लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
इंस्टॉल करें
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

पतंगा

सूची पतंगा

सम्राट गम पतंगा (Opodiphthera eucalypti) केरल में पाया जाने वाला एक पत्तेनुमा पतंगा शलभ, पतंगा या तितली जैसा एक कीट होता है। जीवविज्ञान श्रेणीकरण के हिसाब से तितलियाँ और पतंगे दोनों 'लेपीडोप्टेरा' वर्ग के प्राणी होते हैं। पतंगों की १.६ लाख से ज़्यादा क़िस्में (स्पीशीयाँ) ज्ञात हैं, जो तितलियों की क़िस्मों से लगभग १० गुना हैं। वैज्ञानिकों ने पतंगों और तितलियों को अलग बतलाने के लिए ठोस अंतर समझने का प्रयत्न किया है लेकिन यह सम्भव नहीं हो पाया है। अंत में यह बात स्पष्ट हुई है कि तितलियाँ वास्तव में रंग-बिरंगे पतंगों का एक वर्ग है जो भिन्न नज़र आने की वजह से एक अलग श्रेणी समझी जाने लगी हैं। अधिकतर पतंगे निशाचरता दिखलाते हैं (यानी रात को सक्रीय होते हैं), हालाँकि दिन में सक्रीय पतंगों की भी कई जातियाँ हैं।, David Carter, Roger Phillips, British Museum (Natural History), Heinemann, published in association with the British Museum (Natural History), 1982,...

8 संबंधों: टोटम प्रथा, प्रवास, फॉरेंसिक कीटविज्ञान, रूमेक्स, संस्कृत मूल के अंग्रेज़ी शब्दों की सूची, जिप्सी शलभ, विमी, अमिताभ बच्चन

टोटम प्रथा

कनाडा में टोटम खम्बे गणचिह्नवाद या टोटम प्रथा (totemism) किसी समाज के उस विश्वास को कहतें हैं जिसमें मनुष्यों का किसी जानवर, वृक्ष, पौधे या अन्य आत्मा से सम्बन्ध माना जाए। 'टोटम' शब्द ओजिब्वे (Ojibwe) नामक मूल अमेरिकी आदिवासी क़बीले की भाषा के 'ओतोतेमन' (ototeman) से लिया गया है, जिसका मतलब 'अपना भाई/बहन रिश्तेदार' है। इसका मूल शब्द 'ओते' (ote) है जिसका अर्थ एक ही माँ के जन्में भाई-बहन हैं जिनमें ख़ून का रिश्ता है और जो एक-दूसरे से विवाह नहीं कर सकते। अक्सर टोटम वाले जानवर या वृक्ष का उसे मानने वाले क़बीले के साथ विशेष सम्बन्ध माना जाता है और उसे मारना या हानि पहुँचाना वर्जित होता है, या फिर उसे किसी विशेष अवसर पर या विशेष विधि से ही मारा जा सकता है। कबीले के लोग अक्सर उसे क़बीले की चिह्नों में भी शामिल कर लेते हैं, मसलन मूल अमेरिकी आदिवासी अक्सर टोटम खम्बों में इन्हें प्रदर्शित करते थे।, Rajendra K. Sharma, Atlantic Publishers & Dist, 2004, ISBN 978-81-7156-665-5,...

नई!!: पतंगा और टोटम प्रथा · और देखें »

प्रवास

पर्यावरण और प्राणी व्यवहार में प्रवास (migration) या प्रवास व्यवहार के कई अर्थ हो सकते हैं.

नई!!: पतंगा और प्रवास · और देखें »

फॉरेंसिक कीटविज्ञान

फॉरेंसिक कीटविज्ञान (अंग्रेज़ी भाषा: Forensic entomology) विज्ञान का क्षेत्र है जिसमें हम कीट और अन्य संधिपाद प्राणियों के जीवन के बारे में आपराधिक मामलों की जाँच की जाती है। इस शेत्र में कीट, संधिपाद प्राणी, अर्चिंड, गोजर, सहस्त्रपाद, क्रस्टेशिया के भी जीवन के विज्ञान को शामिल किया गया है। आपराधिक मामलों को सुलझाने के लिए यह क्षेत्र मुख्य रूप से मौत की जाँच से जुड़े मामले सुलझाने के लिए है परंतु इसके द्वारा हम कई और मामलों की जाँच भी कर सकते हैं जैसे- ज़ेहर और दवाइयों की जाँच, किसी घटना के होने की जगह और किसी भी घाव के होने के समय का भी जाँच भी की जा सकती है। फॉरेंसिक कीटविज्ञान ३ उप-क्षेत्रों में बाँटा गया है: शहरी, संग्रीहित उत्पाद और मेडिकोलेगल (चिकित्या एवं न्याय प्रणाली) .

नई!!: पतंगा और फॉरेंसिक कीटविज्ञान · और देखें »

रूमेक्स

रूमेक्स (अंग्रेज़ी: Rumex) पौधों की लगभग २०० जातियों का एक जीववैज्ञानिक वंश है जो पोलिगोनेसिए कुल के अंतर्गत आता है। इसमें खट्टे पालक सहित और भी गण शामिल हैं। मूल रूप से इसकी अधिकतर जातियाँ पृथ्वी के उत्तरी गोलार्ध में उगा करते थे लेकिन मानवीय हस्तक्षेप से अब यह लगभग हर स्थान में मिलते हैं। इनमें से कई खाद्य-योग्य हैं। रूमेक्स वंश की मूल व्याख्या कार्ल लिनेअस ने की थी। तितलियों व पतंगों की कई जातियों के डिंभ (लारवा, शिशु) इनके पत्ते खाते हैं। .

नई!!: पतंगा और रूमेक्स · और देखें »

संस्कृत मूल के अंग्रेज़ी शब्दों की सूची

यह संस्कृत मूल के अंग्रेजी शब्दों की सूची है। इनमें से कई शब्द सीधे संस्कृत से नहीं आये बल्कि ग्रीक, लैटिन, फारसी आदि से होते हुए आये हैं। इस यात्रा में कुछ शब्दों के अर्थ भी थोड़े-बहुत बदल गये हैं। .

नई!!: पतंगा और संस्कृत मूल के अंग्रेज़ी शब्दों की सूची · और देखें »

जिप्सी शलभ

वयस्क मादा जिप्सी शलभ वयस्क नर जिप्सी शलभ जिप्सी शलभ (Moth, Gypsy) लेपिडॉप्टेरीय (lepidopterous) कीट है, जो लाइमैनट्राइडी (Lymantridae) कुल के अंतर्गत आता है। इस कुल के अंतर्गत कुछ बड़े भयंकर कीट भी पाए जाते हैं। ये शलभ मध्यम आकार के होते हैं। इनकी टाँगें घने बालों से ढँकी रहती हैं। इस कुल के शलभ प्राय: रात्रि में उड़नेवाले होते हैं, परंतु कुछ दिन में भी उड़ते हैं। जिप्सी शलभ के वयस्क नर का रंग भूरा होता है, जिसमें कुछ पीले निशान होते हैं जो डेढ़ इंच तक फैले होते है। दिन में यह स्वच्छंदता से उड़ता है। मादा शलभ के पंख, जिनपर काले निशान होते हैं, लगभग सफेद होते हैं। इसका शरीर भारी और पुष्ट होता है तथा पांडु रंग के बालों से ढँका रहता है। पंख लगभग दो इंच तक फैले होते हैं, परंतु ऐसे विकसित पंखों के होते हुए भी ये शरीर के भारीपन के कारण उड़तीं नहीं। मादा जाड़े में अंडाकार गुच्छों में अंडे देती है, जो पांडु बालों से ढँके होते हैं। प्रत्येक गुच्छे में ४००-५०० अंडे होते हैं। अंडे देने के लिए मादा स्थान के चयन पर कोई विशेष ध्यान नहीं देती। ये स्थान वृक्ष की शाखाएँ, धड़, घड़ों के कोटर, पत्थर और टिन के डिब्बे तक हो सकते हैं। वसंत में अंडों के फूटने पर इल्लियाँ (caterpillars) निकल आती हैं। इल्लियाँ अनेक प्रकार की पत्तियाँ खाती हैं। सेब, बांज, विलो, अल्डर और बर्च की पत्तियाँ इन्हें विशेष प्रिय हैं। इस प्रकार खाते खाते इल्लियाँ जुलाई के प्रारंभ तक काफी बड़ी हो जात हैं। अब तक इल्लियों का आकार लगभग तीन इंच लंबा और पेंसिल सा मोटा हो जाता है। ये भूरे रंग की होती हैं और इनके शरीर के कुछ भाग पर गुच्छेदार बाल होते हैं। इनकी पीठ पर पाँच जोड़ी नीले धब्बे होते हैं, जिनके पीछे छह जोड़े लाल धब्बे होते हैं। भोजन के पश्चात् इल्लियाँ किसी वृक्ष की शाखा, या तने के भीतर, उपयुक्त स्थान में चली जाती हैं। वहाँ पर वे अपने शरीर को पकड़ रखने के लिए कुछ तागों का कोया (cocoon) बुनती हैं। इसी कोए में इल्लियाँ प्यूपा (pupa) बनती हैं और सात से १७ दिनों के पश्चात् शलभ के रूप में निकल आती हैं। .

नई!!: पतंगा और जिप्सी शलभ · और देखें »

विमी

Entrance to Bias Pind, Jalandhar (Punjab, India).jpg जन्म जल्लादर, पंजब में हुआ विमी मुंबई फिल्मों की हिरोइन थी। .

नई!!: पतंगा और विमी · और देखें »

अमिताभ बच्चन

अमिताभ बच्चन (जन्म-११ अक्टूबर, १९४२) बॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय अभिनेता हैं। १९७० के दशक के दौरान उन्होंने बड़ी लोकप्रियता प्राप्त की और तब से भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे प्रमुख व्यक्तित्व बन गए हैं। बच्चन ने अपने करियर में कई पुरस्कार जीते हैं, जिनमें तीन राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार और बारह फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार शामिल हैं। उनके नाम सर्वाधिक सर्वश्रेष्ठ अभिनेता फ़िल्मफेयर अवार्ड का रिकार्ड है। अभिनय के अलावा बच्चन ने पार्श्वगायक, फ़िल्म निर्माता और टीवी प्रस्तोता और भारतीय संसद के एक निर्वाचित सदस्य के रूप में १९८४ से १९८७ तक भूमिका की हैं। इन्होंने प्रसिद्द टी.वी.

नई!!: पतंगा और अमिताभ बच्चन · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

पतंगे, पतंगों, परवाना, परवानों

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »