लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
डाउनलोड
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

डाक सूचक संख्या

सूची डाक सूचक संख्या

डाक सूचक संख्या या पोस्टल इंडेक्स नंबर (लघुरूप: पिन नंबर) एक ऐसी प्रणाली है जिसके माध्यम से किसी स्थान विशेष को एक विशिष्ट सांख्यिक पहचान प्रदान की जाती है। भारत में पिन कोड में ६ अंकों की संख्या होती है और इन्हें भारतीय डाक विभाग द्वारा छांटा जाता है। पिन प्रणाली को १५ अगस्त १९७२ को आरंभ किया गया था। .

514 संबंधों: चन्दौली (तहसील), चन्दौली, चम्फाई, चरखरी (तहसील), महोबा, चरखारी, चांदपुर (तहसील), बिजनौर, चितबड़ागाँव, चिम्बेल, चंद्रताल, चंदौसी (तहसील), मुरादाबाद, चकरनगर (तहसील), इटावा, चकिया (तहसील), चन्दौली, चौडी, चौपाल, हिमाचल प्रदेश, चौखुटिया, चैरी चैरा (तहसील), गोरखपुर, चैल (तहसील), कौशाम्बी, चूरू, टाण्डा, टांडा (तहसील), अम्बेडकर नगर, टोडारायसिंह, एटा (तहसील), एटा, एत्मादपुर (तहसील), आगरा, झाड़ेवा, झांसी (तहसील), झांसी, ठाकुरद्वारा (तहसील), मुरादाबाद, डिफेन्स कालोनी, डिगबोई, डीडवाना, तमखुई राज (तहसील), कुशीनगर, तरबगंज (तहसील), गोंडा, तरावड़ी, तहरौली (तहसील), झांसी, तालबेहात (तहसील), ललितपुर, तिनसुकिया, तिलहर (तहसील), शाहजहांपुर, तिलकनगर, मुंबई, तिलोई (तहसील), रायबरेली, तंडा (तहसील), रामपुर, तुलसीपुर (तहसील), बलरामपुर, तुंडला (तहसील), फिरोजाबाद, ददरेवा, दलमाउ (तहसील), रायबरेली, दातागंज (तहसील), बदायूं, दादरी (तहसील), गौतम बुद्ध नगर, दारुल उलूम देवबंद, दिनेशपुर, दक्षिणेश्वर, दूधी (तहसील), सोनभद्र, देचू, देबाई (तहसील), बुलंदशहर, ..., देहमी, देवबंद (तहसील), सहारनपुर, देवरिया (तहसील), देवरिया, देवली, टोंक, देवघर, दोमारियागंज (तहसील), सिद्धार्थनगर, धनौरा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर), धामपुर (तहसील), बिजनौर, धारचुला देहात, धारचूला, धोराहरा (तहसील), लखीमपुर खीरी, नसीराबाद, अजमेर, नानपारा, (तहसील), बहराइच, नायगांव, नारलाई, नारायणा, नारैनी (तहसील), बांदा, नारोमुरार, नाहरगढ़ दुर्ग, नाग्ला, नाकोड़ा, निचलौल (तहसील), महाराजगंज, निवाई, टोंक, निगासन (तहसील), लखीमपुर खीरी, नजीबाबाद (तहसील), बिजनौर, नवाबगंज (तहसील), बाराबंकी, नगोद, नगीना (तहसील), बिजनौर, नकुर (तहसील), सहारनपुर, नौटनवा (तहसील), महाराजगंज, नौगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर, नैनवा, नैनवाल, नैनीताल छावनी, नेमावर, नेवी नगर, नीमकाथाना, पटियाली (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर), पटौदी, पत्रादेवी, पदरौना (तहसील), कुशीनगर, पलिया (तहसील), लखीमपुर खीरी, पहलगाम, पार्सेम, पाले, गोवा, पाली, हरियाणा, पिलखुवा, पिलीभीत (तहसील), पीलीभीत, पिंडरा (तहसील), वाराणसी, पंचमहाल जिला, पुणे, पुरनपुर (तहसील), पीलीभीत, पुलगांव, पुंछ जिला, पूर्वा (तहसील), उन्नाव, पोरवोरिम, पोवायन (तहसील), शाहजहांपुर, फतहपुर (तहसील), बाराबंकी, फतेहपुर (तहसील), फतेहपुर, फर्रुख़ाबाद (तहसील), फर्रुख़ाबाद, फरेंडा (तहसील), महाराजगंज, फरीदपुर (तहसील), बाराबंकी, फ़ार्मागुड़ी, फिरोजाबाद (तहसील), फिरोजाबाद, फैजाबाद (तहसील), फैजाबाद, फूलपुर (तहसील), इलाहाबाद, बड़नगर, बडौत (तहसील), बागपत, बदलापुर (तहसील), जौनपुर, बदायूं (तहसील), बदायूं, बनबसा, बबेरु (तहसील), बांदा, बम्बोलिम, बम्हनी बंजर, बरहज (तहसील), देवरिया, बरेली (तहसील), बाराबंकी, बलरामपुर (तहसील), बलरामपुर, बलिया (तहसील), बलिया, बस्ती (तहसील), बस्ती, बहराइच, (तहसील), बहराइच, बहेरी (तहसील), बाराबंकी, बाणावली, बान्दिया, बारा (तहसील), इलाहाबाद, बारामती, बाली, हावड़ा, बाजपुर, बागपत (तहसील), बागपत, बागा, गोवा, बांदा (तहसील), बांदा, बांदीकुई, बांसगांव (तहसील), गोरखपुर, बिड़ोदी बड़ी, बिड़ोदी छोटी, बिडोली सीकर, बिधुना (तहसील), औरैया, बिन्दकी, बिन्दकी (तहसील), फतेहपुर, बिलारी, बिलासपुर (तहसील), रामपुर, बिलग्राम, बिलग्राम (तहसील), हरदोई, बिल्सी (तहसील), बदायूं, बिसलपुर (तहसील), पीलीभीत, बिस्वान (तहसील), सीतापुर, बिसौरी, बिसौली (तहसील), बदायूं, बिजनौर (तहसील), बिजनौर, बिकापुर (तहसील), फैजाबाद, बंसडीह (तहसील), बलिया, बंसी (तहसील), सिद्धार्थनगर, बक्शी का तालाब (तहसील), लखनऊ, बुचे नंगल, बुढाना (तहसील), मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर (तहसील), बुलंदशहर, बैरिया, (तहसील), बलिया, बेतुल, गोवा, बेलथारा रोड (तहसील), बलिया, बेहत (तहसील), सहारनपुर, बोरिम, बीदसर, बीदासर, बीघापुर (तहसील), उन्नाव, भदोई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई), भरतपुरा, भरथना (तहसील), इटावा, भाट पचलाना, भाटपर रानी (तहसील), देवरिया, भानपुर (तहसील), बस्ती, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण, भिदौनी, भिंगा (तहसील), श्रावस्ती, भूधा का बास, भोगौन (तहसील), मैनपुरी, भीती( तहसील), अम्बेडकर नगर, भीमसागर, मटिया, मडियाहु (तहसील), जौनपुर, मडकई, मत (तहसील), मथुरा, मथुरा, मथुरा (तहसील), मथुरा, मधुबन (तहसील), मऊ, मधोगढ़ (तहसील), जालौन, मनाली, हिमाचल प्रदेश, मनकापुर (तहसील), गोंडा, मनोहरपुरा, ममुआरा, मय़मनसिंह, मलिक, मलीहाबाद (तहसील), लखनऊ, महमूदाबाद, महमूदाबाद (तहसील), सीतापुर, महरौनी (तहसील), ललितपुर, महसी, (तहसील), बहराइच, महाराजगंज (तहसील), रायबरेली, महाराजगंज सदर (तहसील), महाराजगंज, महावन (तहसील), मथुरा, महुआ डाबरा हरिपुरा, महुआ खेरागंज, महोबा (तहसील), महोबा, मार्दोल, मालपुरा, टोंक, माशेल, मासी, मिलक (तहसील), रामपुर, मिल्कीपुर (तहसील), फैजाबाद, मिसरीख (तहसील), सीतापुर, मवाना (तहसील), मेरठ, मंझनपुर (तहसील), कौशाम्बी, मंडीद्वीप, भोपाल, मकराना, मउ (तहसील), चित्रकूट, मउनाथ भंजन (तहसील), मऊ, मउरानीपुर (तहसील), झांसी, मछलीशहर (तहसील), जौनपुर, मुनस्‍यारी, मुरादाबाद (तहसील), मुरादाबाद, मुलुंड, मुसाफिरखाना (तहसील), सुल्तानपुर, मुहम्मदाबाद गोहना (तहसील), मऊ, मुज़फ़्फ़रनगर, मुज़फ्फरजगर (तहसील), मुजफ्फरनगर, म्हापसा, मौदहा (तहसील), हमीरपुर, मौसिनराम, मैनपुरी (तहसील), मैनपुरी, मैक्लॉडगंज, मेरठ (तहसील), मेरठ, मेहदवाल (तहसील), संत कबीर नगर, मेजा (तहसील), इलाहाबाद, मोठ (तहसील), झांसी, मोदीनगर (तहसील), गाजि़याबाद, मोबोर, मोहनलालगंज (तहसील), लखनऊ, मोहम्मदाबाद (तहसील), गाजीपुर, मोहम्मदी (तहसील), लखीमपुर खीरी, मीरगंज (तहसील), बाराबंकी, रतनपुरा, रथ (तहसील), हमीरपुर, रसरा (तहसील), बलिया, रामनगर (तहसील), बाराबंकी, रामपुर (तहसील), रामपुर, रामपुर मनिहरन (तहसील), सहारनपुर, रामस्नेही घाट (तहसील), बाराबंकी, रामगढ़ शेखावाटी, रायबरेली (तहसील), रायबरेली, राजगढ़, अलवर, रावतभाटा, रिवालसर, रुद्रपुर (तहसील), देवरिया, रुधौली (तहसील), फैजाबाद, रुधौली (तहसील), बस्ती, रेसुबेलपाड़ा, रॉबर्ट्सगंज (तहसील), सोनभद्र, रींगस, ललितपुर (तहसील), ललितपुर, लहरपुर (तहसील), सीतापुर, लापस्या, लालगंज (तहसील), रायबरेली, लिलुआ, लखनपहाड़ी, लखनउ (तहसील), लखनऊ, लखीमपुर (तहसील), लखीमपुर खीरी, लंभुआ (तहसील), सुल्तानपुर, लुंगलेई, लॉङ्गतलाई, लोनी, लोसल, शामली, शामली (तहसील), मुजफ्फरनगर, शाहबाद (तहसील), रामपुर, शाहाबाद (तहसील), हरदोई, शाहजहांपुर (तहसील), शाहजहांपुर, शाहगंज (तहसील), जौनपुर, शिवपुरी, शिंगवे, शिकारपुर (तहसील), बुलंदशहर, शिकोहाबाद (तहसील), फिरोजाबाद, शक्तिगढ़, श्री माधोपुर, शोहरतगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर, सण्डीला (तहसील), हरदोई, सदाबाद (तहसील), हाथरस (महामाया नगर), सरधाना (तहसील), मेरठ, सरवाड़, सरीला (तहसील), हमीरपुर, सलौन (तहसील), रायबरेली, सलेमपुर (तहसील), देवरिया, ससनी (तहसील), हाथरस (महामाया नगर), सहस्वन (तहसील), बदायूं, सहारनपुर (तहसील), सहारनपुर, सहावर, सहावर (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर), सहजनवा (तहसील), गोरखपुर, सानंद, साफीपुर (तहसील), उन्नाव, सालगाँव, सावय वेंरें, सांडेराव, साकोली, सितारगंज, सिरसा, सिराथू (तहसील), कौशाम्बी, सिरौली गौसपुर (तहसील), बाराबंकी, सिंकदरा राव (तहसील), हाथरस (महामाया नगर), सिकंदरपुर (तहसील), बलिया, सिकंदराबाद (तहसील), बुलंदशहर, सवायजपुर (तहसील), हरदोई, संभल (तहसील), मुरादाबाद, संगरूर ज़िला, सइहा, सकलडीहा (तहसील), चन्दौली, सकेतड़ी, सुयार (तहसील), रामपुर, सुल्तानपुर (तहसील), सुल्तानपुर, स्याना (तहसील), बुलंदशहर, सैदपुर (तहसील), गाजीपुर, सैफ़ई, सैफई (तहसील), इटावा, सेतगंगा, सेमरा बुजुर्ग, सेमरा, गाजीपुर, सेमलिया, सेरछिप, सोनगढ़, सोराओं (तहसील), इलाहाबाद, सोहावल (तहसील), फैजाबाद, सीतापुर (तहसील), सीतापुर, हटा (तहसील), कुशीनगर, हमीरपुर (तहसील), हमीरपुर, हरदोई (तहसील), हरदोई, हर्रैया (तहसील), बस्ती, हसनपुर (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर), हसनगंज (तहसील), उन्नाव, हाथरस (तहसील), हाथरस (महामाया नगर), हापुड़, हालिशहर, हावड़ा, हांडिया (तहसील), इलाहाबाद, हंदवारा, हुरूहुरी, हैदरनाथ (तहसील), बाराबंकी, हेमकुंट साहिब, जमानिया (तहसील), गाजीपुर, जम्मू, जम्मू (शहर), जयसिंहपुर (तहसील), सुल्तानपुर, जलालपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर, जलालाबाद (तहसील), शाहजहांपुर, जलेसर (तहसील), एटा, जसरना (तहसील), फिरोजाबाद, जसवंतनगर (तहसील), इटावा, जानसठ (तहसील), मुजफ्फरनगर, जायस, जालौन (तहसील), जालौन, जागेश्वर, जांगीपुर, जिंतुर, जखानिया (तहसील), गाजीपुर, ज्ञानपुर (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई), जौनपुर, जौनपुर (तहसील), जौनपुर, जौरासी, जूस (तहसील), कन्नौज, जेजुरी, जेवर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर, जीण माता, घनघाटा (तहसील), संत कबीर नगर, घोरावल (तहसील), सोनभद्र, घोसी(तहसील), मऊ, वड़नगर, वनस्थली, वयला, वाराणसी (तहसील), वाराणसी, वारिसलिगंज, वालपय, विजयनगर, अजमेर, विकासपुरी, व्यास, पंजाब, खतौली (तहसील), मुजफ्फरनगर, खलीलाबाद (तहसील), संत कबीर नगर, खाटूश्यामजी, राजस्थान, खाण्डेपार, खाण्डोला, खानपुर डागरान, खागा (तहसील), फतेहपुर, खजनी (तहसील), गोरखपुर, खुमुलुङ, खुर्जा (तहसील), बुलंदशहर, खेतड़ी, खेकड़ा (तहसील), बागपत, गढ़ मुक्तेश्वर, गदरपुर, गरौठा (तहसील), झांसी, गाजि़याबाद (तहसील), गाजि़याबाद, गाजीपुर (तहसील), गाजीपुर, गुन्नौर (तहसील), बदायूं, गुइरिम, गौतम बुद्ध नगर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर, गौरीगंज (तहसील), सुल्तानपुर, गोरखपुर (तहसील), गोरखपुर, गोला (तहसील), गोरखपुर, गोला गोकरन नाथ (तहसील), लखीमपुर खीरी, गोगुन्दा, गोंडा (तहसील), गोंडा, औरई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई), औरैया (तहसील), औरैया, आनन्दपुर साहिब, आंवला (तहसील), बाराबंकी, इटावा (तहसील), सिद्धार्थनगर, इटावा (तहसील), इटावा, इलाहाबाद (तहसील), इलाहाबाद, इंदिरा नगर, लखनऊ, इंदिरा पोइंट, इकोना (तहसील), श्रावस्ती, कच्नाल गोसांई, कचोलिया, कटराथल, कड़ीपुर (तहसील), सुल्तानपुर, कन्नौज (तहसील), कन्नौज, कनॉट प्लेस, करहल (तहसील), मैनपुरी, कराड, करवी (तहसील), चित्रकूट, करछाना (तहसील), इलाहाबाद, कर्नलगंज (तहसील), गोंडा, कर्नूल, कलतूर, कलापुर, कलीमगंज (तहसील), फर्रुख़ाबाद, कसया (तहसील), कुशीनगर, काटोया, काणकोण, कार निकोबार, कारापुर, कालपी (तहसील), जालौन, कालाढूंगी, कासरपल, कासगंज, कासगंज (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर), कांठ (तहसील), मुरादाबाद, कांवली, काकूवाला, किरौली (तहसील), आगरा, किशनगढ़, अलवर, किशनगढ़, अजमेर, कंडाघाट, कुचिपुड़ी, कृष्णा जिला, कुन्नूर, कुपवाड़ा, कुर्ती, गोवा, कुलपहाड़ (तहसील), महोबा, कुलाबा, कुंडा, क्यूला, कैम्पीयारगंज (तहसील), गोरखपुर, कैराना (तहसील), मुजफ्फरनगर, कैसरगंज, (तहसील), बहराइच, केरन, जम्मू और कश्मीर, केराकत, केराकेट (तहसील), जौनपुर, केला खेरा, केली पत्रैसी,संभल (मुरादाबाद), केशवरायपाटन, कोच्चि, कोटर (कस्बा), कोटखाई, कोनिया क्षेत्र, कोराओं (तहसील), इलाहाबाद, कोलासिब, कोलकाता, कोल्वाले, कोंच (तहसील), जालौन, अतरा (तहसील), बांदा, अतर्रा, अनमोद, अनूपशहर (तहसील), बुलंदशहर, अपरा, पंजाब, अमरावती, आन्ध्र प्रदेश, अमरोहा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर), अम्पति, अमृतपुर (तहसील), फर्रुख़ाबाद, अमेठी (तहसील), सुल्तानपुर, अमोढ़ा, अल्लापुर (तहसील), अम्बेडकर नगर, अलीगंज (तहसील), एटा, असंध, अस्कोट, अइज़ोल, अकबरपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर, अकबरपुर, कानपुर देहात, अक्यूम, उतरैला (तहसील), बलरामपुर, उत्तरी लखीमपुर, उनियारा, उन्नाव (तहसील), उन्नाव, उन्छहर (तहसील), रायबरेली, उरई (तहसील), जालौन, छपरा, छाता (तहसील), मथुरा, छितकुल, छिबरामउ (तहसील), कन्नौज, १५ अगस्त सूचकांक विस्तार (464 अधिक) »

चन्दौली (तहसील), चन्दौली

यह तहसील चन्दौली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 522 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चन्दौली (तहसील), चन्दौली · और देखें »

चम्फाई

चम्फाई भारतीय राज्य मिज़ोरम का एक सीमावर्ती कस्बा है। यह राज्य के आठ ज़िलों में से एक चम्फाई ज़िले का मुख्यालय भी है। भारत-म्यांमार सीमा पर स्थित होने के कारण इस कस्बे का सामरिक महत्व भी है। इस कारण से यह भारत म्यांमार के मध्य प्रमुख व्यापार गलियारा भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चम्फाई · और देखें »

चरखरी (तहसील), महोबा

यह तहसील महोबा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 118 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चरखरी (तहसील), महोबा · और देखें »

चरखारी

चरखारी भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में मौजूद एक क़स्बा है। यह इसी नाम की तहसील का मुख्यालय भी है और विधान सभा सीट का नाम भी चरखारी विधान सभा क्षेत्र है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चरखारी · और देखें »

चांदपुर (तहसील), बिजनौर

यह तहसील बिजनौर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 491 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चांदपुर (तहसील), बिजनौर · और देखें »

चितबड़ागाँव

चितबड़ागाँव उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में एक कस्बा और नगर पंचायत है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चितबड़ागाँव · और देखें »

चिम्बेल

चिम्बेल भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चिम्बेल · और देखें »

चंद्रताल

चंद्रताल, या चंद्र ताल, हिमालय पर लगभग की ऊंचाई पर स्थित एक झील है जो अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है। उत्तर भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति जिले में, लाहौल व स्पीति घाटियों की सीमा पर कुंजम पास के निकट स्थित चंद्र ताल से चंद्र नदी का उद्गम होता है जो आगे चलकर भागा नदी से मिलकर चंद्रभागा और जम्मू-कश्मीर में जाकर चेनाब कहलाने लगती है। कॉपेन जलवायु वर्गीकरण मानकों के अनुसार अतिशीत जलवायु वाला यह स्थान रामसर आर्द्रभूमि के रूप में वर्गीकृत है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चंद्रताल · और देखें »

चंदौसी (तहसील), मुरादाबाद

यह तहसील मुरादाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 241 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चंदौसी (तहसील), मुरादाबाद · और देखें »

चकरनगर (तहसील), इटावा

यह तहसील इटावा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 107 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चकरनगर (तहसील), इटावा · और देखें »

चकिया (तहसील), चन्दौली

यह तहसील चन्दौली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 624 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चकिया (तहसील), चन्दौली · और देखें »

चौडी

चौडी भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक कस्बा है जो काणकोण से दो किलोमीटर दूर है। श्रेणी:गोवा के नगर, कस्बे, और ग्राम.

नई!!: डाक सूचक संख्या और चौडी · और देखें »

चौपाल, हिमाचल प्रदेश

चौपाल भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश में स्थित शिमला जिले का एक नगर एवं नगर पंचायत है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चौपाल, हिमाचल प्रदेश · और देखें »

चौखुटिया

चौखुटिया, अल्मोड़ा जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चौखुटिया · और देखें »

चैरी चैरा (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 217 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चैरी चैरा (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

चैल (तहसील), कौशाम्बी

यह तहसील कौशाम्बी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 269 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चैल (तहसील), कौशाम्बी · और देखें »

चूरू

चूरू भारत के सबसे बड़े राज्य राजस्थान के मरुस्थलीय भाग का एक नगर एवं लोकसभा क्षेत्र है। इसे थार मरुस्थल का द्वार भी कहा जाता है। यह चूरू जिले का जिला मुख्यालय है। चूरू की स्थापना 1620 ई. में चूहरू जाट ने की थी। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और चूरू · और देखें »

टाण्डा

टाण्डा उत्तर प्रदेश के अम्बेडकर नगर ज़िले का एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और टाण्डा · और देखें »

टांडा (तहसील), अम्बेडकर नगर

यह तहसील अम्बेडकर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 408 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और टांडा (तहसील), अम्बेडकर नगर · और देखें »

टोडारायसिंह

टोडारायसिंह भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और टोडारायसिंह · और देखें »

एटा (तहसील), एटा

यह तहसील एटा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 494 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और एटा (तहसील), एटा · और देखें »

एत्मादपुर (तहसील), आगरा

यह तहसील आगरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 112 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और एत्मादपुर (तहसील), आगरा · और देखें »

झाड़ेवा

झाडेवा भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। यह लक्ष्मणगढ़ से 22-किलोमीटर (14 मील) पूर्व में तथा नवलगढ़ से 2-किलोमीटर (1.2 मील) पश्चिम में स्थित है। इसके सीमाएं बिड़ोदी छोटी, बिड़ोदी बड़ी और भूधा का बास गाँवों से लगती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और झाड़ेवा · और देखें »

झांसी (तहसील), झांसी

यह तहसील झांसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 148 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और झांसी (तहसील), झांसी · और देखें »

ठाकुरद्वारा (तहसील), मुरादाबाद

यह तहसील मुरादाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 311 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और ठाकुरद्वारा (तहसील), मुरादाबाद · और देखें »

डिफेन्स कालोनी

डिफेंस कॉलोनी दक्षिण दिल्ली, भारत में स्थित एक रिहायशी क्षेत्र है। इसकी दिल्ली शहर के अधिकांश भागों से निकटता के अलावा, इलाके मे अनेक किस्मों के विदेशी व्यंजन मिलते है जिस के लिए यह सभी दिल्ली वालो के बीच लोकप्रिय है। इसमे सागर रत्ना, मोएट्स, केन्ट्स जैसे मशहूर रेस्त्राँ है। यहाँ पर दिल्ली की कई जानी मानी हस्तिया रहती है जिसमे बडे उद्योगपति, अभिनेता, राजनीतिज्ञ इत्यादि शामिल है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और डिफेन्स कालोनी · और देखें »

डिगबोई

डिगबोई भारत के असम राज्य के तिनसुकिया जिले के उत्तर पूर्वी हिस्से में स्थित एक छोटा सा नगर है। 19वीं सदी के अंतिम वर्षों में यहाँ कच्चे तेल की खोज की गयी थी। डिगबोई असम के तेल नगरी के रूप में जाना जाता है। डिगबोई में एशिया में पहली बार तेल कुएँ का खनन हुआ था। 1901 में यहाँ एशिया की पहली रिफाइनरी को शुरू किया गया था। डिगबोई में अभी तक उत्पादन करने वाली कुछ सबसे पुराने तेल कुएँ हैं। भारत की स्वतंत्रता के दशकों बाद तक असम तेल कंपनी के लिए काम कर रहे ब्रिटिश पेशेवरों की एक महत्वपूर्ण संख्या थी। इसीलिए ब्रिटिश लोगों ने डिगबोई को अच्छी तरह से विकसित किया था तथा बुनियादी सुविधाओं से परिपूर्ण किया था। यहाँ मौजूद कुछ बंगले अभी तक ब्रिटिश काल की याद दिलाते हैं। यहाँ डिगबोई क्लब के भाग के रूप में अठारह होल्स का एक गोल्फ कोर्स है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और डिगबोई · और देखें »

डीडवाना

डीडवाना राजस्थान के नागोर जिले का शहर है। डीडवाना का पुराना नाम आभानगरी था। यह 5000 वर्ष पुराना नगर है। बाद में आभनगरी से बदल कर इसका नाम दीन दीदवाना कर दिया। नगर में अभी भी दीन दरवाज़ा स्थित है। दीन शब्द् मुगलकाल में इस्लाम से आया था। और बाद में डिडू शाह नामक राजा ने इसका नाम बदल कर दीदवाना से डीडवाना कर दिया। जो की वर्तमान में है। आजकल डीडवाना नागौर जिले का राजस्थान में प्रसिद्ध शहर है। डीडवाना और इसके समीप गांवों के लोग भारत के महानगरो में महत्वपूर्ण पदों में और प्रसिद्ध उधोगपति है। प्रसिद्ध माहेश्वरी अरबपति व्यपारिक परिवार बांगड़ डीडवाना से है। इसके अलावा यहाँ रामानुजा संप्रदाय के आधार पर भी प्रशिद्ध है। नगर में 400 वर्ष पुराना शयाम महाराज का मंदिर आज भी स्थित है। शहर ऐतिहासिक रूप से सूफी संत ख्वाज़ा मोइनुद्दीन की याद में सम्राट अकबर द्वारा निर्मित किला मस्जिद के लिए भी प्रसिद्ध है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और डीडवाना · और देखें »

तमखुई राज (तहसील), कुशीनगर

यह तहसील कुशीनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 385 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तमखुई राज (तहसील), कुशीनगर · और देखें »

तरबगंज (तहसील), गोंडा

यह तहसील गोंडा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 363 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तरबगंज (तहसील), गोंडा · और देखें »

तरावड़ी

तरावड़ी (एतिहासिक नाम-तराइन) हरियाणा का एक शहर है जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-१ पर कुरूक्षेत्र व करनाल के मध्य स्थित है। यहां पर बासमती चावलों की खेती की जाती है। इन चावलों का निर्यात विदेशों में किया जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तरावड़ी · और देखें »

तहरौली (तहसील), झांसी

यह तहसील झांसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 153 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तहरौली (तहसील), झांसी · और देखें »

तालबेहात (तहसील), ललितपुर

यह तहसील ललितपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 169 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तालबेहात (तहसील), ललितपुर · और देखें »

तिनसुकिया

तिनसुकिया भारत के असम प्रदेश का एक छोटा सा शहर, तिनसुकिया जिले का प्रशासनिक मुख्यालय तथा नगर निगम बोर्ड है। यह असम राज्य का एक प्रमुख क्षेत्रीय व्यापारिक केंद्र भी है। यह असम कि राजधानी गुवाहाटी से 486 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर-पूर्व में और अरुणाचल प्रदेश की सीमा से 84 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। असम के व्यापारिक राजधानी के रूप में प्रसिद्ध इस नगर में असमिया और अन्य भाषाई विशेषकर हिंदीभाषी, बंगाली, नेपाली और सिख लोग रहते हैं। कई नए मॉल और भवनों के निर्माण के साथ शहर एक आधुनिक शहर का रूप लेता जा रहा है। तिनसुकिया एक औद्योगिक और वाणिज्यिक केंद्र है जहाँ कृषि उत्पादों जैसे चाय, संतरे, अदरक और धान के भारी पैदावार के साथ साथ अनेक उद्यम भी प्रतिष्ठित हैं। तिनसुकिया में असम का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है और यह जिले को देश के कई महत्वपूर्ण स्थलों से जोड़ता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तिनसुकिया · और देखें »

तिलहर (तहसील), शाहजहांपुर

यह तहसील शाहजहांपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 630 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तिलहर (तहसील), शाहजहांपुर · और देखें »

तिलकनगर, मुंबई

तिलक नगर (मराठी: टिळक नगर) मुम्बई का उपनगरीय निवासीय क्षेत्र है। यहाँ हार्बर लाइन पर इसी नाम से मुम्बई का एक रेलवे स्टेशन भी है। इसका नामकरण स्वतंत्रता सैनानी बाल गंगाधर तिलक की याद में किया गया। श्रेणी:मुम्बई के उपनगर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और तिलकनगर, मुंबई · और देखें »

तिलोई (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 200 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तिलोई (तहसील), रायबरेली · और देखें »

तंडा (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 181 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तंडा (तहसील), रामपुर · और देखें »

तुलसीपुर (तहसील), बलरामपुर

यह तहसील बलरामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 389 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तुलसीपुर (तहसील), बलरामपुर · और देखें »

तुंडला (तहसील), फिरोजाबाद

यह तहसील फिरोजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 101 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और तुंडला (तहसील), फिरोजाबाद · और देखें »

ददरेवा

ददरेवा भारतीय राज्य राजस्थान के चूरू जिले में स्थित एक गाँव है। यह गांव हिसार-बीकानेर राजमार्ग पर सादुलपुर और तारानगर के मध्य स्थित है। भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त कार्यालय के आंकड़ों के अनुसार सन् 2011 में हुई जनगणना के मुताबिक इस गांव के कुल परिवारों की संख्या 1387 है। ददरेवा की कुल जनसंख्या 7199 है, जिसमें पुरुषों की संख्या 3708 और महिलाओं की संख्या 3491 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और ददरेवा · और देखें »

दलमाउ (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 196 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दलमाउ (तहसील), रायबरेली · और देखें »

दातागंज (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 498 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दातागंज (तहसील), बदायूं · और देखें »

दादरी (तहसील), गौतम बुद्ध नगर

यह तहसील गौतम बुद्ध नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 116 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दादरी (तहसील), गौतम बुद्ध नगर · और देखें »

दारुल उलूम देवबंद

दारुल उलूम देवबंद की स्थापना 1857 की क्रांति सन्दर्भ में हुई। इस क्रान्ति में मुगल मुस्लिम शासक को हटा दिया गया था और अनेक मुस्लिम संगठन या तो बन्द हो चुके थे या दिशाहीन रूप से मौजूद थे। ऐसे में देवबंद में दारुल उलूम की स्थापना हुई जिसका लक्ष्य भारत के मुसलमानों को धार्मिक शिक्षा प्रदान करना है। इस संस्था को विश्व-भर के मुस्लिम शिक्षा संस्थाओं को विशेष स्थान प्राप्त हुआ था। श्रेणी:इस्लामी संगठन.

नई!!: डाक सूचक संख्या और दारुल उलूम देवबंद · और देखें »

दिनेशपुर

दिनेशपुर, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दिनेशपुर · और देखें »

दक्षिणेश्वर

दक्षिणेश्वर या दख्खिनेश्वर(দক্ষিণেশ্বর; दॊख्खिनॆश्शॉर), पश्चिम बंगाल के उत्तर २४ परगना जिला में हुगली नदी के किनारे अवस्थित कोलकाता महानगर के उत्तरी भाग में, बैरकपुर पौरसभा के अन्तर्गत एक क्षेत्र है। इसे सबसे विशेष रूपसे दक्षिणेश्वर काली मन्दिर के लिए जाना जाता है, जोकि जानबाजार की नवजागरण काल की ज़मीन्दार, रानी रासमणि द्वारा निर्मित एक आध्यात्मिक व ऐतिहासिक महत्व वाला काली मन्दिर है। यह मन्दिर, दार्शनिक व धर्मगुरु, स्वामी रामकृष्ण परमहंस की कर्मभूमि भी था, जोकि स्वामी विवेकानन्द के आध्यात्मिक गुरु थे। यह क्षेत्र बैरकपुर उपविभाग के बेलघड़िया थाने के अन्तर्गत आता है। दक्षिणेश्वर काली मंदिर के अलावा, अद्यापीठ मन्दिर व मठ भी यहाँ अवस्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दक्षिणेश्वर · और देखें »

दूधी (तहसील), सोनभद्र

यह तहसील सोनभद्र जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 306 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दूधी (तहसील), सोनभद्र · और देखें »

देचू

देचू राजस्थान राज्य के जोधपुर जिले में स्थित रेगिस्तानी क्षेत्र, कस्बा तथा पंचायत समिती है। यह जोधपुर से लगभग 125 किलोमीटर दूर है तथा जोधपूर जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग 125 व मेगा हाईवे पर स्थित है। देचू में काफी बड़े-बड़े रेत के टीले जिन्हें स्थानीय भाषा में 'धोरा' कहा जाता है। गाँव में कई होटल तथा रिसोर्ट भी हैं। देचू में रेलवे लाईन की सुविधा नहीं है। देचू में काफी सारे विदेशी यात्री भी घूमने आते हैं जो चाँदनी रात्री में सांस्कृतिक कार्यक्रम, ऊँट की सवारी तथा मरूधरा की माटी में खेलने का लुत्फ उठाते हैं। गाँव में डाकघर भी है तथा इनका पिन कोड ३४२३१४ है। देचू की जनसंख्या २०११ की जनगणना के अनुसार ६१२१ है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देचू · और देखें »

देबाई (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 163 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देबाई (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

देहमी

देहमी सभी जातियों के लोगों के लिए एक पवित्र गांव है। यहाँ इस गाँव में श्री माता मंसा देवी मंदिर स्थित है यह एक हिन्दू धर्म का मंदिर है जो राष्ट्रीय राजमार्ग-8 (दिल्ली से जयपुर) के पास देहमी गांव में स्थित शक्ति को समर्पित सबसे पवित्र हिंदू मंदिरों में से एक है। मंसा देवी, माता रानी और वैष्णवी के रूप में भी जानी जाती है, मंसा देवी, देवी दुर्गा का एक रूप है। यहाँ नवरात्रि मेले के अवसर पर मंदिर में उत्सव मनाया जाता है। यह मंदिर राजस्थान राज्य के अलवर जिले में बेहरर और बरौदा शहर के पास है। यह उत्तरी भारत में पूजा के सबसे प्रतिष्ठित स्थानों में से एक है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देहमी · और देखें »

देवबंद (तहसील), सहारनपुर

यह तहसील सहारनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 238 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देवबंद (तहसील), सहारनपुर · और देखें »

देवरिया (तहसील), देवरिया

यह तहसील देवरिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 704 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देवरिया (तहसील), देवरिया · और देखें »

देवली, टोंक

देवली, टोंक भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देवली, टोंक · और देखें »

देवघर

देवघर भारत के झारखंड राज्य का एक शहर है। देवघर का मुख्य बाजार सिमरा है।यह शहर हिन्दुओं का प्रसिद्ध तीर्थ-स्थल है। इस शहर को बाबाधाम नाम से भी जाना जाता है क्योंकि शिव पुराण में देवघर को बारह जोतिर्लिंगों में से एक माना गया है। यहाँ भगवान शिव का एक अत्यंत प्राचीन मंदिर स्थित है। हर सावन में यहाँ लाखों शिव भक्तों की भीड़ उमड़ती है जो देश के विभिन्न हिस्सों सहित विदेशों से भी यहाँ आते हैं। इन भक्तों को काँवरिया कहा जाता है। ये शिव भक्त बिहार में सुल्तानगंज से गंगा नदी से गंगाजल लेकर 105 किलोमीटर की दूरी पैदल तय कर देवघर में भगवान शिव को जल अर्पित करते हैं। झारखंड कुछ प्रमुख तीर्थस्थानों का केंद्र है जिनका ऐतिहासिक दृष्टि से बहुत महत्व है। इन्हीं में से एक स्थान है देवघर। यह स्थान संथाल परगना के अंतर्गत आता है। देवघर शांति और भाईचारे का प्रतीक है। यह एक प्रसिद्ध हेल्थ रिजॉर्ट है। लेकिन इसकी पहचान हिंदु तीर्थस्थान के रूप में की जाती है। यहां बाबा बैद्यनाथ का ऐतिहासिक मंदिर है जो भारत के बारह ज्योतिर्लिगों में से एक है। माना जाता है कि भगवान शिव को लंका ले जाने के दौरान उनकी स्थापना यहां हुई थी। प्रतिवर्ष श्रावण मास में श्रद्धालु 100 किलोमीटर लंबी पैदल यात्रा करके सुल्तानगंज से पवित्र जल लाते हैं जिससे बाबा बैद्यनाथ का अभिषेक किया जाता है। देवघर की यह यात्रा बासुकीनाथ के दर्शन के साथ सम्पन्न होती है। बैद्यनाथ धाम के अलावा भी यहां कई मंदिर और पर्वत हैं जहां दर्शन कर अपनी इच्छापूर्ति की कामना की जा सकती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और देवघर · और देखें »

दोमारियागंज (तहसील), सिद्धार्थनगर

यह तहसील सिद्धार्थनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 427 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और दोमारियागंज (तहसील), सिद्धार्थनगर · और देखें »

धनौरा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर)

यह तहसील अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 342 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और धनौरा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) · और देखें »

धामपुर (तहसील), बिजनौर

यह तहसील बिजनौर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 899 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और धामपुर (तहसील), बिजनौर · और देखें »

धारचुला देहात

धारचुला देहात, पिथौरागढ़ जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और धारचुला देहात · और देखें »

धारचूला

धारचूला, पिथौरागढ़ जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और धारचूला · और देखें »

धोराहरा (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 211 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और धोराहरा (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

नसीराबाद, अजमेर

नसीराबाद भारतीय राज्य राजस्थान के अजमेर जिले का एक छावनी कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नसीराबाद, अजमेर · और देखें »

नानपारा, (तहसील), बहराइच

यह तहसील बहराइच जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 427 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नानपारा, (तहसील), बहराइच · और देखें »

नायगांव

नायगांव, महाराष्ट्र के वसई-विरार शहर का उपनगर है। यह मुंबई मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र का हिस्सा है। पहले यह ठाणे जिले का हिस्सा था, पर अब यह पालघर जिले की सीमा के अंतर्गत आता है। यह मुंबई शहर की सीमा यानी दहिसर चेकनाका (काशीमिरा) से 19 किमी दूर है। यह वसई-विरार नगर निगम (वीवीएमसी) द्वारा प्रशासित है। नायगांव मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से लगभग 39 किमी दूर है। नायगांव मुंबई उपनगरीय रेलवे की पश्चिमी लाइन पर एक रेलवे स्टेशन का भी नाम है। यह भायंदर और नायगांव के बीच प्रमुख क्रीक के बाद स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नायगांव · और देखें »

नारलाई

नारलाई भारतीय राज्य राजस्थान के पाली ज़िले की देसुरी तहसील का एक गाँव है। यह रणकपपुर से ३६ किमी दूरी पर स्थित है। यहाँ पर विभिन्न हिन्दू और जैन मन्दिर हैं। यहाँ के आदिनाथ (जैन) और भगवान शिव के मन्दिर महत्वपूर्ण रूप से प्रसिद्ध मन्दिर हैं। इन मंदिरों की छत को भित्ति चित्रों के साथ सजाया गया है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नारलाई · और देखें »

नारायणा

नारायणा पश्चिम-दक्षिण दिल्ली का इलाका है (Coordinates: 28°38'27"N 77°8'38"E)। यहां औद्योगिक, आवासीय व ग्रामीण; तीनों ही क्षेत्र हैं। यहां एशिया की सबसे बङी लौह /इस्पातमण्डी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नारायणा · और देखें »

नारैनी (तहसील), बांदा

यह तहसील बांदा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 188 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नारैनी (तहसील), बांदा · और देखें »

नारोमुरार

नारोमुरार वारिसलीगंज प्रखण्ड के प्रशाशानिक क्षेत्र के अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 31 से 10 KM और बिहार राजमार्ग 59 से 8 KM दूर बसा एकमात्र गाँव है जो बिहार के नवादा और नालंदा दोनों जिलों से सुगमता से अभिगम्य है। वस्तुतः नार का शाब्दिक अर्थ पानी और मुरार का शाब्दिक अर्थ कृष्ण, जिनका जन्म गरुड़ पुराण के अनुसार विष्णु के 8वें अवतार के रूप में द्वापर युग में हुआ, अर्थात नारोमुरार का शाब्दिक अर्थ विष्णुगृह - क्षीरसागर है। प्रकृति की गोद में बसा नारोमुरार गाँव, अपने अंदर असीम संस्कृति और परंपरा को समेटे हुए है। यह भारत के उन प्राचीनतम गांवो में से एक है जहाँ 400 वर्ष पूर्व निर्मित मर्यादा पुरुषोत्तम राम व् परमेश्वर शिव को समर्पित एक ठाकुर वाड़ी के साथ 1920 इसवी, भारत की स्वतंत्रता से 27 वर्ष पूर्व निर्मित राजकीयकृत मध्य विद्यालय और सन 1956 में निर्मित एक जनता पुस्तकालय भी है। पुस्तकालय का उद्घाटन श्रीकृष्ण सिंह के समय बिहार के शिक्षा मंत्री द्वारा की गयी थी। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नारोमुरार · और देखें »

नाहरगढ़ दुर्ग

नाहरगढ़ का किला जयपुर को घेरे हुए अरावली पर्वतमाला के ऊपर बना हुआ है। आरावली की पर्वत श्रृंखला के छोर पर आमेर की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस किले को सवाई राजा जयसिंह द्वितीय ने सन १७३४ में बनवाया था। यहाँ एक किंवदंती है कि कोई एक नाहर सिंह नामके राजपूत की प्रेतात्मा वहां भटका करती थी। किले के निर्माण में व्यावधान भी उपस्थित किया करती थी। अतः तांत्रिकों से सलाह ली गयी और उस किले को उस प्रेतात्मा के नाम पर नाहरगढ़ रखने से प्रेतबाधा दूर हो गयी थी। १९ वीं शताब्दी में सवाई राम सिंह और सवाई माधो सिंह के द्वारा भी किले के अन्दर भवनों का निर्माण कराया गया था जिनकी हालत ठीक ठाक है जब कि पुराने निर्माण जीर्ण शीर्ण हो चले हैं। यहाँ के राजा सवाई राम सिंह के नौ रानियों के लिए अलग अलग आवास खंड बनवाए गए हैं जो सबसे सुन्दर भी हैं। इनमे शौच आदि के लिए आधुनिक सुविधाओं की व्यवस्था की गयी थी। किले के पश्चिम भाग में “पड़ाव” नामका एक रेस्तरां भी है जहाँ खान पान की पूरी व्यवस्र्था है। यहाँ से सूर्यास्त बहुत ही सुन्दर दिखता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नाहरगढ़ दुर्ग · और देखें »

नाग्ला

नाग्ला, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नाग्ला · और देखें »

नाकोड़ा

नाकोड़ा (अंग्रेजी:Nakoda) भारत के राजस्थान राज्य के बाड़मेर ज़िले का एक प्रसिद्ध गांव है। सरकारी दस्तावेजों के अनुसार गांव का नाम मेवनगर है। गांव नगारा के नाम से भी जाना जाता है इनके अलावा इतिहास में यह विभिन्न नामों से जैसे विरमपुरा,मेहवा के नाम से भी जाना जाता था। नाकोड़ा में एक प्रसिद्ध पार्श्व जैन मन्दिर भी है। जो कि जैन धर्म का एक तीर्थ स्थल कहलाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नाकोड़ा · और देखें »

निचलौल (तहसील), महाराजगंज

यह तहसील महाराजगंज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 316 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और निचलौल (तहसील), महाराजगंज · और देखें »

निवाई, टोंक

निवाई भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। इसके उत्तर में जयपुर, पूर्व में सवाई माधोपुर, दक्षिण में बूंदी और भीलवाड़ा जिले तथा पश्चिम में अजमेर जिले हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और निवाई, टोंक · और देखें »

निगासन (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 120 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और निगासन (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

नजीबाबाद (तहसील), बिजनौर

यह तहसील बिजनौर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 526 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नजीबाबाद (तहसील), बिजनौर · और देखें »

नवाबगंज (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 397 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नवाबगंज (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

नगोद

नगोद या नौगढ़ भारत के मध्य प्रदेश राज्य में सतना जिला का एक शहर है। यहाम पूर्व में प्रतिहार राजपूतों का शासन हुआ करता था। यह सतना शाहर से की दूरी पर स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नगोद · और देखें »

नगीना (तहसील), बिजनौर

यह तहसील बिजनौर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 539 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नगीना (तहसील), बिजनौर · और देखें »

नकुर (तहसील), सहारनपुर

यह तहसील सहारनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 406 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नकुर (तहसील), सहारनपुर · और देखें »

नौटनवा (तहसील), महाराजगंज

यह तहसील महाराजगंज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 268 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नौटनवा (तहसील), महाराजगंज · और देखें »

नौगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर

यह तहसील सिद्धार्थनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 481 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नौगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर · और देखें »

नैनवा

नैनवा भारतीय राज्य राजस्थान के बूँदी जिले की एक नगरपालिका है। यह बूंदी जिले की सबसे बड़ी तहसिल है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नैनवा · और देखें »

नैनवाल

नैनवाल, भारत के हरियाणा राज्य के गुरुग्राम जिले के मानेसर तहसील का एक गांव है। इस गांव में यादव समुदाय के लोगों का बाहुल्य है। इसका पिनकोड 122051 है। यह मानेसर तहसील मुख्यालय से 2 KM दूर और गुरुग्राम जिला मुख्यालय से 19 KM दूर स्थित है। नैनवाल गांव का कुल भौगोलिक क्षेत्र 410 हेक्टेयर है। इसकी जनसंख्या लगभग 987 और घरों की संख्या लगभग 179 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नैनवाल · और देखें »

नैनीताल छावनी

नैनीताल छावनी, नैनीताल जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नैनीताल छावनी · और देखें »

नेमावर

नेमावर देवास जिला, मध्य प्रदेश, भारत में स्थित एक नगर है। मंदिर निर्माण- मंदिर निर्माण की कथा महाभारत कालीन है बताया जाता हे की कौरवो एवम् पांडवो के बिच एक रात में मंदिर निर्माण की शर्त्त लगी थी कौरव की संख्या अधिक होने से उन्होंने एक ही रात में तत्कालीन सिद्धनाथ मंदिर जा निर्माण कर दिया जबकि पांडवों की संख्या कम थी अत उनका मंदिर अधूरा ही बन पाया जो आज भी मुख्य मंदिर से पास ही मणिगिरी पर्वत पर वेसी ही अवस्था में स्थित है कौरवो ने मंदिर निर्माण कर पांडवो को अभिमान वश होकर ताने मारेे अतः भीम ने कोधित होकर मंदिर को घुमा कर मंदिर का मुख द्वार पूर्व से पश्चिम दिशा में कर दिया जो आज भी है कई विद्वानों की माने तो मन्दिर पर बनाई गई मुर्तिया विश्व में एक अद्भुत कलाकृति है नेमावर का महत्व- नेमावर नर्मदा नदी के उत्तर तट पर सहित है यहाँ माँ नर्मदा का नाभि स्थान है यानि यह नर्मदा जी जा मध्य भाग है नेमावर में प्रकति का सुन्दर नमूना है यहाँ कई साधू संत व महायोगी की नगरी रही है आज भी यहाँ चिन्मय धाम आश्रम स्थित है जो विश्वनाथ प्रकाश जी महाराज द्वारा स्थापित है जिन्हें ब्रह्मचारी बाबा कहा जाता था आप महायोगी थे आश्रम पर वासुदेवानंद सरस्वती (टेम्बे स्वामी) जी की पादुका भी स्थापित है श्रेणी:मध्य प्रदेश के नगर अधिक जानकारी के लिए आप www.hindukushjankari.ml पर संपर्क कर सकते है.

नई!!: डाक सूचक संख्या और नेमावर · और देखें »

नेवी नगर

नेवी नगर दक्षिण मुम्बई का एक क्षेत्र है। जिसकी स्थापना १९७६ में हुई। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नेवी नगर · और देखें »

नीमकाथाना

नीमकाथाना भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की एक नगरपालिका क्षेत्र है। यह सीकर की आठ तहसिलों में से एक है। 4 अक्टूबर 1995 को नीमकाथाना में पूर्ण सूर्य ग्रहण दिखाई दिया। इसके अध्ययन हेतु विश्व के वैज्ञानिको द्वारा यहाँ शोध केंद्र बनाया गया। नगर के नजदीक ही गणेश्वर सभ्यता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और नीमकाथाना · और देखें »

पटियाली (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर)

यह तहसील कासगंज (कांशीराम नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 296 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पटियाली (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर) · और देखें »

पटौदी

पटौदी, भारत के राज्य हरियाणा के गुड़गांव जिले का एक कस्बा और तहसील है। यह गुड़गांव से की दूरी पर अरावली पर्वतमाला की तलहटी में स्थित है। गुड़गांव में गुड़गांव को पटौदी से जोडने वाली सडक को नये विकास गलियारे के रूप में शामिल किया गया है। भारत की स्वतंत्रता से पूर्व पटौदी, पटौदी रियासत का मुख्यालय था जिस पर पटौदी के नवाब का शासन था। पटौदी के 8 वें नवाब, इफ्तिखार अली खान पटौदी ने इंग्लैंड और भारत दोनों के लिए क्रिकेट खेला था तथा भारत की टीम की तो कप्तानी भी कीथी। उनके पुत्र और पटौदी के नवें और अंतिम नवाब मंसूर अली ख़ान पटौदी ने भी भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी की थी। फ़िल्म कलाकार सैफ़ अली ख़ान भी पटौदी से आते हैं और मंसूर अली ख़ान पटौदी के पुत्र है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पटौदी · और देखें »

पत्रादेवी

पत्रादेवी (कोंकणी: पोत्रादेओ) भारतीय राज्यों गोवा और महाराष्ट्र की सीमा पर गोवा राज्य के पेर्नम तालुक में स्थित एक कस्बा है। पत्रादेवी चॅकपोस्ट इस कस्बे में स्थित है। यहा से नेत्रादे तक बस सेवाएँ उपलब्ध हैं। श्रेणी:गोवा के नगर, कस्बे, और ग्राम.

नई!!: डाक सूचक संख्या और पत्रादेवी · और देखें »

पदरौना (तहसील), कुशीनगर

यह तहसील कुशीनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 560 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पदरौना (तहसील), कुशीनगर · और देखें »

पलिया (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 156 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पलिया (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

पहलगाम

पहलगाम भारत के जम्मू और कश्मीर प्रान्त में अनंतनाग जिले का एक छोटा सा कस्बा है। यह एव विख्यात पर्यटक स्थान है साथ ही अमरनाथ यात्रा का एक महत्वपूर्ण पड़ाव भी है। यह लिद्दर नदी के किनारे समुद्र से ७,२०० फ़ीट की ऊँचाई पर बसा हुआ है। श्रेणी:जम्मू कश्मीर के शहर श्रेणी:कॉमन्स पर निर्वाचित चित्र युक्त लेख.

नई!!: डाक सूचक संख्या और पहलगाम · और देखें »

पार्सेम

पार्सेम भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पार्सेम · और देखें »

पाले, गोवा

पाले भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पाले, गोवा · और देखें »

पाली, हरियाणा

पाली भारत के हरियाणा राज्य के रिवाड़ी जिले का सबसे बड़ा ग्राम है। यह रेवाड़ी-नारनौल राजमार्ग पर रिवाड़ी से १७ किमी पर स्थित है। यह स्थान यहाँ स्थित बाबा निमाड़ी वाले हनुमानजी मंदिर के लिये प्रसिद्ध रहा है। इस मन्दिर को तीर्थ की तरह माना जाता है एवं स्थानीय लोगों के मन में यहां के लिये अपार श्रद्धा है। यह मन्दिर भूमि से ६०० फ़ीट की ऊंचाई पर पाली ग्राम से १.५ कि.मी दूर स्थित है। यह जिले का सबसे बड़ा ग्राम है एवं इसकी जनसंख्या लगभग ५,००० है। इनमें यदुवंशी अहीरों के कई गोत्र के लोग निवास करते हैं, किन्तु इनमें कलालिया प्रमुख हैं। इनके अलाआ यहां हरिजन, ब्राह्मण, नाईं एवं वालमीकि समुदाय के लोग भी रहते हैं। पाली की सीमाएं १३ ग्रामों से लगती हैं जिनमें नांगली, बालाहीर, माजरा बवाना, कुण्डाल, गोथरा, सातु एवं ममरिया कुछ हैं। यहां वर्ष २००९ में स्थानीय पंचायत के भ्रष्टाचार के विरोध में एक 'युवा विकास समिति' गठित हुई थी जिसने सफ़लतापूर्वक ध्येय प्राप्त किया एवं प्रसिद्धि भी पाई। यहां के अहीरवाल ग्राम के प्रत्येक परिवार से कम से कम एक युवा के भारतीय सशस्त्र सेनाओं में सदस्य भर्ती होने का गर्व महसूस करते हैं। सरकार इस ग्राम में शीघ्र ही एक सैनिक स्कूल की स्थापना करने वाली है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हुडा) यहां जोहाड के निकट आवासीय परिसर का विकास कर रहा है। पाली रेलवे स्टेशन के निकट एक ऐतिहासिक स्मारक भी बना है जिसे ननद-भावज की छतरी कहा जाता है। यह ५०० वर्ष से अधिक प्राचीन है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पाली, हरियाणा · और देखें »

पिलखुवा

पिलखुवा हापुड़ का एक कस्बा है। पिलखुवा क़स्बा पहले गाज़ियाबाद जिले का भाग था मगर सन २०११ में तत्कालीन बसपा सरकार के कार्यकाल में इसे हापुड़ जिले में शामिल कर दिया गया। पिलखुवा G.T. रोड पर दिल्ली से ४५ किलोमीटर पूर्व में स्थित है यहाँ की आबादी एक लाख से अधिक है इसके पूर्व में हापुड़, पश्चिम में ग़ाज़ियाबाद, उत्तर में मोदीनगर व् दक्छिन में बुलंदशहर स्थित है। यह नगर दिल्ली-मुरादाबाद रेलवे लाइन पर स्थित है व् जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर की दूरी पर है वर्तमान में पिलखुवा धौलाना विधान सभा व् ग़ाज़ियाबाद लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है इतिहास -- पिलखुवा क़स्बा सन १७०० ईसवी में यहाँ रहने वाली मुस्लिम छीपी बिरादरी के पूर्वजों द्वारा बसाया गया, सन १७०० ईसवी में कलानौर से आकर बसे नत्थू सिंह राणा के दो पुत्र कल्याण सिंह व निहाल सिंह पिलखुवा में कन्खली झील के किनारे आबाद हुए, इन दो भाइयों की संताने छपाई का काम करने की वजह से छीपी कहलाती है। कुछ समय के बाद लाला गंगा सहाय नाम के एक व्यक्ति यहाँ आकर बस गए और इनकी संतान भी यहाँ बड़ी तादाद में रहती है, फिर आहिस्ता- आहिस्ता अन्य लोग भी आते गए और कारवां बनता गया। पहले यहाँ की आबादी कन्खली झील के आस पास ही हुआ करती थी और मोहल्ला गढ़ी एक अलग बस्ती थी मगर बढ़ते बढ़ते दो-तीन गाँव रमपुरा, पबला, जठ्पुरा और मोहल्ला गढ़ी भी पिलखुवा में ही समां गए ! आज के समय में पिलखुवा की आबादी N.H.-24 के दोनों तरफ बढती जा रही है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पिलखुवा · और देखें »

पिलीभीत (तहसील), पीलीभीत

यह तहसील पीलीभीत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 475 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पिलीभीत (तहसील), पीलीभीत · और देखें »

पिंडरा (तहसील), वाराणसी

यह तहसील वाराणसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 432 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पिंडरा (तहसील), वाराणसी · और देखें »

पंचमहाल जिला

पंचमहाल जिला, पूर्वी गुजरात का एक जिला है। पंचमहाल नाम पंच यानि कि पाँच और महल से पडा है। ग्वालियर के सिंधिया घराने ने इन जिलों को ब्रिटिश हुकूमत के हवाले किया था। 2001 में इस जिले की जनसंख्या 20,25,277 थी। जिले का मुख्यालय है। क्षेत्रफल - वर्ग कि॰मी॰ जनसंख्या - (2001 जनगणना) साक्षरता - एस॰टी॰डी॰ कोड - जिलाधिकारी - (सितम्बर 2006 में) समुद्र तल से उचाई - अक्षांश - उत्तर देशांतर - पूर्व औसत वर्षा - मि॰मी॰ इस जिले में अमेरिकी ऑटोमोबाइल कम्पनी जेनरल मोटर्स (जीएम) का कारखाना भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पंचमहाल जिला · और देखें »

पुणे

पुणे भारत के महाराष्ट्र राज्य का एक महत्त्वपूर्ण शहर है। यह शहर महाराष्ट्र के पश्चिम भाग, मुला व मूठा इन दो नदियों के किनारे बसा है और पुणे जिला का प्रशासकीय मुख्यालय है। पुणे भारत का छठवां सबसे बड़ा शहर व महाराष्ट्र का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। सार्वजनिक सुखसुविधा व विकास के हिसाब से पुणे महाराष्ट्र मे मुंबई के बाद अग्रसर है। अनेक नामांकित शिक्षणसंस्थायें होने के कारण इस शहर को 'पूरब का ऑक्सफोर्ड' भी कहा जाता है। पुणे में अनेक प्रौद्योगिकी और ऑटोमोबाईल उपक्रम हैं, इसलिए पुणे भारत का ”डेट्राइट” जैसा लगता है। काफी प्राचीन ज्ञात इतिहास से पुणे शहर महाराष्ट्र की 'सांस्कृतिक राजधानी' माना जाता है। मराठी भाषा इस शहर की मुख्य भाषा है। पुणे शहर मे लगभग सभी विषयों के उच्च शिक्षण की सुविधा उपलब्ध है। पुणे विद्यापीठ, राष्ट्रीय रासायनिक प्रयोगशाला, आयुका, आगरकर संशोधन संस्था, सी-डैक जैसी आंतरराष्ट्रीय स्तर के शिक्षण संस्थान यहाँ है। पुणे फिल्म इन्स्टिट्युट भी काफी प्रसिद्ध है। पुणे महाराष्ट्र व भारत का एक महत्त्वपूर्ण औद्योगिक केंद्र है। टाटा मोटर्स, बजाज ऑटो, भारत फोर्ज जैसे उत्पादनक्षेत्र के अनेक बड़े उद्योग यहाँ है। 1990 के दशक मे इन्फोसिस, टाटा कंसल्टंसी सर्विसे, विप्रो, सिमैंटेक, आइ.बी.एम जैसे प्रसिद्ध सॉफ्टवेअर कंपनियों ने पुणे मे अपने केंन्द्र खोले और यह शहर भारत का एक प्रमुख सूचना प्रौद्योगिकी उद्योगकेंद्र के रूप मे विकसित हुआ। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पुणे · और देखें »

पुरनपुर (तहसील), पीलीभीत

यह तहसील पीलीभीत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 500 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पुरनपुर (तहसील), पीलीभीत · और देखें »

पुलगांव

पुलगाँव भारत के महाराष्ट्र में वर्धा जिले में स्थित एक शहर व नगरपालिका परिषद् है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पुलगांव · और देखें »

पुंछ जिला

पुंछ जिला (ضلع پونچ) भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर का एक जिला है। यह जिला नियंत्रण रेखा से सटा हुआ है। जिले का मुख्यालय पुंछ है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पुंछ जिला · और देखें »

पूर्वा (तहसील), उन्नाव

यह तहसील उन्नाव जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 272 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पूर्वा (तहसील), उन्नाव · और देखें »

पोरवोरिम

पोरवोरिम (कोंकणी: पर्वरी) भारत के गोवा राज्य की वैधानिक राजधानी है। यह माण्डवी नदी के उत्तरी तट पर स्थित है। राज्य की प्रशासनिक राजधानी पणजी नदी के दूसरे तट पर स्थित है। पोरवोरिम को पणजी का उपनगर माना जाता है, और यह मुम्बई-गोआ महामार्ग ऍन०ऍच-17 पर स्थित होने के कारण एक सम्भ्रन्त-वर्गीय आवासीय केन्द्र माना जाता है। पोरवोरिम, गोवा की राजधानी पणजी से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आधिकारिक रूप से यह एक गाँव है, लेकिन जिस प्रकार की सुविधाएँ यहाँ उपलब्ध हैं वह किसी कस्बे या छोटे नगर से कम नहीं हैं। पोरवोरिम में बहुत से आवासीय परिसर स्थित हैं जैसे.

नई!!: डाक सूचक संख्या और पोरवोरिम · और देखें »

पोवायन (तहसील), शाहजहांपुर

यह तहसील शाहजहांपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 717 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और पोवायन (तहसील), शाहजहांपुर · और देखें »

फतहपुर (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 402 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फतहपुर (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

फतेहपुर (तहसील), फतेहपुर

यह तहसील फतेहपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 530 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फतेहपुर (तहसील), फतेहपुर · और देखें »

फर्रुख़ाबाद (तहसील), फर्रुख़ाबाद

यह तहसील फर्रुख़ाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 398 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फर्रुख़ाबाद (तहसील), फर्रुख़ाबाद · और देखें »

फरेंडा (तहसील), महाराजगंज

यह तहसील महाराजगंज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 234 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फरेंडा (तहसील), महाराजगंज · और देखें »

फरीदपुर (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 384 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फरीदपुर (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

फ़ार्मागुड़ी

फ़ार्मागुड़ी भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक कस्बा है। यह पौण्डा तालुक में स्थित है। यह पणजी की ओर जाने वाले मार्ग मुख्य पौण्डा नगर से 3 किमी दूर एक पठार पर स्थित है। यहाँ के कुछ प्रमुख शिक्षण संस्थान हैं (जीवीऍम का) उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, जीवीऍम का वाणिज्य व अर्थशास्त्र महाविद्यालय, पौण्डा शिक्षा संघ का उच्चतर माध्यमिक विद्यालय और गोवा अभियान्त्रिकी महाविद्यालय। प्रसिद्ध गोपाल गणपती मन्दिर और शिवाजी का किला भी पणजी जाने वाले मार्ग पर स्थित हैं। श्रेणी:गोवा के नगर, कस्बे, और ग्राम.

नई!!: डाक सूचक संख्या और फ़ार्मागुड़ी · और देखें »

फिरोजाबाद (तहसील), फिरोजाबाद

यह तहसील फिरोजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 152 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फिरोजाबाद (तहसील), फिरोजाबाद · और देखें »

फैजाबाद (तहसील), फैजाबाद

यह तहसील फैजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 250 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फैजाबाद (तहसील), फैजाबाद · और देखें »

फूलपुर (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 565 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और फूलपुर (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

बड़नगर

बड़नगर मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में स्थित एक नगर एवं नगरपालिका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बड़नगर · और देखें »

बडौत (तहसील), बागपत

यह तहसील बागपत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 154 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बडौत (तहसील), बागपत · और देखें »

बदलापुर (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 407 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बदलापुर (तहसील), जौनपुर · और देखें »

बदायूं (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 409 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बदायूं (तहसील), बदायूं · और देखें »

बनबसा

बनबसा उत्तराखण्ड राज्य के चम्पावत जिले की श्री पूर्णागिरी तहसील में नेपाल सीमा पर स्थित एक जनगणना नगर है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। उत्तराखण्ड के जिले .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बनबसा · और देखें »

बबेरु (तहसील), बांदा

यह तहसील बांदा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 189 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बबेरु (तहसील), बांदा · और देखें »

बम्बोलिम

बम्बोलिम भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के तिसवाडी तालुक में स्थित एक जनगणना कस्बा है। गोवा मैडिकल कॉलॅज जो गोवा में एकमात्र ऐलोपैथिक चिकित्सा कालेज है, इसी कस्बे में स्थित है। राज्य की राजधानी पणजी से बम्बोलिन की दूरी लगभग 7 किमी है। बम्बोलिम अपने निर्जन समुद्र-तट के लिए उत्तर गोवा में प्रसिद्ध है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बम्बोलिम · और देखें »

बम्हनी बंजर

बम्हनी बंजर भारतीय राज्य मध्यप्रदेश के मंडला जिले में मण्डला-सिवनी मार्ग पर स्थित एक नगर है। यह जिला मुख्यालय से लगभग 20 किमी की दूरी पर है। साल 2001 के जनगणना आँकड़ों के अनुसार यहाँ की कुल जनसंख्या 19,619 थी। इसे आस पास के गाँव के साथ सम्मिलित रूप से हवेली क्षेत्र के नाम से जाना जाता है। वर्तमान में इसे उप-तहसील का दर्जा प्राप्त है। ‘हवेली’ क्षेत्र के 45-50 गाँवों के केन्द्र बम्हनी बंजर में, जिसे ब्राह्मणी बंजर भी माना जाता है। यहाँ रेलवे स्टेशन भी है जो ब्रॉड गेज परिवर्तन के कारण बंद हो चुका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बम्हनी बंजर · और देखें »

बरहज (तहसील), देवरिया

यह तहसील देवरिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 294 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बरहज (तहसील), देवरिया · और देखें »

बरेली (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 353 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बरेली (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

बलरामपुर (तहसील), बलरामपुर

यह तहसील बलरामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 271 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बलरामपुर (तहसील), बलरामपुर · और देखें »

बलिया (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 789 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बलिया (तहसील), बलिया · और देखें »

बस्ती (तहसील), बस्ती

यह तहसील बस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 1103 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बस्ती (तहसील), बस्ती · और देखें »

बहराइच, (तहसील), बहराइच

यह तहसील बहराइच जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 295 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बहराइच, (तहसील), बहराइच · और देखें »

बहेरी (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 399 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बहेरी (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

बाणावली

बाणावली या बेनोलिम भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। यह एक समुद्र-तटीय कस्बा है जो मारगाँव के दक्षिण में है। एक दन्तकथा के अनुसार भगवान परशुराम (भगवान विष्णु के एक अवतार) ने समीप के कोकंण में स्थित सह्याद्री पर्वतों पर से एक तीर (बाण) चलाया जो इस स्थान पर आकर गिरा जिससे इसका नाम बाणावली पड़ा। पुर्तगालियों के आने से पूर्व इसे बाणाहल्ली या बाणावल्ली के नाम से जाना जाता था। पुराने बाणावली में भगवान शिव और पार्वती को समर्पित एक मन्दिर था जिसके खण्डहरनुमा अवशेष अभी भी इस कस्बे में देखा जा सकता है। सोलहवीं सदी में इस मन्दिर के देवों को उत्तर कनारा (वर्तमान उत्तर कन्न्ड़) में स्थित आवेसरा में स्थापित कर दिया गया था। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बाणावली · और देखें »

बान्दिया

बान्दिया, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बान्दिया · और देखें »

बारा (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 326 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बारा (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

बारामती

बारामती महाराष्ट्र प्रान्त का एक शहर है। बारामती पुणे जिले में स्थित एक तहसील है। यह शहर करहा नदी के तट पर स्थित है। श्रेणी:महाराष्ट्र श्रेणी:महाराष्ट्र के शहर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और बारामती · और देखें »

बाली, हावड़ा

बाली, उत्तर हावड़ा का एक क्षेत्र है। यह कोलकाता महानगर विकास प्राधिकरण के अधीन आता है।बाली नगर पूर्व बाली नगर पालिका का मुख्यालय भी था। यह ऐतिहासिक महत्व के एक शहर है।यह नगर हुगली के तट पर, हावड़ा जिले के उत्तर-पूर्वी छोर पर स्थित है। यह दक्षिणेश्वर काली मंदिर से नदी के दूसरे छोर पर विष्वप्रसिद्ध बेलूर मठ के निकट स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बाली, हावड़ा · और देखें »

बाजपुर

बाजपुर, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बाजपुर · और देखें »

बागपत (तहसील), बागपत

यह तहसील बागपत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 116 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बागपत (तहसील), बागपत · और देखें »

बागा, गोवा

बागा, भारत के गोवा राज्य के बार्देज़ में स्थित समुद्र-तटीय कस्बा है। यह कस्बा कालनगूट के न्यायक्षेत्र में है जो दो किलोमीटर दक्षिण में है। बागा अपने समुद्रतट और बागा नदिका के लिए लोकप्रिय है और यहाँ प्रति वर्ष हज़ारों पर्यटक आते हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बागा, गोवा · और देखें »

बांदा (तहसील), बांदा

यह तहसील बांदा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 215 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बांदा (तहसील), बांदा · और देखें »

बांदीकुई

बाँदीकुई भारत के राजस्थान राज्य के दौसा जिले में एक ग्राम पंचायत और प्रसिद्ध नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बांदीकुई · और देखें »

बांसगांव (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 549 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बांसगांव (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

बिड़ोदी बड़ी

बिड़ोदी बड़ी भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। यह लक्ष्मणगढ़ से पूर्व में तथा नवलगढ़ से पश्चिम में स्थित है। इसके सीमाएं खींवासर, बीदासर, बीदसर, बिड़ोदी छोटी, झाड़ेवा और रामसिंह पुरा (ब्राह्मणों की ढाणी) गाँवों से लगती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिड़ोदी बड़ी · और देखें »

बिड़ोदी छोटी

बिड़ोदी छोटी या बिड़ोदी छोट्टी, भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। जिसे स्वामी की बिड़ोदी के नाम से जाना जाता है, गाँव २५० वर्ष पुराना है और लक्ष्मणगढ़ से १८ किलोमीटर (११ मील) पूर्व में और नवलगढ से ३ किलोमीटर (१.९ मील) पश्चिम में स्थित है। बिड़ोदी छोटी की सीमाओं से कोलिडा, खींवासर, बीदासर, बीदसर, बिड़ोदी बड़ी, झाड़ेवा, जोगिया का बास और ब्राह्मणों की ढाणी (रामसिंह पुरा) और मालियों की ढाणी (भूधा का बास) गाँव लगते हैं। 500 एकड़ (२.० वर्ग किमी) भूमी वाले इस गाँव की कुल आबादी लगभग १४३० में जाट जाति का बाहुल्य है जबकि गाँव की प्रमुख गोत्र भास्कर (भाखर) है। अन्य जतियों में खाती, ब्राह्मण और हरिजन हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिड़ोदी छोटी · और देखें »

बिडोली सीकर

सीकर मुख्यालय से दक्षिण की ओर 21 किलोमीटर दूर स्थित हैं। बिडोली के पूर्व में 4 किलोमीटर जीनमाता जी का भव्य मंदिर स्थित हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिडोली सीकर · और देखें »

बिधुना (तहसील), औरैया

यह तहसील औरैया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 432 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिधुना (तहसील), औरैया · और देखें »

बिन्दकी

बिन्दकी नगर मुगल मार्ग में फतेहपुर जिला मुख्यालय से २६ किमी॰ दूर स्थित है एवं तहसील मुख्यालय है। यह एक नगरपालिका स्तर का नगर है। बिन्दकी की जनसँख्या लगभग ३०,००० है। बिन्दकी प्रमुख तौर पर पीतल के बर्तनोँ तथा खेती की मशीनरी के निर्माण के लिये प्रसिद्ध है। यहीं पर राष्ट्र कवि पंडित सोहन लाल दवेदी जी का जन्म हुआ था। इसी तहसील के अंतर्गत ग्राम पंचायत डीघ आती है यहीं पर वीर रस के कवि डुलारे सिंह’वीर’ जी का जन्म स्थल है।आप पेशे से अध्यापक थे, आपके पढ़ाए हुवे अनेकों शिष्यों ने देश में ऊँचे ओहदो पर अपनी सेवायें प्रदान कर चुके हैं। आप के ही शिष्य थे श्री आर डी सोनकर जी जिन्होंने आप के समाधि स्थल में आकर गुरु और शिष्य के महात्म्य को क्षेत्र वासियों को समझाया था। इसी ग्राम सभा का मजरा है ईशापुर यहीं पर प्रख्यात कवि, लेखक, पत्रकार श्री सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’जी का जन्म(३०-०४-१९७८) को एक सम्पन्न पटेल परिवार में हुआ। आपके पिता स्मृति शेष डॉक्टर सत्यप्रकाश सिंह जी व स्मृति शेष माता जी श्रीमती बृजरानी पटेल जी प्रख्यात समाज सेवी थे। जिनका प्रयास सदैव राष्ट्र व समाज के उत्थान को था। इस पिछड़े क्षेत्र में आपने एक उत्कृष्ट विद्यालय (बृजरानी पटेल विद्यापीठ)की नींव रखी जो समरसता मय जीवन बिताने व राष्ट्र को सशक्त बनाने का निरंतर संदेश देते हुए छात्रों के चहमुखी विकास को कर पाने की राह में निरंतर अग्रसर है। यहाँ पहुँचने के कई मार्ग हैं किंतु ललौली मार्ग बाँदा रोड में भवानीपुर के पास से डीघ सम्पर्क मार्ग से गुलाबपुर, घेरवा, डीघ होते हुए आसानी से पहुँचा जा सकता है। यहाँ का प्राकृतिक सौंदर्य व पशु- पक्षी शांति व आनंद प्रदान कर पाने में सक्षम है। श्रेणी:उत्तर प्रदेश के नगर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिन्दकी · और देखें »

बिन्दकी (तहसील), फतेहपुर

यह तहसील फतेहपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 426 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिन्दकी (तहसील), फतेहपुर · और देखें »

बिलारी

बिलारी, उत्तर प्रदेश राज्य के मुरादाबाद जिले में स्थित एक नगर पालिका परिषद है। बिलारी शहर 25 वार्डों में बांटा गया है जिनमें हर 5 साल में चुनाव आयोजित किये जाते हैं। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 342 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिलारी · और देखें »

बिलासपुर (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 215 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिलासपुर (तहसील), रामपुर · और देखें »

बिलग्राम

बिलग्राम उत्तर प्रदेश, भारत के हरदोई जिले का एक नगर और नगरपालिका क्षेत्र है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिलग्राम · और देखें »

बिलग्राम (तहसील), हरदोई

यह तहसील हरदोई जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 361 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिलग्राम (तहसील), हरदोई · और देखें »

बिल्सी (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 207 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिल्सी (तहसील), बदायूं · और देखें »

बिसलपुर (तहसील), पीलीभीत

यह तहसील पीलीभीत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 471 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिसलपुर (तहसील), पीलीभीत · और देखें »

बिस्वान (तहसील), सीतापुर

यह तहसील सीतापुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 348 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिस्वान (तहसील), सीतापुर · और देखें »

बिसौरी

बिसौरी उत्तरी भारत में जौनपुर जिला का एक गांव है जिसकी आबादी लगभग 1000 है। बिसौरी वाराणसी डिवीजन और जौनपुर जिला प्रशासन के अंतर्गत आता है। यह जौनपुर शहर से 49 किमी पूर्व, और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 306 किमी की दूर पर स्थित है। बिसौरी का पोस्टल इंडेक्स नंबर है और पोस्ट ऑफिस पतरहीं है और प्रधान डाक कार्यालय शहर में स्थित है। बिसौरी एक ग्राम पंचायत है, इस पंचायत में दो गांव हैं जिसमे पहला गांव बिसौरी तथा दूसरा गांव तिवारीपुर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिसौरी · और देखें »

बिसौली (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 310 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिसौली (तहसील), बदायूं · और देखें »

बिजनौर (तहसील), बिजनौर

यह तहसील बिजनौर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 557 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिजनौर (तहसील), बिजनौर · और देखें »

बिकापुर (तहसील), फैजाबाद

यह तहसील फैजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 341 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बिकापुर (तहसील), फैजाबाद · और देखें »

बंसडीह (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 490 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बंसडीह (तहसील), बलिया · और देखें »

बंसी (तहसील), सिद्धार्थनगर

यह तहसील सिद्धार्थनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 777 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बंसी (तहसील), सिद्धार्थनगर · और देखें »

बक्शी का तालाब (तहसील), लखनऊ

यह तहसील लखनऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 189 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बक्शी का तालाब (तहसील), लखनऊ · और देखें »

बुचे नंगल

बुचे नंगल के एक गांव है जो पंजाब राज्य, भारत में कलानौर के पास स्थित है। यह नाम एक लड़ाई के दौरान पड़ा। क्योंकि उस लड़ाई में गांव के सरदार का एक कान कट गया था। इस आधार पर गांव का नाम बुचा नंगल पड़ गया (पंजाबी में एक कान वाले व्यक्ति को बुचा कहा जाता है)। जो समय के साथ बदलते "बुचा नंगल" से "बुचे नंगल" हो गया। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बुचे नंगल · और देखें »

बुढाना (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील मुजफ्फरनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 123 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बुढाना (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

बुलंदशहर (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 256 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बुलंदशहर (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

बैरिया, (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 164 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बैरिया, (तहसील), बलिया · और देखें »

बेतुल, गोवा

बेतुल भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक समुद्र-तटीय कस्बा है। यह मारगाँव से एक घण्टे की दूरी पर है। यह अपने समुद्र-तट के लिए जाना जाता है। साल नदी बेतुल के निकट अरब सागर में मिलती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बेतुल, गोवा · और देखें »

बेलथारा रोड (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 286 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बेलथारा रोड (तहसील), बलिया · और देखें »

बेहत (तहसील), सहारनपुर

यह तहसील सहारनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 326 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बेहत (तहसील), सहारनपुर · और देखें »

बोरिम

बोरिम या बोरी भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के पौण्डा तालुक में जुवारी नदी के किनारे स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बोरिम · और देखें »

बीदसर

सीकर जिले के नक्शे पर बीदसर। बीदसर राजस्थान में सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। यह लक्ष्मणगढ़ के पूर्व में और नवलगढ़ से दूर पड़ता है। बीदसर के सीमावर्ती गाँव और कस्बे बिड़ोदी, बीदासर, मिर्जवास, डुण्डलोद और नवलगढ़ हैं। २०११ की जनगणना के अनुसार बीदसर की जनसँख्या 1547 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बीदसर · और देखें »

बीदासर

बीदासर भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। यह लक्ष्मणगढ़ से 15 किमी (9.3 मील) पूर्व में और नवलगढ़ से 7 किमी (4.3 मील) पश्चिम में स्थित है। इसकी सीमाएँ खिंवासर, बिड़ोदी बड़ी, बीदसर आदि गाँवों से लगती हैं। २ वर्ग किलोमीटर में फैले इस गाँव की आबादी ४३०० है, जिसमे जाट राजपूत सेन बलाई कुम्हार ये पांच जातिया लगभग बराबर हँ 1नायक लुहार वाल्मीकि सोनी बावरी स्वामीआदि केघर भी है ब्राह्मण परिवारों में चोटिया परिवार प्रमुख है श्री नेमीचन्द चोटिया वर्तमान में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बीदासर के प्रधानाचार्य हैं I यहाँ दादूपंथी स्वामी आश्रम भी हैIश्री रामानंद स्वामी बीदासर के राजकीय आयुर्वेद औषधालय में वैद्य हैंI .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बीदासर · और देखें »

बीघापुर (तहसील), उन्नाव

यह तहसील उन्नाव जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 315 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और बीघापुर (तहसील), उन्नाव · और देखें »

भदोई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई)

यह तहसील संत रविदास नगर (भदोई) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 409 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भदोई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई) · और देखें »

भरतपुरा

भरतपुरा गांव में प्रवेश करते ही दूर-दूर तक हरे-भरे खेत दिखाई देते है और उन्हीं के बीच एक ऊंचे टीले पर सरकारी सुरक्षा गार्डो से घिरी लाइब्रेरी की इमारत नजर आती है। लाइब्रेरीके साथ-साथ भरतपुरा का ऐतिहासिक महत्व है। लाइब्रेरी के संस्थापक गोपाल नारायण सिंह के पूर्वज राजा कान्हचन्द अपने वक्त के बहादुर और बुद्धिमान व्यक्ति थे।राजा गुलालचन्द राजा कांचन के दत्तक पुत्र थें। उनका परिवार महाराष्ट्र से चलकर बिहार में आकर बस गया था। यह मुगल बादशाह शाहजहां का वक्त था। बादशाह के यहां उनकी अच्छी प्रतिष्ठा थी। बाद में मुगल बादशाह फारूखशियर और शाह आलम ने फरमान के जरिए राजा गुलालचन्द को राजा साहब का खिताब दिया। उन्हीं के पुत्र राजा भरत सिंह ने रामपुर मोहकम में एक किला बनवाया जो कालान्तर में भरतपुरा गढ़ के नाम से प्रसिद्ध हुआ। पुस्तकालय की नींव 19वी सदी के उत्तरार्ध में राजा गुलाल नारायण सिंह ने रखी। बाद में 12 दिसंबर 1912 को उनके पुत्र बाबू गोपाल नारायण सिंह ने इसकी विधिवत स्थापना की। यह गुलामी के दिन थे। शिक्षा का घोर अभाव था। ऐसे समय में इस पुस्तकालय की स्थापना एक बड़ी घटना थी। पुस्तकालय का उदघाटन तत्कालीन जिलाधीश डब्लू.डी.आर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और भरतपुरा · और देखें »

भरथना (तहसील), इटावा

यह तहसील इटावा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 234 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भरथना (तहसील), इटावा · और देखें »

भाट पचलाना

ग्राम भाट पचलाना, बड़नगर तहसील का सबसे बड़ा गाँव है। ग्राम भाट पचलाना रूनीजा और खाचरोद के बीच स्थित है। वर्ष 2011 की जनगणना के आनुसार यहाँ की जनसँख्या 5,614 थी। भाट पचलाना मालवा का एक गाँव है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भाट पचलाना · और देखें »

भाटपर रानी (तहसील), देवरिया

यह तहसील देवरिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 354 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भाटपर रानी (तहसील), देवरिया · और देखें »

भानपुर (तहसील), बस्ती

यह तहसील बस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 435 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भानपुर (तहसील), बस्ती · और देखें »

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण एक संगठन / प्राधिकरण है, जो कि भारत सरकार के नागर विमानन मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत है। निगमित मुख्यालय राजीव गाँधी भवन सफदरजंग विमानक्षेत्र, नई दिल्ली में स्थित है। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (ए ए आई) कुल 125 विमानपत्तनों का प्रबंधन करता है जिसमें 11 अंतर्राष्ट्रीय विमानपत्तन, 8 सीमा शुल्क विमानपत्तन, 81 घरेलू विमानपत्तन तथा रक्षा वायु क्षेत्रों में 25 सिविल एंक्लेव शामिल हैं। सुरक्षित विमान प्रचालन हेतु भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण सभी विमानपत्तनों एवं 25 अन्य‍ स्थानों पर जमीनी अधिष्ठापनों के साथ संपूर्ण भारतीय वायु क्षेत्र एवं समीपवर्ती महासागरीय क्षेत्रों में वायु ट्रैफिक प्रबंधन सेवाएं (ए टी एम एस) भी प्रदान करता है। इलाहाबाद, अमृतसर, कालीकट, गुवाहाटी, जयपुर, त्रिवेंद्रम, कोलकाता एवं चेन्नई के विमानपत्तन, जो आज अंतर्राष्ट्रीय विमानपत्तन के रूप में स्थापित हैं, विदेशी अंतर्राष्ट्रीय एयरलाइनों द्धारा भी प्रचालन के लिए खुले हैं। कोयबंटूर, त्रिचुरापल्ली, वाराणसी एवं गया के हवाई अड्डों से अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों के अलावा राष्ट्रीय ध्‍वज वाहक भी प्रचालन करते हैं। केवल इतना ही नहीं अपितु आज आगरा, कोयबंटूर, जयपुर, लखनऊ, पटना आदि के विमानपत्तनों तक टूरिस्‍ट चार्टर भी जाते हैं। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने मुम्ब्ई, दिल्ली, हैदराबाद, बंगलौर एवं नागपुर के विमानपत्त्नों के उन्नयन के लिए तथा विश्वस्तरीय मानकों से बराबरी करने के लिए पर एक संयुक्त उद्यम भी स्थापित किया है। भारतीय भू क्षेत्र के ऊपर सभी प्रमुख वायुमार्ग वीओआर / डीवीओआर कवरेज (89 अधिष्ठापन) के साथ रडार द्धारा कवर्ड हैं (11 स्थानों पर 29 रडार अधिष्ठापन) जो दूरी मापन उपकरण के साथ सह-स्थित हैं (90 अधिष्ठापन)। 52 रनवे पर आईएलएस अधिष्ठापन की सुविधा है तथा इनमें से अधिकांश विमानपत्तनों पर नाइट लैंडिंग की सुविधाएं हैं और 15 विमानपत्तनों पर आटोमेटिक मैसेज स्विचिंग सिस्ट‍म लगा है। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण द्धारा कोलकाता एवं चेन्नई के वायु ट्रैफिक नियंत्रण केंद्रों पर देशज प्रौद्योगिकी का प्रयोग करके आटोमेटिक डिपेंडेंस सर्विलांस सिस्टम (ए डी एस एस) के सफल कार्यान्‍वयन ने भारत को दक्षिण पूर्व एशियाई क्षेत्र में इस उन्‍नत प्रौद्योगिकी का प्रयोग करने वाला पहला देश होने का गौरव प्रदान किया जिससे उपग्रह आधारित संचार प्रणाली का प्रयोग करके महासागरीय क्षेत्रों के ऊपर वायु ट्रैफिक का प्रभावी नियंत्रण संभव हुआ है। उपग्रह संचार लिंक के साथ रिमोट कंट्रोल्ड वी एच एफ कवरेज के प्रयोग ने हमारे ए टी एम एस को और मजबूती प्रदान की है। वी-सैट अधिष्‍ठापनों द्धारा 80 स्थाननों को जोड़ने से बड़े पैमाने पर वायु ट्रैफिक प्रबंधन में वृद्धि होगी और बदले में एयरक्राफ्ट के प्रचालन की सुरक्षा में वृद्धि होगी। इसके अलावा, हमारे वृहद एयरपोर्ट नेटवर्क पर प्रशासनिक एवं प्रचालनात्मक नियंत्रण संभव होगा। मुम्‍बई, दिल्‍ली एवं इलाहाबाद के विमानपत्तनों पर निष्पादन आधारित नेविगेशन (पीएनबी) प्रक्रिया पहले ही कार्यान्वित की जा चुकी है तथा अन्य विमानपत्तनों पर चरणबद्ध ढंग से इसको लागू करने की संभावना है। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने भारतीय अंतरिक्ष एवं अनुसंधान केंद्र (इसरो) के साथ प्रौद्योगिकीय सहयोग से गगन परियोजना शुरू की है जहां नेविगेशन के लिए उपग्रह आधारित प्रणाली का प्रयोग किया जाएगा। इस प्रकार जीपीएस से प्राप्‍त नेविगेशन के संकेतों को हवाई जहाजों की नेविगेशन संबंधी आवश्यकता को पूरा करने के लिए उन्नत किया जाएगा। प्रौद्योगिकी प्रदर्शन प्रणाली का पहला चरण फरवरी 2008 में पहले ही सफलतापूर्वक पूरा हो गया है। प्रचालनात्मक चरण में इस प्रणाली को स्‍तरोन्‍नत करने के लिए विकास टीम को सक्षम बनाया गया है। भारतीय विमानपत्त‍न प्राधिकरण ने दिल्ली एवं मुम्‍बई के विमानपत्‍तनों पर ग्राउंड बेस्ड ऑगमेंटेशन सिस्टम (जी बी ए एस) उपलब्ध् कराने की भी योजना बनाई है। यह जीबीएएस उपकरण हवाई जहाजों को श्रेणी-2 (वक्र एप्रोच) लैंडिंग सिगनल उपलब्ध कराने और इस प्रकार आगे चलकर लैंडिंग सिस्टम के विद्यमान उपकरण को प्रतिस्थापित करने में समर्थ होगा, जिसकी रनवे के प्रत्येक छोर पर जरूरत होती है। दिल्ली में अधिष्ठापित एडवांस्ड सर्फेस मूवमेंट गाइडेंस एंड कंट्रोल सिस्टम (ए एस एम जी सी एस) ने रनवे 28 के प्रचालन को कैट-3 ए स्तर से कैट-3 बी स्तर तक स्‍तरोन्‍नत किया है। कैट-3 ए सिस्‍टम 200 मीटर की विजिबिलिटी तक हवाई जहाजों की लैंडिंग को अनुमत करता है। तथापि, कैट-3 बी 200 मीटर से कम किंतु 50 मीटर से अधिक की विजिबिलिटी पर हवाई जहाजों की सुरक्षित लैंडिंग को अनुमत करेगा। ‘ग्राहकों की अपेक्षाएं’ पर अधिक बल के साथ भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के प्रयास को उस स्वतंत्र एजेंसी से उत्‍साहवर्धक प्रत्युत्तर मिला है जिसने 30 व्‍यस्‍त विमानपत्तनों पर ग्राहक संतुष्टि सर्वेक्षण संचालित किया है। इन सर्वेक्षणों ने हमें विमानपत्तनों के प्रयोक्‍ताओं द्धारा सुझाए गए पहलुओं पर सुधार करने में समर्थ बनाया है। विमानपत्तनों पर हमारे ‘व्यवसाय उत्तर पत्र’ के लिए रिसेप्टुकल लोकप्रिय हुए हैं; इन प्रत्‍युत्‍तरों ने हमें विमानपत्तनों के प्रयोक्ताओं की बदलती महत्‍वाकांक्षाओं को समझने में समर्थ बनाया है। सहस्राब्दि के पहले वर्ष के दौरान, भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण अपने प्रचालन को अधिक पारदर्शी बनाने तथा अधुनातन सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करके ग्राहकों को तत्काल सूचना उपलब्ध कराने के लिए प्रयास कर रहा है। विशिष्ट प्रशिक्षण, कर्मचारी प्रत्‍युत्‍तर में सुधार तथा व्यावसायिक कौशल के उन्नयन पर फोकस स्‍पष्‍ट रूप से दिखाई दे रहा है। भारतीय विमानपत्त‍न प्राधिकरण के चार प्रशिक्षण स्थापनाओं अर्थात नागरिक विमानन प्रशिक्षण कॉलेज (सी ए टी सी), इलाहाबाद; राष्ट्रीय विमानन प्रबंधन एवं अनुसंधान संस्‍थान (एन आई ए एम ए आर), दिल्ली और दिल्ली एवं कोलकाता स्थि‍त अग्नि प्रशिक्षण केंद्र (एफ टी सी) के बारे में ऐसी अपेक्षा है कि वे पहले से अधिक व्‍यस्‍त रहेंगे। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने सीएटीसी, इलाहाबाद एवं हैदराबाद एयरपोर्ट पर प्रशिक्षण सुविधाओं को स्तरोन्नत करने की भी पहल की है। हाल ही में सीएटीसी पर एयरपोर्ट विजुअल सिमुलेटर (ए वी एस) उपलब्ध कराया गया है तथा सीएटीसी, इलाहाबाद एवं हैदराबाद एयरपोर्ट को गैर रडार प्रक्रियात्‍मक एटीसी सिमुलेटर उपकरण की आपूर्ति की जा रही है। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की एक समर्पित उड़ान निरीक्षण यूनिट (एफ आई यू) है तथा इसके बेड़े में तीन हवाई जहाज हैं जो निरीक्षण में समर्थ अधुनातन एवं पूर्णत: स्‍वचालित उड़ान निरीक्षण प्रणाली से सुसज्जित हैं।.

नई!!: डाक सूचक संख्या और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण · और देखें »

भिदौनी

भिदौनी उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में एक ग्राम पंचायत है। भिदौनी बाजना रोड में शामिल होने राया रोड पर मथुरा से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी पर है। सुरीर गांव से तीन किलोमीटर की दूरी पर स्थित एक नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भिदौनी · और देखें »

भिंगा (तहसील), श्रावस्ती

यह तहसील श्रावस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 311 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भिंगा (तहसील), श्रावस्ती · और देखें »

भूधा का बास

भूधा का बास भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। भूधा का बास गांव बिड़ोदी बड़ी गांव से टूट क़ऱ बना है तथा यह जिला सीकर जिले के उत्तर पूर्व की ओर स्थित है। यह गाँव लक्ष्मणगढ़ से 22-किलोमीटर (14 मील) पूर्व में तथा नवलगढ़ से 4-किलोमीटर (2.5 मील) पश्चिम में स्थित है। इसकी सीमा बिड़ोदी बड़ी गाँव से लगती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भूधा का बास · और देखें »

भोगौन (तहसील), मैनपुरी

यह तहसील मैनपुरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 415 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भोगौन (तहसील), मैनपुरी · और देखें »

भीती( तहसील), अम्बेडकर नगर

यह तहसील अम्बेडकर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 257 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भीती( तहसील), अम्बेडकर नगर · और देखें »

भीमसागर

भीमसागर एक गांव है जो भारत के राजस्थान राज्य के जोधपुर ज़िले के ओसियां तहसील में स्थित है। यह गांव अधिक बड़ा नहीं है। २०११ की राष्ट्रीय जनगणना के अनुसार यहाँ की जनसंख्या ४२०६ है। भीमसागर गांव का पिन कोड ३४२३०८ है तथा दूरभाष कोड ०२९२७ है। यहां के लोगों की आजीविका का मुख्य साधन खेती है क्योंकि यह एक ग्रामीण क्षेत्र है। गांव में सरकारी विद्यालय तथा निजी विद्यालयों की सुविधा है और डाकघर की सुविधा भी उपलब्ध है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और भीमसागर · और देखें »

मटिया

मटिया (Matiya) एक गांव है, जो कि भारत के बिहार राज्य के वैशाली जिले में स्थित है। यह बिहार के चार जिले से घिरा हुआ है, इसके पूर्व में समस्तीपुर, पश्चिम में सारण, उत्तर में मुजफ्फरपुर और दक्षिण में पटना है। इसके निकटतम शहर हाजीपुर यहां से लगभग 23 किमी (ट्रेन के माध्यम से) और 31 किमी (सड़क के माध्यम से) दूर है। यहां से निकटतम रेलवे स्टेशन पश्चिम में देसरी (लगभग 2 किमी) और पूर्व में सहदेई बुजुर्ग (लगभग 3 किमी) दूर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मटिया · और देखें »

मडियाहु (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 684 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मडियाहु (तहसील), जौनपुर · और देखें »

मडकई

मडकई भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के पौण्डा तालुक में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मडकई · और देखें »

मत (तहसील), मथुरा

यह तहसील मथुरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 268 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मत (तहसील), मथुरा · और देखें »

मथुरा

मथुरा उत्तरप्रदेश प्रान्त का एक जिला है। मथुरा एक ऐतिहासिक एवं धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में प्रसिद्ध है। लंबे समय से मथुरा प्राचीन भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता का केंद्र रहा है। भारतीय धर्म,दर्शन कला एवं साहित्य के निर्माण तथा विकास में मथुरा का महत्त्वपूर्ण योगदान सदा से रहा है। आज भी महाकवि सूरदास, संगीत के आचार्य स्वामी हरिदास, स्वामी दयानंद के गुरु स्वामी विरजानंद, कवि रसखान आदि महान आत्माओं से इस नगरी का नाम जुड़ा हुआ है। मथुरा को श्रीकृष्ण जन्म भूमि के नाम से भी जाना जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मथुरा · और देखें »

मथुरा (तहसील), मथुरा

यह तहसील मथुरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 254 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मथुरा (तहसील), मथुरा · और देखें »

मधुबन (तहसील), मऊ

यह तहसील मऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 354 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मधुबन (तहसील), मऊ · और देखें »

मधोगढ़ (तहसील), जालौन

यह तहसील जालौन जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 259 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मधोगढ़ (तहसील), जालौन · और देखें »

मनाली, हिमाचल प्रदेश

मनाली (ऊंचाई 1,950 मीटर या 6,398 फीट) कुल्लू घाटी के उत्तरी छोर के निकट व्यास नदी की घाटी में स्थित, भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य की पहाड़ियों का एक महत्वपूर्ण पर्वतीय स्थल (हिल स्टेशन) है। प्रशासकीय तौर पर मनाली कुल्लू जिले का एक हिस्सा है, जिसकी जनसंख्या लगभग 30,000 है। यह छोटा सा शहर लद्दाख और वहां से होते हुए काराकोरम मार्ग के आगे तारीम बेसिन में यारकंद और ख़ोतान तक के एक अतिप्राचीन व्यापार मार्ग का शुरुआत था। मनाली और उसके आस-पास के क्षेत्र भारतीय संस्कृति और विरासत के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इसे सप्तर्षि या सात ऋषियों का घर बताया गया है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मनाली, हिमाचल प्रदेश · और देखें »

मनकापुर (तहसील), गोंडा

यह तहसील गोंडा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 481 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मनकापुर (तहसील), गोंडा · और देखें »

मनोहरपुरा

मनोहरपुरा भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। यह क्षेत्र मुख्यतः माशी धाम के लिए जाना जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मनोहरपुरा · और देखें »

ममुआरा

ममुआरा (गुजराती भाषा: મમુઆરા) भारतीय राज्य गुजरात के कच्छ जिले के भुज तालुका का एक गाँव है। यह भुज से पूर्व में तथा कच्छ से दक्षिण में स्थित है। श्रेणी:गुजरात के गाँव.

नई!!: डाक सूचक संख्या और ममुआरा · और देखें »

मय़मनसिंह

मय़मनसिंह या मैमेनसिंह (ময়মনসিংহ, मॉय़मोन्-शिङ्हो), आधिकारिक तौर पर शहर के मेमेन्सिंघ की राजधानी है मेमेन्सिंघ विभाजन की बांग्लादेश.

नई!!: डाक सूचक संख्या और मय़मनसिंह · और देखें »

मलिक

'मिनिकॉय अथवा मलिक् (मह्ल: މަލިކު; മലിക്കു) भारतीय द्वीपसमूह लक्षद्वीप का सबसे दक्षिण में स्थित एटोल है। प्रशासकीय दृष्टि से यह केन्द्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप का कस्बा है। यहां मौसम बेधशाला एवं प्रकाश स्तम्भ स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मलिक · और देखें »

मलीहाबाद (तहसील), लखनऊ

यह तहसील लखनऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 188 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मलीहाबाद (तहसील), लखनऊ · और देखें »

महमूदाबाद

महमूदाबाद भारत के उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले का एक तहसील है। इसे महमूदाबाद अवध के नाम से भी जाना जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महमूदाबाद · और देखें »

महमूदाबाद (तहसील), सीतापुर

यह तहसील सीतापुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 348 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महमूदाबाद (तहसील), सीतापुर · और देखें »

महरौनी (तहसील), ललितपुर

यह तहसील ललितपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 302 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महरौनी (तहसील), ललितपुर · और देखें »

महसी, (तहसील), बहराइच

यह तहसील बहराइच जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 235 गांव हैं।तहसील मुख्यालय,महसी गाँव से लगभग 5 कि.मी.पहले ही बहराइच-महसी सम्पर्क मार्ग पर महराजगंज नामक कस्बे के पास ही स्थित है। तहसील महसी के अन्तर्गत आने वाले मुख्य और बड़ी आबादी वाले कुछ गाँवों के नाम इस प्रकार हैं। महसी, महराजगंज, रेहुआ मंसूर, सिपहिया प्यूली, रायपुर थैलिया,मकरंदपुर,बेहड़ा,नौतला, रामगाँव,परसोहना,सिकन्दरपुर,नथुवापुर,हरदी-गौरा,गदामार कलां,मथौरा,रमपुरवा,ऐरिया,वैकुण्ठा,बम्भौरी,भगवानपुर, मुरौवा-मुन्सारी,बभनौटी,कायमपुर, गोलागंज, गोपचन्दपुर,नौशहरा, लाखा बौण्डी, सधुवापुर,चाँदपारा,मासाडीह,बोहरिकापुर,बकैना,गरेठी,कपूरपुर,खम्हरिया शुकुल, बालासराय, खसहाकुट्टी, सुरजना,खैरा बाजार, चक, रामगढ़ी, आदि। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महसी, (तहसील), बहराइच · और देखें »

महाराजगंज (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 205 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महाराजगंज (तहसील), रायबरेली · और देखें »

महाराजगंज सदर (तहसील), महाराजगंज

यह तहसील महाराजगंज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 451 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महाराजगंज सदर (तहसील), महाराजगंज · और देखें »

महावन (तहसील), मथुरा

यह तहसील मथुरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 167 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महावन (तहसील), मथुरा · और देखें »

महुआ डाबरा हरिपुरा

महुआ डाबरा हरिपुरा, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महुआ डाबरा हरिपुरा · और देखें »

महुआ खेरागंज

महुआ खेरागंज, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महुआ खेरागंज · और देखें »

महोबा (तहसील), महोबा

यह तहसील महोबा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 135 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और महोबा (तहसील), महोबा · और देखें »

मार्दोल

मार्दोल भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के पौण्डा तालुक में स्थित एक जनगणना नगर है। यह गोवा का एक तेज़ी से बढ़ रहा कस्बा है। मार्दोल की एक फ़ुटबॉल टीम है जो गोवा के तीसरे डिविज़न में खेलती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मार्दोल · और देखें »

मालपुरा, टोंक

मालपुरा भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मालपुरा, टोंक · और देखें »

माशेल

माशेल भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के पौण्डा तालुक में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और माशेल · और देखें »

मासी

मासी, अल्मोड़ा जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मासी · और देखें »

मिलक (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 203 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मिलक (तहसील), रामपुर · और देखें »

मिल्कीपुर (तहसील), फैजाबाद

यह तहसील फैजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 280 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मिल्कीपुर (तहसील), फैजाबाद · और देखें »

मिसरीख (तहसील), सीतापुर

यह तहसील सीतापुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 593 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मिसरीख (तहसील), सीतापुर · और देखें »

मवाना (तहसील), मेरठ

यह तहसील मेरठ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 311 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मवाना (तहसील), मेरठ · और देखें »

मंझनपुर (तहसील), कौशाम्बी

यह तहसील कौशाम्बी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 316 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मंझनपुर (तहसील), कौशाम्बी · और देखें »

मंडीद्वीप, भोपाल

मंडीद्वीप भारत के राज्य मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के गौहरगंज उप-जिले में स्थित एक कस्बा है। मंडीद्वीप राजधानी भोपाल से २३ किमी दूर स्थित एक औद्योगिक कस्बा है, जो १९७० के दशक के अंतिम वर्षों में स्थापित किया गया था। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मंडीद्वीप, भोपाल · और देखें »

मकराना

मकराना भारतीय राज्य राजस्थान की नगर परिषद एवं तहसील है। इस तहसील में १३६ से अधिक गाँव शामिल हैं, और इस प्रकार यह नागौर जिले की सबसे बड़ी तहसील है। मकराना यहाँ के श्वेत पत्थर और संगमरमर के लिए प्रसिद्ध है। मकराना के संगमरमर का उपयोग ताजमहल के निर्माण में किया गया था। मकराना बड़ा कस्बा है, जिसमें विभिन्न स्थानों पर संगमरमर का खनन किया जाता है। यहाँ के निवासियों का मुख्य व्यवसाय संगमरमर खनन है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मकराना · और देखें »

मउ (तहसील), चित्रकूट

यह तहसील चित्रकूट जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 216 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मउ (तहसील), चित्रकूट · और देखें »

मउनाथ भंजन (तहसील), मऊ

यह तहसील मऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 432 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मउनाथ भंजन (तहसील), मऊ · और देखें »

मउरानीपुर (तहसील), झांसी

यह तहसील झांसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 158 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मउरानीपुर (तहसील), झांसी · और देखें »

मछलीशहर (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 515 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मछलीशहर (तहसील), जौनपुर · और देखें »

मुनस्‍यारी

मुनस्‍यारी एक खूबसूरत पर्वतिय स्थल है। यह उत्‍तराखण्‍ड में जिला पिथौरागढ़ का सीमांत क्षेत्र है जो एक तरफ तिब्‍बत सीमा और दूसरी ओर नेपाल सीमा से लगा हुआ है। मुनस्‍यारी चारो ओर से पर्वतो से घिरा हुआ है। मुनस्‍यारी के सामने विशाल हिमालय पर्वत श्रंखला का विश्‍व प्रसिद्ध पंचचूली पर्वत (हिमालय की पांच चोटियां) जिसे किवदंतियो के अनुसार पांडवों के स्‍वर्गारोहण का प्रतीक माना जाता है, बाई तरफ नन्‍दा देवी और त्रिशूल पर्वत, दाई तरफ डानाधार जो एक खूबसूरत पिकनिक स्‍पॉट भी है और पीछे की ओर खलिया टॉप है। काठगोदाम, हल्‍द्वानी रेलवे स्‍टेशन से मुनस्‍यारी की दूरी लगभग 295 किलोमीटर है और नैनीताल से 265 किलोमीटर है। काठगोदाम से मुनस्‍यारी की यात्रा बस अथवा टैक्‍सी के माध्‍यम से की जा सकती है और रास्‍ते में कई खूबसूरत स्‍थल आते हैं। काठगोदाम से चलने पर भीमताल, जो कि नैनीताल से मात्र 10 किलोमीटर है, पड़ता है उसके बाद वर्ष भर ताजे फलों के लिए प्रसिद्ध भवाली है, अल्‍मोड़ा शहर और चितई मंदिर भी रास्‍ते में ही है। अल्‍मोड़ा से आगे प्रस्‍थान करने पर धौलछीना, सेराघाट, गणाई, बेरीनाग और चौकोड़ी है। बेरीनाग और चौकोड़ी अपनी खूबसूरती के लिए काफी प्रसिद्ध है। यहां से आगे चलने पर थल, नाचनी, टिमटिया, क्‍वीटी, डोर, गिरगॉव, रातापानी और कालामुनि आते हैं। कालामुनि पार करने के बाद आता है मुनस्‍यारी, जिसकी खूबसूरती अपने आप में निराली है। मुनस्‍यारी में ठहरने के लिए काफी होटल, लॉज और गेस्‍ट हाउस है। गर्मी के सीजन में यहां के होटल खचाखच भरे रहते है इसलिए इस मौसम में वहां जाने से पहले ठहरने के लिए कमरे की बुकिंग जरूर करा लेना चाहिए क्‍योंकि इस समय में यहां पर देसी और विदेशी पर्यटकों की भीड़ बहुत अधिक बढ़ जाती है। विदेशी पर्यटक यहां खासकर ट्रैकिंग और माउंटेनियरिंग के लिए आते हैं। लोग पहाड़ी (स्‍थानीय बोली) बोलते है और हिन्‍दी भाषा का प्रयोग भी करते हैं। यहां के अधिकतर लोग कृषि कार्य में लगे हुए है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुनस्‍यारी · और देखें »

मुरादाबाद (तहसील), मुरादाबाद

यह तहसील मुरादाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 321 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुरादाबाद (तहसील), मुरादाबाद · और देखें »

मुलुंड

| leader_title1 .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुलुंड · और देखें »

मुसाफिरखाना (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 349 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुसाफिरखाना (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

मुहम्मदाबाद गोहना (तहसील), मऊ

यह तहसील मऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 490 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुहम्मदाबाद गोहना (तहसील), मऊ · और देखें »

मुज़फ़्फ़रनगर

मुज़फ़्फ़रनगर भारत के राज्य उत्तर प्रदेश का एक शहर है। ये मुज़फ़्फ़रनगर जिले का मुख्यालय भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुज़फ़्फ़रनगर · और देखें »

मुज़फ्फरजगर (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील मुजफ्फरनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 275 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मुज़फ्फरजगर (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

म्हापसा

म्हापसा भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक कस्बा है। यह राज्य की राजधानी पणजी से 13 किमी उत्तर में स्थित है। यह कस्बा बार्देज तालुक का मुख्यालय है। यह मुम्बई को कोचीन से जोड़ने वाले महामार्ग ऍनऍच-17 पर स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और म्हापसा · और देखें »

मौदहा (तहसील), हमीरपुर

यह तहसील हमीरपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 177 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मौदहा (तहसील), हमीरपुर · और देखें »

मौसिनराम

मौसिनराम या मॉसिनराम, भारत के पूर्वोत्तर राज्य मेघालय के पूर्वी खासी पर्वतीय जिले में बसा एक गाँव है। शिलांग से 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह गाँव अपनी 11,872 मिलीमीटर (467.4 इंच) वार्षिक वर्षा के साथ पृथ्वी पर स्थित सबसे नम स्थान है, लेकिन इस दावे को कोलम्बिया स्थित दो स्थान लॉरो जिसका औसत वार्षिक वर्षण 1952 और 1989 के बीच 12,717 मिलीमीटर (500.7 इंच) और लोपेज़ डेल मिकाए जिसका औसत वार्षिक वर्षण 1960 और 2012 के बीच 12,717 मिलीमीटर (500.7 इंच) था, विवादित बनाते हैं।.

नई!!: डाक सूचक संख्या और मौसिनराम · और देखें »

मैनपुरी (तहसील), मैनपुरी

यह तहसील मैनपुरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 260 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मैनपुरी (तहसील), मैनपुरी · और देखें »

मैक्लॉडगंज

मैक्लॉडगंज या मकलोडगंज (कई बार इसे मैक्लोडगंज या मैकलोड गंज भी लिखा जाता है), भारत के राज्य हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित कस्बे धर्मशाला का एक उपनगर है। तिब्बतियों के लोगों की एक बड़ी आबादी के कारण इसे "छोटा ल्हासा" या "ढासा" (तिब्बतियों द्वारा धर्मशाला के लिए उपयोग किया जाने वाला संक्षिप्त नाम) के नाम से भी जाना जाता है। तिब्बत की निर्वासन सरकार का मुख्यालय भी मैक्लॉडगंज में स्थित है। मैक्लॉडगंज का नाम सर डोनाल्ड फ्रील मैक्लॉड जो कि पंजाब के लेफ्टिनेंट गवर्नर थे के नाम पर रखा गया है; प्रत्यय 'गंज' हिंदी का शब्द है जिसका सामान्य अर्थ "पड़ोस" होता है। समुद्र तल से इसकी औसत ऊंचाई 2,082 मीटर (6,831 फीट) है तथा यह धौलाधार पर्वतश्रेणी में स्थित है, जिसका उच्चतम शिखर, "हनुमान का टिब्बा" लगभग 5,639 मीटर (18,500 फीट) ऊंचा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मैक्लॉडगंज · और देखें »

मेरठ (तहसील), मेरठ

यह तहसील मेरठ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 229 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मेरठ (तहसील), मेरठ · और देखें »

मेहदवाल (तहसील), संत कबीर नगर

यह तहसील संत कबीर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 519 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मेहदवाल (तहसील), संत कबीर नगर · और देखें »

मेजा (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 395 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मेजा (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

मोठ (तहसील), झांसी

यह तहसील झांसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 222 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोठ (तहसील), झांसी · और देखें »

मोदीनगर (तहसील), गाजि़याबाद

यह तहसील गाजि़याबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 132 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोदीनगर (तहसील), गाजि़याबाद · और देखें »

मोबोर

मोबोर भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक कस्बा है। यह साष्टी तालुक में स्थित है। goaholidayhomes.com यह कस्बा मोबोर तट के लिए जाना जाता है जो एक अलग-थलग सा तट है, यहाँ बहुत सी एकान्त युक्त खोहें हैं और उनके लिए उपयुक्त है जो पूर्ण शान्ति और आराम चाहते हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोबोर · और देखें »

मोहनलालगंज (तहसील), लखनऊ

यह तहसील लखनऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 232 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोहनलालगंज (तहसील), लखनऊ · और देखें »

मोहम्मदाबाद (तहसील), गाजीपुर

यह तहसील गाजीपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 1136 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोहम्मदाबाद (तहसील), गाजीपुर · और देखें »

मोहम्मदी (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 538 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मोहम्मदी (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

मीरगंज (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 248 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और मीरगंज (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

रतनपुरा

रतनपुरा उत्तर प्रदेश राज्य के मऊ जिले में एक क़स्बा है। यह मऊ शहर से लगभग 25 किलोमीटर पूर्व में स्थित है। यह रतनपुरा विकासखण्ड का मुख्यालय भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रतनपुरा · और देखें »

रथ (तहसील), हमीरपुर

यह तहसील हमीरपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 139 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रथ (तहसील), हमीरपुर · और देखें »

रसरा (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 401 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रसरा (तहसील), बलिया · और देखें »

रामनगर (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 241 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रामनगर (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

रामपुर (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 174 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रामपुर (तहसील), रामपुर · और देखें »

रामपुर मनिहरन (तहसील), सहारनपुर

यह तहसील सहारनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 189 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रामपुर मनिहरन (तहसील), सहारनपुर · और देखें »

रामस्नेही घाट (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 250 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रामस्नेही घाट (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

रामगढ़ शेखावाटी

रामगढ़ भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की एक नगरपालिका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रामगढ़ शेखावाटी · और देखें »

रायबरेली (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 346 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रायबरेली (तहसील), रायबरेली · और देखें »

राजगढ़, अलवर

राजगढ़ भारतीय राज्य राजस्थान के अलवर जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र एवं नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और राजगढ़, अलवर · और देखें »

रावतभाटा

रावतभाटा भारतीय राज्य राजस्थान के चितौड़गढ़ जिले का एक कस्बा एवं नगरपालिका क्षेत्र है। इसका निकटतम नगर कोटा, यहाँ से ५० किलोमीटर दूरी पर स्थित है। रावतभाटा, देश के अधिकतर हिस्सों से कोटा के माध्यम से ही जुड़ता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रावतभाटा · और देखें »

रिवालसर

रिवालसर हिमाचल प्रदेश के मंडी क़स्बे से 24 किलोमीटर दूर सड़क मार्ग से जुड़ा एक प्राचीन तीर्थ है जहाँ एक बड़ा सरोवर और सरोवर के निकट ही गुरु पद्मसम्भव द्वारा स्थापित 'मानी-पानी' नामक बौद्ध मठ और एक गुरुद्वारा भी स्थित है | इसे महर्षि लोमश की तपोभूमि माना जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रिवालसर · और देखें »

रुद्रपुर (तहसील), देवरिया

यह तहसील देवरिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 294 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रुद्रपुर (तहसील), देवरिया · और देखें »

रुधौली (तहसील), फैजाबाद

यह तहसील फैजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 244 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रुधौली (तहसील), फैजाबाद · और देखें »

रुधौली (तहसील), बस्ती

यह तहसील बस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 284 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रुधौली (तहसील), बस्ती · और देखें »

रेसुबेलपाड़ा

रेसुबेलपाड़ा भारतीय राज्य मेघालय के उत्तर गारो हिल्स जिले का मुख्यालय है। इसे रेसु नाम से भी जाना जाता है। यह शहर दामरिंग नदी के किनारे स्थित है। श्रेणी:मेघालय के शहर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और रेसुबेलपाड़ा · और देखें »

रॉबर्ट्सगंज (तहसील), सोनभद्र

यह तहसील सोनभद्र जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 798 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रॉबर्ट्सगंज (तहसील), सोनभद्र · और देखें »

रींगस

रींगस भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और रींगस · और देखें »

ललितपुर (तहसील), ललितपुर

यह तहसील ललितपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 287 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और ललितपुर (तहसील), ललितपुर · और देखें »

लहरपुर (तहसील), सीतापुर

यह तहसील सीतापुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 328 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लहरपुर (तहसील), सीतापुर · और देखें »

लापस्या

लौकैश .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लापस्या · और देखें »

लालगंज (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 347 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लालगंज (तहसील), रायबरेली · और देखें »

लिलुआ

लिलुआ (बंगाली: লিলুয়া; अंग्रेज़ी: Liluah) भारत के पश्चिम बंगाल राज्य के हावड़ा जिले में स्थित एक उपनगर है। यह हावड़ा शहर के उत्तर में लगभग 5 किलोमीटर पर स्थित है। लिलुआ का इतिहास भारत के अंगरेजी शासन तक की जा सकती है जब 19वीं शताब्दी में लिलुआ कैरेज ऐन्ड वैगन वर्कशॉप की स्थापना की गई थी। लिलुआ रेलवे स्टेशन, पूर्व रेलवे में हावड़ रेलवे जंक्शन के बाद पैहला स्टेशन है।लिलुआ उपनगर का क्षेत्र 10 जुलाई 2015 तक बाली नगरपालिका के आधीन था, बाली नगरपालिका के विस्थापन एवं हावड़ा में सम्मिलन के बाद लिलुआ हावड़ा नगर निगम के प्रशासनक्षेत्र में आ गया। लिलुआ में अनेक विद्यालय हैं जिसके कारण वर्तमान में शिक्षा का एक महत्वपूर्ण स्थानीय केन्द्र बन चुका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लिलुआ · और देखें »

लखनपहाड़ी

लखनपहाड़ी एक गांव है जो गोड्डा जिले के पथरगामा प्रखंड में स्थित है। यहाँ के लोग अंगिका एवं हिन्दी बोलते है। यहाँ पर ब्राह्मण की जनसंख्या अधिक है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लखनपहाड़ी · और देखें »

लखनउ (तहसील), लखनऊ

यह तहसील लखनऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 210 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लखनउ (तहसील), लखनऊ · और देखें »

लखीमपुर (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लखीमपुर (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

लंभुआ (तहसील), सुल्तानपुर

लम्भुआ, उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले की एक तहसील है। यह तहसील एक सघन बसा हुआ परिक्षेत्र है। इस तहसील के अन्तर्गत तीन विकास खण्ड हैं- लम्भुआ, प्रतापपुर कमैचा तथा भदैंया। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 457 गांव हैं। लम्भुआ परिक्षेत्र वैसे तो औसत विकास वाली तहसीलों मे गिना जाता है लेकिन वर्तमान समय मे यह तेजी से विकास कर रहा है। लम्भुआ तहसील को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-56 दो भागों मे बांटता है। यह राजमार्ग इस क्षेत्र को देश और प्रदेश के अन्य भागों से जोड़ता है। लम्भुआ तहसील मुख्यालय भारतीय रेल से भी जुड़ा हुआ है। लम्भुआ मे ही धोपाप नामक पौराणिक तीर्थ स्थल है जिसकी मान्यता है कि भगवान राम ने रावण वध के पश्चात लगे ब्रह्म हत्या का पाप यही स्नान कर धुला था। यह तीर्थ स्थल उत्तर प्रदेश के पर्यटन विभाग के अन्तर्गत भी आता है। इसके अतरिक्त यहाँ पर गौरीशंकर धाम, शाहपुर, जनवारीनाथ धाम, सराय मकरकोला देवीधाम, भगौतीपुर तथा मरीमाई धाम, बड़ागांव प्रसिद्ध तीर्थ स्थल हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लंभुआ (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

लुंगलेई

लुंगलेई भारतीय राज्य मिज़ोरम के दक्षिण-पश्चिम भाग में स्थित एक कस्बा है, जो कि लुंगलेई ज़िले का मुख्यालय है। यह राजधानी अइज़ोल के बाद मिज़ोरम का दूसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला कस्बा है, जो कि अइज़ोल से १६५ किमी दक्षिण में है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लुंगलेई · और देखें »

लॉङ्गतलाई

लॉङ्गतलाई भारतीय राज्य मिज़ोरम के लॉङ्गतलाई ज़िले का मुख्यालय है। यह लाई स्वायत्त ज़िला परिषद का भी मुख्यालय है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लॉङ्गतलाई · और देखें »

लोनी

लोनी गाजियाबाद जिले का एक कस्बा है। यह ग़ाजियाबाद से २० किलोमीटर की दूरी पर उत्तर की ओर दिल्ली से सहारनपुर जाने वाले रास्ते पर दिल्ली से भी २० किलोमीटर ही पड़ता है तथा दिल्ली यूपी बॉर्डर पर स्थित है ! लोनी ग़ाजियाबाद की एक तहसील है लोनी के वर्तमान विधायक है नन्दकिशोर गुर्जर (गनौली) श्रेणी:गाजियाबाद जिला.

नई!!: डाक सूचक संख्या और लोनी · और देखें »

लोसल

लोसल भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और लोसल · और देखें »

शामली

शामली उत्तर प्रदेश का एक शहर है और यह नए बनाए गए जिले का मुख्यालय है। यह जाट, गुर्जर संस्कृति का केन्द्र हैं। शामली को सितम्बर २०११ में जिले का दर्जा मिला। यह दिल्ली-सहारनपुर राजमार्ग पर स्थित हैं। यह दिल्ली से ९८ कि.

नई!!: डाक सूचक संख्या और शामली · और देखें »

शामली (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील मुजफ्फरनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 141 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शामली (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

शाहबाद (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 209 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शाहबाद (तहसील), रामपुर · और देखें »

शाहाबाद (तहसील), हरदोई

यह तहसील हरदोई जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 459 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शाहाबाद (तहसील), हरदोई · और देखें »

शाहजहांपुर (तहसील), शाहजहांपुर

यह तहसील शाहजहांपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 543 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शाहजहांपुर (तहसील), शाहजहांपुर · और देखें »

शाहगंज (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 545 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शाहगंज (तहसील), जौनपुर · और देखें »

शिवपुरी

शिवपुरी मध्य प्रदेश प्रान्त का एक शहर है जो ग्वालियर से 113 कि॰मी॰ की दूरी पर है। यह एक पर्यटक नगरी है और यहाँ का सौँदर्य अनुपम हैं। शिवपुरी की प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक विरासत की झलक देखने के लिए यहाँ पर्यटक बड़ी संख्या में आते है। शिवपुरी में ग्वालियर के सिंधिया वंश की समर कैपिटल थी। वे शिवपुरी में गर्मियों के दिनों में यहाँ रहने के लिए आया करते थे। शिवपुरी के घने जंगलों में मुगल सम्राट शिकार खेलने आते थे। अकबर ने यहीं से हाथियों के विशाल झुंड और शेरों को पकड़ा था। शिवपुरी के इन घने जंगलों को अब अभयारण्य में तब्दील कर दिया गया है, जहाँ अनेक दुर्लभ पशु-पक्षियों और वनस्पतियों को देखा जा सकता है। शिवपुरी में बने कुछ महल और झीलें यहाँ आने वाले पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र रहती हैं।पूरे वर्ष शिवपुरी सैलानियों के आकर्षण का केंद्र रहता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शिवपुरी · और देखें »

शिंगवे

शिंगवे भारतीय राज्य महाराष्ट्र के अहमदनगर जिला के राहाता तहसील में स्थित गांव है। यह राहाता तहसील के क्षेत्रफल से बड़े गांवों में से एक है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शिंगवे · और देखें »

शिकारपुर (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 185 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शिकारपुर (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

शिकोहाबाद (तहसील), फिरोजाबाद

शिकोहाबाद (तहसील), फिरोजाबाद शिकोहाबाद के ग्राम पंचायत रूपसपुर शिकोहाबाद तहसील के ग्राम नगला भाट में श्री मुकुट सिंह यादव जो ग्राम पंचायत रूपसपुर से प्रधान भी रहे हैं उनके तीन पुत्र हैं गजेंद्र यादव नगेन्द्र यादव पुष्पेंद्र यादव प्रधान जी का जन्म सन १९५० में हुआ था उन्होंने अपना सारा जीवन ग़रीबों के लिए क़ुर्बान कर दिया था और वो ५ भाईओ में सबसे छोटे थे और अपने परिवार को बाँधे रखा ११ मार्च २०१५ को उनका देहावसान हो गया ! वो आज भी हमारे दिलों में ज़िंदा हैं | native_name .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शिकोहाबाद (तहसील), फिरोजाबाद · और देखें »

शक्तिगढ़

शक्तिगढ़, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शक्तिगढ़ · और देखें »

श्री माधोपुर

श्री माधोपुर भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की एक नगरपालिका है। इस कस्बे को जयपुर के राजा मान सिंह जी के दिवान साहब श्री कुशाली राम जी बोहरा द्वारा बसाया गया था। इस कस्बे में सभी तरह की जातीया बड़े ही आराम और इज्जत से निवास करती है। इस कस्बे में अनगिनत मंदिर बावडिया, कुए, धर्मशालाए है, कस्बे की चार दिवारी में सभी जाती समुदाय के लोग भाईचारे के साथ जीवन यापन करते है .

नई!!: डाक सूचक संख्या और श्री माधोपुर · और देखें »

शोहरतगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर

यह तहसील सिद्धार्थनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 368 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और शोहरतगढ़ (तहसील), सिद्धार्थनगर · और देखें »

सण्डीला (तहसील), हरदोई

यह तहसील हरदोई जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 419 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सण्डीला (तहसील), हरदोई · और देखें »

सदाबाद (तहसील), हाथरस (महामाया नगर)

यह तहसील हाथरस (महामाया नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 136 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सदाबाद (तहसील), हाथरस (महामाया नगर) · और देखें »

सरधाना (तहसील), मेरठ

यह तहसील मेरठ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 141 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सरधाना (तहसील), मेरठ · और देखें »

सरवाड़

सरवाड़ भारतीय राज्य राजस्थान के अजमेर जिले का एक प्रशासनिक उपखंड है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सरवाड़ · और देखें »

सरीला (तहसील), हमीरपुर

यह तहसील हमीरपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 122 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सरीला (तहसील), हमीरपुर · और देखें »

सलौन (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 265 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सलौन (तहसील), रायबरेली · और देखें »

सलेमपुर (तहसील), देवरिया

यह तहसील देवरिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 526 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सलेमपुर (तहसील), देवरिया · और देखें »

ससनी (तहसील), हाथरस (महामाया नगर)

यह तहसील हाथरस (महामाया नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 116 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और ससनी (तहसील), हाथरस (महामाया नगर) · और देखें »

सहस्वन (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 275 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सहस्वन (तहसील), बदायूं · और देखें »

सहारनपुर (तहसील), सहारनपुर

यह तहसील सहारनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 429 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सहारनपुर (तहसील), सहारनपुर · और देखें »

सहावर

सहावर उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले की एक तहसील एवं कस्बा है। यह एक नगर पंचायत है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सहावर · और देखें »

सहावर (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर)

यह तहसील कासगंज (कांशीराम नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 182 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सहावर (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर) · और देखें »

सहजनवा (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 349 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सहजनवा (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

सानंद

सानंद गुजरात राज्य के अहमदाबाद जिले में एक शहर और नगर पालिका है। यह गुजरात के ऑटोमोबाइल केंद्र के रूप में जाना जाता है। सानंद वाघेला वंश द्वारा शासित एक छोटा सा रियासत राज्य था। सानंद के महाराज जयवंत सिंह वाघेला एक संगीत विजेता थे। १९४६ में, उन्होंने पंडित जसराज को आमंत्रित किया था। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सानंद · और देखें »

साफीपुर (तहसील), उन्नाव

यह तहसील उन्नाव जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 406 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और साफीपुर (तहसील), उन्नाव · और देखें »

सालगाँव

सालगाँव भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। यह पोरवोरिम, पारा, गुइरिम, सांगोल्दा, पिलर्न, कण्डोलिम, कालनगूट और नागोआ गाँवों से घिरा हुआ है और गोवा के बार्देज तालुक में स्थित है। यह राजधानी पणजी से 10 किमी, मापूसा से 6 किमी, और कालनगूट समुद्र-तट से 3 किमी की दूरी पर स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सालगाँव · और देखें »

सावय वेंरें

सावय वेंरें भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना ग्राम है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सावय वेंरें · और देखें »

सांडेराव

सांडेराव भारत के राजस्थान राज्य के पाली ज़िले का एक गांव है,जो बाली कस्बे से १६ किलोमीटर की दूरी पर है ' इस गांव की स्थापना ९वीं शताब्दी में यशोभद्रा की थी यह ५००० हजार साल पहले का एक तीर्थस्थल था ' यहां पर उदयपुर के सिसोदिया राजवंश ने शासन किया था ' वर्तमान में यह एक महत्वपूर्ण जंक्शन साबित हो रहा है यहां कई बड़े-बड़े स्टेशन है ' .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सांडेराव · और देखें »

साकोली

साकोली महाराष्ट्र के भंडारा जिले में स्थित एक शहर है। साकोली एक तहसील एवं एक नगर परिषद भी है। श्रेणी:महाराष्ट्र के शहर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और साकोली · और देखें »

सितारगंज

सितारगंज, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सितारगंज · और देखें »

सिरसा

सिरसा भारत के हरियाणा प्रदेश का एक शहर और इसी नाम के जिले का मुख्यालय है। इस शहर के पास भारतीय वायुसेना का हवाई अड्डा स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिरसा · और देखें »

सिराथू (तहसील), कौशाम्बी

यह तहसील कौशाम्बी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 292 गांव हैं। सिराथू का मुख्य पर्यटन स्थल कड़ा धाम है जो कि सिराथू रेलवे स्टेशन से लगभग 7 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर दिशा में है यहाँ शीतला माता मंदिर स्थित है .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिराथू (तहसील), कौशाम्बी · और देखें »

सिरौली गौसपुर (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 190 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिरौली गौसपुर (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

सिंकदरा राव (तहसील), हाथरस (महामाया नगर)

यह तहसील हाथरस (महामाया नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 165 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिंकदरा राव (तहसील), हाथरस (महामाया नगर) · और देखें »

सिकंदरपुर (तहसील), बलिया

यह तहसील बलिया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 242 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिकंदरपुर (तहसील), बलिया · और देखें »

सिकंदराबाद (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 142 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सिकंदराबाद (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

सवायजपुर (तहसील), हरदोई

यह तहसील हरदोई जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 380 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सवायजपुर (तहसील), हरदोई · और देखें »

संभल (तहसील), मुरादाबाद

यह तहसील मुरादाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 393 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और संभल (तहसील), मुरादाबाद · और देखें »

संगरूर ज़िला

संगरूर भारत के पंजाब राज्य का एक जिला है। यह पंजाब के उत्तर-पश्चिम में स्थित है जो भारत के गणतंत्र में भी अस्तित्व में था। पहले बरनाला संगरूर जिले का हिस्सा था, लेकिन अब बरनाला एक अलग जिला है। संगरूर पंजाब का एक बड़ा शहर है। संगरूर जिले में ८ उप-खण्ड हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और संगरूर ज़िला · और देखें »

सइहा

सइहा या सियाहा (मारा स्वायत्त ज़िला परिषद द्वारा प्रदत्त आधिकारिक नाम) भारतीय राज्य मिज़ोरम के सइहा ज़िले का मुख्यालय है। यह मिज़ोरम के तीन स्वायत्त ज़िला परिषद में एक मारा स्वायत्त ज़िला परिषद का मुख्यालय भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सइहा · और देखें »

सकलडीहा (तहसील), चन्दौली

यह तहसील चन्दौली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 494 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सकलडीहा (तहसील), चन्दौली · और देखें »

सकेतड़ी

सकेतड़ी एक गाँव है जो भारत के केन्द्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ की सुखना झील के नज़दीक शिवालिक की रमणीक पहाड़ियों की तलहटी में बसा हुआ है। यह गाँव भारत के हरियाणा राज्य के पंचकुला जिले में पड़ता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सकेतड़ी · और देखें »

सुयार (तहसील), रामपुर

यह तहसील रामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 191 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सुयार (तहसील), रामपुर · और देखें »

सुल्तानपुर (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 429 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सुल्तानपुर (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

स्याना (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 187 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और स्याना (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

सैदपुर (तहसील), गाजीपुर

यह तहसील गाजीपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 647 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सैदपुर (तहसील), गाजीपुर · और देखें »

सैफ़ई

सैफ़ई (अंग्रेजी: Saifai), उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में स्थित एक कस्बा है। यह इटावा जिले की एक तहसील और विकास खंड भी है। यह मुलायम सिंह यादव, समाजवादी पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष, निवर्तमान रक्षा मंत्री और निवर्तमान मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश का जन्मस्थान भी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सैफ़ई · और देखें »

सैफई (तहसील), इटावा

यह तहसील इटावा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 60 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सैफई (तहसील), इटावा · और देखें »

सेतगंगा

श्वेतगंगा या सेतगंगा छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में स्थित एक हिन्दू तीर्थस्थल है। यहाँ का श्रीरामजानकी मन्दिर 9वीं 10वीं शताब्दी में बनाया गया था। सेतगंगा का प्राचीन नाम श्वेतगंगा है। यह मुंगेली से 15 कि.मी.

नई!!: डाक सूचक संख्या और सेतगंगा · और देखें »

सेमरा बुजुर्ग

सेमरा बुजुर्ग भारतीय राज्य बिहार के सिवान जिले के नौतन विकासखण्ड में स्थित एक माध्यम आकार का गाँव है। यह ग्राम पंचायत भी है जिसका प्रमुख सरपंच होता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सेमरा बुजुर्ग · और देखें »

सेमरा, गाजीपुर

सेमरा गाजीपुर जिले का एक बड़ा गाँव है। सेमरा के सामने गंगा पार रामपुर गांव स्थित है। इन दोनों गांवों को स्थानीय लोग संयुक्त रूप से रामपुर-सेमरा कहते हैं। सेमरा गांव मोहम्मदाबाद तहसील के शेरपुर ग्राम पंचायत के अन्तर्गत आता है। इस गाँव की आबादी तकरीबन 5500 है जबकि मतदाताओं की संख्या 3800 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सेमरा, गाजीपुर · और देखें »

सेमलिया

सेमलिया नामली (जिला रतलाम) के पास मौजूद मध्यप्रदेश, भारत का एक छोटा गाँव है। यह गाँव नामली से 4 कि॰मी॰ दूर है। सेमलिया मालवा के 5 सबसे प्राचीन तीर्थो (पंचतीर्थ) में से एक है जिनमे शामिल है सेमलिया, भोपावर, मक्सी, मांडव और वई पार्श्वनाथ। यहाँ १६वें तीर्थंकर श्री शांतिनाथ भगवान की प्रतिमा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सेमलिया · और देखें »

सेरछिप

सेरछिप भारतीय राज्य मिज़ोरम के सेरछिप ज़िले तथा सेरछिप सदर तहसील का मुख्यालय है। यह कस्बा राजधानी अइज़ोल से ११२ किमी दूर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सेरछिप · और देखें »

सोनगढ़

सोनगढ़ भारत के गुजरात राज्य में तापी जिले स्थित एक तालुका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सोनगढ़ · और देखें »

सोराओं (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 446 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सोराओं (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

सोहावल (तहसील), फैजाबाद

यह तहसील फैजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 159 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सोहावल (तहसील), फैजाबाद · और देखें »

सीतापुर (तहसील), सीतापुर

यह तहसील सीतापुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 425 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और सीतापुर (तहसील), सीतापुर · और देखें »

हटा (तहसील), कुशीनगर

यह तहसील कुशीनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 405 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हटा (तहसील), कुशीनगर · और देखें »

हमीरपुर (तहसील), हमीरपुर

यह तहसील हमीरपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 197 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हमीरपुर (तहसील), हमीरपुर · और देखें »

हरदोई (तहसील), हरदोई

यह तहसील हरदोई जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 473 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हरदोई (तहसील), हरदोई · और देखें »

हर्रैया (तहसील), बस्ती

यह तहसील बस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 1529 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हर्रैया (तहसील), बस्ती · और देखें »

हसनपुर (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर)

यह तहसील अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 377 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हसनपुर (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) · और देखें »

हसनगंज (तहसील), उन्नाव

यह तहसील उन्नाव जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 520 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हसनगंज (तहसील), उन्नाव · और देखें »

हाथरस (तहसील), हाथरस (महामाया नगर)

यह तहसील हाथरस (महामाया नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 265 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हाथरस (तहसील), हाथरस (महामाया नगर) · और देखें »

हापुड़

हापुड़ भारत के उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर एवं लोकसभा क्षेत्र है। यह नए बनाए गए जिले का मुख्यालय हैं। यह एक रेलवे का जंक्शन भी है। यह ज़िले की प्रसिद्ध व्यपारिक मण्डी है। यहाँ पर तिलहन, गुड़, गल्ले और कपास का व्यापार अधिक होता है। हापुड़ (हिन्दी- उर्दू) के बारे में-- ३,१०,000 की आबादी का एक मध्यम आकार के शहर है और स्टेनलेस स्टील पाइप, ट्यूब और हब बनाने के रूप में विख्यात, हापुड़ कागज शंकु और ट्यूबों के लिए भी प्रसिद्ध है। भारत की राजधानी नई दिल्ली से लगभग 60 किमी दूर स्थित यह शहर जिले का मुख्यालय भी है। राष्ट्रीय राजमार्ग-9 दिल्ली को लखनऊ से जोड़ने वाला राजमार्ग भी शहर से गुजरता है। हापुड़ शहर दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के अंतर्गत आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हापुड़ · और देखें »

हालिशहर

हालीशहर (হালিশহর; हालिशॉहॊर्) भारत के पश्चिम बंगाल राज्य के उत्तर चौबीस परगना जिला में अवस्थित एक शाहर है, जोकि पश्चिम बंगाल पुलिस के बैरकपुर उपविभाग के नैहाटी थाने के अंतर्गत आता है। यह क्षेत्र, कोलकाता के महानगरीय विस्तार का हिस्सा है, तथा कोलकाता महानगर विकास प्राधिकरण के अन्तर्गत आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हालिशहर · और देखें »

हावड़ा

हावड़ा(अंग्रेज़ी: Howrah, बांग्ला: হাওড়া), भारत के पश्चिम बंगाल राज्य का एक औद्योगिक शहर, पश्चिम बंगाल का दूसरा सबसे बड़ा शहर एवं हावड़ा जिला एवं हावड़ सदर का मुख्यालय है। हुगली नदी के दाहिने तट पर स्थित, यह शहर कलकत्ता, के जुड़वा के रूप में जाना जाता है, जो किसी ज़माने में भारत की अंग्रेज़ी सरकार की राजधानी और भारत एवं विश्व के सबसे प्रभावशाली एवं धनी नगरों में से एक हुआ करता था। रवीन्द्र सेतु, विवेकानन्द सेतु, निवेदिता सेतु एवं विद्यासागर सेतु इसे हुगली नदी के पूर्वी किनारे पर स्थित पश्चिम बंगाल की राजधानी, कोलकाता से जोड़ते हैं। आज भी हावड़, कोलकाता के जुड़वा के रूप में जाना जाता है, समानताएं होने के बावजूद हावड़ा नगर की भिन्न पहचान है इसकी अधिकांशतः हिंदी भाषी आबादी, जोकि कोलकाता से इसे थोड़ी अलग पहचान देती है। समुद्रतल से मात्र 12 मीटर ऊँचा यह शहर रेलमार्ग एवं सड़क मार्गों द्वारा सम्पूर्ण भारत से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। यहाँ का सबसे प्रमुख रेलवे स्टेशन हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन है। हावड़ा स्टेशन पूर्व रेलवे तथा दक्षिणपूर्व रेलवे का मुख्यालय है। हावड़ स्टेशन के अलावा हावड़ा नगर क्षेत्र मैं और 6 रेलवे स्टेशन हैं तथा एक और टर्मिनल शालीमार रेलवे टर्मिनल भी स्थित है। राष्ट्रीय राजमार्ग 2 एवं राष्ट्रीय राजमार्ग 6 इसे दिल्ली व मुम्बई से जोड़ते हैं। हावड़ा नगर के अंतर्गत सिबपुर, घुसुरी, लिलुआ, सलखिया तथा रामकृष्णपुर उपनगर सम्मिलित हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हावड़ा · और देखें »

हांडिया (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 626 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हांडिया (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

हंदवारा

हंदवारा या हंदवाड़ा, जिसे कश्मीरी लहजे में हंदवोर कहते हैं, भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के कुपवाड़ा ज़िले में स्थित एक शहर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हंदवारा · और देखें »

हुरूहुरी

हुरुहुरी उत्तरी भारत में जौनपुर जिला का एक गांव है जिसकी आबादी लगभग 2000 है। हुरुहुरी वाराणसी मंडल और जौनपुर जिला प्रशासन के अंतर्गत आता है। यह जौनपुर शहर से 25 किमी पूर्व, और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 274 किमी की दूर पर स्थित है। हुरुहुरी का पोस्टल इंडेक्स नंबर २२२१४२ है शाखा डाकघर जयगोपालगंज तथा उपडाकघर केराकत हैं| यह गांव गोमती नदी से लगभग 2 कम उत्तर दिशा में केराकत तहसील में स्थित है|यह गांव राजमार्ग संख्या ३६ (सैदपुर-खजुरहट सड़क)से लगा हुआ है| .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हुरूहुरी · और देखें »

हैदरनाथ (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 375 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हैदरनाथ (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

हेमकुंट साहिब

हेमकुंट साहिब चमोली जिला, उत्तराखंड, भारत में स्थित सिखों का एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है। यह हिमालय में 4632 मीटर (15,200 फुट) की ऊँचाई पर एक बर्फ़ीली झील के किनारे सात पहाड़ों के बीच स्थित है। इन सात पहाड़ों पर निशान साहिब झूलते हैं। इस तक ऋषिकेश-बद्रीनाथ साँस-रास्ता पर पड़ते गोबिन्दघाट से केवल पैदल चढ़ाई के द्वारा ही पहुँचा जा सकता है। यहाँ गुरुद्वारा श्री हेमकुंट साहिब सुशोभित है। इस स्थान का उल्लेख गुरु गोबिंद सिंह द्वारा रचित दसम ग्रंथ में आता है। इस कारण यह उन लोगों के लिए विशेष महत्व रखता है जो दसम ग्रंथ में विश्वास रखते हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और हेमकुंट साहिब · और देखें »

जमानिया (तहसील), गाजीपुर

यह तहसील गाजीपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 388 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जमानिया (तहसील), गाजीपुर · और देखें »

जम्मू

जम्मू (جموں, पंजाबी: ਜੰਮੂ), भारत के उत्तरतम राज्य जम्मू एवं कश्मीर में तीन में से एक प्रशासनिक खण्ड है। यह क्षेत्र अपने आप में एक राज्य नहीं वरन जम्मू एवं कश्मीर राज्य का एक भाग है। क्षेत्र के प्रमुख जिलों में डोडा, कठुआ, उधमपुर, राजौरी, रामबन, रियासी, सांबा, किश्तवार एवं पुंछ आते हैं। क्षेत्र की अधिकांश भूमि पहाड़ी या पथरीली है। इसमें ही पीर पंजाल रेंज भी आता है जो कश्मीर घाटी को वृहत हिमालय से पूर्वी जिलों डोडा और किश्तवार में पृथक करता है। यहाम की प्रधान नदी चेनाब (चंद्रभागा) है। जम्मू शहर, जिसे आधिकारिक रूप से जम्मू-तवी भी कहते हैं, इस प्रभाग का सबसे बड़ा नगर है और जम्मू एवं कश्मीर राज्य की शीतकालीन राजधानी भी है। नगर के बीच से तवी नदी निकलती है, जिसके कारण इस नगर को यह आधिकारिक नाम मिला है। जम्मू नगर को "मन्दिरों का शहर" भी कहा जाता है, क्योंकि यहां ढेरों मन्दिर एवं तीर्थ हैं जिनके चमकते शिखर एवं दमकते कलश नगर की क्षितिजरेखा पर सुवर्ण बिन्दुओं जैसे दिखाई देते हैं और एक पवित्र एवं शांतिपूर्ण हिन्दू नगर का वातावरण प्रस्तुत करते हैं। यहां कुछ प्रसिद्ध हिन्दू तीर्थ भी हैं, जैसे वैष्णो देवी, आदि जिनके कारण जम्मू हिन्दू तीर्थ नगरों में गिना जाता है। यहाम की अधिकांश जनसंख्या हिन्दू ही है। हालांकि दूसरे स्थान पर यहां सिख धर्म ही आता है। वृहत अवसंरचना के कारण जम्मू इस राज्य का प्रमुख आर्थिक केन्द्र बनकर उभरा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जम्मू · और देखें »

जम्मू (शहर)

जम्मू शहर जम्मू क्षेत्र का सबसे बड़ा शहर है और साथ ही भारत के उत्तरतम राज्य जम्मू एवं कश्मीर की शीतकालीन राजधानी भी है। यह नगरमहापालिका वाला शहर तवी नदी के तट पर बसा है। नगर में ढेरों पुराने व नये मन्दिरों के बाहुल्य के कारण इसे मन्दिरों का शहर भी कहा जाता है। तेजी से फैलती शहरी आबादी एवं बढ़ते अवसंरचना के कारण ये शीतकालीन राजधानी राज्य का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जम्मू (शहर) · और देखें »

जयसिंहपुर (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 393 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जयसिंहपुर (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

जलालपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर

यह तहसील अम्बेडकर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 313 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जलालपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर · और देखें »

जलालाबाद (तहसील), शाहजहांपुर

यह तहसील शाहजहांपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 449 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जलालाबाद (तहसील), शाहजहांपुर · और देखें »

जलेसर (तहसील), एटा

यह तहसील एटा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 154 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जलेसर (तहसील), एटा · और देखें »

जसरना (तहसील), फिरोजाबाद

यह तहसील फिरोजाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 275 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जसरना (तहसील), फिरोजाबाद · और देखें »

जसवंतनगर (तहसील), इटावा

यह तहसील इटावा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 100 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जसवंतनगर (तहसील), इटावा · और देखें »

जानसठ (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील मुजफ्फरनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 190 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जानसठ (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

जायस

जायस भारत के उत्तरी राज्य उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला (अब अमेठी जिला) में स्थित एक कस्बा है।:File:Glimpses_of_jais.jpg .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जायस · और देखें »

जालौन (तहसील), जालौन

यह तहसील जालौन जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 221 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जालौन (तहसील), जालौन · और देखें »

जागेश्वर

जागेश्वर, अल्मोड़ा जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जागेश्वर · और देखें »

जांगीपुर

जहांगीरपुर (जंगीपुर के रूप में अधिक लोकप्रिय) भारत के पश्चिम बंगाल में मुर्शिदाबाद में भागीरथी तट पर स्थित एक शहर है। मुगल बादशाह जहांगीर द्वारा जंगीपुर शहर स्थापित किया गया है कहा जाता है। ब्रिटिश शासन के प्रामभिक वर्षों के दौरान यह रेशम व्यापार का एक महत्वपूर्ण केंद्र था, और ईस्ट इंडिया कंपनी के एक वाणिज्यिक स्थल था। श्रेणी:पश्चिम बंगाल श्रेणी:पश्चिम बंगाल के शहर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और जांगीपुर · और देखें »

जिंतुर

जिंतूर अथवा जिंतुर भारतीय राज्य महाराष्ट्र के परभणी जिले में स्थित एक क़स्बा और नगर पालिका है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जिंतुर · और देखें »

जखानिया (तहसील), गाजीपुर

यह तहसील गाजीपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 577 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जखानिया (तहसील), गाजीपुर · और देखें »

ज्ञानपुर (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई)

यह तहसील संत रविदास नगर (भदोई) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 458 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और ज्ञानपुर (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई) · और देखें »

जौनपुर

जौनपुर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य का एक प्रमुख ऐतिहासिक शहर है। मध्यकालीन भारत में शर्की शासकों की राजधानी रहा जौनपुर वाराणसी से 58 किलोमीटर और इलाहाबाद से 100 किलोमीटर दूर उत्तर दिशा में गोमती नदी के तट पर बसा है। मध्यकालीन भारत में जौनपुर सल्तनत (1394 और 1479 के बीच) उत्तरी भारत का एक स्वतंत्र राज्य था I वर्तमान राज्य उत्तर प्रदेश जौनपुर सल्तनत के अंतर्गत आता था, जिसपर शर्की शासक जौनपुर से शासन करते थे I .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जौनपुर · और देखें »

जौनपुर (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 817 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जौनपुर (तहसील), जौनपुर · और देखें »

जौरासी

जौरासी, अल्मोड़ा जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जौरासी · और देखें »

जूस (तहसील), कन्नौज

यह तहसील कन्नौज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 166 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जूस (तहसील), कन्नौज · और देखें »

जेजुरी

जेजुरी महाराष्ट्र के पुणे जिले में एक नगर है। यह खंडोबा के मंदिर के लिये प्रसिद्ध है। मराठी में इसे 'खंडोबाची जेजुरी' (खंडोबा की जेजुरी) के नाम से जाना जाता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जेजुरी · और देखें »

जेवर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर

यह तहसील गौतम बुद्ध नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 95 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जेवर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर · और देखें »

जीण माता

जीण माता राजस्थान के सीकर जिले में स्थित धार्मिक महत्त्व का एक गाँव है। यह सीकर से २९ किलोमीटर दक्षिण में स्थित है। यहाँ की कुल जनसंख्या ४३५९ है। यहाँ पर जीणमाता (शक्ति की देवी) एक प्राचीन मन्दिर स्थित है। जीणमाता का यह पवित्र मंदिर सैकड़ों वर्ष पुराना माना जाता है। राजस्थान की राजधानी जयपुर सेेेे 108 किलोमीटर हैै l .

नई!!: डाक सूचक संख्या और जीण माता · और देखें »

घनघाटा (तहसील), संत कबीर नगर

यह तहसील संत कबीर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 580 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और घनघाटा (तहसील), संत कबीर नगर · और देखें »

घोरावल (तहसील), सोनभद्र

यह तहसील सोनभद्र जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 346 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और घोरावल (तहसील), सोनभद्र · और देखें »

घोसी(तहसील), मऊ

यह तहसील मऊ जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 348 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और घोसी(तहसील), मऊ · और देखें »

वड़नगर

वड़नगर भारत देश में गुजरात राज्य के महसाणा जिला का एक नगर है। यह नगर भारतीय रेलमार्ग व सड़क मार्ग से जुड़ा है। यह भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म स्थान है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और वड़नगर · और देखें »

वनस्थली

वनस्थली भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और वनस्थली · और देखें »

वयला

वयला(मलयालम: വയലാ, वयला)केरल में कोट्टयम जिले में स्थित एक छोटा सा गांव है। यह गांव पाला नगरपालिका शहर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर है और जिले राजधानी कोट्टयम से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी.

नई!!: डाक सूचक संख्या और वयला · और देखें »

वाराणसी (तहसील), वाराणसी

यह तहसील वाराणसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 901 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और वाराणसी (तहसील), वाराणसी · और देखें »

वारिसलिगंज

वारिसलीगंज भारतीय राज्य बिहार के नवादा जिले का एक छोटा सा लेकिन घना बाजार और नगर पंचायत है। यहाँ यातायात कि सुविधा कुछ जगहों से बेहतर है। यहाँ, रेलवे लाइन, सङक कई बङी शहरों से जोङती हैँ। यहाँ एक चीनीमील है, जो कई सालों पहले बंद हो गई थी। यहाँ कि बहुत सारे खाने-पीने की चीजें मशहूर है। तिलकुट, रसकदम, अनरसे। इस शहर के गाँवों की खेती कि प्रमुख समस्या पानी है। यहाँ सकरी नामक नदी कि एक नहर भी है, जो गर्मियों में सुख जाती है, किसान खेतों मैं जनरेटर से सिंचाई करते हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और वारिसलिगंज · और देखें »

वालपय

वालपय भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक नगर और नगपालिका है। यह सटारी तालुक का मुख्यालय नगर है। पश्चिमी घाट इस कस्बे के पूर्व में स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और वालपय · और देखें »

विजयनगर, अजमेर

विजयनगर अथवा बिजयनगर भारतीय राज्य राजस्थान के अजमेर जिले का एक कस्बा एवं नगरपालिका है। बिजयनगर की स्थापना सन 1914 में तत्कालीन मसूदा के रावसाहब बिजयसिंह ने की थी | उससे पहले यह बरल स्टेशन के नाम से जाना जाता था। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और विजयनगर, अजमेर · और देखें »

विकासपुरी

पीवीआर सिनेमा, विकासपुरी विकासपुरी दिल्ली का एक उपनगर है,भारत.

नई!!: डाक सूचक संख्या और विकासपुरी · और देखें »

व्यास, पंजाब

व्यास (ਬਿਆਸ), इसी नाम की नदी, व्यास नदी के तट पर बसा भारत के पंजाब राझ्य का एक शहर है। यह अमृतसर जिला में पंजाब के पूर्वी सिरे में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और व्यास, पंजाब · और देखें »

खतौली (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील मुजफ्फरनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 141 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खतौली (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

खलीलाबाद (तहसील), संत कबीर नगर

यह तहसील संत कबीर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 633 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खलीलाबाद (तहसील), संत कबीर नगर · और देखें »

खाटूश्यामजी, राजस्थान

खाटूश्यामजी भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले का एक महत्वपूर्ण गाँव है। यह खाटूश्यामजी के मन्दिर के लिए प्रसिद्ध है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खाटूश्यामजी, राजस्थान · और देखें »

खाण्डेपार

खाण्डेपार भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खाण्डेपार · और देखें »

खाण्डोला

कारापुर भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के पौण्डा तालुक में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खाण्डोला · और देखें »

खानपुर डागरान

खानपुर डागरान या खानपुर अहीरा या खानपुर अहीर (Khanpur Dagran) एक गाँव है जो भारतीय राज्य राजस्थान के अलवर जिले के कोटकासिम तहसील का एक गाँव है। यह गाँव खानपुर डागरान अहीरवाल का एक हिस्सा है जहाँ की जनसंख्या में ८५ प्रतिशत लोग यादव है। ये यादव जाति के लोग ज्यादातर डागर वंश के है। खानपुर डागरान राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, दिल्ली से 130 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है, राज्य की राजधानी जयपुर से 145 किमी उत्तर में, अलवर शहर से 60 किलोमीटर उत्तर में, 60 किलोमीटर उत्तर रेवाड़ी शहर से 30 किलोमीटर की दूरी पर, धारुहेरा से 25 किमी दक्षिण में, भिवाड़ी से 25 किलोमीटर दक्षिण में और तिजेरा से 22 किलोमीटर पश्चिम में, 20 किलोमीटर उत्तर किशनगढ़ बास, कोटकासिम से 5 किलोमीटर दक्षिण में, बिबरीनी से 4 किलोमीटर उत्तर में, अलवर जिले में स्थित है। खानपुर डागरान के पास के गांवों में बदसरारा (1 किलोमीटर), खेरी (1 किलोमीटर), चाचियावास (1 किलोमीटर), पुर (2 किलोमीटर), सोनोडा अहिर (1.5 किलोमीटर), घेकाक (3 किलोमीटर), चंद्रपुर (1 किलोमीटर), जलाका (1 किलोमीटर) 1.8 किलोमीटर)। यह स्थान अलवर और रेवाड़ी जिला की सीमा में है। रेवाड़ी जिला इस जगह की ओर से पश्चिम में है। यह हरियाणा राज्य की सीमा के पास है .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खानपुर डागरान · और देखें »

खागा (तहसील), फतेहपुर

यह तहसील फतेहपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 566 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खागा (तहसील), फतेहपुर · और देखें »

खजनी (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 769 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खजनी (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

खुमुलुङ

खुमुलुङ, त्रिपुरा राज्य के पश्चिमी त्रिपुरा ज़िले का एक नगर है। यह त्रिपुरा आदिवासी क्षेत्र स्वशासी जिला परिषद का मुख्यालय एवं सबसे बड़ा नगर है। यह राज्य की राजधानी अगरतला से लगभग २६ किमी पश्चिम की ओर अवस्थित है। टीटीएएडीसी के मुख्यालय को यहाँ वर्ष १९९६ में स्थापित किया गया था। स्थानीय कोकबोरोक भाषा में, खुमुलुङ नाम का अर्थ होता है फूलों का बागीचा। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खुमुलुङ · और देखें »

खुर्जा (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 196 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खुर्जा (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

खेतड़ी

खेतड़ी नगर भारत के पश्चिमी प्रांत राजस्थान के झुन्झुनू जिले का एक कस्बा है। यह शेखावाटी का एक क्षेत्र है। वास्तव में खेतड़ी दो कस्बे हैं एक वह जिसे "खेतड़ी कस्बे" के रूप में जाना जाता है और जिसे राजा खेत सिंहजी निर्वान ने बसाया था। अन्य "खेतड़ी नगर" का कस्बा, जो खेतड़ी से लगभग 10 किमी दूर है। इसे 'ताँबा परियोजना' के रूप में जाना जाता है। खेतड़ी नगर का निर्माण भारत सरकार के एक सार्वजनिक उपक्रम हिन्दुस्तान कॉपर लिमिटेड ने किया और उन्हीं के अधिकार में है। यह नगर चारों तरफ से पर्वत द्वारा घिरा है तथा बहुत ही मनोरम है। यहाँ एक किला भी है। समीप में ही ताँबे की खदानें हैं जिनका मुगल काल में बड़ा महत्व था। बीच में यह खान एकदम बंद पड़ी थी। अब पुन: भारतीय ताँबा निगम की ओर से खान चालू की गई हैं और ताँबा प्राप्त किया जा रहा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खेतड़ी · और देखें »

खेकड़ा (तहसील), बागपत

यह तहसील बागपत जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 53 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और खेकड़ा (तहसील), बागपत · और देखें »

गढ़ मुक्तेश्वर

गढ़मुक्तेश्वर, भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के हापुड़ जिले का शहर एवं तहसील मुख्यालय है। इसे गढ़वाल राजाओं ने बसाया था। गंगा नदी के किनारे बसा यह शहर गढ़वाल राजाओं की राजधानी था; बाद में इसपर पृथ्वीराज चौहान का अधिकार हो गया। 'गढ़मुक्तेश्वर' राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से १०० किलोमीटर दूर 'राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 24' पर बसा है। गढ़ मुक्तेश्वर मेरठ से 42 किलोमीटर दूर स्थित है और गंगा नदी के दाहिने किनारे पर बसा है। विकास की दृष्टि से गढ़ मुक्तेश्वर सबसे पिछड़ी तहसील मानी जाती है, किन्तु सांस्कृतिक दृष्टि से अत्यंत महत्त्वपूर्ण है। यहाँ कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर लगने वाला गंगा स्नान पर्व उत्तर भारत का सबसे बड़ा मेला माना जाता है। शिवपुराण के अनुसार, यहाँ पर अभिशप्त शिवगणों की पिशाच योनि से मुक्ति हुई थी, इसलिए इस तीर्थ का नाम 'गढ़ मुक्तेश्वर' अर्थात् 'गण मुक्तेश्वर (गणों को मुक्त करने वाले ईश्वर) नाम से प्रसिद्ध हुआ। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गढ़ मुक्तेश्वर · और देखें »

गदरपुर

गदरपुर, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गदरपुर · और देखें »

गरौठा (तहसील), झांसी

यह तहसील झांसी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 156 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गरौठा (तहसील), झांसी · और देखें »

गाजि़याबाद (तहसील), गाजि़याबाद

यह तहसील गाजि़याबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 85 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गाजि़याबाद (तहसील), गाजि़याबाद · और देखें »

गाजीपुर (तहसील), गाजीपुर

यह तहसील गाजीपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 630 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गाजीपुर (तहसील), गाजीपुर · और देखें »

गुन्नौर (तहसील), बदायूं

यह तहसील बदायूं जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 385 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गुन्नौर (तहसील), बदायूं · और देखें »

गुइरिम

गुइरिम भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गुइरिम · और देखें »

गौतम बुद्ध नगर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर

यह तहसील गौतम बुद्ध नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 122 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गौतम बुद्ध नगर (तहसील), गौतम बुद्ध नगर · और देखें »

गौरीगंज (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 259 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गौरीगंज (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

गोरखपुर (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 516 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गोरखपुर (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

गोला (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 715 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गोला (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

गोला गोकरन नाथ (तहसील), लखीमपुर खीरी

यह तहसील लखीमपुर खीरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 295 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गोला गोकरन नाथ (तहसील), लखीमपुर खीरी · और देखें »

गोगुन्दा

गोगुन्दा राजस्थान का एक कस्बा और तहसील मुख्यालय है। यह उदयपुर से ३५ किमी उत्तर-पश्चिम में स्थित है। यह अरावली की पहाड़ियों पर उंचाई में स्थित है। यहीं पर सन १५२७ में महाराणा प्रताप का राज्याभिषेक हुआ था। पहले गोगुन्दा रियासत थी। बड़ी रियासतों मे इसका उल्लेख मिलता है। महाराणा प्रताप सिंह ने अपनी राजधानी बनाया था। यहाँ से पुरे मेवाड़ का राज्य संभालते थे। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गोगुन्दा · और देखें »

गोंडा (तहसील), गोंडा

यह तहसील गोंडा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 594 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और गोंडा (तहसील), गोंडा · और देखें »

औरई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई)

यह तहसील संत रविदास नगर (भदोई) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 361 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और औरई (तहसील), संत रविदास नगर (भदोई) · और देखें »

औरैया (तहसील), औरैया

यह तहसील औरैया जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 416 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और औरैया (तहसील), औरैया · और देखें »

आनन्दपुर साहिब

आनन्दपुर साहिब भारत के उत्तर-पश्चिमी राज्य पंजाब के रूपनगर ज़िले का एक इतिहासक नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और आनन्दपुर साहिब · और देखें »

आंवला (तहसील), बाराबंकी

यह तहसील बाराबंकी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 367 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और आंवला (तहसील), बाराबंकी · और देखें »

इटावा (तहसील), सिद्धार्थनगर

यह तहसील सिद्धार्थनगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 460 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और इटावा (तहसील), सिद्धार्थनगर · और देखें »

इटावा (तहसील), इटावा

यह तहसील इटावा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 197 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और इटावा (तहसील), इटावा · और देखें »

इलाहाबाद (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 120 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और इलाहाबाद (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

इंदिरा नगर, लखनऊ

इंदिरा नगर भारत के लखनऊ शहर के व्यस्ततम इलाकों में गिना जाता है। यह उत्तर प्रदेश आवास बोर्ड (डेबिट विकास) द्वारा विकसित एशिया की सबसे बड़ी बस्ती है। शुरू में इंदिरा नगर चार ब्लॉक में विभाजित किया गया था, लेकिन अब कई क्षेत्रों में विस्तार होता जा रहा है। भूतनाथ बाजार इस इलाके का मुख्य बाजार है। यहीं पर प्रसिद्ध भूतनाथ मंदिर, अवस्थित हॅ। प्रमुख बाजारों में लेखराज बाजार, आम्रपाली बाजार, सहारा शॉपिंग सेंटर, मुंशी पुलिया, मीना बाजार, नगीना प्लाजा आदि उल्लेखनीय है। खाने पीने के केंद्रों के अलावा, इस इलाके में बैंक शाखाओं, अतिथि गृहों, बैंक्वेट हॉल और अस्पतालों, दवा की दुकानों, निर्माण सामग्री की दुकानों, स्कूलों और विभिन्न सरकारी कार्यालयों की एक बड़ी संख्या विद्यमान है। इंदिरा नगर में अच्छी तरह से विकसित कई जॉगिंग पार्क है। अरबिंदो पार्क और स्वर्ण जयंती आवास विकास द्वारा विकसित पार्कों को पर्याय के रूप में जाना जाता है। कुकरैल फारेस्ट एक मशहूर् पिकनिक स्थल है। यहां घड़ियालों और कछुओं का एक अभयारण्य है। यह लखनऊ रिंग मार्ग पर इंदिरा नगर के निकट स्थित है। यहीं पर मानस विहार सोसाइटी द्वारा निर्मित उत्कृष्ट कालोनियां जॅसे मयूर विहार,मयूर उद्यान, मयूर रेसिडेन्सी, मयूर एन्क्लेव भी मॉजूद हँ। इस इलाके में सभी सड़कों को दुरुस्त किया जा रहा है। सभी कॉलोनियाँ बहुत अच्छी तरह से ई रिक्शा और ऑटो रिक्शा द्वारा जुडी हुई हैं। नए शॉपिंग मॉल में यहाँ स्पेंसर्स, बिग बाजार, ईज़ी डे और सबका बाज़ार जॅसी बड़ी दुकानें भी हैं। गाजीपुर में पुलिस स्टेशन स्थित हॅ। श्रेणी:लखनऊ श्रेणी:लखनऊ के आवासीय क्षेत्र.

नई!!: डाक सूचक संख्या और इंदिरा नगर, लखनऊ · और देखें »

इंदिरा पोइंट

इंदिरा पोइंट (Indira Point) भारत के निकोबार द्वीपसमूह के बड़े निकोबार द्वीप पर स्थित एक गाँव है। यह भारत का दक्षिणतम बिन्दु भी है। यहाँ एक प्रकाशस्तम्भ स्थित है। प्रशासनिक रूप से यह लक्ष्मीनगर पंचायत के अधीन है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और इंदिरा पोइंट · और देखें »

इकोना (तहसील), श्रावस्ती

यह तहसील श्रावस्ती जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 232 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और इकोना (तहसील), श्रावस्ती · और देखें »

कच्नाल गोसांई

कच्नाल गोसांई, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कच्नाल गोसांई · और देखें »

कचोलिया

कचोलिया भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक गाँव है। यह मालपुरा तहसिल के निकट स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कचोलिया · और देखें »

कटराथल

कटराथल, भारतीय राज्य राजस्थान के सीकर जिले की पीपराली तहसील का एक गाँव है। यह सीकर से झुन्झुनू जाने वाले राज्य राजमार्ग संख्या ८ पर स्थित है। राजस्थान राज्य सरकार ने कटराथल में 30 एकड़ मुफ्त जमीन आवंटित कर दी जिससे कि यहाँ पर शेखावाटी यूनिवर्सिटी की स्थापना संभव हो सकी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कटराथल · और देखें »

कड़ीपुर (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 357 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कड़ीपुर (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

कन्नौज (तहसील), कन्नौज

यह तहसील कन्नौज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 259 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कन्नौज (तहसील), कन्नौज · और देखें »

कनॉट प्लेस

कनॉट प्लेस (आधिकारिक रूप से राजीव चौक) दिल्ली का सबसे बड़ा व्यवसायिक एवं व्यापारिक केन्द्र है। इसका नाम ब्रिटेन के शाही परिवार के सदस्य ड्यूक ऑफ कनॉट के नाम पर रखा गया था। इस मार्केट का डिजाइन डब्यू एच निकोल और टॉर रसेल ने बनाया था। यह मार्केट अपने समय की भारत की सबसे बड़ी मार्केट थी। अपनी स्थापना के ६५ वर्षों बाद भी यह दिल्ली में खरीदारी का प्रमुख केंद्र है। यहां के इनर सर्किल में लगभग सभी अंतर्राष्ट्रीय ब्रैंड के कपड़ों के शोरूम, रेस्त्रां और बार हैं। यहां किताबों की दुकानें भी हैं, जहां आपको भारत के बारे में जानकारी देने वाली बहुत अच्छी किताबें मिल जाएंगी। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कनॉट प्लेस · और देखें »

करहल (तहसील), मैनपुरी

यह तहसील मैनपुरी जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 187 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और करहल (तहसील), मैनपुरी · और देखें »

कराड

कराड भारत के महाराष्ट्र राज्य के सातारा जिले की एक तालुका है। यह नगर कृष्णा नदी तथा कोयना नदी के संगम पर सतारा नगर से ४५ किमी दक्षिण-पूर्व में बसा है।। कराड यशवंत नगरी के नाम से भी जानी जाती है। यहां पर अधिकतर मुस्लिम धर्म के लोग रहते है साथ ही बहुत संख्या में मस्जिद भी बने हुए हैं। कराड पुणे से लगभग २४० किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस नगर का स्वायत्त शासन १८८५ ई. में आरंभ हुआ और अब यह एक सुव्यवस्थित नगरपालिका द्वारा शासित होता है। यहाँ की बौद्धकालीन गुफाएँ, मुसलमान-कालीन मस्जिदें और नवीन मंदिर आकर्षण के विशेष केंद्र हैं। कुछ लोग इसे 'करदाह' या 'करहाकादा' के नाम से भी जानते हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कराड · और देखें »

करवी (तहसील), चित्रकूट

यह तहसील चित्रकूट जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 444 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और करवी (तहसील), चित्रकूट · और देखें »

करछाना (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 339 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और करछाना (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

कर्नलगंज (तहसील), गोंडा

यह तहसील गोंडा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 389 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कर्नलगंज (तहसील), गोंडा · और देखें »

कर्नूल

कर्नूल, आंध्रप्रदेश राज्य के बड़े शहरों में से एक है। यह तुंगभद्रा नदी के किनारे बसा है। आंध्र प्रदेश के अवरतण के पूर्व कर्नूल नवंबर १, १९५६ तक आंध्र राष्ट्र का राजधानी रहा। कर्नूल भारत आंध्र प्रदेश के करनूल जिले का मुख्यालय है। शहर को अक्सर रायलसीमा के गेटवे के रूप में जाना जाता है। यह 1 अक्टूबर 1953 से 31 अक्टूबर 1956 तक आंध्र राज्य की राजधानी था। 2011 जनगणना के अनुसार, यह 460,184 की आबादी वाला राज्य का पांचवां सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। http://ourkmc.com/Circulars/files/50__Binder1.pdf .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कर्नूल · और देखें »

कलतूर

कलतूर केरल राज्य के कोट्ट्यम जिले का एक गाँव है।, भारत Mapia .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कलतूर · और देखें »

कलापुर

कलापुर भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले का एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कलापुर · और देखें »

कलीमगंज (तहसील), फर्रुख़ाबाद

यह तहसील फर्रुख़ाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 444 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कलीमगंज (तहसील), फर्रुख़ाबाद · और देखें »

कसया (तहसील), कुशीनगर

कसया, उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले की एक तहसील है। कसया नामक कस्बा इसका मुख्यालय है जो कुशीनगर से सटा हुआ है।कसिया नाम कुशीनगर में बदल गया है और उसके बाद कसिया आधिकारिक तौर पर कुशीनगर नाम के साथ नगर पालिका बन गया जिसके पश्चात कसिया तहसील कुशीनगर तहसील हो गया है और कसया उचित तौर से कुशीनगर हो गया है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 297 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कसया (तहसील), कुशीनगर · और देखें »

काटोया

काटोया (अंग्रेजी: Katwa), भारत की पश्चिम बंगाल राज्य में पूर्व बर्द्धमान ज़िला का एक शहर और प्रशंसिक इलाका.

नई!!: डाक सूचक संख्या और काटोया · और देखें »

काणकोण

काणकोण भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक कस्बा और नगर पालिका है। काणकोण तालुक में पटनेम, चौडी, पोइनगुइनिम, लोलिए, अगोण्डा और गौमडोंग्रे जैसे स्थान समाहित हैं। चौडी इस तालुक का मुख्यालय और सबसे विकसित कस्बा है। प्रसिद्ध पालोलेम तट इस तालुक में स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और काणकोण · और देखें »

कार निकोबार

कार निकोबार, जिसे कार भाषा में पू कहते हैं, भारत के निकोबार द्वीपसमूह का उत्तरतम और सर्वाधिक आबादी वाला द्वीप है। २००४ की सूनामी में इस द्वीप को बहुत क्षति पहुँची थी। यह अण्डमान द्वीपसमूह के छोटे अण्डमान द्वीप और नन्कोव्री द्वीप के बीच में स्थित है। प्रशासनिक रूप से यह निकोबार ज़िले की कार निकोबार तहसील में गठित है। द्वीप पर भारतीय वायु सेना का एक महत्वपूर्ण अड्डा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कार निकोबार · और देखें »

कारापुर

कारापुर भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कारापुर · और देखें »

कालपी (तहसील), जालौन

यह तहसील जालौन जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 242 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कालपी (तहसील), जालौन · और देखें »

कालाढूंगी

कालाढूंगी उत्तराखण्ड राज्य के नैनीताल जनपद में स्थित एक नगर है। यह नगर हल्द्वानी-रामनगर तथा बाजपुर-नैनीताल सड़कों के चौराहे पर हल्द्वानी से २६ किलोमीटर, नैनीताल से ३० किलोमीटर तथा बाजपुर से १९ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कालाढूंगी नैनीताल जनपद की ८ तहसीलों में से एक भी है। कालाढूंगी जिम कार्बेट का शीतकालीन आवास भी था। अब उनके कालाढूंगी स्थित बंगले को म्यूजियम बना दिया गया है। उत्तराखंड के प्रसिद्ध शिकारी और बाद में जिम कार्बेट वन्य जीव अभ्यारण्य की स्थापना के हिमायती जिम कार्बेट ने अपनी पुस्तकों "कुमाऊं के आदमखोर" " रुद्रप्रयाग का आदमखोर तेंदुआ" "कहानी जंगल की" "माई इंडिया" आदि पुस्तकों में कालाढूंगी का विवरण दिया है। उनके विवरणों में लिखा है कि कालाढूंगी पर्वतीय ढालों के अंत में स्थित गांव था। जो कि नैनीताल की कठोर सर्दियों से बचने का उपयुक्त स्थान था, क्योंकि यहां की जलवायु तराई के इलाकों की भांति उष्ण थी। खेती हेतु पर्याप्त जमीन थी। चारों ओर घने जंगल थे। जो विविध वन्यजीवों से भरे थे। जहां अक्सर शिकारी अपने भोजन व मनोरंजन हेतु शिकार करने जाते थे। कभी कभी एक मील से भी पास कोई बाघ या तेंदुआ विचरण करता पाया जाता था। जो स्थानीय निवासियों को कोई हानि पहुंचाए बिना फिर जंगल में भाग जाते थे। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कालाढूंगी · और देखें »

कासरपल

कासरपल भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले के बिचोलिम क्षेत्र का एक कस्बा है। यह म्हापसा कस्बे से 14 किमी की दूरी पर स्थित है। इस ग्राम का मूल नाम पल्लिका है जो वर्ष 1436 के एक ताम्र-पत्र शिलालेख पर अंकित है जो गोवा पुरातत्व विभाग के अधिकार में है। इस स्थान को कासरपल के नाम से भी जाना जाता था क्योंकि यहा के मूल निवासी ताम्रकार थे। इस गाँव को बाद में किसी नागदेव नामक ब्राह्मण ने शेटियों को उपहार-स्वरूप दे दिया था। कासरपल 800 वर्ष पुराने काल्किदेवी मन्दिर का स्थल भी है। इसके अतिरिक्त यहाँ शिवजी और भूमिका देवी के मन्दिर भी हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कासरपल · और देखें »

कासगंज

कासगंज या कासगंज, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में, एटा से लगभग ३२ किलोमीटर उत्तर, काली नदी के किनारे स्थित एक क़स्बा है। यह कासगंज ज़िले का मुख्यालय भी है, जिसे २००६ में अलीगढ़ ज़िले से विभक्त कर बनाया गया था, जो अलीगढ़ मंडल में आता है। भारत सरकार की २०११ की जनगणना के अनुसार, कासगंज की कुल आबादी १ लाख से अधिक है, और इसका नगरीय विस्तार लगभग २,२०० वर्ग किलोमीटर पर फ़ैला हुआ है। कासगंज की सबसे विशिष्ट भौगोलिक आकृति है काली नदी जो शहर के दक्षिण से गुज़रती है, तथा, निचली गंगा नहर क़स्बे के पश्चिम से गुज़रती है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कासगंज · और देखें »

कासगंज (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर)

यह तहसील कासगंज (कांशीराम नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 248 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कासगंज (तहसील), कासगंज (कांशीराम नगर) · और देखें »

कांठ (तहसील), मुरादाबाद

यह तहसील मुरादाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 202 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कांठ (तहसील), मुरादाबाद · और देखें »

कांवली

कांवली अथवा काँवली (Kanwali) भारतीय राज्य उत्तराखण्ड के देहरादून नगर निगम अंतर्गत एक वार्ड है। 1998 से पूर्व ये हिस्सा कांवली ग्राम पंचायत कहलाता था। वर्ष 2011 के नगरीय परिसीमन के अनुसार कांवली की वार्ड संख्या 50 है और यहाँ का पिनकोड 248001, pincode.net.in पर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कांवली · और देखें »

काकूवाला

काकूवाला (ਕਾਕੂਵਾਲਾ) पंजाब के संगरूर ज़िले के सुनाम ब्लॉक का एक गाँव है, जो संगरूर-पातड़ां राष्ट्रीय राजमार्ग 17 पर स्थित है। भौगोलिक स्थिति मुताबिक इसके उत्तर की तरफ़ दिढ़बा और गाँव खेतला, दक्षिण-पश्चिम की तरफ़ गाँव लाडबंजारा कल, दक्षिण-पूर्व की तरफ़ पातड़ां और गाँव दुगाल पड़ते हैं। इसका नाम काकू सिंह से आया है। इसकी आबादी लगभग 1003 है और यहाँ 153 के करीब घर हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और काकूवाला · और देखें »

किरौली (तहसील), आगरा

यह तहसील आगरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 173 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और किरौली (तहसील), आगरा · और देखें »

किशनगढ़, अलवर

किशनगढ़ भारतीय राज्य राजस्थान के अलवर जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र एवं नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और किशनगढ़, अलवर · और देखें »

किशनगढ़, अजमेर

किशनगढ़ भारतीय राज्य राजस्थान के अजमेर जिले का एक नगर है। यह अजमेर से १८ मील उत्तर-पश्चिम में स्थित है। यह नगर राष्ट्रीय राजमार्ग ८ पर स्थित है। किशनगढ़ चित्रकला यहीं से जन्मी। इस चित्रकला में 'बनी-ठनी' नामक एक दरबारी का सुन्दर चित्रण है। वर्तमान समय में यह राजस्थान की 'मार्बल नगरी' के नाम से विख्यात है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और किशनगढ़, अजमेर · और देखें »

कंडाघाट

कंडाघाट उत्तर भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित एक कस्बा है जो राष्ट्रीय राजमार्ग २२ स्थित है। प्रशासनिक तौर पर यह सोलन जिले की एक तहसील का दर्जा रखता है। हिमाचल की राजधानी शिमला यहाँ से 30 कि.मी.

नई!!: डाक सूचक संख्या और कंडाघाट · और देखें »

कुचिपुड़ी, कृष्णा जिला

कुचिपुड़ी भारत के आन्ध्रप्रदेश राज्य के कृष्णा जिले में स्थित एक गाँव है। इस गाँव के आन्ध्रप्रदेश की राजधानी परिक्षेत्र में शामिल होने की संभावना है, जब यह राजधानी परिक्षेत्र निर्मित होगा। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुचिपुड़ी, कृष्णा जिला · और देखें »

कुन्नूर

कुन्नूर (तमिल: குன்னூர்) दक्षिण भारतीय राज्य तमिल नाडु के नीलगिरि जिले का एक ताल्लुका एवं नगरपालिका क्षेत्र है। यह अपने चाय उत्पादन के लिये प्रसिद्ध है। कुन्नूर समुद्र सतह से १,८५० मी की ऊंचाई पर स्थित नीलगिरी पर्वतमाला का ऊटी के बाद दूसरा सबसे बड़ा पर्वतीय स्थल है। यह नीलगिरी पर्वतमाला को जाने वाले ट्रैकिंग अभियानों के लिये एक आदर्श स्थल माना जाता है। इसका निकटतम विमानक्षेत्र कोयम्बतूर अन्तर्राष्ट्रीय विमानक्षेत्र यहां से लगभग ५६ कि.मी दूर स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुन्नूर · और देखें »

कुपवाड़ा

कुपवाड़ा जम्मू एवं कश्मीर राज्य का एक नगर है। यह कुपवाड़ा जिला का केन्द्र भी है। बर्फ की सफेद चादर ओढे कुपवाड़ा जिला पीरपंचाल और शम्सबरी पर्वत के मध्य स्थित है। समुद्र तल से 5,300 मीटर ऊंचाई पर स्थित कुपवाड़ा जम्मू व कश्मीर राज्य का एक जिला है। ऐतिहासिक दृष्टि से भी स्थान काफी प्रसिद्ध है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता अधिक संख्या में पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर खींचती है। कुपवाड़ा जिले में कई पर्यटन स्थल जैसे मां काली भद्रकाली मंदिर, शारदा मंदिर, जेत्ती नाग शाह आदि विशेष रूप से प्रसिद्ध है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुपवाड़ा · और देखें »

कुर्ती, गोवा

कुर्ती भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुर्ती, गोवा · और देखें »

कुलपहाड़ (तहसील), महोबा

यह तहसील महोबा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 273 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुलपहाड़ (तहसील), महोबा · और देखें »

कुलाबा

कोलाबा या कुलाबा मुंबई का दक्षिणी क्षेत्र है। १६वीं सदी के पुर्तगाली साम्राज्य के दौरान इस द्वीप को कैण्डिल के नाम से जाना जाता था। बाद में १७वीं सदी में ब्रितानी अधिकार क्षेत्र में आने के कारण इसे क्षेत्र को 'कोलियो' के नाम से जाना जाने लगा। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुलाबा · और देखें »

कुंडा

कुंडा, भारत में उत्तर प्रदेश राज्य के प्रतापगढ़ जिले का एक तहसील है।यह २५,७२ उत्तरी तथा ८१,५२पूर्वी देशान्तर पर स्थित है। इसकी सामन्य ऊचाई ८९ मीटर है। गण्गा के किनारे बसा कुन्डा एक उर्वर समतल मैदान है। बकुलाही नदी तथा शारदा सहायक नहर भी यहाँ से गुजरती है। इलाहाबाद- लखनऊ राजमार्ग-२४ब पर स्तिथ, कुन्डा एक नगर पन्चायत है। कुन्डा से ६ किलोमीटर उत्तर मनगट़ भक्ति धाम स्थित है,जो जगतगुरु क्रिपालू महराज की जन्मभूमि है। यहाँ एक प्रसिद्ध मन्दिर है। श्रेणी:उत्तर प्रदेश के नगर.

नई!!: डाक सूचक संख्या और कुंडा · और देखें »

क्यूला

क्यूला भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और क्यूला · और देखें »

कैम्पीयारगंज (तहसील), गोरखपुर

यह तहसील गोरखपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 218 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कैम्पीयारगंज (तहसील), गोरखपुर · और देखें »

कैराना (तहसील), मुजफ्फरनगर

यह तहसील जिला शामली उत्तरप्रदेश में आती है मायावती जी ने शामली कस्बे को जिला घोषित किया था शामली पहले मुज़फ्फरनगर जनपद में आता था .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कैराना (तहसील), मुजफ्फरनगर · और देखें »

कैसरगंज, (तहसील), बहराइच

यह तहसील बहराइच जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 438 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कैसरगंज, (तहसील), बहराइच · और देखें »

केरन, जम्मू और कश्मीर

केरन भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के कुपवाड़ा ज़िले में स्थित एक शहर है। यह किशनगंगा नदी के किनारे बसा हुआ है और किशनगंगा घाटी में स्थित है। यह नियंत्रण रेखा पर स्थित है और उसके पार पाक-अधिकृत कश्मीर में भी एक केरन नामक गाँव है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केरन, जम्मू और कश्मीर · और देखें »

केराकत

केराकत या किराकत उत्तर प्रदेश राज्य के वाराणसी मण्डल के जौनपुर जिले में गोमती नदी के किनारे बसा हुआ एक शहर हैै। यह नगर पंचायत, तहसील मुख्यालय भी है तथा इसके नाम पर विधान सभा क्षेत्र का नाम भी केराकत विधानसभा क्षेत्र है। यह जौनपुर और औड़िहार से रेलमार्ग द्वारा जुड़ा है। यह के गाँव की जनसंख्या मुख्यतः कृषि और संबंधित आर्थिक गतिविधियों पर निर्भर करता है। शहर के आसपास के गांवों के रूप में बस्तियों की बड़ी संख्या हे जो शहर पर निर्भर है। शहर की एक प्रमुख विशेषता यह है कि गोमती नदी यहाँ यू-आकार में बहती है जो यहाँ की मिट्टी को उपजाऊ बनाती है। केराकत डाकघर भी है जिसका पिन कोड २२२१४२ है। इसकी स्थिती जौनपुर से २५ कि॰मी॰ पूर्व मे तथा वाराणसी से ४५ कि॰मी॰ दक्षिण में स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केराकत · और देखें »

केराकेट (तहसील), जौनपुर

यह तहसील जौनपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 426 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केराकेट (तहसील), जौनपुर · और देखें »

केला खेरा

केला खेरा, उधम सिंह नगर जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केला खेरा · और देखें »

केली पत्रैसी,संभल (मुरादाबाद)

केली पत्रैसी मुरादाबाद जिले की संभल तहसील का एक गांव हैं जो कि अब संभल जिले की भौगोलिक सीमा में स्थित है। भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त कार्यालय के आंकड़ों के अनुसार सन् 2011 में हुई जनगणना के मुताबिक इस गांव के कुल परिवारों की संख्या 184 है। केली पत्रैसी की कुल जनसंख्या 1068 है जिसमें पुरुषों की संख्या 589 और महिलाओं की संख्या 479 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केली पत्रैसी,संभल (मुरादाबाद) · और देखें »

केशवरायपाटन

केशवरायपाटन राजस्थान के बूँदी जिले का एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और केशवरायपाटन · और देखें »

कोच्चि

कोच्चि, जिसे कोचीन भी कहा जाता था, लक्षद्वीप सागर के दक्षिण-पश्चिम तटरेखा पर स्थित एक बड़ा बंदरगाह शहर है, जो भारतीय राज्य केरल के एर्नाकुलम जिले का एक भाग है। कोच्चि को काफ़ी समय से प्रायः एर्नाकुलम भी कहा जाता है, जिसका अर्थ नगर का मुख्यभूमि भाग इंगित करता है। कोच्चि नगर निगम के अधीनस्थ (जनसंख्या ६,०१,५७४) ये राज्य का दूसरा सर्वाधिक जनसंख्या वाला शहर है। ये कोच्चि महानगरीय क्षेत्र के विस्तार सहित (जनसंख्या २१ लाख) केरल राज्य का सबसे बड़ा शहरी आबादी क्षेत्र है। कोच्चि नगर ग्रेटर कोच्चि क्षेत्र का ही एक भाग है, और इसे भारत सरकार द्वारा द्वितीय दर्जे वाला शहर वर्गीकृत किया गया है। नगर की देख-रेख व अनुरक्षण दायित्त्व १९६७ में स्थापित हुआ कोच्चि नगर निगम देखता है। इसके अलावा पूरे क्षेत्र के सर्वांगीण विकास का भार ग्रेटर कोचीन डवलपमेंट अथॉरिटी (GCDA) एवं गोश्री आईलैण्ड डवलपमेंट अथॉरिटी (GIDA) पर है। कोच्चि १४वीं शताब्दी से ही भारत की पश्चिमी तटरेखा का मसालों का व्यापार केन्द्र रहा है और इसे अरब सागर की रानी के नाम से जाना जाता था। १५०३ में यहां पुर्तगालियों का आधिपत्य हुआ और यह उपनिवेशीय भारत की प्रथम यूरोपीय कालोनी बना और १५३० में गोवा के चुने जाने तक ये पुर्तगालियों का यहां का प्रधान शक्ति केन्द्र रहा था।क्कालांतर में कोच्चि राज्य के रजवाड़े में परिवर्तित होने के क्साथ ही ये डच एवं ब्रिटिश के नियन्त्रण में आ गया। आज केरल में कुल अन्तर्देशीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों के आगमन संख्या में प्रथम स्थान बनाये हुए है। नीलसन कम्पनी के आउटलुक ट्रैवलर पत्रिका के लिये किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार कोच्चि आज भी भारत के सर्वश्रेष्ठ पर्यटक आकर्षणों में छठवें स्थान पर बना हुआ है। मैकिन्से ग्लोबल संस्थान द्वारा किये गए एक शोध के अनुसार, कोच्चि २०२५ तक के विश्व के सकल घरेलु उत्पाद में ५०% योगदान देने वाले ४४० उभरते हुए शहरों में से एक था। भारतीय नौसेना के दक्षिणी नौसैनिक कमान का केन्द्र तथा भारतीय तटरक्षक का राज्य मुख्यालय भी इसी शहर में स्थित है, जिसमें एयर स्क्वैड्रन ७४७ नाम की एक वायु टुकड़ी भी जुड़ी है। नगर के वाणिज्यिक सागरीय गतिविधियों से सम्बन्धित सुविधाओं में कोच्चि बंदरगाह, अन्तर्राष्ट्रीय कण्टेनर ट्रांस्शिपमेण्ट टर्मिनल, कोचीन शिपयार्ड, कोच्चि रिफ़ाइनरीज़ का अपतटीय (ऑफ़शोर) सिंगल बॉय मूरिंग (एस.पी.एम), एवं कोच्चि मैरीना भी हैं। कोच्चि में ही कोचीन विनिमय एक्स्चेंज, इंटरनेशनल पॅपर एक्स्चेंज भी स्थित हैं, तथा हिन्दुस्तान मशीन टूल्स (एच.एम.टी), सायबर सिटी, एवं किन्फ़्रा हाई-टेक पाक एवं बड़ी रासायनिक निर्माणियां जैसे फ़र्टिलाइज़र्स एण्ड कैमिकल्स त्रावणकौर (फ़ैक्ट), त्रावणकौर कोचीन कैमिकल्स (टीसीसी), इण्डियन रेयर अर्थ्स लिमिटेड (आई.आर.ई.एल), हिन्दुस्तान ऑर्गैनिक कैमिकल्स लिमिटेड (एच.ओ.सी.एल) कोच्चि रिफ़ाइनरीज़ के साथ साथ ही कई विद्युत कंपनियां जैसे टी.ई.एल.के एवं औद्योगिक पार्क भी बने हैं जिनमें कोचीन एपेशल इकॉनोमिक ज़ोन एवं इन्फ़ोपार्क कोच्चि प्रमुख हैं। कोच्चि में ही प्रमुख राज्य न्यायपीठ केरल एवं लक्षद्वीप उच्च न्यायालय एवं कोचीन युनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एण्ड टेक्नोलॉजी भी स्थापित हैं। इसी नगर में केरल का नेशनल लॉ स्कूल, नेशनल युनिवर्सिटी ऑफ़ एडवांस्ड लीगल स्टडीज़ को भी स्थान मिला है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोच्चि · और देखें »

कोटर (कस्बा)

कोटर कस्बा एक नगर पंचायत है, जो कि हिन्दुस्तान में मध्य प्रदेश राज्य के सतना जिले में स्थित है। श्रेणी:मध्य प्रदेश के गाँव.

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोटर (कस्बा) · और देखें »

कोटखाई

कोटखाई हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले का एक नगर एवं नगर पंचायत है। यह गिरीगंगा उपत्यका में स्थित है तथा जुब्बल-कोटखाई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। कोटखाई एक छोटा सा शहर है, जो हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले में 1800 मीटर की ऊंचाई पर स्तित है। जगह का यह नाम एक खाई पर स्थित राजा के महल से पड़ा। 'कोट' का शाब्दिक अर्थ है महल और 'खाई' का खाई। जगह का शांतिपूर्ण वातावरण और प्राकृतिक सौंदर्य दूर-दराज के क्षेत्रों से पर्यटकों को आकर्षित करता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोटखाई · और देखें »

कोनिया क्षेत्र

कोनिया क्षेत्र (अंग्रेजी: Konia Kshetra) जिला मुख्यालय ज्ञानपुर से तकरीबन 45 किमी की दूरी पर स्थित तीन तरफ से गंगा की धाराओं से घिरा हुआ इलाका है। इस स्थान पर छेछुआ-भुर्रा गाँव के पास गंगा का धारा प्रवाह मुड़ गया है। गंगा नदी द्वारा तीनों दिशाओं से घिरे होने की वजह से यह क्षेत्र एकदम कोने में हो गया है। सम्भवत: इसीलिए इस क्षेत्र का नाम कोनिया क्षेत्र पड़ गया। यह क्षेत्र संत रविदास नगर जिले के अन्तर्गत आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोनिया क्षेत्र · और देखें »

कोराओं (तहसील), इलाहाबाद

यह तहसील इलाहबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 278 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोराओं (तहसील), इलाहाबाद · और देखें »

कोलासिब

कोलासिब कोलासिब जिले का मुख्यालय तथा भारतीय राज्य मिज़ोरम का एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोलासिब · और देखें »

कोलकाता

बंगाल की खाड़ी के शीर्ष तट से १८० किलोमीटर दूर हुगली नदी के बायें किनारे पर स्थित कोलकाता (बंगाली: কলকাতা, पूर्व नाम: कलकत्ता) पश्चिम बंगाल की राजधानी है। यह भारत का दूसरा सबसे बड़ा महानगर तथा पाँचवा सबसे बड़ा बन्दरगाह है। यहाँ की जनसंख्या २ करोड २९ लाख है। इस शहर का इतिहास अत्यंत प्राचीन है। इसके आधुनिक स्वरूप का विकास अंग्रेजो एवं फ्रांस के उपनिवेशवाद के इतिहास से जुड़ा है। आज का कोलकाता आधुनिक भारत के इतिहास की कई गाथाएँ अपने आप में समेटे हुए है। शहर को जहाँ भारत के शैक्षिक एवं सांस्कृतिक परिवर्तनों के प्रारम्भिक केन्द्र बिन्दु के रूप में पहचान मिली है वहीं दूसरी ओर इसे भारत में साम्यवाद आंदोलन के गढ़ के रूप में भी मान्यता प्राप्त है। महलों के इस शहर को 'सिटी ऑफ़ जॉय' के नाम से भी जाना जाता है। अपनी उत्तम अवस्थिति के कारण कोलकाता को 'पूर्वी भारत का प्रवेश द्वार' भी कहा जाता है। यह रेलमार्गों, वायुमार्गों तथा सड़क मार्गों द्वारा देश के विभिन्न भागों से जुड़ा हुआ है। यह प्रमुख यातायात का केन्द्र, विस्तृत बाजार वितरण केन्द्र, शिक्षा केन्द्र, औद्योगिक केन्द्र तथा व्यापार का केन्द्र है। अजायबघर, चिड़ियाखाना, बिरला तारमंडल, हावड़ा पुल, कालीघाट, फोर्ट विलियम, विक्टोरिया मेमोरियल, विज्ञान नगरी आदि मुख्य दर्शनीय स्थान हैं। कोलकाता के निकट हुगली नदी के दोनों किनारों पर भारतवर्ष के प्रायः अधिकांश जूट के कारखाने अवस्थित हैं। इसके अलावा मोटरगाड़ी तैयार करने का कारखाना, सूती-वस्त्र उद्योग, कागज-उद्योग, विभिन्न प्रकार के इंजीनियरिंग उद्योग, जूता तैयार करने का कारखाना, होजरी उद्योग एवं चाय विक्रय केन्द्र आदि अवस्थित हैं। पूर्वांचल एवं सम्पूर्ण भारतवर्ष का प्रमुख वाणिज्यिक केन्द्र के रूप में कोलकाता का महत्त्व अधिक है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोलकाता · और देखें »

कोल्वाले

कोल्वाले भारत के गोवा राज्य के उत्तर गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोल्वाले · और देखें »

कोंच (तहसील), जालौन

यह तहसील जालौन जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 280 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और कोंच (तहसील), जालौन · और देखें »

अतरा (तहसील), बांदा

यह तहसील बांदा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 111 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अतरा (तहसील), बांदा · और देखें »

अतर्रा

अतर्रा भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के बांदा जिला में स्थित एक कस्बा है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अतर्रा · और देखें »

अनमोद

अनमोद भारत के राज्यों कर्णाटक और गोवा की सीमा पर कर्णाटक के उत्तर कन्नड़ जिले में बसा एक कस्बा है। भारतीय उपमहाद्वीप की कुछ सबसे प्राचीन चट्टानें अनमोद में पाई जाती हैं। इन चट्टानों को ट्रॉंजेमेटिक नाइस (Trondjemeitic Gneiss) के रूप में वर्गीकृत किया जाता है और जिनकी पुरातनता का आकलन रूबिडीयाम आइसोटोप डेटिंग विधि की आधार पर 3.6 अरब वर्ष आँका गया है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अनमोद · और देखें »

अनूपशहर (तहसील), बुलंदशहर

यह तहसील बुलंदशहर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 141 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अनूपशहर (तहसील), बुलंदशहर · और देखें »

अपरा, पंजाब

अपरा (ਅੱਪਰਾ, Apra) भारत में पंजाब राज्य के जालंधर जिले में एक जनगणना शहर है। यह, शहर सोने और बड़ी मात्रा में धान की फसल के उत्पादन के लिए जाना जाता है। यह, जालंधर से 46 किमी, फिल्लौर से 12 किमी और चंडीगढ़ से 110 किलोमीटर दूर स्थित है। आसपास के अन्य गांवों की तुलना में अपरा सबसे बड़ा शहर है और यहीं पर मुख्य बाजार स्थित है। अपरा गोल्डन सिटी अपरा के रूप में भी जाना जाता है। निकटतम रेलवे स्टेशन 15.4 किमी दूर गोराया में है, निकटतम घरेलू हवाई अड्डा लुधियाना और निकटतम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के 142.5 किमी दूर अमृतसर में है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अपरा, पंजाब · और देखें »

अमरावती, आन्ध्र प्रदेश

अमरावती: आन्ध्र प्रदेश की प्रस्तवित राजधानी का नाम है। यह कृष्णा नदी के दक्षिणी तट पर निर्मित किया जाएगा। "अमरावती" शब्द को अमरावती मंदिर के ऐतिहासिक शहर, जो की सतवाहन राजवंश के तेलगु राजाओं की प्राचीन राजधानी थी, से लिया गया है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने उदंडरायणपालम इलाके में 22 अक्टूबर 2015 को नींव का पत्थर रखा था। गुंटूर और विजयवाड़ा का महानगरीय क्षेत्र मिला कर अमरावती महानगर क्षेत्र का निर्माण किया जायेगा। यह एक नव नियोजित शहर है जो गुंटूर जिले में स्थित प्राचीन अमरावती शहर से इसका नाम प्राप्त करता है। अमरावती पड़ोसी विजयवाड़ा, गुंटूर और तेनाली के साथ अमरावती महानगरीय क्षेत्र, अर्थात् आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र, जो 2011 की जनगणना के अनुसार 5.8 मिलियन की आबादी वाला आंध्र प्रदेश राज्य का सबसे बड़ा आबादी वाला क्षेत्र है, और एपीसीआरडीए द्वारा शासित है। अमरावती की राजधानी शहर थुलुर मंडल में एक नया शहर है और ऐतिहासिक बौद्ध शहर अमरवथी से अलग है। अमरावती क्षेत्र एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और प्राचीन इतिहास से कई साम्राज्यों पर शासन किया गया है। अमरावती सातवाहन राजाओं और वासरेड्डी वेंकटदाद्री नायडू के लिए राजधानी शहर थीं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अमरावती, आन्ध्र प्रदेश · और देखें »

अमरोहा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर)

यह तहसील अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 413 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अमरोहा (तहसील), अमरोहा (ज्योतिबाफुले नगर) · और देखें »

अम्पति

अम्पति मेघालय के दक्षिण पश्चिम गारो हिल्स जिला का जिला मुख्यालय है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अम्पति · और देखें »

अमृतपुर (तहसील), फर्रुख़ाबाद

यह तहसील फर्रुख़ाबाद जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 172 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अमृतपुर (तहसील), फर्रुख़ाबाद · और देखें »

अमेठी (तहसील), सुल्तानपुर

यह तहसील सुल्तानपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 294 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अमेठी (तहसील), सुल्तानपुर · और देखें »

अमोढ़ा

अमोढ़ा भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले की हरैया तहसील में स्थित एक ग्राम पंचायत है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार यहाँ की कुल जनसंख्या 5,977 है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अमोढ़ा · और देखें »

अल्लापुर (तहसील), अम्बेडकर नगर

यह तहसील अम्बेडकर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 472 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अल्लापुर (तहसील), अम्बेडकर नगर · और देखें »

अलीगंज (तहसील), एटा

यह तहसील एटा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 244 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अलीगंज (तहसील), एटा · और देखें »

असंध

असंध हरियाणा प्रान्त के करनाल जिले का एक शहर है।http://karnal.nic.in/revenue.html करनाल से यह लगभग ४५ कि० मी० दक्षिण पश्चिम में है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और असंध · और देखें »

अस्कोट

अस्कोट, पिथौरागढ़ जिला, उत्तराखंड में स्थित एक क्षेत्र है। यह कुमाऊँ मण्डल में आता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अस्कोट · और देखें »

अइज़ोल

अइज़ोल (Aizawl) भारत के मिज़ोरम प्रान्त की राजधानी है। यहाँ की जनसंख्या २९३,४१६ है, जिसके कारण यह मिज़ोरम का सबसे बड़ा नगर है। यहाँ पर राज्य के सभी प्रशासनिक भवन जैसे महत्वपूर्ण सरकारी भवन, विधानसभा तथा सचिवालय स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अइज़ोल · और देखें »

अकबरपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर

यह तहसील अम्बेडकर नगर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 307 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अकबरपुर (तहसील), अम्बेडकर नगर · और देखें »

अकबरपुर, कानपुर देहात

अकबरपुर कानपुर देहात जिले का एक नगर है।अकबरपुर कानपुर देहात जिले का सब- डिवीज़न एवम तहसील मुख्यालय है। इस नगर से होकर स्वर्णिम चतुर्भुज राष्ट्रीय राजमार्ग जाता है। इस राजमार्ग द्वारा यह नगर पश्चिम में आगरा,दिल्ली और पूर्व में कानपुर,पटना,हावड़ा से जुड़ा हुआ है। यहां से महानगर कानपुर ४० किलोमीटर की दूरी पर है। यहां कानपुर देहात जिले का मुख्यालय भी है यहां से होकर लखनऊ - झाँसी राजमार्ग गुजरता है। यहां का मुख्य रेलवे स्टेशन रूरा (उत्तर मध्य रेलवे) है जिसकी दूरी १५ किलोमीटर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अकबरपुर, कानपुर देहात · और देखें »

अक्यूम

अक्यूम (पुर्तगाली: Aquem) भारत के गोवा राज्य के दक्षिण गोवा जिले में स्थित एक जनगणना नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और अक्यूम · और देखें »

उतरैला (तहसील), बलरामपुर

यह तहसील बलरामपुर जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 364 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उतरैला (तहसील), बलरामपुर · और देखें »

उत्तरी लखीमपुर

यह लेख उत्तरी लखीमपुर नगर के बारे में है, बहुविकल्पी अथवा अन्य उपयोग हेतु लखीमपुर देखें। उत्तरी लखीमपुर उत्तर-पूर्वी भारतीय राज्य असम के लखीमपुर ज़िले का एक नगर एवं नगरपालिका मण्डल है जो गुहाटी से लगभग उत्तर-पूर्व में स्थिति है। यह लखीमपुर ज़िले का मुख्यालय भी है। उत्तरी लखीमपुर लखीमपुर ज़िले का एक उप-प्रभाग भी है जहाँ उत्तरी लखीमपुर स्थित है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उत्तरी लखीमपुर · और देखें »

उनियारा

उनियारा भारतीय राज्य राजस्थान के टोंक जिले का एक नगरपालिका क्षेत्र और नगर है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उनियारा · और देखें »

उन्नाव (तहसील), उन्नाव

यह तहसील उन्नाव जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 303 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उन्नाव (तहसील), उन्नाव · और देखें »

उन्छहर (तहसील), रायबरेली

यह तहसील रायबरेली जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 223 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उन्छहर (तहसील), रायबरेली · और देखें »

उरई (तहसील), जालौन

यह तहसील जालौन जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 163 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और उरई (तहसील), जालौन · और देखें »

छपरा

छपरा भारत गणराज्य के बिहार प्रान्त में सारण जिला का महत्वपूर्ण शहर एवं मुख्यालय शहर है। यह सारण प्रमंडल का मुख्यालय भी है। गोरखपुर-गुवाहाटी रेलमार्ग पर छपरा एक महत्वपूर्ण जंक्शन है जहाँ से गोपालगंज एवं बलिया के लिए रेल लाईनें जाती है। स्थिति: 25 डिग्री 50 मिनट उत्तर अक्षांश तथा 84 डिग्री 45 मिनट पूर्वी देशान्तर। यह घाघरा नदी के उत्तरीतट पर बसा है। ऐसा कहा जाता है कि यहाँ के दाहिआवाँ महल्ले में दधीचि ऋषि का आश्रम था। इसके पाँच मील पश्चिम रिविलगंज है, जहाँ गौतम ऋषि का आश्रम बतलाया जाता है और वहाँ कार्तिक पूर्णिमा को एक बड़ा मेला लगता है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और छपरा · और देखें »

छाता (तहसील), मथुरा

यह तहसील मथुरा जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 212 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और छाता (तहसील), मथुरा · और देखें »

छितकुल

Road to Sangla Valley, Karchham, Sangla Valley, Kinnaur District, Himachal Pradesh.JPG|करछम-सांगला-छितकुल मार्ग, बस्पा नदी के किनारे Chitkul, Sangla Valley, Kinnaur District, Himachal Pradesh.JPG|छितकुल की छटा Hindustan ka Aakhri Dhaba-Chitkul, Sangla Valley, Kinnaur District, Himachal Pradesh.JPG|thumb|हिन्दुस्तान का आखरी ढाबा, छितकुल Chitkul-02, Sangla Valley, Kinnaur District, Himachal Pradesh.JPG|thumb|छितकुल-२ श्रेणी:हिमाचल प्रदेश श्रेणी:भारत के पर्यटन स्थल श्रेणी:अतुल्य भारत.

नई!!: डाक सूचक संख्या और छितकुल · और देखें »

छिबरामउ (तहसील), कन्नौज

यह तहसील कन्नौज जिला, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 2011 में हुई भारत की जनगणना के अनुसार इस तहसील में 335 गांव हैं। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और छिबरामउ (तहसील), कन्नौज · और देखें »

१५ अगस्त

15 अगस्त ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार वर्ष का 227वॉ (लीप वर्ष मे 228 वॉ) दिन है। साल मे अभी और 138 दिन बाकी है। .

नई!!: डाक सूचक संख्या और १५ अगस्त · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

डाक सूचकांक संख्या, पिन नम्बर, पिन संख्या, पिनकोड, पोस्टल इंडेक्स नंबर

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »