लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
इंस्टॉल करें
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

१३ (संख्या)

सूची १३ (संख्या)

१३ ((उच्चारण: तेरह) एक प्राकृतिक संख्या है। इससे पूर्व १२ और इसके पश्चात् १४ आता है अर्थात् तेरह १२ से एक अधिक होता है एवं १४ में से एक कम करने पर तेरह प्राप्त होता है। इसे शब्दों में तेरह से लिखा जाता है। सात और छः का योग तेरह होता है। .

5 संबंधों: प्राकृतिक संख्या, सम और विषम अंक, घातांक, विभाजन (गणित), गुणा

प्राकृतिक संख्या

प्राकृतिक संख्याओं से गणना की सकती है। उदाहरण: (ऊपर से नीचे की ओर) एक सेब, दो सेब, तीन सेब,... गणित में 1,2,3,...

नई!!: १३ (संख्या) और प्राकृतिक संख्या · और देखें »

सम और विषम अंक

विश्व के कुछ शहरों में घरों को संख्यांक देने की यह परंपरा है कि सड़क की एक तरफ सम अंक होते हैं और सड़क की दूसरी तरफ विषम अंक। यदि किसी घर-ढूंढते हुए वाहनचालक को घर-संख्या मालूम हो तो उसे सड़क के केवल एक ही ओर देखने की आवश्यकता होती है गणित में सम (even) ऐसी संख्याओं को कहा जाता है जो २ द्वारा पूर्णतः विभाज्य (डिविज़िबल​) हों, जैसे कि ०, २, ४, ६, ८, इत्यादि। यही कहने का एक और तरीका है कि सभी सम अंक २ के गुणज (मल्टिपल) होते हैं। इस से विपरीत विषम (odd) अंक ऐसे अंकों को कहा जाता है, जो २ द्वारा विभाज्य नहीं होते, जैसे १, ३, ५, ७, ९, ११, आदि। यद्यपि मूल रूप से सम-विषम की अवधारणा अंको पर लगाई जाती थी, आधुनिक गणित में इसे अन्य चीज़ों पर भी लागू किया जाता है। किसी चीज़ की गणितीय समता (parity) उसका वह लक्षण होती है जो यह बतलाए कि वह सम है या विषम। .

नई!!: १३ (संख्या) और सम और विषम अंक · और देखें »

घातांक

किसी संख्या पर घात लगाना या घातांकन (Exponentiation या Involution, इनवॉल्यूशन) एक गणितीय संक्रिया है जिसमें किसी संख्या को लगातार अपने से दो या अधिक बार गुणा किया जाता है। जितने बार गुणा किया जाता है, वह उस संख्या का 'घात' कहलाता है। घात को संख्या के ऊपर दाहिनी ओर थोड़ा हटाकर लिखा जाता है; इस प्रकर ३४ .

नई!!: १३ (संख्या) और घातांक · और देखें »

विभाजन (गणित)

'''20 ÷ 4 .

नई!!: १३ (संख्या) और विभाजन (गणित) · और देखें »

गुणा

गुणा करने का लघुरुप---- 25×25.

नई!!: १३ (संख्या) और गुणा · और देखें »

यहां पुनर्निर्देश करता है:

१३

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »