लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
इंस्टॉल करें
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

पटकाई

सूची पटकाई

पटकाई भारत के पूर्वोत्तर में बर्मा के साथ लगी अंतरराष्ट्रीय सीमावर्ती क्षेत्र पर स्थित पहाड़ी शृंखलाओं का नाम है। इसके पहाड़ों की ऊँचाई हिमालय की तुलना में काफ़ी कम है। पटकाई पहाड़ों में तीन मुख्य शृंखलाएँ शामिल हैं: पटकाई बुम, खसी-गारो-जयंतिया शृंखला और लुशाई पहाड़ियाँ। यह पर्वत भारत के नागालैंड, मणिपुर, मेघालय और मीज़ोरम राज्यों में विस्तृत हैं। पंगसौ दर्रा पटकाई पहाड़ों का सबसे महत्वपूर्ण पहाड़ी दर्रा है और भारत को बर्मा से जोड़ने वाली लेडो रोड इसी दर्रे से निकलती है।, Center of Military History, United States Army, pp.

6 संबंधों: पंगसौ दर्रा, लुशाई पहाड़ियाँ, सारामाती पर्वत, खासी पर्वतमाला, कचिन राज्य, अराकान योमा

पंगसौ दर्रा

पंगसौ दर्रा या पन सौंग दर्रा पटकाई पहाड़ो में ३,७२७ फ़ुट (१,१३६ मीटर) की ऊँचाई पर स्थित भारत को बर्मा से जोड़ने वाला एक पहाड़ी दर्रा है। यह बर्मा से पश्चिम में असम के मैदानी इलाक़ों तक पहुँचने का सबसे सरल मार्ग है और इतिहासकार अनुमान लगाते हैं कि असम में १३वीं सदी में आकर बसने वाले अहोम लोगों ने इसी दर्रे से भारत में प्रवेश किया था। दर्रे का नाम बर्मा के पंगसौ गाँव पर पड़ा है जो दर्रे से २ किमी पूर्व में बसा हुआ है। भारत को बर्मा से जोड़ने वाली लेडो रोड इसी दर्रे से निकलती है।, Center of Military History, United States Army, pp.

नई!!: पटकाई और पंगसौ दर्रा · और देखें »

लुशाई पहाड़ियाँ

लुशाई पहाड़ियाँ, जो मिज़ो पहाड़ियाँ भी कहलाती हैं, भारत के मिज़ोरम व त्रिपुरा राज्यों में स्थित एक पर्वतमाला है, जो पटकाई पहाड़ियों की एक उपशृंखला है। २,१५७ मीटर (७,०७७ फ़ुट) ऊँचा फौंगपुई पर्वत, जिसे नीला पर्वत भी कहते हैं, इस श्रेणी का सबसे ऊँचा पहाड़ है। .

नई!!: पटकाई और लुशाई पहाड़ियाँ · और देखें »

सारामाती पर्वत

सारामाती, जो कभी-कभी सरामाती या सैरामाती भी उच्चारित किया जाता है, भारत के नागालैण्ड राज्य का सबसे ऊँचा पर्वत है। ३,८२६ मीटर लम्बा यह पहाड़ भारत की बर्मा के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर खड़ा है और उस देश के सगाइंग मण्डल का भी सबसे ऊँचा बिन्दु है। यह नागालैण्ड के ट्वेनसांग शहर के समीप है। सर्दियों में सारामाती पर अक्सर हिमपात होता है और हिम कई सप्ताह तक स्थाई रूप से पहाड़ की चोटी ढके रहता है। .

नई!!: पटकाई और सारामाती पर्वत · और देखें »

खासी पर्वतमाला

खासी पर्वतमाला, भारत के राज्य मेघालय में स्थित गारो-खासी पर्वत शृंखला का एक भाग है, साथ ही यह पटकाई पर्वतशृंखला और मेघालय के उपोष्णकटिबंधीय वन पारिस्थिकी क्षेत्र का भी अंग है। पुराने स्रोतों में अकसर इसे खासिया पर्वतमाला लिखा गया है। मुख्य रूप से यह क्षेत्र खासी जनजाति के लोगों का निवास स्थान है, जो पारंपरिक रूप से छोटे-छोटे कबीलों में रहते है जिन्हें खासी पहाड़ी राज्यों के नाम से जाना जाता है। इस राज्यों में से एक की राजधानी चेरापूंजी, को दुनिया में सबसे अधिक वर्षा वाले स्थानों में से एक माना जाता है। 28 अक्तूबर 1976 को इस क्षेत्र को पश्चिम खासी हिल्स जिला और पूर्वी खासी हिल्स जिला में विभाजित किया गया और संपूर्ण क्षेत्र खासी हिल्स जिला के तहत आ गया। खासी पर्वतमाला की सबसे ऊंची चोटी लुम शिलांग है जो 1968 मीटर ऊंची है। यह शिलांग शहर के दक्षिण में कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। .

नई!!: पटकाई और खासी पर्वतमाला · और देखें »

कचिन राज्य

कचिन राज्य (बर्मी: ကချင်ပြည်နယ်) बर्मा का उत्तरतम राज्य है। इसके पूर्वी और उत्तरी सरहदें चीन से मिलती हैं, और इसके पश्चिमोत्तर में भारत स्थित है। प्रान्तीय राजधानी म्यित्चीना के अलावा भामो और पुताओ यहाँ के मुख्य शहर हैं। कचिन राज्य का ५८८९ मीटर ऊँचा खाकाबो राज़ी पर्वत भारत-बर्मा की सीमा पर स्थित है और बर्मा का सबसे ऊँचा पर्वत है। दक्षिणपूर्वी एशिया की सबसे बड़ी झीलों में से एक, इन्दौजी झील, भी इसी प्रान्त में पड़ती है। .

नई!!: पटकाई और कचिन राज्य · और देखें »

अराकान योमा

अराकान योमा (Arakan Yoma), जिसे अराकान पर्वतमाला और रखाइन पर्वतमाला भी कहते हैं, पश्चिमी बर्मा की एक पर्वतमाला है जो उस देश की भारत से सीमा निर्धारित करती है। यह रखाइन राज्य के तट और इरावदी नदी की जलसम्भर द्रोणी के बीच में स्थित है। यह भारत व बर्मा के इस क्षेत्र में समानांतर चलने वाली कई पर्वतमालाओं में से सबसे विशाल है, जिसमें से कुछ भारत के असम, नागालैण्ड और मिज़ोरम राज्यों में भी चलती हैं। इन सामानांतर पर्वत श्रेणियों में नागा पहाड़ियाँ, चिन पहाड़ियाँ और पटकाई पर्वतमाला (जिनमें लुशाई पहाड़ियाँ भी आती हैं) शामिल हैं। दक्षिण में यह पर्वत बंगाल की खाड़ी में जल के भीतर चलते रहते हैं और बहुत आगे जाकर भारत के अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के रूप में फिर पानी से बाहर उभरते हैं। इसका विक्टोरिया नामक सर्वोच्च शिखर १०,०१८ फुट ऊँचा है। .

नई!!: पटकाई और अराकान योमा · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

पटकाई पर्वतमाला, पटकाई पहाड़ियाँ, पटकाई पहाड़ियों, पटकाई पहाड़ो

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »