच होता है। किन्तु 'मुठभेड़' का कानूनी अर्थ है, 'पुलिस या किसी अन्य सशस्त्र बल द्वारा, अपनी रक्षा करने के लिए, किसी गिरोहबाज अपराधी या आतंकवादी को मार गिराना'। 'मुठभेड़' या 'इन्काउण्टर' शब्दों का उपयोग भारत और पाकिस्तान में २०वीं शताब्दी से (विशेष अर्थ में) हो रहा है। १९९० तथा मध्य २००० के दशक में मुम्बई पुलिस ने नगर के कई भूमिगत अपराधियों को मार गिराया था। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद १० माह में ११४२ मुठभेड़ें हुईं। 'मुठभेड़' को लेकर कई बार विवाद भी होता है। कुछ मानवाधिकार संगठन और कुछ अन्य लोग इस प्रकार के मुठभेड़ की घटनाओं को "फ़र्ज़ी मुठभेड़" कहते हैं जबकि पुलिस के अधिकारी घटना-स्थल से प्राप्त वस्तुओं के आधार पर उन्हें सही ठहराते हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और मुठभेड़ · और देखें »

राजेन्‍द्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह

राजेन्द्र प्रताप सिंह (जन्म: 20 अक्टूबर 1954) मोती सिंह के नाम से लोकप्रिय, उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैं और वर्तमान में योगी आदित्यनाथ की उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। वे तीन बार से प्रतापगढ़ जिले के पट्टी विधानसभा का प्रतिनिधित्व करते आ रहे हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और राजेन्‍द्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह · और देखें »

श्रीकांत शर्मा

श्रीकांत शर्मा उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के नेता और राष्ट्रीय सचिव हैं। वे मथुरा विधानसभा क्षेत्र से उत्तर प्रदेश विधान सभा का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। वर्तमान में वे उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में ऊर्जा मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और श्रीकांत शर्मा · और देखें »

सतेंद्र सिंह

डॉ सतेंद्र सिंह विकलांग व्यक्तियों के सशक्तिकरण के लिए कार्यरत एक मानवाधिकार संरक्षक हैं। पेशे से चिकित्सक, डॉ सिंह ने सूचना का अधिकार अधिनियम के सटीक प्रयोग के जरिये निर्योग्यता के क्षेत्र में कई सराहनीय कदम उठाए हैं जिससे उन्हें भारत के निःशक्तता अधिकार आन्दोलन को समृद्ध किया। पोलियोमेलाइटिस की वजह से हुई अपने शारीरिक अक्षमताओं की चुनौतियों का इन्होने डटकर सामना कर दृढ़ संकल्प से एम बी बी एस और फिर एम डी करी। समान अवसर के लिए उन्होंने अपने साथ हुए भेदभाव का पुरजोर विरोध किया और न्याय के लिए इस विकलांग डॉक्टर के चार साल से अधिक लड़ाई के अथक परिणाम के स्वरुप एक हजार से अधिक केंद्रीय स्वास्थ्य सेवा (सीएचएस) की नौकरियों स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय, भारत सरकार ने विकलांग डॉक्टरों​ के लिए खोलने का फैसला किया। न्यायालय मुख्य आयुक्त ​निशक्तजन एवं राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (भारत) में इनकी याचिका के बाद भारतीय चिकित्सा परिषद ने भारत के सभी चिकित्सकीय महाविद्यालयों/विश्वविद्यालयों को विकलांगो के लिए सुगम्य होने के निर्देश दिए इन्होने योगी आदित्यनाथ के मंत्री सत्यदेव पचौरी के द्वारा एक विकलांग कर्मचारी और विकलांगता का मज़ाक उड़ने पर नए विकलांगता कानून के अंतर्गत पहला केस किया .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और सतेंद्र सिंह · और देखें »

सतीश महाना

सतीश महाना(जन्म 14 मार्च 1960) एक भारतीय राजनीतिज्ञ और उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। वे कानपुर छावनी विधानसभा क्षेत्र से सात बार विधायक रहे हैं और वर्तमान में वे उत्तर प्रदेश की महाराजपुर विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। उन्होंने कानपुर से बीजेपी उम्मीदवार के रूप में 2009 आम चुनाव में भी भाग लिया था। वे उत्तर प्रदेश विधान सभा में भारतीय जनता पार्टी के उप नेता रह चुके हैं। उन्होंने 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लिया है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और सतीश महाना · और देखें »

सिद्धार्थ नाथ सिंह

सिद्धार्थ नाथ सिंहएक भारतीय राजनीतिज्ञ और 2 .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और सिद्धार्थ नाथ सिंह · और देखें »

हिन्दू युवा वाहिनी

हिन्दू युवा वाहिनी एक हिंदूवादी संगठन हैं, जिसके संस्थापक गोरक्षपीठाधीश्वर गोरक्षपीठ गोरखपुर मा0 मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ जी हैं। वर्ष २००२ के अप्रैल माह में श्री राम नवमी के पर्व पर योगी आदित्यनाथ ने महानगर से कुछ राष्ट्रवादी नवयुवकों को संगठित कर हिन्दु युवा वाहिनी की आधारशिला रखी। ९ वर्षों में इसका विस्तार उत्तर प्रदेश के सभी ७२ जनपदों के ८६ इकाईयों में हुआ है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और हिन्दू युवा वाहिनी · और देखें »

गोरखनाथ मन्दिर

गोरखनाथ मन्दिर, उत्तर प्रदेश के गोरखपुर नगर में स्थित है। बाबा गोरखनाथ के नाम पर इस जिले का नाम गोरखपुर पड़ा है। गोरखनाथ मन्दिर के वर्तमान महन्त श्री बाबा योगी आदित्यनाथ जी है। मकर संक्रान्ति के अवसर पर यहाँ एक माह चलने वाला विशाल मेला लगता है जो 'खिचड़ी मेला' के नाम से प्रसिद्ध है। हिन्दू धर्म, दर्शन, अध्यात्म और साधना के अंतर्गत विभिन्न संप्रदायों और मत-मतांतरों में 'नाथ संप्रदाय' का प्रमुख स्थान है। संपूर्ण देश में फैले नाथ संप्रदाय के विभिन्न मंदिरों तथा मठों की देख रेख यहीं से होती है। नाथ सम्प्रदाय की मान्यता के अनुसार सच्चिदानंद शिव के साक्षात् स्वरूप 'श्री गोरक्षनाथ जी' सतयुग में पेशावर (पंजाब) में, त्रेतायुग में गोरखपुर, उत्तरप्रदेश, द्वापर युग में हरमुज, द्वारिका के पास तथा कलियुग में गोरखमधी, सौराष्ट्र में आविर्भूत हुए थे। चारों युगों में विद्यमान एक अयोनिज अमर महायोगी, सिद्ध महापुरुष के रूप में एशिया के विशाल भूखंड तिब्बत, मंगोलिया, कंधार, अफ़ग़ानिस्तान, नेपाल, सिंघल तथा सम्पूर्ण भारतवर्ष को अपने योग से कृतार्थ किया। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और गोरखनाथ मन्दिर · और देखें »

गोरखपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र

गोरखपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र भारत के उत्तर प्रदेश राज्य का एक लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और गोरखपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र · और देखें »

गोरखपुर अस्पताल हादसा

गोरखपुर अस्पताल हादसा अगस्त २०१७ के मध्य में घटित एक हादसा है जिसमें गोरखपुर, उत्तर प्रदेश के राज्य सरकार द्वारा संचालित बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में ८५ से अधिक बच्चों की मौत हो गयी। राज बब्बर सहित कुछ लोगों की मान्यता है कि राज्य सरकार द्वारा भुगतान नहीं होने के कारण तरल ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ता द्वारा ऑक्सीजन बन्द करने को कारण बताया लेकिन आपूर्तिकर्ता ने इससे इनकार किया है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और गोरखपुर अस्पताल हादसा · और देखें »

गीताप्रेस

गीताप्रेस या गीता मुद्रणालय, विश्व की सर्वाधिक हिन्दू धार्मिक पुस्तकें प्रकाशित करने वाली संस्था है। यह पूर्वी उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शहर के शेखपुर इलाके की एक इमारत में धार्मिक पुस्तकों के प्रकाशन और मुद्रण का काम कर रही है। इसमें लगभग २०० कर्मचारी काम करते हैं। यह एक विशुद्ध आध्यात्मिक संस्था है। देश-दुनिया में हिंदी, संस्कृत और अन्य भारतीय भाषाओं में प्रकाशित धार्मिक पुस्तकों, ग्रंथों और पत्र-पत्रिकाओं की बिक्री कर रही गीताप्रेस को भारत में घर-घर में रामचरितमानस और भगवद्गीता को पहुंचाने का श्रेय जाता है। गीता प्रेस की पुस्तकों की बिक्री 18 निजी थोक दुकानों के अलावा हजारों पुस्तक विक्रेताओं और ४२ प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर बने गीता प्रेस के बुक स्टॉलों के जरिए की जाती है। गीता प्रेस गोरखपुर द्वारा कल्याण (हिन्दी मासिक) और कल्याण-कल्पतरु (इंग्लिश मासिक) का प्रकाशन भी होता है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और गीताप्रेस · और देखें »

केशव प्रसाद मौर्य

केशव प्रसाद मौर्य भारत के उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री हैं। वे सोलहवीं लोकसभा के सांसद थे। २०१४ के चुनावों में वे उत्तर प्रदेश की फूलपुर सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर निर्वाचित हुए। 19 मार्च 2017 को इन्होंने उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। - एनडीटीवी - 18 मार्च 2017 .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य · और देखें »

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव (जन्म: 1 जुलाई 1973) एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इससे पूर्व वे लगातार तीन बार सांसद भी रह चुके हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के पुत्र अखिलेश ने 2012 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में अपनी पार्टी का नेतृत्व किया। उनकी पार्टी को राज्य में स्पष्ट बहुमत मिलने के बाद, 15 मार्च 2012 को उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्य मन्त्री पद की शपथ ग्रहण की। २०१६ में अखिलेश के पिता और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने उन्हें उनके चाचा राम गोपाल यादव के साथ पार्टी से बाहर निकाल दिया परन्तु एक दिन भीतर ही उन्हें पुनः पार्टी में वापस भी ले लिया। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव · और देखें »

उत्तर प्रदेश

आगरा और अवध संयुक्त प्रांत 1903 उत्तर प्रदेश सरकार का राजचिन्ह उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा (जनसंख्या के आधार पर) राज्य है। लखनऊ प्रदेश की प्रशासनिक व विधायिक राजधानी है और इलाहाबाद न्यायिक राजधानी है। आगरा, अयोध्या, कानपुर, झाँसी, बरेली, मेरठ, वाराणसी, गोरखपुर, मथुरा, मुरादाबाद तथा आज़मगढ़ प्रदेश के अन्य महत्त्वपूर्ण शहर हैं। राज्य के उत्तर में उत्तराखण्ड तथा हिमाचल प्रदेश, पश्चिम में हरियाणा, दिल्ली तथा राजस्थान, दक्षिण में मध्य प्रदेश तथा छत्तीसगढ़ और पूर्व में बिहार तथा झारखंड राज्य स्थित हैं। इनके अतिरिक्त राज्य की की पूर्वोत्तर दिशा में नेपाल देश है। सन २००० में भारतीय संसद ने उत्तर प्रदेश के उत्तर पश्चिमी (मुख्यतः पहाड़ी) भाग से उत्तरांचल (वर्तमान में उत्तराखंड) राज्य का निर्माण किया। उत्तर प्रदेश का अधिकतर हिस्सा सघन आबादी वाले गंगा और यमुना। विश्व में केवल पाँच राष्ट्र चीन, स्वयं भारत, संयुक्त राज्य अमेरिका, इंडोनिशिया और ब्राज़ील की जनसंख्या उत्तर प्रदेश की जनसंख्या से अधिक है। उत्तर प्रदेश भारत के उत्तर में स्थित है। यह राज्य उत्तर में नेपाल व उत्तराखण्ड, दक्षिण में मध्य प्रदेश, पश्चिम में हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान तथा पूर्व में बिहार तथा दक्षिण-पूर्व में झारखण्ड व छत्तीसगढ़ से घिरा हुआ है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है। यह राज्य २,३८,५६६ वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है। यहाँ का मुख्य न्यायालय इलाहाबाद में है। कानपुर, झाँसी, बाँदा, हमीरपुर, चित्रकूट, जालौन, महोबा, ललितपुर, लखीमपुर खीरी, वाराणसी, इलाहाबाद, मेरठ, गोरखपुर, नोएडा, मथुरा, मुरादाबाद, गाजियाबाद, अलीगढ़, सुल्तानपुर, फैजाबाद, बरेली, आज़मगढ़, मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर यहाँ के मुख्य शहर हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश · और देखें »

उत्तर प्रदेश सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार भारत में एक लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई राज्य सरकार है जिसमें भारत के राष्ट्रपति द्वारा राज्य के नियुक्त संवैधानिक प्रमुख के रूप में राज्यपाल हैं। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल को पांच साल की अवधि के लिए नियुक्त किया जाता है और मुख्यमंत्री और मंत्रिपरिषद की नियुक्ति कराता है, जो राज्य के विधायी शक्तियों के साथ-साथ कार्यकारी शक्तियों के साथ निहित हैं। राज्यपाल राज्य का एक औपचारिक प्रमुख बना रहता है, जबकि मुख्यमंत्री और उनकी परिषद दिन-प्रतिदिन सरकारी कार्यों के लिए जिम्मेदार होती हैं। भारतीय राजनीति पर यूपी की प्रभावी सरकार है और सबसे महत्वपूर्ण है क्योंकि यह भारतीय संसद के लिए सबसे अधिक संख्या में लोकसभा सीटों को भेजता है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश सरकार · और देखें »

उत्तर प्रदेश विधान सभा

भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के द्विसदनी विधायिका के निचले सदन का नाम उत्तर प्रदेश विधान सभा है। इसमें कुछ ४०४ सदस्य होते हैं जिसमें एक आंग्ल-भारतीय (ऐंग्लो-इण्डियन) भी सम्मिलित है जो राज्यपाल द्वारा नामित होता है। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश विधान सभा · और देखें »

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2017

उत्तर प्रदेश की सत्तरहवीं विधानसभा के लिए आम चुनाव 11 फरवरी से 8 मार्च 2017 तक सात चरणों में आयोजित हुए। इन चुनावों में मतदान प्रतिशत लगभग 61% रहा। भारतीय जनता पार्टी ने 312 सीटें जीतकर तीन-चौथाई बहुमत प्राप्त किया जबकि सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी गठबन्धन को 54 सीटें और बहुजन समाज पार्टी को 19 सीटों से संतोष करना पड़ा। पिछले चुनावों में समाजवादी पार्टी ने अखिलेश यादव के नेतृत्व में सरकार बनायीं थी। 18 मार्च 2017 को भाजपा विधायक दल की बैठक के बाद योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य एवं दिनेश शर्मा को उपमुख्यमंत्री नियुक्त किया गया। 19 मार्च 2017 को योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2017 · और देखें »

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सूची

उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री उत्तर भारत के राज्य उत्तर प्रदेश का प्रमुख होता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सूची यहाँ दी गई है। उत्तर प्रदेश में अब तक 20 व्यक्ति मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इन 20 व्यक्तियों के अतरिक्त, तीन व्यक्ति राज्य के कार्यकारी मुख्यमंत्री भी रहे हैं जिनका कार्यकाल बहुत छोटा है। वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी हैं जो कि 19 मार्च 2017 से इस पद पर आसीन हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सूची · और देखें »

१५वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची

१५वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची अकारादि क्रम से राज्यश: इस लेख में नीचे दी गयी है। ये सभी सांसद भारतीय संसद की १५वीं लोक सभा के लिए अप्रैल - मई, २००९ में हुए आम चुनावों में निर्वाचित हुए थे। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और १५वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची · और देखें »

१६वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची

१६वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची राज्यश: इस लेख में दी गयी है। ये सभी सांसद भारतीय संसद की १६वीं लोक सभा के लिए अप्रैल – मई, २०१४ में हुए आम चुनावों में निर्वाचित हुए। इन सांसदों में ५८ प्रतिशत सांसद (३१५ सांसद) ऐसे हैं जो पहली बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हुये हैं। .

नई!!: योगी आदित्यनाथ और १६वीं लोक सभा के सदस्यों की सूची · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

आदित्यनाथ, अजय सिंह नेगी

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »