लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
इंस्टॉल करें
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

अन्नपूर्णा देवी

सूची अन्नपूर्णा देवी

---- अन्नपूर्णा देवी (जन्म: २३ अप्रैल, १९२७) भारत की एक प्रमुख संगीतकार हैं। वे अलाउद्दीन खान की बेटी और शिष्या हैं। उनको को सन १९७७ में भारत सरकार द्वारा कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। ये उत्तर प्रदेश से हैं। १९४१ से १९६२ तक उनका विवाह पण्डित रवि शंकर से हुआ था जो स्वयं उनके पिता के शिष्य थे। विवाह-विच्छेद के पश्चात उन्होने सार्वजनिक रूप से कभी भी अपने संगीत का प्रदर्शन नहीं किया, मुम्बई आकर वे वहाँ शिक्षण कार्य करने लगीं। उनके प्रमुख शिष्य हैं-हरिप्रसाद चौरसिया, निखिल बनर्जी, अमित भट्टाचार्य, प्रदीप बरोत, सरस्वती शाह (सितार)। .

5 संबंधों: झारखंड विधानसभा चुनाव, 2005, रवि शंकर, कोडरमा (झारखंड विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र), अन्नपूर्णा, १९७७ में पद्म भूषण धारक

झारखंड विधानसभा चुनाव, 2005

श्रेणी:झारखण्ड विधानसभा.

नई!!: अन्नपूर्णा देवी और झारखंड विधानसभा चुनाव, 2005 · और देखें »

रवि शंकर

पण्डित रवि शंकर (রবি শংকর; जन्म: रवीन्द्र शंकर चौधरी, ७ अप्रैल १९२०, बनारस - ११ दिसम्बर २०१२) एक सितार वादक और संगीतज्ञ थे। उन्होंने विश्व के कई मह्त्वपूर्ण संगीत उत्सवों में हिस्सा लिया है। उनके युवा वर्ष यूरोप और भारत में अपने भाई उदय शंकर के नृत्य समूह के साथ दौरा करते हुए बीते। .

नई!!: अन्नपूर्णा देवी और रवि शंकर · और देखें »

कोडरमा (झारखंड विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र)

कोडरमा भारत के झारखण्ड राज्य की विधानसभा का एक निर्वाचन क्षेत्र है। कोडरमा ज़िले में स्थित यह विधानसभा क्षेत्र कोडरमा लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। .

नई!!: अन्नपूर्णा देवी और कोडरमा (झारखंड विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र) · और देखें »

अन्नपूर्णा

अन्नपूर्णा देवी अन्नपूर्णा देवी हिन्दुओं द्वारा पूजित एक देवी हैं। उनका दूसरा नाम 'अन्नदा' है। वे शक्ति की ही एक रूप हैं। .

नई!!: अन्नपूर्णा देवी और अन्नपूर्णा · और देखें »

१९७७ में पद्म भूषण धारक

यह सूची १९७७ में मिले पद्म भूषण धारकों की है ' *.

नई!!: अन्नपूर्णा देवी और १९७७ में पद्म भूषण धारक · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

अन्नपूर्णा रविशंकर

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »