लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
इंस्टॉल करें
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

मूल्यह्रास

सूची मूल्यह्रास

लेखाकार्य में, मूल्यह्रास (depreciation) एक ही अवधारणा के निम्नलिखित दो पक्षों को कहते हैं-.

4 संबंधों: डेबिट, मोटरवाहन, समष्टि अर्थशास्त्र की शब्दावली, सकल घरेलू उत्पाद

डेबिट

Tularam ko diye 10000 (नामे) डेबिट और जमा (क्रेडिट) बहीखाता और लेखा.की औपचारिक शर्तें हैं। ये लेखांकन में सर्वाधिक मौलिक अवधारणाएं हैं, जो लेखा प्रणाली में दर्ज प्रत्येक लेन-देन के दोनों पहलुओं को दर्शाते हैं। एक नामे (डेबिट) लेन-देन एक परिसंपत्ति (ऐसेट) या किसी खर्च के लेन-देन, कोइ जमा (क्रेडिट) एक ऐसे लेन-देन की ओर संकेत करता है जो देयता या लाभ का कारण होगा। एक डेबिट लेन-देन का किसी जमा शेष राशि को कम करने अथवा किसी डेबिट शेष राशि को बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। एक जमा लेन-देन का एक नामे (डेबिट) शेष राशि को कम करने अथवा जमा (क्रेडिट) शेष राशि को बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। एक लेखा अगर जो अपेक्षित था ठीक उसका उलटा दर्शाता है, जैसेकि एक आस्ति खाते को जमा लेखा के रूप में दर्ज किया जाता है, तो इसे प्रति लेखा के रूप में सन्दर्भित करते हैं। संचित मूल्यह्रास इसका एक उदाहरण होगा, जो दरअसल एक आस्ति प्रति लेखा है, क्योंकि यह ऐसेट (परिसंपत्ति) के मूल्य को कम कर देता है। .

नई!!: मूल्यह्रास और डेबिट · और देखें »

मोटरवाहन

कार्ल बेन्ज़'स "वेलो"मॉडल (1894) -सबसे पहले गाड़ियों के होड़ में आई right विश्व मानचित्र प्रति 1000 लोग गाड़ी, मोटरवाहन, कार, मोटरकार या ऑटोमोबाइल एक पहियों वाला वाहन है, जो यात्रियों के परिवहन के काम आता है; और जो अपना इंजन या मोटर भी स्वयं उठाता है। इस शब्द की अधिकांश परिभाषाओं के अनुसार मोटरवाहन मुख्य रूप से सड़कों पर चलाने के लिए हैं, एक से आठ लोगों कों बैठाने के लिए हैं, आमतौर पर जिनके चार पहिये होते हैं, जिनका निर्माण मुख्य रूप से सामान के उपेक्षा लोगों के परिवहन के लिए किया जाता है। मोटरकार शब्द का प्रयोग विद्युतिकृत रेल प्रणाली के सन्दर्भ में, एक ऐसी कार के लिए प्रयुक्त होता है, जो एक छोटा लोकोमोटिव होने के साथ ही, इसमे लोगों और सामान के लिए जगह भी होती है। ये लोकोमोटिव कार उपनगरीय मार्गों में अंतर्नगरीय रेल प्रणालियों में इस्तेमाल की जाती हैं। 2002 तक, 590 मिलियन यात्री करें दुनिया भर में थी (मोटे तौर पर एक कार प्रति ग्यारह लोग).

नई!!: मूल्यह्रास और मोटरवाहन · और देखें »

समष्टि अर्थशास्त्र की शब्दावली

; एडम स्मिथ (1723-1790); समस्त मुद्रा संसाधन; आभ्यंतरिक स्थिरक; स्वायत्त परिवर्तन; स्वायत्त व्यय गुणक; अदायगी-संतुलन; संतुलित बजट; वस्तु विनिमय; आधार वर्ष; बंधपत्र; व्यापक मुद्रा; पूँजी; पूँजी लाभ/हानि; पूँजीगत वस्तुएँ; पूँजीवादी देश अथवा अर्थव्यवस्था; पूँजीवादी फर्म; नकद आरक्षित अनुपात; आय का वर्तुल प्रवाह; टिकाऊ उपभोक्ता वस्तएँ; उपभोक्ता कीमत सूचकांक; उपभोग वस्तुएँ; निगम कर; करेंसी जमा अनुपात; केंद्रीय बैंक से ऋण लेने के माध्यम से घाटे की वित्त व्यवस्था; मूल्यह्रास; अवमूल्यन; आवश्यकताओं का दुहरा संयोग; आर्थिक एजेंट अथवा इकाइयाँ; प्रभावी माँग का सिद्धांत; उद्यमवृति; प्रत्याशित उपभोग; प्रत्याशित निवेश; प्रत्याशित; यथार्थ; राष्ट्रीय आय गणना की व्यय विधि; निर्यात; बाह्य क्षेत्रक; बाह्य; आदेश मुद्रा; अंतिम वस्तुएँ; फर्म; राजकोषीय नीति; स्थिर विनिमय दर; नम्य/तिरती विनिमय दर; प्रवाह; विदेशी विनिमय; विदेशी विनिमय आरक्षित; उत्पादन के चार कारक; सकल घेरलू उत्पाद अवस्फीतक; सरकारी खर्च गुणक; सरकार; महामंदी; सकल घरेलू उत्पाद; सकल राजकोषीय घाटा; सकल निवेश; सकल राष्ट्रीय उत्पाद; सकल प्राथमिक घाटा; उच्च शक्तिशाली मुद्रा; परिवार; आयात; राष्ट्रीय आय की गणना की आय विधि; ब्याज; मध्यवर्ती वस्तुएँ; माल-सूची; जॉन मेनार्ड कीन्श (1883-1946); श्रम; भूमि; वैध मुद्रा; अंतिम ऋण-दाता; तरलता फंदा; समष्टि अर्थशास्त्रीय मॉडल; प्रबंधित तिरती; सीमांत उपभोग प्रवृति; विनिमय माध्यम; मुद्रा गुणक; संकुचित मुद्रा; राष्ट्रीय प्रयोज्य आय; निवल घरेलू उत्पाद; परिवारों द्वारा किये गए निवल ब्याज अदायगी; निवल निवेश; निवल राष्ट्रीय उत्पाद (बाशार कीमत पर); निवल राष्ट्रीय उत्पाद (कारक लागत पर) अथवा राष्ट्रीय आय; नाममात्र विनिमय दर; नाममात्र सकल घरेलू उत्पाद; गैर-कर अदायगियाँ; खुली बाशार क्रिया; मितव्ययिता का विरोधाभास; प्राचल शिफ्रट; वैयक्तिक प्रयोज्य आय; वैयक्तिक आय; वैयक्तिक कर अदायगी; माल-सूची में योजनागत परिवर्तन; वर्तमान मूल्य (बंधपत्र का); वैयक्तिक आय; राष्ट्रीय आय की गणना की उत्पाद विधि; लाभ; सार्वजनिक वस्तु; क्रय-शक्ति समता; वास्तविक विनिमय दर; वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद; लगान; आरक्षित जमा अनुपात; पुनर्मूल्याँकन; राजस्व घाटा; रिकार्डो समतुल्यता; सट्टेबाजी के लिए माँग; सांविधिक तरलता अनुपात; स्थिरीकरण; स्टॉक; मूल्य का संचय; लेन-देन माँग; सरकार और फर्मों से परिवारों को अतंरण भुगतान; अवितरित लाभ; बेरोज़गारी दर; लेखांकन इकाई; माल-सूची में अनियोजित परिवर्तन; मूल्यवर्द्धन; उत्पादन का मूल्य; मज़दूरी; थोक कीमत सूचकांक श्रेणी:अर्थशास्त्र.

नई!!: मूल्यह्रास और समष्टि अर्थशास्त्र की शब्दावली · और देखें »

सकल घरेलू उत्पाद

सकल घरेलू उत्पाद (GDP) या जीडीपी या सकल घरेलू आय (GDI), एक अर्थव्यवस्था के आर्थिक प्रदर्शन का एक बुनियादी माप है, यह एक वर्ष में एक राष्ट्र की सीमा के भीतर सभी अंतिम माल और सेवाओ का बाजार मूल्य है। GDP (सकल घरेलू उत्पाद) को तीन प्रकार से परिभाषित किया जा सकता है, जिनमें से सभी अवधारणात्मक रूप से समान हैं। पहला, यह एक निश्चित समय अवधि में (आम तौर पर 365 दिन का एक वर्ष) एक देश के भीतर उत्पादित सभी अंतिम माल और सेवाओ के लिए किये गए कुल व्यय के बराबर है। दूसरा, यह एक देश के भीतर एक अवधि में सभी उद्योगों के द्वारा उत्पादन की प्रत्येक अवस्था (मध्यवर्ती चरण) पर कुल वर्धित मूल्य और उत्पादों पर सब्सिडी रहित कर के योग के बराबर है। तीसरा, यह एक अवधि में देश में उत्पादन के द्वारा उत्पन्न आय के योग के बराबर है- अर्थात कर्मचारियों की क्षतिपूर्ति की राशि, उत्पादन पर कर औरसब्सिडी रहित आयात और सकल परिचालन अधिशेष (या लाभ) GDP (सकल घरेलू उत्पाद) के मापन और मात्र निर्धारण का सबसे आम तरीका है खर्च या व्यय विधि (expenditure method): "सकल" का अर्थ है सकल घरेलू उत्पाद में से पूंजी शेयर के मूल्यह्रास को घटाया नहीं गया है। यदि शुद्ध निवेश (जो सकल निवेश माइनस मूल्यह्रास है) को उपर्युक्त समीकरण में सकल निवेश के स्थान पर लगाया जाए, तो शुद्ध घरेलू उत्पाद का सूत्र प्राप्त होता है। इस समीकरण में उपभोग और निवेश अंतिम माल और सेवाओ पर किये जाने वाले व्यय हैं। समीकरण का निर्यात - आयात वाला भाग (जो अक्सर शुद्ध निर्यात कहलाता है), घरेलू रूप से उत्पन्न नहीं होने वाले व्यय के भाग को घटाकर (आयात) और इसे फिर से घरेलू क्षेत्र में जोड़ कर (निर्यात) समायोजित करता है। अर्थशास्त्री (कीनेज के बाद से) सामान्य उपभोग के पद को दो भागों में बाँटना पसंद करते हैं; निजी उपभोग और सार्वजनिक क्षेत्र का (या सरकारी) खर्च.

नई!!: मूल्यह्रास और सकल घरेलू उत्पाद · और देखें »

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »