लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
मुक्त
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

प्रोपेन

सूची प्रोपेन

प्रोपेन प्रोपेन प्रोपेन एक हाइड्रोकार्बन है। यह एक अल्केन है। प्रोपेन आणविक फार्मूला C3H8, आम तौर पर एक गैस है, लेकिन एक परिवहनीय तरल करने के लिए सिकुड़ाया के साथ एक तीन कार्बन alkane है। प्राकृतिक गैस प्रसंस्करण और पेट्रोलियम शोधन के उत्पाद द्वारा, यह आमतौर पर इंजन, ऑक्सी - गैस जलाकर, बारबेक्यू की अनुमति, पोर्टेबल स्टोव और आवासीय केंद्रीय हीटिंग के लिए ईंधन के रूप में प्रयोग किया जाता है। प्रोपेन और ब्यूटेन का एक मिश्रण, वाहन ईंधन के रूप में मुख्य रूप से इस्तेमाल किया, आमतौर पर द्रवीभूत पेट्रोलियम गैस (एलपीजी या एल.पी. गैस) के रूप में जाना जाता है। यह भी propylene और / या butylene की छोटी मात्रा में शामिल कर सकते हैं। Thiophene ethanethiol या जैसे एक odorant, इतना है कि लोगों को आसानी से एक दरार के मामले में गैस की गंध कर सकते हैं जोड़ा है। .

18 संबंधों: दहन ऊष्मा, द्रवित पेट्रोलियम गैस, प्रशीतक, पैराफिन, पेट्रोल पंप, पेट्रोलियम उत्पाद, मिथेन, यूनियन कार्बाइड, रसायन विज्ञान, रासायनिक सूत्र, शनि (ग्रह), समजातीय श्रेणी, हॉपर गुब्बारा, ईन्धन, वाष्पन की पूर्ण उष्मा, गैस प्रदीपन, गैस स्टोव, अल्केन

दहन ऊष्मा

किसी तत्त्व या यौगिक की १ ग्राम-अणु मात्रा को ऑक्सीजन में स्थिर आयतन पर पूर्णतया जलाने से जितनी उष्मा निकलती है, उसे उस तत्व या यौगिक की दहन-उष्मा (Heat of combustion) कहते हैं। दहन ऊष्मा का मान निम्नलिखित इकाइयों में व्यक्त किया जा सकता है-.

नई!!: प्रोपेन और दहन ऊष्मा · और देखें »

द्रवित पेट्रोलियम गैस

एलपीजी के सिलिण्डर द्रवित पेट्रोलियम गैस (Liquefied petroleum gas / LPG) को रसोई गैस के रूप में अधिक जाना जाता है। यह वस्तुतः कई हाइड्रोकार्बन गैसों का मिश्रण है। यह घरों में खाना पकाने, गरम करने वाले उपकरणों एवं कुछ वाहनों में इंधन के रूप में प्रयुक्त होती है। आजकल यह एक शीतलक (रेफ्रिजिरेन्ट) के रूप में क्लोरोफ्लोरो कार्बन के स्थान पर क्रमशः अधिकाधिक प्रयुक्त होने लगी है क्योंकि इसके प्रयोग से ओजोन परत को कोई नुकसान नहीं होता। .

नई!!: प्रोपेन और द्रवित पेट्रोलियम गैस · और देखें »

प्रशीतक

उस पदार्थ को प्रशीतक (refrigerant) कहते हैं जो ऊष्मा पम्प तथा प्रशीतन चक्र में प्रयुक्त होता है। प्रशीतक प्रायः तरल (द्रव या गैस) होता है। अधिकांश ऊष्मा चक्रों में प्रशीतक की भौतिक अवस्था बदली जाती है (द्रव से गैस तथा पुनः गैस से द्रव)। इस कार्य के लिये बहुत से पदार्थ उपयोग में लाये जाते रहे हैंम। २०वीं शताब्दी में फ्लोरोकार्बन (मुख्यतः क्लोरोफ्लोरोकार्बन) इस काम के लिये बहुत उपयोग में लाये गये। किन्तु अब इनका उपयोग क्रमशः कम किया जा रहा है क्योंकि इनके कारण ओजोन परत को नुकसान पहुँचता है। आम उपयोग के अन्य प्रशीतक ये हैं- अमोनिया, सल्फर डाई आक्साइड, तथा प्रोपेन आदि अहैलोजनीकृत हाइड्रोकार्बन। .

नई!!: प्रोपेन और प्रशीतक · और देखें »

पैराफिन

पैराफिन में रखा हुआ सोडियम रसायन विज्ञान में, पैराफिन शब्द का प्रयोग एल्केन के पर्याय के रूप में कर सकते हैं। वस्तुत: ये CnH2n+2 सामान्य सूत्र वाले हाइड्रोकार्बनों का मिश्रण है। पैराफिन मोम से मतलब एल्केनों के ऐसे मिश्रण से है जिसमें 20 ≤ n ≤ 40 होता है तथा ये कमरे के ताप पर ठोस अवस्था में होते हैं किन्तु लगभग 37 °C के उपर जाने पर द्रवित होने लगते हैं। .

नई!!: प्रोपेन और पैराफिन · और देखें »

पेट्रोल पंप

पेट्रोल पंप, रिटेल आउटलेट, पूर्ति स्टेशन, गैस स्टेशन (संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा) या पेट्रोल बंक (दक्षिण भारत) एक सुविधा है जहां से मोटर वाहनों को पेट्रोलियम इंधनों की बिक्री/आपूर्ति की जाती है। पेट्रोल पम्पों से बिकने वाले सबसे आम इंधन पेट्रोल और डीज़ल हैं, इसके साथ यहां से आमतौर पर स्नेहक भी बेचे जाते हैं। आजकल पेट्रोल पम्पों से बिजली चालित वाहनों को विद्युत ऊर्जा की आपूर्ति भी की जाती है। केवल विद्युत ऊर्जा बेचने वाले पम्पों को आवेशण केंद्र के नाम से जाना जाता है। वितरण इकाई जिसे आमतौर पर पेट्रोल पम्प भी कहा जाता है एक मशीन होती है, जिसका प्रयोग कर वाहनों को पेट्रोल, डीज़ल, सीएनजी आदि की बिक्री की जाती है। यह वितरण इकाई ना सिर्फ वाहनों को ईंधन का विक्रय करती है बल्कि वाहन को वितरित ईंधन की वित्तीय लागत की गणना भी करती है। जिन पम्पों से से सिर्फ डीज़ल की बिक्री की जाती है उन्हें भी आमतौर से पेट्रोल पम्प के नाम से जाना जाता है हालांकि कुछ स्थानों पर यह डीज़ल पम्प कहलाते हैं। कई पेट्रोल पम्पों से प्रोपेन या ब्यूटेन की बिक्री भी की जाती है तो कुछ पर छोटे सुविधा भंडार या दुकाने भी होती हैं जिनका मुख्य उद्देश्य उनके प्राथमिक व्यापार को समर्थन देना होता है। इसके विपरीत, कुछ सुपरमार्केटों, गोदाम, क्लब या पारंपरिक सुविधा भंडारों के परिसरों में भी पेट्रोल पम्प की सुविधा ग्राहकोंको उपलब्ध कराई जाती है। भारत में पेट्रोल पम्प, मुख्य रूप से फिलिंग स्टेशन और सर्विस स्टेशन नामक दो प्रकारों में मिलते हैं। .

नई!!: प्रोपेन और पेट्रोल पंप · और देखें »

पेट्रोलियम उत्पाद

ग्रेंगमोउथ, स्कॉटलैंड में एक पेट्रोकेमिकल्स रिफाइनरी. पेट्रोलियम उत्पाद, तेल रिफाइनरियों में संसाधित कच्चे तेल (पेट्रोलियम) से प्राप्त होने वाली उपयोगी सामग्रियों को कहते हैं। कच्चे तेल की संरचना और मांग के अनुसार रिफाइनरियां पेट्रोलियम उत्पादों को विभिन्न मात्राओं में उत्पादित कर सकती हैं। तेल उत्पादों का सबसे अधिक मात्रा में उर्जा वाहकों के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, जैसे कि इंधन तेल तथा गैसोलीन (पेट्रोल) के विभिन्न प्रकार.

नई!!: प्रोपेन और पेट्रोलियम उत्पाद · और देखें »

मिथेन

मिथेन अल्केन श्रेणी का प्रथम सदस्य है। यह सबसे साधारण हाइड्रोकार्बन है। .

नई!!: प्रोपेन और मिथेन · और देखें »

यूनियन कार्बाइड

यूनियन कार्बाइड कॉर्पोरेशन (यूनियन कार्बाइड) संयुक्त राज्य अमेरिका की रसायन और बहुलक बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है और वर्तमान में कम्पनी में 3,800 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। 1984 में कम्पनी के भारत के राज्य मध्य प्रदेश के शहर भोपाल स्थित संयंत्र से मिथाइल आइसोसाइनेट नामक गैस के रिसाव को अब तक की सबसे बड़ी औद्योगिक दुर्घटना माना जाता है, जिसने कम्पनी को इसकी अब तक की सबसे बड़ी बदनामी दी है। यूनियन कार्बाइड को इस त्रासदी के लिए जिम्मेदार पाया गया, लेकिन कम्पनी ने इस त्रासदी के लिए खुद को जिम्मेदार मानने से साफ इंकार कर दिया जिसके परिणामस्वरूप लगभग 15000 लोगों की मृत्यु हो गयी और लगभग 500000 व्यक्ति इससे प्रभावित हुए। 6 फ़रवरी 2001 को यूनियन कार्बाइड, डाउ केमिकल कंपनी की एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी बन गयी। इसी वर्ष कम्पनी के गैस पीड़ितों के साथ हुए एक समझौते और भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के शुरुआत के साथ भारत में इसका अध्याय समाप्त हो गया। यूनियन कार्बाइड अपने उत्पादों का अधिकांश डाउ केमिकल को बेचती है। यह डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज का एक पूर्व घटक भी है। सन 1920 में, इसके शोधकर्ताओं ने प्राकृतिक गैस द्रवों जैसे कि इथेन और प्रोपेन से इथिलीन बनाने की एक किफायती विधि विकसित की जिसने आधुनिक पेट्रोरसायन उद्योग को जन्म दिया। आज, यूनियन कार्बाइड के पास इस उद्योग से जुड़ी सबसे उन्नत प्रक्रियायें और उत्प्रेरक प्रौद्योगिकियां हैं और यह विश्व की कुछ सबसे किफायती और बड़े पैमाने की उत्पादन सुविधाओं का प्रचालन करती है। विनिवेश से पहले विभिन्न उत्पाद जैसे कि एवरेडी और एनर्जाइज़र बैटरीज़, ग्लैड बैग्स एंड रैप्स, सिमोनिज़ कार वैक्स और प्रेस्टोन एंटीफ्रीज़ आदि कम्पनी के स्वामित्व के आधीन थे। डाउ केमिकल कंपनी द्वारा कम्पनी के अधिगहण से पहले इसके इलेक्ट्रॉनिक रसायन, पॉलीयूरेथेन इंटरमीडिएट औद्योगिक गैसों और कार्बन उत्पादों जैसे व्यवसायों का विनिवेश किया गया। .

नई!!: प्रोपेन और यूनियन कार्बाइड · और देखें »

रसायन विज्ञान

300pxरसायनशास्त्र विज्ञान की वह शाखा है जिसमें पदार्थों के संघटन, संरचना, गुणों और रासायनिक प्रतिक्रिया के दौरान इनमें हुए परिवर्तनों का अध्ययन किया जाता है। इसका शाब्दिक विन्यास रस+अयन है जिसका शाब्दिक अर्थ रसों (द्रवों) का अध्ययन है। यह एक भौतिक विज्ञान है जिसमें पदार्थों के परमाणुओं, अणुओं, क्रिस्टलों (रवों) और रासायनिक प्रक्रिया के दौरान मुक्त हुए या प्रयुक्त हुए ऊर्जा का अध्ययन किया जाता है। संक्षेप में रसायन विज्ञान रासायनिक पदार्थों का वैज्ञानिक अध्ययन है। पदार्थों का संघटन परमाणु या उप-परमाण्विक कणों जैसे इलेक्ट्रॉन, प्रोटॉन और न्यूट्रॉन से हुआ है। रसायन विज्ञान को केंद्रीय विज्ञान या आधारभूत विज्ञान भी कहा जाता है क्योंकि यह दूसरे विज्ञानों जैसे, खगोलविज्ञान, भौतिकी, पदार्थ विज्ञान, जीवविज्ञान और भूविज्ञान को जोड़ता है। .

नई!!: प्रोपेन और रसायन विज्ञान · और देखें »

रासायनिक सूत्र

रासायनिक सूत्र (chemical formula) किसी रासायनिक यौगिक को इस प्रकार निरूपित करता है जिससे पता चलता है कि वह यौगिक किन-किन तत्वों के कितने-कितने परमाणुओं से मिलकर बना है। सामान्य प्रयोग में प्रायः अणुसूत्र (molecular formula) के लिये भी 'रासायनिक सूत्र' का ही प्रयोग कर दिया जाता है। उदाहरण: मिथेन का अणुसूत्र प्रा.उ4 (CH4) है जो इंगित करता है कि मिथेन का अणु कार्बन एवं हाइड्रोजन के परमाणुओं से मिलकर बना है तथा मिथेन के एक अणु में कार्बन का एक परमाणु व हाइड्रोजन के चार परमाणु होते हैं। परन्तु इस सूत्र से यह पता नहीं चलता कि कार्बन का एक परमाणु व हाइड्रोजन के ये चार परमाणु किस प्रकार व्यवस्थित हैं। अर्थात ये एक ही समतल में हैं या त्रिबिम में हैं; इनके बंधों के बीच कितना कोण है; बन्धों की लम्बाई कितनी है, आदि का अणुसूत्र से कुछ भी ज्ञान नहीं होता। कई प्रकार के रासायनिक सूत्र उपयोग किये जाते हैं जिनकी अलग-अलग उपयोगिता है और अलग-अलग जटिलता भी। बढ़ते हुए जटिलता के क्रम में ये हैं - आनुभविक सूत्र, अणुसूत्र, संरचना सूत्र। .

नई!!: प्रोपेन और रासायनिक सूत्र · और देखें »

शनि (ग्रह)

शनि (Saturn), सूर्य से छठां ग्रह है तथा बृहस्पति के बाद सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह हैं। औसत व्यास में पृथ्वी से नौ गुना बड़ा शनि एक गैस दानव है। जबकि इसका औसत घनत्व पृथ्वी का एक आठवां है, अपने बड़े आयतन के साथ यह पृथ्वी से 95 गुने से भी थोड़ा बड़ा है। इसका खगोलिय चिन्ह ħ है। शनि का आंतरिक ढांचा संभवतया, लोहा, निकल और चट्टानों (सिलिकॉन और ऑक्सीजन यौगिक) के एक कोर से बना है, जो धातु हाइड्रोजन की एक मोटी परत से घिरा है, तरल हाइड्रोजन और तरल हीलियम की एक मध्यवर्ती परत तथा एक बाह्य गैसीय परत है। ग्रह अपने ऊपरी वायुमंडल के अमोनिया क्रिस्टल के कारण एक हल्का पीला रंग दर्शाता है। माना गया है धातु हाइड्रोजन परत के भीतर की विद्युतीय धारा, शनि के ग्रहीय चुंबकीय क्षेत्र को उभार देती है, जो पृथ्वी की तुलना में कमजोर है और बृहस्पति की एक-बीसवीं शक्ति के करीब है। बाह्य वायुमंडल आम तौर पर नीरस और स्पष्टता में कमी है, हालांकि दिर्घायु आकृतियां दिखाई दे सकती है। शनि पर हवा की गति, 1800 किमी/घंटा (1100 मील) तक पहुंच सकती है, जो बृहस्पति पर की तुलना में तेज, पर उतनी तेज नहीं जितनी वह नेप्च्यून पर है। शनि की एक विशिष्ट वलय प्रणाली है जो नौ सतत मुख्य छल्लों और तीन असतत चाप से मिलकर बनी हैं, ज्यादातर चट्टानी मलबे व धूल की छोटी राशि के साथ बर्फ के कणों की बनी हुई है। बासठ चन्द्रमा ग्रह की परिक्रमा करते है; तिरेपन आधिकारिक तौर पर नामित हैं। इनमें छल्लों के भीतर के सैकड़ों " छोटे चंद्रमा" शामिल नहीं है। टाइटन, शनि का सबसे बड़ा और सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा चंद्रमा है। यह बुध ग्रह से बड़ा है और एक बड़े वायुमंडल को संजोकर रखने वाला सौरमंडल का एकमात्र चंद्रमा है। .

नई!!: प्रोपेन और शनि (ग्रह) · और देखें »

समजातीय श्रेणी

रसायन विज्ञान में समजातीय श्रेणी (homologous series) यौगिकों की ऐसी श्रेणी को कहते हैं जिनको एक सामान्य सूत्र द्वारा निरूपित किया जा सके। ऐसे सामान्य सूत्रों में प्रायः केवल एक ही प्राचल (पैरामीटर) होता है। उदाहरण के लिये, अल्केन एक समजातीय श्रेणी है जिसमें मिथेन, इथेन, प्रोपेन आदि यौगिक आते हैं। इसका सामान्य सूत्र CnH2n+2 है। .

नई!!: प्रोपेन और समजातीय श्रेणी · और देखें »

हॉपर गुब्बारा

हॉपर गुब्बारों की एक जोड़ी हॉपर गुब्बारा (hopper balloon) (या केवल हॉपर) गर्म हवा से उड़ने वाला एक छोटा, एक व्यक्ति की क्षमता वाला गुब्बारा होता है। पारंपरिक गर्म हवा वाले गुब्बारे में जहां लोगों के खड़े होने के लिए एक टोकरी लगी होती है, वहीं हॉपर गुब्बारे में ऐसी कोई टोकरी नहीं होती है। इसके बजाए हॉपर पायलट आमतौर पर एक कुर्सी पर बैठता है या साज पहनता है जो पैराशूट जैसा होता है। हॉपर आमतौर पर मनोरंजन के लिए उड़ान भरते हैं। इन विमानों को कभी-कभार "बादल हॉपर्स" या "क्लाउडहॉपर" ("Cloudhoppers") भी कहा जाता है। हालांकि ये नाम औपचारिक तौर पर एक खास निर्माता के उत्पादों, विशेष कर लिंडस्ट्रैंड बलूंस (Lindstrand Balloons) का उल्लेख करने के लिए किया जाता है। फिर भी, बहुत लोग व्यापक ट्रेडमार्क के तौर पर इसे "क्लाउडहॉपर" नाम से ही पुकारते हैं जिसका मतलब इस तरह के सभी विमान होते हैं। अधिक सावधानीपूर्वक इस्तेमाल में हॉपर (कूदनेवाला) व्यापक शब्दावली है। ज्यादातर हॉपर गुब्बारों में आवरण होते हैं जिनकी मात्रा होती है और जिनकी अधिकतम उड़ान क्षमता एक से डेढ़ घंटे होती है। फिलहाल हॉपर गुब्बारा बनाने वाले दो प्रमुख व्यावसायिक गुब्बारा निर्माताओं के नाम कैमेरॉन बलूंस (Cameron Balloons) और लिंडस्ट्रैंड बलूंस (Lindstrand Balloons) हैं। इसके अलावा ज्यादातर हॉपर गुब्बारे प्रयोगात्मक विमान हैं जिन्हें शौकिया निर्माता तैयार करते हैं। .

नई!!: प्रोपेन और हॉपर गुब्बारा · और देखें »

ईन्धन

जलती हुई प्राकृतिक गैस ईधंन (Fuel) ऐसे पदार्थ हैं, जो आक्सीजन के साथ संयोग कर काफी ऊष्मा उत्पन्न करते हैं। 'ईंधन' संस्कृत की इन्ध्‌ धातु से निकला है जिसका अर्थ है - 'जलाना'। ठोस ईंधनों में काष्ठ (लकड़ी), पीट, लिग्नाइट एवं कोयला प्रमुख हैं। पेट्रोलियम, मिट्टी का तेल तथा गैसोलीन द्रव ईधंन हैं। कोलगैस, भाप-अंगार-गैस, द्रवीकृत पेट्रोलियम गैस और प्राकृतिक गैस आदि गैसीय ईंधनों में प्रमुख हैं। आजकल परमाणु ऊर्जा भी शक्ति के स्रोत के रूप में उपयोग की जाती है, इसलिए विखंडनीय पदार्थों (fissile materials) को भी अब ईंधन माना जाता है। वैज्ञानिक और सैनिक कार्यों के लिए उपयोग में लाए जानेवाले राकेटों में, एल्कोहाल, अमोनिया एवं हाइड्रोजन जैसे अनेक रासायनिक यौगिक भी ईंधन के रूप में प्रयुक्त होते हैं। इन पदार्थों से ऊर्जा की प्राप्ति तीव्र गति से होती है। विद्युत्‌ ऊर्जा का प्रयोग भी ऊष्मा की प्राप्ति के लिए किया जाता है इसलिए इसे भी कभी-कभी ईंधनों में सम्मिलित कर लिया जाता है। .

नई!!: प्रोपेन और ईन्धन · और देखें »

वाष्पन की पूर्ण उष्मा

वाष्पन की पूर्ण ऊष्मा या वाष्पन की एन्थैल्पी (enthalpy of vaporization; प्रतीक ∆Hvap) ऊर्जा की वह मात्रा है जो द्रव के इकाई मात्रा को गैस में बदलने के लिये आवश्यक होती है। इसे वाष्पन की गुप्त ऊष्मा भी कहते हैं। वाष्पन की एन्थैल्पी, उस दाब पर भी निर्भर करती है जिस पर यह अवस्था परिवर्तन किया जाता है। .

नई!!: प्रोपेन और वाष्पन की पूर्ण उष्मा · और देखें »

गैस प्रदीपन

गैस प्रदीपन (Gas lighting) का आशय किसी गैसीय ईंधन को जलाकर प्रकाश उत्पन्न करने की प्रौद्योगिकी से है। इसमें हाइड्रोजन, मिथेन, कार्बन मोनोऑक्साइड, प्रोपेन, ब्यूटेन, एसिटिलीन और इथिलीन सहित अन्य गैसीय ईंधन प्रयोग किये जाते हैं। जब तक बिजली का प्रयोग आर्थिक और तकनीकी रूप से व्यापक नहीं हो पाया था, तब तक नगरों और उपनगरों में प्रकाश करने (प्रदीपन) के लिये गैसों का ही सर्वाधिक प्रयोग होता था। श्रेणी:प्रदीपन श्रेणी:दीप श्रेणी:गैस प्रौद्योगिकी ru:Светильный газ.

नई!!: प्रोपेन और गैस प्रदीपन · और देखें »

गैस स्टोव

गैस स्टोव जलता हुआ द्रवीकृत प्राकृतिक गैस (LPG) स्टोव खाना पकाने के सन्दर्भ में, गैस स्टोव वह स्टोव है जिसमें ऊष्मा के लिये ज्वाला पैदा करने के लिये प्राकृतिक गैस, प्रोपेन, ब्यूटेन, द्रवीकृत पेट्रोल गैस या कोई अन्य ज्वलनशील गैस का प्रयोग किया जाता है। गैस के उपयोग के पहले खाना पकाने के लिये कोयला या लकड़ी आदि ठोस ईंधनों का ही प्रयोग किया जाता था। सबसे पहले १८२० के दशक में गैस स्टोव का उपयोग आरम्भ हुआ। श्रेणी:भोजन श्रेणी:घरेलू उपयोग की वस्तुएँ.

नई!!: प्रोपेन और गैस स्टोव · और देखें »

अल्केन

सबसे सरल अल्केन मिथेन की संरचना अल्केन संतृप्त हाइड्रोकार्बन होते हैं। इनमें केवल कार्बन-कार्बन एक बन्ध पाया जाता हैं। मिथेन, इथेन, प्रोपेन, ब्यूटेन आदि कार्बनिक यौगिक अल्केन हैं। अल्केन का सामान्य अणु सूत्र CnH2n+2 है, यहाँ n अल्केन के 1 अणु में उपस्थित कार्बन परमाणुओं की संख्या है। यदि किसी अल्केन के एक अणु में 1 कार्बन परमाणु है तो n.

नई!!: प्रोपेन और अल्केन · और देखें »

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »