लोगो
यूनियनपीडिया
संचार
Google Play पर पाएं
नई! अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड यूनियनपीडिया!
मुक्त
ब्राउज़र की तुलना में तेजी से पहुँच!
 

कलम (पौधा)

सूची कलम (पौधा)

कलम (cutting) किसी पौधे का ऐसा अंश होता है जिसका प्रयोग औद्यानिकी (हॉर्टीकल्चर) में वानस्पतिक जनन के लिए करा जाता हो। अक्सर यह अंश एक टहनी होता है जिसका एक अंत धरती में लगाकर पानी और अन्य पोषक तत्व देते रहने से पौधा उगने लगता है। कभी-कभी कलम को किसी दूसरे पौधे के जड़-सहित कटे हुए तने के ऊपर लगाया जाता है - इसे कलम-बाँधना (ग्राफ़्टिंग) कहते है और इससे संयुक्त पौधे में दोनों मूल पौधों के कुछ मिश्रित गुण आ जाते हैं। .

5 संबंधों: शाखा, वानस्पतिक जनन, गुल्म, कलम बांधना, उद्यान विज्ञान

शाखा

पेड़ की शाखाएँ या टहनियाँ शाखा पेड़ का लकड़ी वाला वह भाग होता है जो कि तने से जुड़ा होता है लेकिन तने का भाग नहीं होता है। पेड़ के तने से कई शाखाएँ जुड़ी होती हैं। प्रत्येक शाखा की कई उप-शाखाएँ भी होती हैं और कई शाखाएँ तथा उप-शाखाएँ मिलकर एक जालनुमा छत बुनती हैं जिसकी वजह से पेड़ को उसकी छतरी मिलती है। इस अर्थ में शाखा को टहनी भी कहते हैं। शाखा किसी विषय विशेष के उप-भाग को भी कहते हैं। उदाहरण के लिए-भौतिकी विज्ञान की एक शाखा है। किसी मृग के दो प्रमुख सींगों से निकले छोटे-छोटे सींगों को भी शाखा कहते हैं। श्रेणी:पौधों के अंश श्रेणी:वनस्पति आकृति-विज्ञान.

नई!!: कलम (पौधा) और शाखा · और देखें »

वानस्पतिक जनन

Kalanchoe pinnata पौधे के पत्ती के किनारे नयी पौध जन्म ले रही है। वानस्पतिक जनन (Vegetative reproduction या vegetative propagation या vegetative multiplication या vegetative cloning) एक प्रकार का अलैंगिक जनन है जो वनस्पतियों में होता है। इस जनन प्रक्रिया में बिना बीज या बीजाणु (spores) के ही नयी वनस्पति पैदा होती है। वानस्पतिक जनन प्राकृतिक रूप से भी होता है और उद्यानवैज्ञानिकों (horticulturists) द्वारा प्रेरित भी हो सकता है। वानस्पतिक जनन में कोई वानस्पतिक भाग, (जड़, तना, अथवा पत्ती) नए पेड़ की उत्पत्ति करता है और जनक पौधे स अलग होकर नया जीवन प्रारंभ करता है। इसके दो प्रकार, एक प्राकृतिक और दूसरा कृत्रिम, हैं। .

नई!!: कलम (पौधा) और वानस्पतिक जनन · और देखें »

गुल्म

गुल्म किसी वृक्ष या अन्य वनस्पति के कटे हुए तने या टहनी को कहते हैं जिसमें से वह वनस्पति फिर से उग सकने में सक्षम हो। यह क्षमता कुछ ही जातियों में होती है, मसलन केवड़ा। जिन वृक्षों में यह क्षमता होती है अक्सर उनके वनों को निचले तने तक काटकर उनकी लकड़ी प्रयोग की जाती है। कुछ वर्षों बाद पेड़ फिर से बढ़ जाता है और उसे पुनः काटा जा सकता है। ऐसे वृक्षों के झुंड जिनमें काटकर केवल गुल्म ही छोड़ दिये गये हों उन्हे गुल्म दल (copse, कॉप्स) कहा जाता है। किसी वृक्षों के झुंड को काटकर उनके गुल्म छोड़ देने को गुल्मकारी (coppicing) कहते हैं और यह मानना है कि मानव इसे हज़ारों वर्षों से करते आये हैं। भारत में साल का वृक्ष पारम्परिक रूप से गुल्म करा जाता है। .

नई!!: कलम (पौधा) और गुल्म · और देखें »

कलम बांधना

thumb कलम बांधना (ग्राफ्टिंग/Grafting या graftage) उद्यानिकी की एक तकनीक है जिसमें एक पौधे के ऊतक दूसरे पौधे पौधे के ऊतकों में प्रविष्ट कराये जाते हैं जिससे दोनों के वाहिका ऊतक आपस में मिल जाते हैं। इस प्रकार इस विधि से अलैंगिक प्रजनन द्वारा पौधे तैयार किये जाते हैं। .

नई!!: कलम (पौधा) और कलम बांधना · और देखें »

उद्यान विज्ञान

फूल ही फूल उद्यान विज्ञान या औद्यानिकी (लैटिन, स्पेनिश, पुर्तगाली:Horticultura, जर्मन:Gartenbau, फ़्रेंच:l'horticulture, अंग्रेजी:Horticulture (हार्टिकल्चर)) में फल, सब्जी, पेड़ तथा फूल, सभी का उगाना सम्मिलित है। इन पादपों के उगाने की कला के अंतर्गत बहुत सी क्रियाएँ आ जाती हैं। .

नई!!: कलम (पौधा) और उद्यान विज्ञान · और देखें »

निवर्तमानआने वाली
अरे! अब हम फेसबुक पर हैं! »